• Varta Astrologers
  • Mragaank
  • Parul

बुध का मिथुन राशि में गोचर (2 जुलाई, 2022)

एस्ट्रोसेज के इस लेख में आपको बुध का मिथुन राशि में गोचर (2 जुलाई, 2022) से जुड़ी सही व सटीक भविष्यवाणियाँ प्राप्त होंगी। यह भविष्यवाणियाँ हमारे विद्वान ज्योतिषियों द्वारा बुध ग्रह की चाल एवं स्थिति का विश्लेषण कर प्रदान की गई हैं, जो पूर्ण रूप से वैदिक ज्योतिष पर आधारित हैं। इस लेख में आपको सभी 12 राशियों के जातकों के पेशेवर जीवन, व्यक्तिगत जीवन, आर्थिक जीवन, स्वास्थ्य तथा शिक्षा आदि से जुड़े राशिफल के साथ-साथ नकारात्मक प्रभावों से बचने के उपाय भी बताए गए हैं, जिनकी मदद से आप अपने आने वाले कल को बेहतर बना सकते हैं। आइए आगे बढ़ते हैं और रशिनुसार जानते हैं कि बुध का यह गोचर हमारे जीवन में क्या बदलाव लेकर आने वाला है।

बुध का मिथुन राशि में गोचर

बुध सौरमंडल का सबसे छोटा ग्रह है और यह सूर्य का एक चक्कर बहुत तेजी में पूरा कर लेता है क्योंकि यह सूर्य के सबसे नज़दीक होता है। सूर्य के सबसे नज़दीक होने की वजह से यह अक्सर अस्त हो जाता है और फिर वक्री हो जाता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, सूर्य और बुध की यह युति एक अच्छे योग का निर्माण करती है, जिसे 'बुध आदित्य योग' के रूप में जाना जाता है, जो कि जातकों को तेज बुद्धि प्रदान करता है।

विद्वान ज्योतिषियों से फोन पर बात करें और जानें बुध गोचर का अपने जीवन पर प्रभाव

बुध ग्रह से जुड़ी हुई अनेक ऐसी कहानियां हैं, जो इसके मर्म और प्रभावों को सही ठहराती हैं। ग्रीक पौराणिक कथाओं में बुध को हर्मीस (हेमीज़) देवता के रूप में जाना जाता है, जो कि व्याख्या, विवेचना और अनुवाद के देवता हैं। वहीं वैदिक ज्योतिष में बुध को महत्वपूर्ण ग्रह इसलिए माना गया है चूंकि यह जातकों की तार्किक शक्ति और बौद्धिक क्षमता आदि का प्रतिनिधित्व करता है।

बुध का गोचर वैश्विक स्तर पर अर्थव्यवस्था, व्यापार और वाणिज्य को प्रभावित करता है चूंकि यह संचार का कारक ग्रह है। वित्त, व्यवसाय, रिकॉर्ड्स और गणना सभी बुध ग्रह के अंतर्गत आते हैं इसलिए इसका गोचर स्टॉक मार्केट और फ़ॉरेन एक्सचेंज को भी प्रभावित करता है।

बुध जन्मकुंडली में बुद्धि, संवाद कौशल और भाव का प्रतिनिधित्व करता है। मानव शरीर के तंत्रिका तंत्र का स्वामित्व बुध ग्रह को प्राप्त है इसलिए कुंडली में बुध की कमज़ोर स्थिति जातक के स्वास्थ्य और कल्याण को प्रभावित कर सकती है। जिन जातकों का बुध मज़बूत होता है, वे किचीज़ों का विश्लेषण करने में अच्छे होते हैं और उनकी बौद्धिक क्षमता भी बहुत अच्छी होती है। वहीं जिन जातकों की कुंडली में बुध संतुलित होता है, ऐसे जातक हाज़िरजवाबी होते हैं।

बुध वायु तत्व की राशि मिथुन और पृथ्वी तत्व की राशि कन्या का स्वामी ग्रह है। यह स्वराशि कन्या में उच्च होता है और मीन राशि में नीच का हो जाता है। सरल शब्दों में कहें तो कन्या इसकी उच्च राशि है और मीन इसकी नीच राशि। बुध का स्वराशि मिथुन में गोचर सामान्य रूप से जातक और समाज के लिए अनुकूल सिद्ध हो सकता है।

