• Varta Astrologers
  • Mragaank
  • Parul

सूर्य का कर्क राशि में गोचर (16 जुलाई, 2022)

सूर्य का कर्क राशि में गोचर (16 जुलाई 2022) सभी जातकों के जीवन में महत्वपूर्ण बदलाव लेकर आने वाला है। आइए विस्तार से जानते हैं सूर्य के कर्क राशि में गोचर के प्रभावों तथा सटीक उपायों के बारे में, जो पूर्णतया वैदिक ज्योतिष पर आधारित हैं।

सूर्य का कर्क राशि में गोचर

सूर्य धरती पर ऊर्जा और प्रकाश का एकमात्र स्रोत है। ऐसा माना जाता है कि यदि धरती पर सूर्य का प्रकाश न होता तो पृथ्वी का कोई अस्तित्व ही न होता। वैदिक ज्योतिष में सूर्य को सर्वोच्च माना जाता है साथ ही, इसे आत्मा का कारक माना जाता है। मान्यताओं के अनुसार, सूर्य राजाओं, आधिकारिक लोगों और हैसियत वाले लोगों का ग्रह है। वहीं मेदिनी ज्योतिष के अनुसार सूर्य ही सरकार और मंत्रिपरिषद का प्रतिनिधित्व करता है।

विद्वान ज्योतिषियों से करें फोन पर बात और जानें सूर्य गोचर के प्रभाव

वैदिक ज्योतिष के अनुसार, किसी जातक की कुंडली में सूर्य को पिता का कारक माना जाता है इसलिए कुंडली में सूर्य की शुभ स्थिति जातकों के पिता के लिए लाभकारी होती है। वहीं कुंडली में स्थित दुर्बल सूर्य उनके स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य अपनी मित्र राशि में गोचर करने जा रहा है। अग्नि और जल तत्व की यह युति सभी जातकों के जीवन में कुछ बड़े व महत्वपूर्ण बदलाव लेकर आने वाली है।

कुंडली में मौजूद राज योग की समस्त जानकारी पाएं

गोचरकाल की अवधि

सूर्य का कर्क राशि में गोचर 16 जुलाई, 2022 की रात 10:50 बजे होगा और 17 अगस्त, 2022 की सुबह 7:14 बजे तक यानी कि अपनी स्वराशि सिंह में गोचर करने तक इसी राशि में स्थित रहेगा। आइए राशिनुसार जानते हैं कि सूर्य के इस गोचर का सभी 12 राशियों के जातकों के जीवन पर क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है। साथ ही, यह भी जानते हैं कि इसके नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिए क्या उपयुक्त उपाय किए जा सकते हैं।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि

Read in English: Sun Transit in Cancer (16 July, 2022)

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए सूर्य पांचवें भाव यानी कि प्रेम, रोमांस और संतान के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य मेष राशि के चौथे भाव यानी कि सुख और आराम के भाव से गोचर करेगा। आपके केंद्र में सूर्य का यह गोचर अनुकूल परिणाम लेकर आने वाला है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो नौकरीपेशा जातक, खासकर जो लोग सरकारी विभागों में कार्यरत हैं, वे इस दौरान अपने पेशेवर जीवन में प्रगति और सफलता देख सकेंगे। जो जातक उच्च पद की नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें अपने प्रयास जारी रखने चाहिए क्योंकि इस दौरान आपको अपने प्रयासों में सफलता मिल सकती है। प्रबल संभावना है कि आप अपनी मनचाही नौकरी या पद पाने में कामयाब हो सकते हैं। यह अवधि व्यवसायी जातकों के लिए भी अनुकूल रहने वाली है क्योंकि वे इस दौरान मार्केट में अपनी फ़िज़ा (प्रतिष्ठा) बनाने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही अपने उत्पाद का एकाधिकार स्थापित करने में भी कामयाब हो सकते हैं।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो आप स्वभाव से उग्र व गुस्सैल हो सकते हैं। जिसकी वजह से परिवार के सदस्यों के साथ विवाद या बहस हो सकती है और यही चीज़ आपको निराश कर सकती है। यदि आप निजी इस्तेमाल के लिए कोई संपत्ति ख़रीदने की योजना बना रहे हैं तो समय अनुकूल है चूंकि इस दौरान आप अच्छी डील करने में सक्षम हो सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो आप हीट स्ट्रोक्स, कोलेस्ट्रॉल और एसिडिटी जैसी समस्या से पीड़ित हो सकते हैं इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य की देखभाल करें।

