• AstroSage Brihat Horoscope
  • Ask A Question
  • AstroSage Child Report Banner
  • Raj Yoga Reort
  • Career Guidance

बुध का कन्या राशि में गोचर - 2 सितंबर 2020

साल 2020 में बुध ग्रह 2 सितंबर, 12 बजकर 3 मिनट पर सिंह से कन्या राशि में प्रवेश करेंगे और 22 सितंबर को 16 बजकर 55 मिनट पर तुला राशि में गोचर कर जाएंगे। बुध के कन्या राशि में गोचर करने से सभी 12 राशियों को अलग-अलग फल होंगे। आईए जानते हैं आपकी राशि पर इस गोचर का क्या प्रभाव पड़ेगा।

किसी समस्या से हैं परेशान, समाधान पाने के लिए ज्योतिष से प्रश्न पूछें

बुद्धि के देवता बुध का गोचर 2 सितंबर 2020 को अपनी ही राशि कन्या में होगा। बुध ग्रह को ज्योतिष में युवराज का दर्जा प्राप्त है और यह आपकी वाणी, व्यवसाय, शिक्षा आदि को प्रभावित करता है। कुंडली में बुध की प्रबल स्थिति जहां व्यक्ति को तार्किक क्षमता और मधुर वाणी प्रदान करती है, वहीं कमजोर बुध आपकी तार्किक क्षमता को खराब कर सकता है और त्वचा संबंधी रोग भी दे सकता है। बुध की स्थिति को सुधारने के लिए आपको इस ग्रह से जुड़े उपाय करने चाहिए।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि

Read Here In English: Mercury transit in Virgo

बुध का कन्या राशि में गोचर

मेष

राशि चक्र की प्रथम राशि मेष के जातकों के षष्ठम भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस भाव से हम आपके शत्रुओं, ऋण, विवाद आदि के बारे में विचार करते हैं। यह समय इस राशि के उन जातकों के लिए बहुत शुभ रहेगा जो नौकरी पेशा से जुड़े हैं।

इस दौरान आपको जॉब में अच्छी तरक्की मिल सकते ही वहीं जो लोग नई जॉब पाना चाहते हैं उनके लिए भी यह गोचर अच्छा रहेगा, आपको किसी बड़ी संस्था में काम करने का मौका मिल सकता है। इस गोचर के दौरान जितना आप अपनी रचनात्मकता को बढ़ाएंगे उतना ही आपके काम में निखार आएगा। इस राशि के जातक बुध ग्रह के गोचर के दौरान रिस्क लेने में भी आगे रहेंगे और अपनी कार्यकुशलता से अपना हर काम पूरा करने की कोशिश करेंगे।

इस राशि के जो जातक बिजनेस करते हैं उन्हें इस दौरान लोन आदि लेने से बचना चाहिए, संभव है कि आपके पास लोन के कई ऑफर इस दौरान आएं। इस समय कारोबारियों को व्यापार को फैलाने से ज्यादा वर्तमान स्थिति को मजबूत करने की कोशिश करनी चाहिए। स्वास्थ्य को लेकर इस राशि के जातकों को सावधान रहना होगा इस दौरान त्वचा से संबंधी कोई परेशानी हो सकती है।

उपाय- बुधवार के दिन जरुरतमंदों को अनाज दान करें।

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के शिक्षा, बुद्धि, और प्रेम के पंचम भाव में बुध ग्रह गोचर करेगा। इस राशि में बुध के गोचर से इस राशि के विद्यार्थियों को विशेष लाभ मिलेगा। यदि आप उच्च शिक्षा अर्जित कर रहे हैं तो कोई उपलब्धि आपको मिल सकती है। फाइनेंस और प्रबंधन के क्षेत्र से जुड़े छात्रों के लिए यह समय अति उत्तम साबित होगा।