कुंडली में मौजूद राज योग की समस्त जानकारी पाएं

गोचरकाल की अवधि

बुध का मिथुन राशि में गोचर 2 जुलाई, 2022 की सुबह 9:40 बजे होगा और 17 जुलाई, 2022 की सुबह 12:01 बजे तक यानी कि कर्क राशि में गोचर करने तक इसी राशि में स्थित रहेगा।

आइए जानते हैं कि बुध के इस गोचर का सभी 12 राशियों के जातकों के जीवन पर क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है। साथ ही यह भी जानते हैं कि इसके नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिए क्या उपयुक्त उपाय किए जा सकते हैं।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि

Read in English: Mercury Transit in Gemini (2 July, 2022)

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए बुध तीसरे भाव यानी कि छोटे भाई-बहन, संचार, लघु यात्रा और साहस के भाव तथा छठे भाव यानी कि रोग, विवाद, प्रतिस्पर्धा और कानूनी मामलों के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध मेष राशि के तीसरे भाव में स्थित रहेगा।

इस दौरान आप अधिक ऊर्जावान रहेंगे और अपने आस-पास के लोगों के हंसी-मज़ाक व मनोरंजन करते नज़र आएंगे। साथ ही, आप अपने संवाद कौशल और हाज़िरजवाबी से लोगों को अपनी ओर आकर्षित करेंगे। आपका ध्यान अपने शौक और रुचियों के कार्यों की तरफ़ ज़्यादा रहेगा और हो सकता है कि आप अपनी रुचि से संबंधित किसी पाठ्यक्रम में हिस्सा भी ले लें। आपका झुकाव लेखन या नाटकों में हिस्सा लेने की ओर भी हो सकता है। आपके संबंध अपने भाई-बहनों के साथ अच्छे रहेंगे और वे (छोटे भाई-बहन) हर छोटी-बड़ी चीज़ों में आपका सहयोग करते नज़र आएंगे।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो जातक सर्विस में हैं, उन्हें अपनी नौकरी में बदलाव करने के कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं। जो जातक फ़्रेशर हैं, उन्हें अपना करियर शुरू करने के लिए नौकरी के कुछ अच्छे प्रस्ताव मिल सकते हैं।

जो जातक मीडिया, पत्रकारिता और मार्केटिंग से जुड़े हुए हैं, वे अपने करियर में वृद्धि देखेंगे। साथ ही जनसंपर्क के मामले में भी तेज़ी पकड़ेंगे, जो कि आपके पेशेवर जीवन के लिए सहायक सिद्ध होगा। इस दौरान आपका स्मार्ट वर्क आपके लिए फलदायी सिद्ध हो सकता है।

उपाय: तुलसी का एक पौधा लगाएं और उसकी देखभाल करें। प्रतिदिन शाम को उस पौधे की पूजा करें।

मेष साप्ताहिक राशिफल

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए बुध दूसरे भाव यानी कि परिवार, वाणी, भाव और धन के भाव का स्वामी है। यह वृषभ राशि के पांचवें भाव यानी कि शिक्षा, संतान, मनोरंजन और प्रेम संबंध के भाव का भी स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध आपके धन भाव में गोचर करेगा।

बुध के इस गोचर के दौरान आपकी बातचीत में सुधार होने की संभावना प्रबल है, जिसकी वजह से आपको अपने प्रियजनों के साथ संबंध में सुधार देखने को मिल सकता है। आप झुकाव अपने परिवार की ओर रह सकता है और आप उनकी चिंता और देखभाल को अपनी ज़िम्मेदारी समझेंगे यानी कि आप उनकी हर ज़रूरत, ख़्वाहिश का ख़्याल रखते नज़र आ सकते हैं।