उपाय- प्रतिदिन सुबह 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करें।

मेष साप्ताहिक राशिफल

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए सूर्य चौथे भाव यानी कि भूमि और संपत्ति के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य वृषभ राशि के तीसरे भाव यानी कि संचार और भाई-बहन के भाव में गोचर करेगा।

पेशेवर जीवन की बात करें तो इस अवधि में नौकरीपेशा जातकों की नौकरी में बदलाव होने या स्थानांतरण होने की संभावना है यानी कि मूल रूप से आपके कार्यस्थल में बदलाव होने के योग बन रहे हैं। जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, उन्हें अपने उत्पाद की मार्केटिंग और बिक्री के लिए नई रणनीतियों को लागू करने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास करने पड़ सकते हैं। अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बाद आप सफलता हासिल कर सकेंगे साथ ही, मार्केट में अपना नाम स्थापित कर सकेंगे। जो लोग खेल-कूद के व्यवसाय से जुड़े हुए हैं, वे भी इस दौरान अच्छा खासा लाभ अर्जित कर सकते हैं।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो इस दौरान आप अपने निर्णय को लेकर दृढ़ हो सकते हैं और अपने दोस्तों व भाई-बहनों पर धाक जमा कर रख सकते हैं। आपकी अपने प्रियजनों से बातचीत भी थोड़ी कम हो सकती है, जिसकी वजह से वे भावनात्मक रूप से आहत हो सकते हैं। संभावना है कि इस गोचर अवधि के दौरान आप अपने परिचितों और दोस्तों के साथ किसी यात्रा की योजना बना सकते हैं।

उपाय- घर से निकलने से पहले अपने पिता का आशीर्वाद लें।

वृषभ साप्ताहिक राशिफल

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए सूर्य तीसरे भाव यानी कि बल, यात्रा और भाई-बहन के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य मिथुन राशि के दूसरे भाव यानी कि धन, परिवार और वाणी के भाव में गोचर करेगा। यह अवधि आपके लिए आर्थिक रूप से लाभकारी सिद्ध हो सकती है।

पेशेवर रूप से, यह अवधि नौकरीपेशा जातकों के जीवन में वेतन वृद्धि और प्रोत्साहन लेकर आ सकती है। जो जातक सरकारी परियोजनाओं पर काम कर रहे हैं, वे इस दौरान अच्छा लाभ अर्जित कर सकते हैं। दोस्तों की मदद से भी आपको धन प्राप्ति हो सकती है। साथ ही, अतीत में अटका हुआ या फंसा हुआ धन वापस मिलने की संभावना अधिक है।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो इस अवधि में आप अपनी ऊर्जा में कमी महसूस कर सकते हैं। आप स्वभाव से मुखर हो सकते हैं और इसी वजह से आपको अपने परिवार के लोगों से साथ बहस और लड़ाई-झगड़े जैसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो इस दौरान आप आंख से जुड़ी कोई समस्या या मुंह में छाले की समस्या से परेशान हो सकते हैं इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने खान-पान के प्रति सावधान रहें और अपनी आंखों को सीधी धूप से बचाएं।