इस राशि के वो लोग जो प्रेम संबंधों में पड़े हैं उनके लिए भी यह समय अच्छा रहेगा आपको पार्टनर के साथ रोमांटिक क्षण बिता पाएंगे। हालांकि आपको अपने जीवनसाथी के व्यवहार या बातों को लेकर कोई तोलमोल नहीं करना चाहिए। वृषभ राशि के लोग हर काम को परफेक्शन के साथ करना चाहते हैं इस समय भी आप ऐसा ही कुछ कर सकते हैं जिसके चलते आपके कुछ काम अटक सकते हैं।

आपको काम को अच्छी तरह से तो करना चाहिए लेकिन कुछ इस तरह कि बाकी के काम भी चलते रहें। इस गोचर के दौरान आपके समझने की क्षमता बढ़ेगी और नई चीजें सीखकर आप अपने काम को और बेहतर बना सकते हैं। वृषभ राशि के जातक इस दौरान भविष्य को लेकर भी कोई प्लानिंग कर सकते हैं।

उपाय- अपनी बहन या बुआ को उनकी पसंद का कोई उपहार दें, शुभ फल प्राप्त होंगे।

मिथुन

बुध देव आपकी राशि के चतुर्थ भाव में गोचर करेंगे। इस भाव से आपकी माता, सुख-सुविधाओं आदि के बारे में विचार किया जाता है। बुध का यह गोचर आपके लिए अच्छा रहेगा इस गोचर के दौरान आप अपने मन की शांति के लिए रचनात्मक काम जैसे गायन, वादन, लेखन आदि का सहारा ले सकते हैं। चूंकि इस समय आपका मन शांत रहेगा इसलिए नई चीजों को भी आप झट से सीख जाएंगे।

आपके पारिवारिक जीवन पर नजर डालें तो माता के साथ आपके संबंध सुधरेंगे, यदि उनकी तबीयत काफी समय से खराब थी तो उसमें भी इस दौरान सुधार हो सकता है। इस राशि के कुछ जातक बुध के गोचर काल के दौरान नया वाहन या प्रॉपर्टी खरीद सकते हैं। यदि आप अपनी प्रॉपर्टी बेचना चाहते हैं तो उसके लिए भी यह समय अच्छा है।

सामाजिक स्तर पर इस दौरान आपकी मुलाकात अच्छे लोगों से होगी जिसके चलते आपको बहुत कुछ नया सीखने को मिलेगा। इस राशि के जो जातक शादीशुदा हैं उनके साथी को इस गोचर काल के दौरान किसी तरह का फायदा मिल सकता है। बुध बुद्धि का कारक ग्रह है इसलिए बुध के इस संक्रमण काल के दौरान इस राशि के विद्यार्थियों को भी लाभ मिलेगा, इस राशि के विद्यार्थियों की एकाग्रता बढ़ेगी और जटिल विषयों को भी वो आसानी से समझ पाएंगे।

उपाय- बुधवार के दिन किन्नरों का आशीर्वाद लेना आपके लिए लाभदायक रहेगा।

कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट से अपने करियर में आ रही हर परेशानी को करें दूर

कर्क

कर्क राशि के जातकों के तृतीय भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस भाव से आपके पराक्रम, साहस, छोटे भाई-बहन आदि के बारे में विचार किया जाता है। कर्क राशि के तृतीय भाव में बुध का गोचर इस राशि के जातकों की कम्यूनिकेशन स्किल्स को बढ़ाएगा। अपनी वाणी के दम पर आप समाज में एक अलग जगह बना सकते हैं। आप इस दौरान नए लोगों से मिल सकते हैं और उनसे नई चीजें सीख सकते हैं।

इस राशि के जातकों को सोशल मीडिया या इंटरनेट के जरिये कोई खुशखबरी इस दौरान मिल सकती है। इस राशि के लोगों को यात्राओं से भी इस समय काल में फायदा हो सकता है, खासकर छोटी दूरी की यात्राएं आपको काफी फायदा पहुंचाएंगी। इस समय आप लोगों की बातों को ध्यान से सुनेंगे जिसके चलते लोगों का आप पर विश्वास बढ़ेगा और आप भी लोगों से काफी कुछ सीख पाएंगे।