छात्रों के लिए बुध का यह गोचर अनुकूल सिद्ध हो सकता है क्योंकि इस दौरान पढ़ाई के प्रति ध्यान और एकाग्रता में वृद्धि हो सकती है। वहीं जो जातक अध्ययन के लिए अपने पैतृक स्थान से कहीं दूर प्रवास करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें थोड़े समय के लिए इंतज़ार करना पड़ सकता है क्योंकि ऐसी आशंका है कि इस दौरान आपको इसमें अनुकूल परिणाम प्राप्त नहीं होंगे।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि उन जातकों के लिए अनुकूल रहने वाली है जो मार्केटिंग, पत्रकारिता, मीडिया और संचार क्षेत्र में काम कर रहे हैं। जो जातक फ़्रेशर हैं और नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें अपना करियर शुरू करने के लिए कुछ अवसर प्राप्त हो सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि कार्यस्थल पर अपने प्रतिद्वंदियों (विरोधियों) से सावधान रहें, विशेष रूप से जब आप कोई लेन-देन कर रहे हों। आशंका है कि इस दौरान आपके ख़िलाफ़ किसी प्रकार की साज़िश का प्रयास किया जा सकता है।

आर्थिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो पुराने कुछ निवेशों से लाभ प्राप्त होने की संभावना है। साथ ही, माता-पिता या उनके वंश की तरफ़ से भी धनलाभ होने के योग बन रहे हैं। आपके लिए इस दौरान स्टॉक मार्केट और शेयर मार्केट में निवेश करना अनुकूल सिद्ध हो सकता है क्योंकि सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने की संभावना अधिक है।

उपाय: अपनी मामी और चाची का सम्मान करें और उन्हें कुछ उपहार भेंट करें।

वृषभ साप्ताहिक राशिफल

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए बुध लग्न भाव यानी कि व्यक्तित्व, मस्तिष्क, विचार प्रक्रिया के भाव का स्वामी है। साथ ही, बुध चौथे भाव यानी कि भवन, सुविधा, सुख, भूमि, संपत्ति और वाहन के भाव का भी स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध मिथुन राशि के लग्न भाव में स्थित रहेगा।

बुध का यह गोचर आपके स्वभाव पर असरदार होगा। इस दौरान आप काफ़ी मज़ाकिया किस्म के हो सकते हैं, जो कि आपके आस-पास के लोगों को पसंद आ सकता है। आपका झुकाव प्रकृति की ओर ज़्यादा हो सकता है। आप बागबानी करना और पेड़-पौधे लगाना पसंद कर सकते हैं। आपकी बौद्धिक क्षमता में वृद्धि हो सकती है, परिणामस्वरूप आप हर चीज़ का सही से विश्लेषण कर उसके पीछे का कारण जानने की कोशिश कर सकते हैं। यदि आप उसका कारण जानने में असफल होंगे तो आपके लिए यह गंभीर चर्चा का विषय बन सकता है यानी कि बिना तह तक जाए बग़ैर आप उस चीज़ को यूं ही नहीं जाने दे सकते हैं।

यह अवधि मिथुन राशि के छात्रों के लिए कई अच्छे परिणाम लेकर आ सकती है क्योंकि इस दौरान उनकी बौद्धिक क्षमता में वृद्धि होने की संभावना है, जिससे कि वे अपने विषयों को अच्छी तरह समझने व उन्हें याद रखने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि उद्यमियों के लिए अनुकूल सिद्ध हो सकती है क्योंकि इस दौरान उनकी मार्केटिंग रणनीतियों और ग्राहक सेवाओं में बेहतरीन सुधार होने की संभावना है।

जो जातक अकाउंटिंग से जुड़े हुए हैं, वे इस दौरान अपनी सेवाओं की मांग में वृद्धि देख सकते हैं। यह समय व्यवसाय की वृद्धि हेतु नई रणनीतियों को लागू करने तथा निवेश करने के लिए भी फलदायी सिद्ध हो सकता है। वहीं जो जातक पारिवारिक व्यवसाय से जुड़े हैं, उनके लिए भी बुध का यह गोचर फलदायी सिद्ध हो सकता है क्योंकि इस अवधि में आप साथ मिलकर अपने व्यवसाय में विस्तार करने तथा अच्छे ग्राहक बनाने के लक्ष्यों की दिशा में काम करते नज़र आ सकते हैं।

उपाय: प्रत्येक बुधवार को विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें।

मिथुन साप्ताहिक राशिफल

करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए बुध तीसरे भाव यानी कि साहस, बल, छोटे भाई-बहन और लघु यात्रा के भाव तथा बारहवें भाव यानी कि व्यय, हानि और विदेश यात्रा के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध कर्क राशि के बारहवें भाव में स्थिर रहेगा।