उपाय- प्रतिदिन गायों को गेहूं और गुड़ खिलाएं।

मिथुन साप्ताहिक राशिफल

करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए सूर्य दूसरे भाव यानी कि परिवार और धन के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य कर्क राशि के लग्न भाव में गोचर करेगा।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो नौकरीपेशा जातक सूर्य का कर्क राशि में गोचर के दौरान वेतन वृद्धि और प्रोफ़ाइल में उत्थान की उम्मीद कर सकते हैं। जो जातक सरकारी नौकरी के लिए प्रयास कर रहे हैं, प्रबल संभावना है कि वे इस अवधि में भाग्यशाली साबित होंगे यानी कि वे अपनी मनपसंद नौकरी पाने में सफल हो सकते हैं। व्यवसायी जातक इस दौरान अधिक सक्रिय होंगे और अपने काम करने की शर्तों को निर्धारित करते नज़र आएंगे। जो जातक पारिवारिक व्यवसाय (फ़ैमिली बिज़नेस) में हैं, वे इस गोचर अवधि में अच्छा खासा लाभ अर्जित कर सकेंगे। कुल मिलाकर, यह अवधि कर्क राशि के जातकों के लिए पेशेवर रूप से काफ़ी लाभकारी सिद्ध होगी।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो सूर्य के इस गोचर के दौरान आपका स्वभाव उग्र होने की संभावना अधिक रहेगी, जिसके कारण आप अपने प्रियजनों के साथ व्यवहार में थोड़ा कठोर व रूखे होंगे। आप ज़रा-ज़रा सी बातों पर चिंतित और बेताब हो सकते हैं। इसके अलावा, इस दौरान आप अपने परिवार पर अधिक आधिपत्य जताएंगे और घर के कुछ सदस्यों पर किसी प्रकार का प्रतिबंध लगाने का प्रयास भी कर सकते हैं। आप पूरी ऊर्जा के साथ लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में काम करते नज़र आएंगे साथ ही, अधिक प्राप्त करने की चाहत रखेंगे। स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो सूर्य के इस गोचर के दौरान आपको बेचैनी, घबराहट और रक्तचाप जैसी समस्याएं हो सकती हैं इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें और किसी भी प्रकार की समस्या होने पर तुरंत चिकित्सक से परामर्श लें।

उपाय- सूर्योदय के समय तांबे के बर्तन में जल भरकर उसमें कुमकुम डालें और सूर्य को अर्घ्य दें।

कर्क साप्ताहिक राशिफल

सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए सूर्य लग्न भाव का स्वामी है और इस गोचर काल के दौरान यह आपके बारहवें भाव यानी कि व्यय, हानि और विदेश यात्रा के भाव में गोचर करेगा।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो वे नौकरीपेशा जातक जो विदेशी ग्राहकों के साथ काम कर रहे हैं या बहुराष्ट्रीय कंपनियों में काम कर रहे हैं, उनके लिए सूर्य का यह गोचर अनुकूल सिद्ध होगा। आप इस दौरान अंतर्राष्ट्रीय ग्राहकों से अपनी कंपनी के लिए अच्छा खासा बिज़नेस (मुनाफ़ा) हासिल करने में कामयाब होंगे। इसके लिए आपकी सराहना की जाएगी साथ ही, नकद या किसी वस्तु के रूप में आपको पुरस्कृत भी किया जा सकता है। व्यवसायी जातकों को सलाह दी जाती है कि सूर्य के इस गोचर के दौरान अधिक सावधान रहें क्योंकि इस दौरान आपके प्रतिद्वंद्वी आपके ख़िलाफ़ उल-जुलूल बातें करके (निगेटिव पब्लिसिटी) करके मार्केट में आपकी छवि बिगाड़ने का प्रयास कर सकते हैं। हालांकि, यदि आप निर्यात (एक्सपोर्ट) उद्योग में हैं तो इस दौरान आपके ऑर्डर की संख्या में वृद्धि होने की संभावना अधिक है।

व्यक्तिगत जीवन की बात की जाए तो सूर्य के इस गोचर के दौरान आप कुछ यात्राओं की योजना बना सकते हैं जो कि आपके लिए आरामदायक न होकर काफ़ी थकाऊ होंगी। आपको यह सलाह दी जाती है कि इन यात्राओं के दौरान अपने कीमती सामान ध्यान रखें चूंकि सामान चोरी होने या खो जाने की आशंका अधिक है। स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो इस दौरान आपको कमज़ोरी हो सकती है, आप अपनी ऊर्जा में कमी महसूस कर सकते हैं इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि संतुलित आहार का सेवन करें।