इस राशि के जो जातक मीडिया के क्षेत्र से जुड़े हैं या लेखन का कार्य करते हैं तो उन्हें इस गोचर के दौरान उन्नति मिल सकती है। स्वास्थ्य के लिहाज से भी यह समय अच्छा रहेगा। स्वास्थ्य जीवन की बाद की जाए तो इस राशि के जातकों को एलर्जी की समस्या हो सकती है, आपको धूल भरी जगहों पर जाने से इस दौरान बचना चाहिए। यदि परेशानी ज्यादा बढ़े तो तुरंत चिकित्सक से सलाह लें।

उपाय- बुधवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा करें, जीवन में आ रही परेशानियां दूर होंगी।

सिंह

बुध देव आपकी राशि से द्वितीय भाव में गोचर करेंगे। यह भाव आपकी वाणी, धन, परिवार आदि का होता है। बुध के गोचर काल के दौरान आप परिवार के बीच ज्यादा से ज्यादा वक्त बिताएंगे और अपने दायित्वों की पूर्ति करेंगे। इस समय आप घर के लोगों की समस्याओं को सुलझाने के लिए उनसे खुलकर बात कर सकते हैं। वहीं इस राशि के कुछ जातकों के घर में कोई नया मेहमान आ सकता है।

हालांकि आर्थिक पक्ष को लेकर इस राशि के जातकों को इस दौरान सचेत रहने की जरुरत है, बचत करने के लिए आपको अच्छा बजट प्लान बनाना चाहिए और उसके हिसाब से ही खर्चे करने चाहिए। नौकरी पेशा और कारोबार करने वाले लोगों को बुध के इस गोचर के दौरान भाग्य का साथ मिल सकता है, इस समय कम प्रयास करने के बावजूद भी आपको अच्छे फल मिलेंगे।

सिंह राशि के विद्यार्थी अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए इस दौरान दृढ़-संकल्प रहेंगे और जमकर मेहनत करेंगे। दांपत्य जीवन को बेहतर बनाने के लिए इस दौरान आप प्रयास करेंगे और अपने जीवनसाथी को खुश रखने की पूरी कोशिश करेंगे। इस राशि के कुछ जातक कल्पनाओं की दुनिया में गोते लगा सकते हैं, हालांकि ऐसा करने से आपका समय बर्बाद होगा और कुछ नहीं इसलिए जितना हो सकते वर्तमान में रहें।

उपाय- किन्नरों को हरे रंग की वस्तुएं दान करना आपके लिए शुभ रहेगा।

कन्या

कन्या राशि का स्वामी ग्रह बुध है और इस गोचर काल के दौरान बुध ग्रह आपके प्रथम भाव में स्थित होगा। यह भाव स्वास्थ्य, व्यक्तित्व, बुद्धि, स्वभाव आदि का होता है। बुद्धि के देवता बुध का यह गोचर इस राशि के कारोबारियों के लिए बहुत लाभदायक सिद्ध होगा आपकी बिजनेस सेंस में इजाफा होगा, नफे-नुक्सान को आप तुरंत भांप जाएंगे जिसके चलते कई मुश्किल परिस्थितियों से आप बच सकते हैं।

कन्या राशि के लोगों में इस दौरान सकारात्मकता देखी जा सकती है जिसके कारण आपके आसपास का वातावरण भी खिलाखिला रहेगा। परिवार के लोग आपके व्यवहार से खुश होंगे वहीं सामाजिक जीवन में भी लोग आपसे आकर्षित हो सकते हैं। कन्या राशि में बुध दिगबली होता है इसलिए इस दौरान आप रचनात्मक कार्यों में दिलचस्पी ले सकते हैं और लोगों के बीच चर्चा का विषय बन सकते हैं।