इस दौरान आपके ख़र्चों में वृद्धि हो सकती है साथ ही आप कुछ फ़िज़ूल ख़र्च भी कर सकते हैं। आपका झुकाव बिजली के उपकरण ख़रीदने की ओर हो सकता है। आप अपने दोस्तों व परिचितों के साथ कहीं घूमने जाने की योजना बना सकते हैं। कुल मिलाकर इन सब चीज़ों में आपका धन ख़र्च होने की संभावना है।

इस दौरान आपके संबंध अपने भाई-बहनों से बहुत अधिक सौहार्दपूर्ण नहीं रह सकेंगे और आपको उनके साथ संबंध में कम बातचीत और दूरियों का सामना करना पड़ सकता है।

स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो आपको यह सलाह दी जाती है कि इस अवधि में अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें चूंकि आपको मानसिक तनाव, कंपकंपी और अनिद्रा की शिकायत हो सकती है। साथ ही, सर्दी और फ़्लू होने की भी आशंका है।

पेशेवर रूप से यह समय आपके लिए अनुकूल सिद्ध हो सकता है। जो जातक नौकरीपेशा हैं और विशेष रूप से बहुराष्ट्रीय कंपनियों में काम कर हैं, उन्हें इस दौरान अपने करियर में उत्थान के लिए कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं। जो जातक मार्केटिंग, मीडिया और पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्यरत हैं, वे इस दौरान अपने करियर ग्राफ में वृद्धि और विस्तार देख सकते हैं। इस दौरान आप काम के सिलसिले से कुछ ज़रूरी यात्राएं कर सकते हैं लेकिन ऐसी आशंका है कि आपको उन यात्राओं से कुछ ख़ास परिणाम हासिल नहीं होंगे।

उपाय: प्रतिदिन सुबह भगवान नारायण की पूजा करें और प्रार्थना करें।

कर्क साप्ताहिक राशिफल

सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए बुध दूसरे भाव यानी कि धन, परिवार, चेहरा और दाँत के भाव स्वामी है। साथ ही यह ग्यारहवें भाव यानी कि आय, लाभ, विस्तार और मित्रता के भाव का भी स्वामी है। धन के 2 महत्वपूर्ण भावों का स्वामी होने के कारण बुध सिंह राशि के जातकों के लिए धन योग कारक ग्रह है इसलिए इसका गोचर सिंह राशि के जातकों के आर्थिक जीवन में बड़े बदलाव लेकर आ सकता है। इस गोचर काल के दौरान बुध सिंह राशि के ग्यारहवें भाव यानी कि आय और लाभ के भाव में स्थित रहेगा।

इस दौरान आप काफ़ी मिलनसार और सामाजिक रूप से अधिक सक्रिय हो सकते हैं। आप अक्सर अपने दोस्तों से मुलाकात की योजनाएं बना सकते हैं साथ ही, अपनी मित्रमंडली में कुछ नए दोस्तों को भी शामिल कर सकते हैं। आपके संबंध घर के सदस्यों के साथ भी बेहतर नज़र आ रहे हैं, वे आपका हर तरह से सहयोग व समर्थन कर सकते हैं। इस दौरान आपको अपनी माता जी या ननिहाल पक्ष से किसी प्रकार का आर्थिक लाभ हो सकता है।

जो जातक प्रेम संबंध में हैं, यह अवधि उनके प्रेम जीवन में कुछ शरारतें लेकर आ सकती है लेकिन आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने प्रिय से मज़ाक करते समय या उनकी टांग खिंचाई करते समय थोड़ा सावधानी बरतें क्योंकि आपका प्रिय आपकी किसी बात से आहत या नाराज़ हो सकता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस दौरान आपकी आय के स्रोतों में वृद्धि होने की संभावना अधिक है। यदि आप किसी प्रकार का निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो यह समय आपके लिए फलदायी सिद्ध हो सकता है। यह समय स्टॉकहोल्डर्स और ब्रोकर्स के लिए भी अनुकूल रहने वाला है। प्रबल संभावना है कि आप इस दौरान अच्छा खासा लाभ अर्जित करने में सफल हो सकते हैं। जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, वे भी इस दौरान अच्छा लाभ अर्जित करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं साथ ही, अपने संसाधनों में विस्तार के लिए निवेश कर सकते हैं।

