• Varta Astrologers

गोचर : जानें समय, तारीख़, और अपना भविष्यफल

ज्योतिष की दुनिया में गोचर बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ऐसा इसलिए माना जाता है क्योंकि सभी नवग्रह या नौ ग्रह हमारे आपके जीवन को प्रभावित करने की क्षमता रखते हैं। चंद्रमा, सूर्य, मंगल, बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु, और केतु कुछ ऐसे प्रमुख ग्रह हैं जिन्हें ज्योतिष की दुनिया में काफी गंभीरता से लिया जाता है। ऐसे में यह बात तो साफ है कि इन ग्रहों के गोचर या राशि परिवर्तन से हमारे जीवन पर असर अवश्य ही पड़ता है।

बता दें कि हमारे जीवन में होने वाली सभी मुख्य घटनाएं इन ग्रहों के चाल के ऊपर ही निर्भर करती हैं। ग्रहों की यह चाल हमारे जीवन में कुछ बड़े तो कभी कुछ छोटे बदलाव लेकर आने वाली साबित होती है। इसके अलावा यह सभी ग्रह हमारे जीवन के विभिन्न पहलुओं को नियंत्रित करने की भी क्षमता रखते हैं।

उदाहरण के तौर पर देख लीजिए जैसे कि चंद्रमा हमारे मन को नियंत्रित करता है। ठीक इसी तरह सूर्य जिसे एक शाही ग्रह का दर्जा दिया गया है वह हमारी कुंडली में सरकारी नौकरी और सेवाओं की संभावनाओं के लिए जिम्मेदार माना गया है। ठीक इसी तरह शुक्र हमारे जीवन में प्रेम और विवाह का कारक माना जाता है। इसके अलावा बुध ग्रह हमारी बौद्धिक क्षमताओं को दर्शाता है। इसके अलावा बात करें अगर बृहस्पति ग्रह की तो यह ग्रह मुख्य रूप से हमारे स्वास्थ्य को दर्शाता है। इसके बाद शनि ग्रह की बात करें तो शनि ग्रह हमारे कर्म या कार्यों को दर्शाता है और उसी के अनुसार हमें परिणाम देता है। इन्हीं सब कारणों की वजह से इन ग्रहों के गोचर की तिथियों का सही ज्ञान, और गोचर के समय की उचित जानकारी हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण मानी गयी है। ताकि हम अपने जीवन में होने वाले उन परिवर्तनों पर नज़र रख सकें जो ये गोचर हमारे जीवन में ला सकते हैं।

यहां यह जानना बेहद जरूरी है कि सभी ग्रह एक समान गति से नहीं चलते हैं। जहां कुछ ग्रह धीमी गति से आगे बढ़ते हैं वहीं कुछ ऐसे भी ग्रह है जो काफी तेज गति से चलते हैं। उदाहरण के तौर पर समझाएं तो शनि ग्रह बहुत धीरे चलने के लिए जाना जाता है, तो वहीं दूसरी तरफ बुध ग्रह एक ऐसा ग्रह है जो काफी तेज गति से चलता है। यानी कि किसी भी व्यक्ति के लिए ग्रहों की गतिविधियों पर नजर रखना असंभव सा होता है। हालांकि इन के परिवर्तन से हमारे जीवन में काफी बदलाव आ सकते हैं। ऐसे में आपकी इसी समस्या को समझते हुए हम आपके लिए सभी नव ग्रहों के गोचर की संपूर्ण जानकारी, आपके जीवन में उनसे होने वाले बदलाव, गोचर का सटीक समय, और तिथि इत्यादि की जानकारी आपके लिए लेकर आए हैं।

गोचर 2023

सभी नवग्रहों के गोचर का सम्पूर्ण विवरण जानने के लिए आगे पढ़ें। साथ ही जानें कब होने वाला है अगला गोचर?

महीना दिन गोचर
जनवरी 02 जनवरी, 2023 बुध धनु राशि में अस्त
जनवरी 13 जनवरी, 2023 मंगल वृषभ राशि में मार्गी
जनवरी 13 जनवरी, 2023 बुध धनु राशि में उदय
जनवरी 14 जनवरी, 2023 सूर्य का मकर राशि में गोचर
जनवरी 17 जनवरी, 2023 शनि गोचर 2023
जनवरी 18 जनवरी, 2023 बुध धनु राशि में मार्गी
जनवरी 22 जनवरी, 2023 शुक्र का कुंभ राशि में गोचर
जनवरी 30 जनवरी, 2023 शनि कुंभ राशि में अस्त
फरवरी 07 फरवरी, 2023 बुध का मकर राशि में गोचर
फरवरी 13 फरवरी, 2023 सूर्य का कुंभ राशि में गोचर
फरवरी 15 फरवरी, 2023 शुक्र का मीन राशि में गोचर
फरवरी 27 फरवरी, 2023 बुध का कुंभ राशि में गोचर
फरवरी 28 फरवरी, 2023 बुध कुंभ राशि में अस्त
मार्च 06 मार्च, 2023 शनि का कुंभ राशि में उदय
मार्च 12 मार्च, 2023 शुक्र का मेष राशि में गोचर
अप्रैल 22 अप्रैल, 2023 बृहस्पति गोचर 2023
अक्टूबर 30 अक्टूबर, 2023 राहु गोचर 2023
अक्टूबर 30 अक्टूबर, 2023 केतु गोचर 2023

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।