स्वास्थ्य को लेकर भी इस राशि के जातकों को इस समय काल में ज्यादा चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इनकी प्रतिरोधक क्षमता इस दौरान कमाल की रहेगी। हालांकि यह सोचकर आपको बेफिक्र नहीं हो जाना चाहिए और सेहत को दुरुस्त बनाए रखने के लिए जरुरी काम करने चाहिए।

बुध के इस गोचर के दौरान आप आने वाली स्थितियों का बहुत ज्यादा आकलन कर सकते हैं जिसकी वजह से कुछ काम अटक सकते हैं इसलिए ऐसा करने से बचें।

उपाय- बुधवार के दिन श्री दुर्गा सप्तशती का पाठ करना आपके लिए लाभदायक रहेगा।

आपकी कुंडली में है कोई दोष? जानने के लिए अभी खरीदें एस्ट्रोसेज बृहत् कुंडली

तुला

राशिचक्र की सप्तम राशि तुला के जातकों के द्वादश भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस गोचर के दौरान आपको थोड़ा संभलकर रहना होगा क्योंकि द्वादश भाव हानि, व्यय आदि का कारक होता है। इस दौरान तुला राशि के जातक उलझनों से घिरे हो सकते हैं जिसके कारण निर्णय लेने की आपकी क्षमता प्रभावित हो सकती है। बुध के इस गोचर के दौरान आपको योग ध्यान अवश्य करना चाहिए क्योंकि इससे आपके दिमाग में चलने वाली निरर्थक बातें हट सकती हैं।

धार्मिक क्रियाकलापों में हिस्सा लेना इस राशि के जातकों के लिए अच्छा रहेगा। आपके आर्थिक पक्ष पर नजर डालें तो खर्चे इस दौरान बढ़ सकते हैं जिसके कारण आपको मानसिक तनाव हो सकता है। खर्चों पर लगाम लगाने के लिए अच्छा बजट प्लान करें।

स्वास्थ्य को लेकर भी इस राशि के लोगों को इस गोचर काल के दौरान सचेत रहना होगा। कोई पुरानी बीमारी फिर से आपको परेशान कर सकती है। अच्छा खानपान औऱ सही दिनचर्या से आप कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर कर सकते हैं। विद्यार्थियों की एकाग्रता में भी इस गोचर काल के दौरान खलल पड़ सकता है, पढ़ाई पर ध्यान लगाने के लिए आपको उन लोगों से इस दौरान दूर रहना होगा जिनके साथ रहने से आपके अंदर नकारात्मक विचार आते हैं।

उपाय- गौ माता की सेवा करें और हरा चारा खिलाएं, जीवन में आ रही परेशानियां दूर होंगी।

वृश्चिक

बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि से एकादश भाव में होगा। इस भाव को लाभ भाव भी कहा जाता है और इससे बड़े भाई-बहन, इच्छाओं, मित्र आदि के बारे में विचार किया जाता है। इस गोचर के दौरान जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से आपको लाभ की प्राप्ति होगी। इस राशि के जो जातक नौकरी पेशा से जुड़े हैं उन्हें अपने काम के चलते कार्यक्षेत्र में उन्नति मिल सकती है। हालांकि आपको एक से ज्यादा काम इस दौरान हाथ में लेने से बचना चाहिए नहीं तो परेशान हो सकते हैं और इसके चलते आपका काम भी खराब हो सकता है। इस राशि के कारोबारी अपनी मेहनत के दम पर अच्छे फल पा सकते हैं। हालांकि आपको ज्यादा लाभ की चाह में बिना सोचे-विचारे काम करने से बचना चाहिए। वृश्चिक राशि के जातकों के पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो माहौल अच्छा रहेगा, बड़े भाई-बहनों से आपको सहयोग मिलेगा और उनसे आपके संबंध भी सुधरेंगे। यह भाव मित्रों का भी होता है इसलिए इस अवधि में आपकी मुलाकात किसी पुराने मित्र से हो सकती है जिसके कारण आप अतीत की सुनहरी यादों में खो सकते हैं। इस समय में यदि आप भविष्य के लिए कुछ निवेश करते हैं तो आने वाले वक्त में आपको लाभ मिल सकता है। दूरगामी परिणामों के लिए बुध का यह गोचर बहुत शुभ रहेगा।