उपाय: बुधवार के दिन कन्याओं को हरे वस्त्र दान करें।

सिंह साप्ताहिक राशिफल

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए बुध लग्न भाव यानी कि व्यक्तित्व, विचार और शारीरिक बनावट के भाव का स्वामी है। साथ ही बुध इनके दसवें भाव यानी कि पेशे और करियर के भाव का भी स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध कन्या राशि के दसवें भाव यानी कि पेशे और करियर के भाव में स्थित रहेगा।

बुध के इस गोचर के दौरान आप हर चीज़ के प्रति अधिक सक्रिय, ऊर्जावान और उत्साही रहने वाले हैं। आप तरह-तरह के कार्यों में हिस्सा ले सकते हैं अर्थात इस अवधि में मल्टीटास्किंग हो सकते हैं। पारिवारिक जीवन भी काफ़ी शांत और सुखद रह सकेगा। आप घर के सदस्यों के साथ हंसी-मज़ाक करते हुए घर के माहौल को ख़ुशनुमा बनाने का प्रयास कर सकते हैं।

कन्या राशि के छात्रों के लिए भी यह गोचर अनुकूल सिद्ध हो सकता है। आपकी बैद्धिक क्षमता में विकास हो सकता है, जिससे कि आप अपने विषयों को जल्दी समझ सकेंगे व उन्हें लंबे समय तक याद रख सकेंगे।

पेशेवर रूप से भी बुध का यह गोचर आपके जीवन में अनुकूल परिणाम लेकर आ सकता है। जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, वे इस दौरान अपने व्यवसाय में वृद्धि और विस्तार देख सकेंगे। साथ ही, आप मार्केट में अपनी प्रतिष्ठा बनाने में भी सफलता प्राप्त कर सकते हैं। नौकरीपेशा जातक इस दौरान कार्यक्षेत्र में अपने काम से अपनी साख बना सकते हैं साथ ही, उन्हें कुछ उच्च अधिकारियों से मिलने का सौभाग्य प्राप्त हो सकता है। सरकारी नौकरी कर रहे जातकों को भी इस दौरान सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने की प्रबल संभावना है। जो जातक कुछ नया करने का विचार कर रहे हैं, उन्हें अपने समय का सदुपयोग करते हुए प्रयास ज़रूर करना चाहिए चूंकि आपको इसमें जल्द से जल्द सफलता मिल सकती है। चार्टर्ड अकाउंटेंट, अध्यापक और वकील इस दौरान अच्छी खासी लोकप्रियता और प्रसिद्धि हासिल कर सकते हैं, जिससे उनके ग्राहकों में वृद्धि हो सकती है।

उपाय: बुधवार के दिन मंदिर में हरी दाल दान करें।

कन्या साप्ताहिक राशिफल

तुला

तुला राशि के जातकों के लिए बुध नौवें भाव यानी कि भाग्य और धर्म के भाव का स्वामी है। साथ ही यह बारहवें भाव यानी कि व्यय, हानि और विदेश यात्रा के भाव का भी स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध तुला राशि के नौवें भाव में स्थित रहेगा।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो इस दौरान आपका झुकाव अध्यात्म और धार्मिक ग्रंथों के बारे में जानने की ओर रह सकता है और आप चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा आयोजित धर्मार्थ तथा दान-पुण्य के कार्यक्रमों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले सकते हैं। साथ ही, इस अवधि में आप कुछ तीर्थ स्थलों और धार्मिक मूल्यों के स्थानों की यात्रा कर सकते हैं। इसके अलावा, आपके संबंध अपने पिता व पितातुल्य व्यक्तियों के साथ अच्छे रहेंगे और आपको उनकी तरफ़ पूरा सहयोग व मार्गदर्शन प्राप्त हो सकता है। बुध के इस गोचर के दौरान आपके पिता की तबीयत नाज़ुक हो सकती है इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि उनकी देखभाल करें और उनका ख़्याल रखें।

