• Varta Astrologers
  • Personalized Horoscope
  • Mragaank
  • Kriti
  • Parul
  • Vinnie

बुध का धनु राशि में गोचर 10 दिसंबर 2021 : सभी बारह राशियों का गोचरफल

ज्योतिष में बुध ग्रह को देवताओं का दूत माना जाता है, जो अपनी गति और तेजी के लिए विख्यात है। बुध ग्रह सूर्य की परिक्रमा करने में केवल 88 दिन लेता है, और प्रत्येक राशि में लगभग 7.33 दिन व्यतीत करता है और फिर राशि परिवर्तन कर लेता है। वैदिक ज्योतिष में बुध ग्रह को ईश्वर का दूत भी माना गया है। यह मिथुन और कन्या राशि का स्वामी है, बुध ग्रह सूर्य के सबसे निकटतम ग्रह भी है। इसके अलावा, भारतीय परंपरा में मरकरी को बुध कहा जाता है, जिसका अर्थ है ज्ञान। बुध व्यक्ति में बुद्धि, तर्क और हास्य का प्रतिनिधित्व करता है। जब बुध धनु राशि में प्रवेश करता है, तो हमारे दिमाग का विस्तार होता है। इस दौरान हमारे विचार भव्य हो जाते हैं और जातक अधिक आशावादी हो जाते हैं। बौद्धिक साहसिक कार्य के लिए, या कुछ नया अध्ययन करने या बौद्धिक यात्रा के लिए यह एक अद्भुत समय साबित हो सकता है। इसके अलावा नैतिक, सिद्धान्तिक या दार्शनिक बिंदु पर अपनी स्थिति को स्थानांतरित करने के लिए यह गोचर एक शानदार समय अवधि साबित हो सकती है।

बुध का धनु राशि में गोचर

बुध ग्रह का अपने जीवन पर प्रभाव जानने के लिए विद्वान ज्योतिषियों से करें फोन पर बात

बुध ग्रह की ऊर्जा बहुत व्यापक है। इस गोचर के दौरान, आपको भविष्य की बड़ी और खूबसूरत तस्वीर मिल सकती है , हालांकि मुमकिन है कि, आपको विवरणों की इतनी समझ नहीं होगी। धनु बृहस्पति द्वारा शासित एक दोहरी अग्नि राशि है, जिसे ज्योतिष में सभी ग्रहों में सबसे अधिक लाभकारी माना जाता है। बृहस्पति और बुध के बीच शत्रुतापूर्ण संबंध होने के बावजूद, यह स्थान जातकों के लिए अच्छा साबित होता है क्योंकि दोनों ग्रह प्रकृति में लाभकारी हैं और सकारात्मक परिणाम लाते हैं।

बुध का धनु राशि में गोचर 10 दिसंबर को सुबह 5 बजकर 53 बजे होगा और फिर 29 दिसंबर को सुबह 11:15 बजे बुध ग्रह मकर राशि में गोचर कर जायेगा। आइए जानते हैं इस गोचर का सभी राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा:

यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है। इसके अलावा व्यक्तिगत भविष्यवाणी जानने के लिए ज्योतिषियों के साथ फ़ोन पर या चैट पर जुड़े

Read in English: Mercury Transit in Sagittarius: 10 December 2021

मेष राशि

मेष चंद्र राशि के लिए बुध तीसरे और छठे भाव का स्वामी है और धर्म, भाग्य और किस्मत के नवम भाव में गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान कार्य क्षेत्र में आपको अशुभ परिणाम हासिल हो सकते हैं। हालांकि मान सम्मान और कोई पुरस्कार मिलने से आपका मन प्रसन्न रहेगा। इस गोचर के दौरान सफलता की कुंजी आपकी कड़ी मेहनत साबित होगी। हालाँकि, आपको मित्रों और परिवार से पर्याप्त समर्थन मिलेगा जो आपको जीवन में आने वाली किसी भी कठिनाई को पार करने की शक्ति और दृढ़ता प्रदान करेगा। वहीं इस अवधि में आप जोखिम लेने से भी नहीं कतरायेंगे और आपको अपने व्यवसाय में अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे। अनुकूल परिणाम प्राप्त करने के लिए आप कड़ी मेहनत करेंगे और इस दौरान आपको अपने छोटे भाई बहनों का भरपूर सहयोग प्राप्त होगा। उच्च शिक्षा के लिए यह समय अच्छा साबित होगा। आपका उन्नत तर्क आपको वांछित परिणाम प्राप्त करने में मदद करेगा। आपकी ऊर्जा का स्तर हर समय ऊंचा रहेगा और आप अपनी जीवन शक्ति वापस पा लेंगे और इस दौरान अधिक उत्पादक होने की संभावना है।