उपाय- प्रतिदिन सुबह 108 बार 'ॐ सूर्याय नमः' का जाप करें।

सिंह साप्ताहिक राशिफल

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए सूर्य बारहवें भाव यानी कि हानि और यात्रा के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य कन्या राशि के ग्यारहवें भाव यानी कि आय और लाभ के भाव में गोचर करेगा। धन के भाव में सूर्य की स्थिति आमतौर पर अच्छे परिणाम प्रदान करती है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि उन जातकों के लिए अनुकूल सिद्ध होगी, जो पब्लिक सेक्टर में नौकरी की तलाश कर रहे हैं। पर्यावरणविद और समाजसेवी के रूप में काम करने वाले जातकों के कार्यों को इस दौरान एक अलग पहचान मिलने वाली है। व्यवसायी जातकों को सलाह दी जाती है कि सूर्य के इस गोचर के दौरान कोई भी नया निवेश करने से बचें चूंकि समय कठिन है, हानि होने की आशंका अधिक है। यदि आप अपनी योजनाओं और रणनीतियों में कुछ बदलाव करेंगे तो अवश्य ही आपको इसके सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो सूर्य के इस गोचर के दौरान आप अधिक सामाजिक होंगे और नए दोस्त बनाना पसंद करेंगे। लोगों के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे और समाज में आपकी लोकप्रियता बढ़ेगी। यह अवधि कन्या राशि के उन जातकों के लिए बहुत अच्छी न रहने की आशंका है, जो प्रेम संबंध में हैं। इस दौरान आपको अपने प्रिय के साथ संबंध में बहस और कुछ विवादों का सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से, इस अवधि में आपको पाचन संबंधी समस्याओं से गुज़रना पड़ सकता है इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि खाने-पीने की आदतों के प्रति सावधानी बरतें।

उपाय- भगवान राम की कहानियां पढ़ें और रामचरितमानस के श्लोकों का पाठ करें।

कन्या साप्ताहिक राशिफल

तुला

तुला राशि के जातकों के लिए सूर्य ग्यारहवें भाव यानी कि आय और लाभ के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य आपके दसवें भाव यानी कि पेशे और कर्म के भाव में गोचर करेगा। इस भाव में सूर्य को दिग्बल प्राप्त होता है इसलिए यह जातकों को असाधारण (एक्स्ट्राऑर्डिनरी) परिणाम प्रदान करता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो जातक अपने करियर की नई शुरुआत करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें इस अवधि में जल्द ही सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। नौकरीपेशा जातकों को उनके कार्यक्षेत्र में प्रशंसा और प्रसिद्धि प्राप्त होगी। व्यवसायी को इस दौरान अपने व्यवसाय में प्रतिष्ठा और ख्याति प्राप्त होने वाली है। साथ ही, मार्केटिंग और सेल्स के लिए नई रणनीतियों को लागू करने के लिए भी यह समय अनुकूल सिद्ध होगा। आप इस दौरान कुछ आधिकारिक लोगों से मुलाक़ात करेंगे और उनका मार्गदर्शन या सहयोग आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगा।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो इस दौरान आपके संबंध अपने पिता के साथ अच्छे रहेंगे और आपको अपने सभी प्रयासों में उनकी तरफ़ से पूरा सहयोग प्राप्त होगा लेकिन आपके संबंध अपनी माता के साथ बहुत अच्छे न रहने की आशंका है। आपका उनसे किसी बात पर विवाद हो सकता है। सूर्य के इस गोचर के दौरान आप कोई वाहन ख़रीदने पर निवेश कर सकते हैं।