तुला राशि के जो छात्र आगे की पढ़ाई के लिए विदेश जाने की योजना बना रहे हैं, उनके लिए बुध का यह गोचर अनुकूल सिद्ध हो सकता है। प्रबल संभावना है कि इस अवधि में अपने सपने के संस्थान में प्रवेश लेने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

पेशेवर रूप से यह अवधि उन जातकों के लिए अनुकूल सिद्ध हो सकती है जो ट्रैवेल इंडस्ट्री, शिक्षण और रियल एस्टेट से जुड़े हैं। आप इस अवधि में अपनी सेवाओं की मांग में वृद्धि देख सकेंगे। आपके बॉस की नज़रों में आपकी अच्छी छवि बनेगी और आपके अच्छे काम के लिए आपको प्रोत्साहित भी किया जा सकता है।

उपाय: प्रतिदिन 108 बार "ॐ बुम बुधाय नमः" का जाप करें।

तुला साप्ताहिक राशिफल

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए बुध आठवें भाव यानी कि असुरक्षा, विरासत, अप्राकृतिक घटनाओं और रहस्यों के भाव का स्वामी है। साथ ही यह ग्यारहवें भाव यानी कि आय, लाभ, संबंध और भाई-बहन के भाव भी स्वामी है। इस गोचर काल के दोरान बुध वृश्चिक राशि के आठवें भाव में स्थित रहेगा।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो इस दौरान आप मानसिक रूप से तनाव की स्थिति में हो सकते हैं, जिसकी वजह से आपके संबंध दोस्तों व परिचितों के साथ ख़राब हो सकते हैं। बड़े भाई-बहनों से भी आपके संबंध बहुत अच्छे न रहने की आशंका है। आपका झुकाव रहस्य विज्ञान और गहन विषयों को सीखने की ओर हो सकता है। आप तंत्र-मंत्र सीखने का अभ्यास कर सकते हैं। इस अवधि में आपको पैतृक संपत्ति से लाभ मिलने के योग बन रहे हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो इस दौरान आपका स्वास्थ्य थोड़ा नाज़ुक हो सकता है क्योंकि किसी प्रकार की एलर्जी, फ़्लू और सर्दी होने की आशंका है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें और धूप, प्रदूषण और धूल में बाहर निकलते वक़्त सावधानी बरतें।

पेशेवर रूप से यह अवधि आपके अनुकूल न रहने की आशंका है। आपको यह सलाह दी जाती है कि इस दौरान किसी भी प्रकार का निवेश करने से बचें। नौकरीपेशा जातकों को इस अवधि में अधिक सावधानी बरतने की ज़रूरत पड़ सकती है चूंकि ऐसी आशंका है कि इस दौरान आपका अपने वरिष्ठों और बॉस से आपका किसी प्रकार का विवाद या बहस हो सकती है, जिससे कि कार्यक्षेत्र में आपकी छवि पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। यह समय कुछ ज़रूरी योजनाएं बनाने के लिहाज से तो सही है मगर योजनाओं को लागू करने के लिए नहीं है, आपको इसमें सकारात्मक परिणाम नहीं मिल सकते हैं। जो जातक शोध कार्यों और खनिज या पेट्रोलियम से जुड़े हुए हैं, उनके वेतन में वृद्धि होने की संभावना है।

उपाय: ज़रूरतमंद बच्चों को स्टेशनरी दान करें और हो सके तो उन्हें पढ़ाने का प्रयास करें।

वृश्चिक साप्ताहिक राशिफल

बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए बुध सातवें भाव यानी कि संगठन, साझेदारी और विवाह के भाव तथा दसवें भाव यानी कि पेशे, करियर और प्रसिद्धि के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध धनु राशि के सातवें भाव में स्थित रहेगा।

यदि आप प्रेम संबंध में हैं तो इस दौरान आपका प्रेम जीवन काफ़ी सुखद रहने की संभावना है। यदि आप एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं तो प्रबल संभावना है कि इस दौरान आप किसी रिश्ते में प्रवेश कर सकते हैं। जो जातक अपने प्रिय से विवाह करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें इस अवधि में अपने रिश्ते को आगे की ओर ले जाने में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि आप अपने प्रिय की हर छोटी-बड़ी ख़्वाहिशों का ख़्याल रखते नज़र आ सकते हैं। विवाहित जातकों के लिए यह समय अच्छा रहा सकता है। आप अपने जीवनसाथी के साथ बेहतर समय साझा करने में सफल हो सकते हैं। आप अपने जीवनसाथी के साथ मिलकर कोई नई शुरुआत कर सकते हैं।