उपायः बुधवार का व्रत रखें।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के लिए बुध दूसरे और पांचवें भाव का स्वामी है और इस दौरान आठवें भाव में गोचर करेगा। यह भाव प्रतिकूलता का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए इस अवधि के दौरान आपको अपने अधीनस्थों के साथ काम पर बातचीत करते समय सतर्क रहने की सलाह दी जाती है। यह भी सलाह दी जाती है कि आपको सब कुछ शांत और व्यवस्थित तरीके से करना चाहिए और आक्रामकता या जिद करने से बचना चाहिए क्योंकि यह आपको परेशानी में डाल सकता है। वहीं दूसरी तरफ धीरे-धीरे आप अपने जीवन में सकरात्मकता का अनुभव करेंगे। आपको अपने व्यवसाय में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। किसी भी समस्या से बचने के लिए आपको अपने काम में सतर्क और चौकस रहने की आवश्यकता होगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से आपके ऊर्जा स्तर में कुछ उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। इसलिए, आपको पौष्टिक आहार के साथ अपने खाने की आदतों में सुधार करने का सुझाव दिया जाता है। शिक्षा में परेशानी आने की आशंका है। छात्रों को विषय को समझने में परेशानी होगी। इसलिए आपको अपने शिक्षकों से उचित मार्गदर्शन लेना चाहिए।

उपायः चौमुखी रुद्राक्ष धारण करें।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के लिए बुध पहले और चौथे भाव का स्वामी है और साझेदारी, विवाह, व्यापार और आयात-निर्यात के सप्तम भाव में गोचर कर रहा है। सप्तम भाव में बुध के गोचर के साथ यह आपके आर्थिक विकास के लिए अच्छा रहेगा और यह समय आपके लिए शुभ साबित होगा और इस दौरान आपके जीवन में अच्छी बातें भी घटित होंगी। आप अपने साथी के साथ बेहद ही भावुक और मृदुभाषी होंगे और आप ऐसी गतिविधियों में ज्यादा से ज्यादा शामिल होंगे जिससे आपको खुशियाँ हासिल होंगी। स्वास्थ्य के लिहाज से आपको इस अवधि के दौरान थोड़ा सचेत रहना होगा क्योंकि जलवायु में परिवर्तन आपके स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है इसलिए सुरक्षित रहना ही आपके लिए शुभ साबित होगा। कार्यक्षेत्र सामान्य रहेगा और यदि आप अपनी नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं तो कुछ और समय प्रतीक्षा करें क्योंकि नौकरी में परिवर्तन के लिए यह समय अनुकूल नहीं है। जो जातक शादी करने की योजना बना रहे थे उनके लिए यह समय बहुत अच्छा है।

उपाय: बुध यंत्र को घर में स्थापित करें।


बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

कर्क राशि

कर्क चंद्र राशि के लिए बुध तीसरे और बारहवें भाव का स्वामी है और ऋण, शत्रु और दैनिक मजदूरी के छठे भाव में गोचर कर रहा है। यह भाव नौकरी या शत्रु का प्रतिनिधित्व करता है और इसलिए गोचर के दौरान आप अपने कार्यस्थल पर प्रदर्शन के दबाव का अनुभव कर सकते हैं। शेड्यूल को पूरा करने में थोड़ी कठिनाई की भी संभावना हो सकती है। लेकिन, यह सलाह दी जाती है कि आपको आराम करना चाहिए और अपना तनाव दूर करना चाहिए क्योंकि यह आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा। आपको कुछ मनमानी देरी का भी सामना करना पड़ सकता है, लेकिन आपको मजबूत और लगातार मेहनत करने की सलाह दी जाती है। यह समय बहुत दिनों तक ऐसा ही नहीं रहेगा, धैर्य के साथ काम लें सब ठीक होगा। इस गोचर के दौरान, आपको पदोन्नति और अतिरिक्त कार्य जिम्मेदारियाँ मिलने की प्रबल संभावनाएं हैं।