उपाय- मंदिर में गुड़ और गेहूं का आटा दान करें।

तुला साप्ताहिक राशिफल

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए सूर्य दसवें भाव यानी कि पेशे और कर्म भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य आपके नौवें भाव यानी कि भाग्य और धर्म के भाव में गोचर करेगा। वृश्चिक राशि के जातकों के लिए यह गोचर शुभ साबित होगा क्योंकि यह आपके जीवन में भाग्य और समृद्धि लेकर आने वाला है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह गोचर अवधि आपके लिए अनुकूल सिद्ध होगी। जैसे कि यदि आप अपनी नौकरी में बदलाव करने की योजना बना रहे हैं तो इस अवधि में आपको कई अवसर प्राप्त होंगे। यदि आप अपने करियर की शुरुआत करने के लिए किसी इंडस्ट्री में नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो आप अपने सपने की नौकरी पाने के लिए भाग्यशाली सिद्ध होंगे। जो जातक रियल एस्टेट और ट्रैवेल इंडस्ट्री में हैं, वे इस दौरान अपने पेशे में ग़ज़ब का उछाल देखेंगे। इसके अलावा, प्रबल संभावना है कि आप इस दौरान व्यावसायिक उद्देश्य के लिए कोई भूमि ख़रीदने पर निवेश कर सकते हैं।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो इस अवधि आप धर्मार्थ और नॉन प्रॉफिटेबल संगठनों से जुड़ेंगे, जिसके कारण समाज में आपकी अच्छी छवि और प्रतिष्ठा बनेगी। सूर्य के इस गोचर के दौरान आप अपने परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल की यात्रा भी कर सकते हैं।

उपाय- रविवार के दिन ब्राह्मण या पुजारी को भोजन कराएं।

वृश्चिक साप्ताहिक राशिफल

बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए सूर्य नौवें यानी कि प्रसिद्धि और भाग्य के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य आपके आठवें भाव यानी कि विरासत और असंगति के भाव में गोचर करेगा। सूर्य की यह स्थिति बहुत अधिक अनुकूल नहीं मानी जाती है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो जातक सट्टा बाज़ारों जैसे कि शेयर मार्केट व स्टॉक मार्केट आदि से जुड़े हैं, उन्हें इस दौरान हानि होने की संभावना अधिक रहेगी। आपको यह सलाह दी जाती है कि सूर्य के इस गोचर दौरान बड़ी ही सूझ-बूझ के साथ निवेश करें, एक ही जगह पर सारा जोख़िम न लें। नौकरीपेशा जातकों को इस गोचर अवधि में अपनी नौकरी को लेकर असुरक्षा महसूस हो सकती है और गंदी राजनीति या किसी प्रकार की साज़िश का भी सामना करना पड़ सकता है, इसलिए उन्हें इस दौरान अपने वरिष्ठों या बॉस से बातचीत करते समय सावधान रहने की सलाह दी जाती है।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो यह अवधि शोधकर्ताओं और पीएचडी कर रहे जातकों के लिए लाभकारी सिद्ध होगी। आपका गहन अध्ययन और अवलोकन इस दौरान फलदायी साबित होंगे। साथ ही, रहस्य विज्ञान में रुचि रखने वाले जातकों के लिए भी सूर्य का गोचर अनुकूल सिद्ध होगा, आपको इस अवधि में कुछ नया सीखने को मिलेगा। स्वास्थ्य के लिहाज से यह समय थोड़ा औसत रहने वाला है क्योंकि इस दौरान आपको कमज़ोरी, बुखार और किसी प्रकार का फ़्लू हो सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें।

उपाय- आदित्य हृदय स्तोत्रम का पाठ करें।

धनु साप्ताहिक राशिफल

मकर

मकर राशि के जातकों के लिए सूर्य आठवें भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य आपके सातवें भाव यानी कि संगठन, साझेदारी और विवाह के भाव में स्थित रहेगा। मान्यताओं के अनुसार, विवाह के भाव में सूर्य का प्रभाव बहुत अधिक शुभ नहीं होता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो जातक साझेदारी के व्यवसाय में हैं, उन्हें इस दौरान अपने व्यापार में कुछ अनिश्चितताओं का सामना करना पड़ सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने विरोधियों या शत्रुओं से सावधान रहें चूंकि वे आपकी सामाजिक छवि बिगाड़ने का प्रयास कर सकते हैं। जो जातक खनन या बीमा उद्योग में हैं, उनके लिए यह अवधि तुलनात्मक रूप से बेहतर सिद्ध होगी। वहीं नौकरीपेशा जातकों को अपने वरिष्ठों के अजीबोगरीब व्यवहार के कारण कुछ बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है।