यह अवधि आपके पेशेवर जीवन में किसी संयुक्त उद्यम में काम करने का प्रस्ताव लेकर आ सकती है। जो जातक पहले से ही साझेदारी के व्यवसाय में हैं, वे इस दौरान अपने व्यवसाय में वृद्धि देख सकते हैं। साथ ही, अपने उत्पाद और सेवाओं की लोकप्रियता में भी वृद्धि देख सकते हैं।

जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, वे इस दौरान अधिक ग्राहक बनाने और अच्छा लाभ अर्जित करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। जो जातक कॉन्ट्रैक्ट बेसिस में काम कर रहे हैं, वे कार्यस्थल पर अपने काम से एक अलग पहचान हासिल कर सकते हैं।

उपाय: प्रतिदिन सुबह 108 बार "ॐ नमो भगवते वासुदेवाय" का जाप करें।

धनु साप्ताहिक राशिफल

मकर

मकर राशि के जातकों के लिए बुध छठे भाव यानी कि विवाद, प्रतिस्पर्धा, रोग और सेवा के भाव तथा नौवें भाव यानी कि भाग्य, पिता और धर्म के भाव का स्वामी है। बुध का मिथुन राशि में गोचर होने से बुध आपके छठे भाव में स्थित रहेगा।

इस दौरान आपकी बातचीत में अच्छा सुधार होने की संभावना है, जिससे कि आप किसी भी लड़ाई-झगड़े को आसानी से सुलझाने में सक्षम रह सकते हैं। आप कोई नया घर ख़रीदने या अपने घर के नवीनीकरण के लिए मार्केट से कुछ पैसा उधार लेने की योजना बना सकते हैं। आपका झुकाव अपने शरीर की फ़िटनेस की ओर हो सकता है और आप इसके लिए एरोबिक्स, जिम, व्यायाम या अन्य गतिविधियों में शामिल हो सकते हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से, इस दौरान आप चक्कर आना, नसों में दर्द और अनिद्रा जैसी समस्याओं से पीड़ित हो सकते हैं इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि अच्छी नींद लेने का प्रयास करें और अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहें।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि आपके अनुकूल रहने वाली है। जो जातक सर्विस में हैं, इस दौरान उनके लिए कार्यक्षेत्र का माहौल आरामदायक व अनुकूल हो सकता है और साथ काम करने वाले सहकर्मी भी सहयोगी नज़र आ सकते हैं, जिससे कि वे अपनी सभी परियोजनाओं को समय पर पूरा करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। जो जातक बैंकिंग, फ़ाइनेंस और अकाउंटेंसी आदि क्षेत्रों में हैं, उनके लिए बुध का यह गोचर लाभकारी सिद्ध हो सकता है। इस दौरान कार्यक्षेत्र में आप अपनी योग्यताएं साबित कर सकेंगे, जो कि आपके पेशेवर जीवन में प्रोत्साहन और वेतन वृद्धि जैसे शुभ समाचार लेकर आ सकता है। जो जातक नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें इस अवधि में अपना करियर शुरू करने के कई अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं। जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, उनके लिए यह समय औसत रूप से फलदायी सिद्ध हो सकता है। आपको अपने व्यवसाय से अच्छा लाभ कमाने में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। सकारात्मक और लाभकारी परिणाम पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता पड़ सकती है।

उपाय: धन और सुख प्राप्ति के लिए प्रतिदिन दुर्गा चालीसा का पाठ करें।

मकर साप्ताहिक राशिफल

कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए बुध पांचवें भाव यानी कि प्रेम, शिक्षा, संतान और मनोरंजन के भाव तथा आठवें भाव यानी कि अनिश्चितता, गूढ़ रहस्य, रहस्य विज्ञान के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध कुंभ राशि के पांचवें भाव में स्थित रहेगा।