उपायः बुधवार के दिन शाम के समय किसी तीर्थ स्थल या मंदिर में काले तिल का दान करें।

सिंह राशि

सिंह राशि के जातकों के लिए बुध दूसरे और एकादश भाव का स्वामी है और बुद्धि, विवेक, प्रेम संबंध, जीवन और संतान के पंचम भाव में गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान, आपकी कंपनी के लोग आपको नुकसान पहुंचाने के अपने प्रयास में सफल नहीं होंगे। आप एक शक्तिशाली व्यक्ति के रूप में उभरेंगे और इस अवधि में अपने शत्रुओं पर हावी रहेंगे। यह चरण आपकी मौज-मस्ती का उपयोग करके व्यावसायिक उन्नति के लिए अनुकूल साबित होगा। आपको अपने सभी प्रयासों में अपने विकास को बढ़ाने के लिए इस समय का सदुपयोग करने की सलाह दी जाती है क्योंकि इस दौरान आप इसमें सफल हो सकते हैं। इस समय के दौरान बुध की स्थिति आपको कई स्रोतों से अच्छा वित्तीय लाभ देगी और जो लोग प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उनके परीक्षा में सफल होने की संभावना अधिक है। यदि आप कोई नई परियोजना या एक नया कोई आईडिया शुरू करने की योजना बना रहे हैं, तो ऐसा करने का यह सबसे अच्छा समय है। स्वास्थ्य की दृष्टि से आप स्वस्थ और तंदुरुस्त रहेंगे। फिर भी नियमित रूप से व्यायाम करने की सलाह दी जाती है।

उपायः बुधवार के दिन पौधे लगाएं।

कन्या राशि

कन्या राशि के लिए बुध प्रथम और दशम भाव का स्वामी है और विलासिता, माता, जीवन में सुख, सुख-सुविधा, वाहन, चल संपत्ति के चतुर्थ भाव में गोचर कर रहा है। बुध का गोचर चतुर्थ भाव में होने से पारिवारिक जीवन में उतार-चढ़ाव आने के प्रबल संकेत हैं । ऐसे में आपको अपने परिवार में किसी बड़े विवाद को टालने का प्रयास करना चाहिए। इस गोचर के दौरान, आप अपने जीवन में अधिकांश सुख-सुविधाओं और सांसारिक सुखों का आनंद लेंगे। आपकी आर्थिक इच्छाएं पूरी होंगी और आप अच्छे लोगों से जुड़े रहेंगे। आपके वैवाहिक और प्रेम संबंधों की समस्याएं दूर होंगी और शुभचिंतक आपका साथ देंगे। शारीरिक गतिविधियों में शामिल होकर अपने उत्साह और मन की शांति बनाए रखें। आपके स्वास्थ्य और फिटनेस के स्तर में सुधार होने की संभावना है और इस राशि के छात्र भी अच्छा प्रदर्शन देंगे और कड़ी मेहनत से अच्छे परिणाम प्राप्त करेंगे। इस गोचर के दौरान, आप संपत्ति या वाहन खरीद में भी बड़ा निवेश कर सकते हैं।