व्यक्तिगत तौर पर, आशंका है कि यह अवधि विवाहित जातकों के जीवन में कुछ विवाद/झड़प/बहस लेकर आएगी। आप अपने जीवनसाथी के अजीब रवैये के कारण थोड़ी निराशा महसूस कर सकते हैं। जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं, उन्हें अपना हमसफ़र पाने के लिए थोड़ा और इंतज़ार करने की ज़रूरत होगी क्योंकि इस अवधि में आपको अपने मनमुताबिक प्रस्ताव न मिलने की संभावना आधिक है।

उपाय- प्रतिदिन सुबह और शाम को हनुमान चालीसा का पाठ करें।

मकर साप्ताहिक राशिफल

कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए सूर्य सातवें भाव यानी कि विवाह और साझेदारी के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य आपके छठे भाव यानी कि रोग, प्रतिस्पर्धा और विवाद के भाव में गोचर करेगा।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि उन जातकों के लिए अनुकूल सिद्ध होगी जो मुकदमेबाजी, न्यायपालिका और कर विभाग (टैक्स डिपार्टमेंट) जैसी पेशेवर सेवाओं में हैं। व्यवसायी जातकों को सूर्य के इस गोचर के दौरान अधिक सावधान रहने की ज़रूरत होगी क्योंकि व्यवसाय की वृद्धि और विस्तार के लिए कर्ज़ लिया गया धन फलदायी सिद्ध नहीं हो सकता है। सरकारी नौकरी कर रहे जातकों के लिए यह अवधि अनुकूल साबित होगी क्योंकि इस दौरान आप अपने जूनियर्स पर अच्छी कमांड बनाए रखने में सक्षम होंगे।

व्यक्तिगत जीवन की बात की जाए तो विवाहित जातकों को जीवनसाथी के ख़राब स्वास्थ्य या फिर कुछ ज़रूरी यात्रा योजनाओं के कारण अपने जीवनसाथी के साथ संबंध में कुछ दूरियों का सामना करना पड़ सकता है। जो जातक प्रेम संबंध में हैं, उन्हें इस अवधि में अधिक सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है चूंकि ऐसी आशंका है कि इस दौरान आपका अपने प्रिय के साथ किसी बात पर बार-बार बहस और विवाद हो सकता है। इससे आपके रिश्ते में मनमुटाव पैदा हो सकते हैं साथ ही, आपके मन में अपने रिश्ते को आगे ले जाने को लेकर दोहरे विचार भी आ सकते हैं।

उपाय- रविवार के दिन मंदिर में लाल कपड़ा दान करें।

कुंभ साप्ताहिक राशिफल

मीन

मीन राशि के जातकों के लिए सूर्य छठे भाव यानी कि सेवा, प्रतिस्पर्धा और विवाद के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य आपके पांचवें भाव यानी कि प्रेम, संतान और रोमांस के भाव में गोचर करेगा।।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, इस अवधि में उनके सामने कुछ उतार-चढ़ाव की स्थितियां आने की आशंका है। इस दौरान किसी भी प्रकार का निवेश करना आपको कर्ज़ तले दबा सकता है। जो जातक शिक्षा के क्षेत्र में हैं, उनके लिए यह समय प्रबल है क्योंकि आपको अपनी मनपसंद नौकरी मिलने की संभावना अधिक है।

व्यक्तिगत जीवन की बात की जाए तो छात्रों के लिए यह अवधि अनुकूल सिद्ध होगी। आप अपनी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होंगे और अच्छे अंकों के साथ स्नातक पूरा कर सकेंगे। जिन छात्रों ने हाल ही में अपना पाठ्यक्रम पूरा किया है, उन्हें इस अवधि में प्लेसमेंट के प्रस्ताव मिलने की संभावना है। प्रेम जीवन के लिहाज से यह अवधि बहुत अधिक अनुकूल न रहने की आशंका है। यदि आप किसी के सामने अपने प्रेम का इज़हार करने की योजना बना रहे हैं तो आपको थोड़े समय के लिए इंतज़ार करने की सलाह दी जाती है। यदि आप वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रहे हैं तो इस दौरान आपके संबंध अपने बच्चों के साथ थोड़े तनावपूर्ण हो सकते हैं।

उपाय- रविवार के दिन ज़रूरतमंदों को धूमिल सफ़ेद (ऑफ़ व्हाइट) रंग के वस्त्र दान करें।

मीन साप्ताहिक राशिफल

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।