इस दौरान आपको बच्चों के साथ रहना व उनसे बातें करना पसंद आ सकता है। आप अधिकतर समय उनके साथ खेलने और उनकी ज़रूरतों को समझने में बिता सकते हैं।

यह समय उनके लिए भी अनुकूल रहने वाला है जो प्रेम संबंध में हैं। उनके बीच नज़दीकियां अधिक बढ़ सकती हैं। साथ ही, आपसी समझ और रोमांस में भी वृद्धि हो सकती है।

यह अवधि आपके अंदर कुछ नया सीखने और रुचि के कार्यों के प्रति समर्पित होने की चेतना पैदा कर सकती है। यह समय कुंभ राशि के उन छात्रों के लिए भी अनुकूल सिद्ध हो सकता है, जो शोध विषयों का अध्ययन कर रहे हैं या पीएचडी में हैं। इस दौरान आप एकाग्रचित्त होकर पढ़ाई करने और अपनी पढ़ाई में पूर्ण रूप से ध्यान केंद्रित करने में सफल हो सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह समय विभिन्न प्रकार की बाज़ारों का अध्ययन के लिए प्रबल है। आप अपनी रुचि के कार्यों को पेशे के रूप में बदलते हुए उससे कमाई करने की योजना बना सकते हैं। जो जातक मनोवैज्ञानिक, ज्योतिषी और शिक्षक के रूप में अभ्यास कर रहे हैं, यह समय उनके पेशेवर जीवन के लिए उत्थानकारी सिद्ध हो सकता है। इस दौरान आपका कौशल बहुत बेहतर हो सकता है, जो कि आपके करियर के लिए अच्छा साबित होगा।

जो जातक सट्टा बाज़ारों जैसे कि शेयर मार्केट, स्टॉक मार्केट आदि से जुड़े हुए हैं, उनके लिए बुध का यह गोचर औसत रूप से फलदायी सिद्ध हो सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि इस अवधि के दौरान न्यूनतम निवेश करें, बड़े निवेशों के लिए थोड़ी प्रतीक्षा करें क्योंकि इस समय हानि होने की आशंका अधिक है।

उपाय: अपने घर के बगीचे में एक ताड़ का पेड़ (पाम ट्री) लगाएं और नियमित रूप से उसकी देखभाल करें।

कुंभ साप्ताहिक राशिफल

मीन

मीन राशि के जातकों के लिए बुध चौथे भाव यानी कि वाहन, संपत्ति, भूमि, परिवार और माता के भाव तथा सातवें भाव यानी कि वैवाहिक सुख, संगठन, और साझेदारी के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान बुध मीन राशि के चौथे भाव में स्थित रहेगा।

यह समय आपके व्यक्तिगत जीवन में ढेर सारी ख़ुशियां और आनंद लेकर आ सकता है। इस दौरान आप अपना अधिकतर समय अपने परिवार के साथ बिता सकते हैं और अपने हँसमुख स्वभाव से उन्हें ख़ुश रखने का प्रयास कर सकते हैं। इस अवधि में आप कोई वाहन या बिजली का उपकरण ख़रीदने की योजना भी बना सकते हैं।

जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं, उनके लिए यह समय अनुकूल सिद्ध हो सकता है। प्रबल संभावना है कि इस दौरान आप अपनी माता या ननिहाल पक्ष की मदद से अपना हमसफ़र ढूंढने में कामयाब हो सकते हैं। आपका झुकाव पेड़-पौधे ख़रीदने और बागबानी करने की हो सकता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो सरकारी कर्मचारियों के लिए यह समय अनुकूल सिद्ध हो सकता है। आप अपने कार्यक्षेत्र में अपनी अच्छी प्रतिष्ठा बनाने में कामयाब हो सकते हैं साथ ही, आय में वृद्धि होने की भी संभावना है। जो जातक संगीत, मीडिया या थिएटर से जुड़े हुए हैं, उनके प्रदर्शन में सुधार हो सकता है। जो कि आपके आने वाले भविष्य के लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता है।

उपाय: सुख-समृद्धि की प्राप्ति के लिए बुधवार के दिन गायों को हरा चारा खिलाएं।

मीन साप्ताहिक राशिफल

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।