उपाय: बुध बीज मंत्र का जाप करें।

तुला राशि

तुला राशि के लिए बुध नवम और बारहवें भाव का स्वामी है और सुनने की क्षमता, कंधे, गर्दन और वर्षों के तीसरे भाव में गोचर कर रहा है। इस घर के माध्यम से, व्यक्ति को संचार कौशल, विपणन तकनीक, शौक, छोटे भाई-बहन और बहुत कुछ के बारे में जानकारी मिलती है। इस दौरान कार्यक्षेत्र में आपकी बुद्धि और कौशल की प्रशंसा होगी और पुरस्कार भी मिलेगा। इस अवधि में आपको यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं, लेकिन छोटी यात्राएं आपको अच्छे परिणाम प्रदान करेंगी। आपकी दृढ़ता आपको अपने पेशेवर जीवन में आगे बढ़ने में मदद करेगी। व्यापार के क्षेत्र से जुड़े जातक अपने सभी प्रयासों में उच्च वृद्धि प्राप्त करने की तीव्र इच्छा रखेंगे। आपको अपने अनुभव की मदद से चीजों को काम करने का मौका मिलेगा। आर्थिक रूप से, इस बात की संभावना है कि आप अपने वित्त में कुछ उतार-चढ़ाव देख सकते हैं इसलिए कोई भी वित्तीय प्रतिबद्धता बनाने से पहले दो बार सोचने की सलाह दी जाती है। प्रेम जीवन के लिहाज से यह समय खुशी और आनंद का समय होगा और आप अपने जीवनसाथी के प्रति भावनाओं का इजहार करने में भी सक्षम होंगे। स्वास्थ्य के लिहाज से आपकी सकारात्मक मानसिकता से स्वास्थ्य अच्छा बना रहेगा।

उपाय: विधारा की जड़ को पानी में भिगो दें और फिर इससे स्नान करें।


चंद्र राशि कैल्कुलेटर से जानें अपनी चंद्र राशि

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के लिए बुध अष्टम और एकादश भाव का स्वामी है और धन, वाणी और परिवार के दूसरे भाव में गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान आपके लिए अपनी आय जमा करना बहुत आसान होगा जिससे आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। इसके बाद, परिवार में आपकी स्थितियों में भी काफी सुधार होगा और आप अपने परिवार के साथ कुछ नई गतिविधियों और कार्यों में शामिल होंगे। आप अपनी जिम्मेदारियों को बहुत आसानी से पूरा करने में सक्षम होंगे। आर्थिक रूप से, यह चरण आपकी वित्तीय स्थिति पर कुछ दबाव डाल सकता है, इसलिए आपको अपने निवेश की सावधानीपूर्वक योजना बनाने का सुझाव दिया जाता है क्योंकि आपके द्वारा भव्य वस्तुओं पर खर्च करने की संभावना है। यह सुझाव दिया जाता है कि आप अयोग्य कार्यों में शामिल होने से बचें। निजी जीवन में, शांति की कमी होगी और आप अपने रिश्ते में व्यथित महसूस कर सकते हैं इसलिए आपको कुछ समय अकेले बिताने पर ध्यान देने की कोशिश करनी चाहिए क्योंकि इससे आपको आराम करने और अपनी भावनाओं को प्रवाहित करने में मदद मिलेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से, आपको यदि कोई पिछली स्वास्थ्य समस्या है तो उससे सावधान रहने की सलाह दी जाती है।

उपायः बुधवार के दिन गायों को हरी घास खिलाएं।


करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

धनु राशि

धनु राशि के लिए बुध सप्तम और दशम भाव का स्वामी है और आपके प्रथम भाव में प्रवेश करेगा। काम के मोर्चे पर आपके वरिष्ठों द्वारा आप पर ध्यान दिया जाएगा और आपके द्वारा किए गए अच्छे काम के लिए आपकी सराहना भी हो सकती है। बस सुनिश्चित करें कि आप अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते रहें, इसे यकीनन ही चीजें केवल आपके पक्ष में ही काम करेंगी। पारिवारिक जीवन आनंदमय रहेगा और आप लंबे समय से लंबित पारिवारिक यात्रा की योजना भी बना सकते हैं। सेहत के लिहाज से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत रहेगा। ग्रहों की स्थिति आपको शारीरिक गतिविधि के माध्यम से अपने मन को केन्द्रित करने के लिए प्रेरित कर सकती है। छात्रों में संचार कौशल और तर्कशक्ति में वृद्धि होगी। इससे आपको दूसरों से जुड़ने में मदद मिलेगी। आप अपने संदेहों को दूर करने और अवधारणाओं को समझने में सक्षम होंगे।