उपाय- बुधवार के दिन “ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः’’ मंत्र का जाप करना आपके लिए शुभफलदायी साबित होगा।

धनु

धनु राशि के जातकों के दशम भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस भाव में बुध के गोचर से आपको मनचाहे परिणामों की प्राप्ति होगी। चूंकि यह भाव आपके करियर के बारे में बताता है तो इस राशि के लोगों को बुध के इस गोचर के दौरान कार्यक्षेत्र में शुभ फल प्राप्त होंगे। आपके काम करने का तरीका आपके वरिष्ठों को पसंद आएगा और वो सबके सामने आपकी तारीफ कर सकते हैं जिसके कारण कार्यक्षेत्र में आपको मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। इस राशि कुछ नौकरी पेशा लोगों को इस दौरान पदोन्नति भी मिल सकती है। पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो आपके पिता का साथ इस दौरान आपको मिलेगा, उनके साथ किसी तरह का मनमुटाव यदि चल रहा था तो वो भी दूर हो सकता है जिसके कारण परिवार का माहौल अच्छा रहेगा। इस राशि के व्यापारी भी लाभ प्राप्त करने में सफल रहेंगे। इस राशि के विद्यार्थी अपनी मेहनत के दम पर कोई सम्मान इस दौरान प्राप्त कर सकते हैं। दशम भाव में बुध के गोचर के दौरान आप अपने व्यवहार में जरुरी बदलाव लाने की भी कोशिश कर सकते हैं क्योंकि इस भाव से आपके चरित्र पर भी विचार किया जाता है। सेहत को लेकर आप संजीदा रहेंगे इसलिए कोई बड़ी समस्या आपको नहीं आएगी।

उपाय- छोटी कन्याओं की पूजा करने और उन्हें उपहार देने से आपको अच्छे फल मिलेंगे।

मकर

मकर राशि के जातकों के नवम भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस भाव धर्म, उच्च शिक्षा, यात्रा आदि के बारे में विचार किया जाता है। आपके नवम भाव में बुध के गोचर से आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी। इस राशि के जो लोग उच्च शिक्षा अर्जित कर रहे हैं उन्हें विषयों को समझने में इस दौरान आसानी होगी। इस राशि के नौकरी पेशा लोग भी अपने कार्यकुशलता से कार्यक्षेत्र में लोगों को प्रभावित कर सकते हैं। यदि कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों के प्रति आपका व्यवहार अच्छा नहीं था तो उसमें इस दौरान आप सुधार कर सकते हैं। मकर राशि के जातक इस अवधि में धार्मिक क्रियाकलापों में व्यस्त हो सकते हैं। इसके साथ ही आध्यात्मिक विषयों को जानने में भी आपकी रुचि जग सकती है। इस गोचर की अवधि में आप आध्यत्म से जुड़ी पुस्तकें पढ़ सकते हैं। इस राशि के व्यापारियों की बात की जाए तो व्यापार के संबंध में यदि आप कोई यात्रा करते हैं तो उससे आपको लाभ हो सकता है। पारिवारिक जीवन में आप घर के बड़े-बुजुर्गों से इस दौरान बातचीत करेंगे और उनके अनुभवों से सीख लेंगे। कुल मिलाकर देखा जाए तो बुध का यह गोचर मकर राशि वालों के लिए अच्छा रहेगा।