उपायः प्रतिदिन चंद्र देव की पूजा करें।

मकर राशि

मकर चंद्र राशि के लिए बुध छठे और नौवें भाव का स्वामी है और हानि, लोकप्रियता, विदेश जाना, अस्पताल में भर्ती, खर्च जेल गिरफ्तारी के बारहवें भाव में गोचर कर रहा है । इस गोचर के साथ, आप अपने अंदर मजबूती महसूस करेंगे और आप अपने विरोधियों का दृढ़ता से सामना करेंगे क्योंकि वे आपको नीचे खींचने में अत्यधिक सक्रिय होंगे। आप इस अवधि के दौरान बहुत आश्वस्त, विनम्र और संचार के पूर्ण रहने वाले हैं और आपको इस गोचर में वित्तीय लाभ प्राप्त होगा जो आपके करियर के लिए भी फायदेमंद साबित होगा। इस दौरान, छात्रों के पास प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होने की भी अधिक संभावना बन रही है। स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा क्योंकि इस दौरान आपके बीमार होने की आशंका है।

उपायः बुधवार के दिन अनामिका अंगुली में पन्ना धारण करें।

कुंभ राशि

कुम्भ राशि के लिए बुध पंचम और अष्टम भाव का स्वामी है और इच्छा भाव से एकादश भाव में गोचर कर रहा है। आप अपने धन को बढ़ाने के लिए बहुत मेहनत और प्रयास करेंगे और आप अपने धन संचय पर ध्यान देंगे जिससे आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। यह धन और भौतिकवादी धन प्राप्त करने का समय है जो आपकी वित्तीय स्थिति को संतुष्ट रखेगा। निजी जीवन इस समय के दौरान उत्कृष्ट रहेगा और अतीत की कुछ समस्याओं का समाधान भी आपको हासिल होगा। इस पूरे समय में आपके निजी जीवन को बढ़ावा मिलेगा। कुछ बेचैनी सिरदर्द की वजह बन सकती है। आपको स्वास्थ्य शानदार बनाए रखने के लिए नियंत्रित और पोषक आहार लेने का सुझाव दिया जाता है। छात्रों में अपनी पढ़ाई में उत्कृष्टता प्राप्त करने की बहुत इच्छा होगी और आपका परिणाम आपको समाज में मान सम्मान हासिल करने में मदद करेगा।

उपायः बुधवार के दिन गाय को हरी दाल अपने हाथों से खिलाएं।

मीन राशि

मीन राशि के लिए बुध चौथे और सातवें भाव का स्वामी है और करियर, नाम और प्रसिद्धि के दशम भाव में गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान नई नौकरी मिलने या नया व्यवसाय शुरू करने की प्रबल संभावना है। हालाँकि, आपको सफलता लाने के लिए न केवल पूरी तरह से अपने किस्मत पर निर्भर रहना चाहिए, बल्कि इसके लिए आपको अपनी कड़ी मेहनत और प्रयास भी करने की सलाह दी जाती है। आप जो भी काम करने जा रहे हैं, उसके लिए आपके लिए खुद पर विश्वास और पूर्ण विश्वास होना बहुत जरूरी है। आप किसी नए सौदे या डील को भी फाइनल कर सकते हैं जो आपकी आर्थिक स्थिति को सुधारने वाला साबित होगा। कुल मिलाकर धन और आर्थिक स्थिति के लिहाज़ से समय बी एहद ही शानदार और शुभ रहने वाला है। वहीं दूसरी तरफ आप अपने साथी के लिए पर्याप्त समय नहीं निकाल पाएंगे जिससे आप दोनों के बीच गलतफहमी पैदा हो सकती है। स्वास्थ्य की दृष्टि से, आप इस स्तर पर अपनी जीवन शक्ति पुनः प्राप्त करेंगे। स्वयं को स्वस्थ रखने के लिए अधिक ऊर्जा और प्रेरणा प्राप्त होगी। यह अवधि छात्रों को उनकी शैक्षणिक अपेक्षाओं को साकार करने में मदद करेगी और उन्हें अपने प्रयास में सफलता मिलेगी।

उपायः बुधवार के दिन राधा जी की मूर्ति को सुन्दर वस्त्रों और गहनों से सजाकर पूजा करनी चाहिए।


सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।