उपाय- बुधवार के दिन साबुत मूंग का दान करना आपके लिए शुभ होगा।

आपकी कुंडली के शुभ योग जानने के लिये अभी खरीदें एस्ट्रोसेज बृहत् कुंडली

कुंभ

कुंभ राशि के जातको के अष्टम भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। यह भाव जीवन में आने वाली बाधाओं, दुर्घटना, शोध, गूढ़ ज्ञान आदि का कारक होता है। बुध के अष्टम भाव में गोचर इस राशि के उन जातकों के लिए अच्छा रहने की उम्मीद है जो शोध कर रहे हैं। शोध करने वाले विद्यार्थियों को इस दौरान कई स्रोतों से विषय से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हो सकती है। वहीं प्रारंभिक शिक्षा अर्जित कर रहे इस राशि के छात्र कुछ नया सीखने की पूरी कोशिश करते इस दौरान नजर आएंगे। आपके आर्थिक जीवन पर नजर डालें तो आपको पैतृक संपत्ति से इस दौरान लाभ हो सकता है। इसके साथ ही किसी दोस्त या रिश्तेदार से अचानक कोई गिफ्ट भी आपको मिल सकता है। पारिवारिक जीवन ठीकठाक रहेगा लेकिन संतान के स्वास्थ्य को लेकर कुछ चिंताएं हो सकती हैं। आपको बच्चों की सेहत को लेकर अत्यधिक सतर्क होने की जरुरत है। इस राशि के कुछ जातक बुध के इस गोचर के दौरान गूढ़ विषयों जैसे ज्योतिष और आध्यात्म को सीखने में रुचि ले सकते हैं। विवाहित जातकों को अपने ससुराल पक्ष से लाभ होने की संभावना है। अपनी सेहत का इस गोचर के दौरान ख्याल रखें पेट से संबंधी दिक्कतें आपको हो सकती हैं। संतुलित भोजन नियमित व्यायाम आपकी कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर कर सकता है।

उपाय- बुधवार के दिन हरी इलायची का दान आपको सफलता दिलाएगा।

मीन

बुध ग्रह मीन राशि के सप्तम भाव में गोचर करेंगे। सप्तम भाव से हम साझेदारियों, व्यवसाय, जीवनसाथी आदि के बारे में विचार किया जाता है। आपके लिए बुध ग्रह का यह गोचर शुभ रहेगा। आपको अपनी मेहनत का उचित फल इस दौरान प्राप्त होगा। यदि आप साझेदारी में कोई कारोबार करते हैं तो लाभ होने की पूरी संभावना है। साझेदार के साथ आपके संबंधों में भी इस अवधि में सुधार आएगा। नौकरी पेशा लोगों को भी कार्यक्षेत्र में अनुकूल परिस्थितियां मिलेंगी। हालांकि अपने व्यवहार पर आपको काम करने की जरुरत है क्योंकि बुध के इस गोचर के दौरान आप लोगों के काम में कमियां निकाल सकते हैं, हो सकता है कि आपकी बात सही हो लेकिन लोगों के सामने किसी की गलतियां बताने से बेहतर आपको अकेले में इस बारे में संबंधित शख्स से बात करनी चाहिए। सप्तम भाव से आपके वैवाहिक जीवन का भी पता चलता है, बुध के इस गोचर के दौरान आपके दांपत्य जीवन में निखार आएगा। जीवनसाथी के साथ आपका रिश्ता मजबूत होगा, इसके साथ ही आपके जीवनसाथी को उनके कार्यक्षेत्र में लाभ मिल सकता है। इस राशि के जो लोग विदेश जाना चाहते हैं उन्हें इस दौरान अपने प्रयास बढ़ा देने चाहिए सफलता मिल सकती है।

उपाय- घर या दफ्तर में बुध यंत्र की स्थापना करने से आप कई मुश्किलों से बच सकते हैं।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।