• AstroSage Big Horoscope
  • Ask A Question
  • Raj Yoga Reort
  • Shani Report

बुध का तुला राशि में गोचर- 29 सितम्बर, 2019

वैदिक ज्योतिष के अनुसार नव ग्रहों में बुध को युवराज ग्रह कहा गया है। बुध एक शुभ ग्रह है लेकिन कुछ परिस्थितियों में अशुभ ग्रहों के संपर्क में आने पर यह बुरे परिणाम देता है। बुध मिथुन एवं कन्या राशियों का स्वामी होता है। कन्या राशि में यह उच्च भाव में रहता है। वहीं मीन राशि में नीच भाव में स्थित होता है। बुध ग्रह प्रमुख रूप से बुद्धि, तर्क शक्ति, गणित, व्यापार और चेतना आदि का कारक कहा जाता है।

बुध ग्रह को मजबूत करने के लिए करें ये उपाय

बुध को मजबूत करने के लिए या बुध ग्रह की शांति के लिए पन्ना रत्न धारण करना शुभ माना जाता है। वैदिक ज्योतिष अनुसार पन्ना पहनने से जातकों को अच्छे फलों की प्राप्ति होती है। बुध ग्रह की स्वामित्व वाली राशियों मिथुन और कन्या के जातकों के लिए पन्ना रत्न धारण करना विशेष फलदायी साबित होता है। इसके अलावा जिन जातकों की कुंडली में बुध की महादशा चल रही हो उनको बुध यंत्र को अभिमंत्रित करके बुध की होरा या बुध के नक्षत्रों (अश्लेषा, ज्येष्ठा, रेवती) में इसे धारण करना चाहिए। इससे बुध ग्रह के अच्छे फल मिलने शुरु हो जाते हैं।

बुध गोचर का समय

वाणी, बुद्धि और तर्क शक्ति का कारक बुध ग्रह 29 सितम्बर 2019, रविवार दोपहर 12:41 बजे तुला राशि में प्रवेश करेगा। बुध ग्रह तुला राशि में 23 अक्टूबर 2019, बुधवार रात्रि 22:47 बजे तक स्थित रहेगा। आइये जानते हैं बुध के इस गोचर का सभी 12 राशियों पर क्या प्रभाव पड़ने वाला है।

यह भविष्यफल चंद्र राशि पर आधारित है। अपनी चंद्र राशि जानने के लिए क्लिक करें: चंद्र राशि कैलकुलेटर

Click here to read in English...

Budha ka Tula Rashi Me Gochar

मेष

बुध का गोचर आपकी राशि से सप्तम भाव में होगा। इस भाव को विवाह भाव भी कहा जाता है। जो जीवन में होने वाली साझेदारियों का कारक है। बुध का यह गोचर आपके लिए ज्यादा अनुकूल प्रतीत नहीं हो रहा है। इस गोचर काल में आपको स्वास्थ्य से जुड़ी कुछ समस्याएं हो सकती हैं। त्वचा संबंधी कोई भी परेशानी हो तो तुरंत अच्छे डॉक्टर के पास जाकर इलाज करवाए। इस दौरान नौकरी पेशा लोगों को कार्यक्षेत्र में अपनी सामर्थ्य से ज्यादा काम करना पड़ सकता है जिसकी वजह से आपको शारीरिक थकान हो सकती है। खुद को तरोताजा रखने के लिए आपको अपने पसंदीदा काम खाली वक्त में करने चाहिए। वैवाहिक जीवन में प्रवेश कर चुके इस राशि के जातक अपने जीवनसाथी से किसी बात को लेकर नाराज़ हो सकते हैं। अगर आपको कोई बात परेशान कर रही है तो अपने साथी से उसे साझा करें। इससे मुमकिन है ऐसा हो जाए कि आप जिस बात को गंभीर समझ रहे हैं वास्तव में वो बहुत सरल हो। पारिवारिक जीवन में घर के किसी सदस्य के साथ कहासुनी हो सकती है। आर्थिक पक्ष भी इस दौरान कमजोर रहेगा धन की बचत करने के लिए प्रयास करते नजर आएँगे। कारोबारियों को यात्राएं करनी पड़ सकती हैं लेकिन इन यात्राओं से आपको बहुत ज्यादा मुनाफ़ा नहीं होगा।

उपाय: बुधवार को हरी चूड़ियाँ दान करें।

वृषभ

बुध देव का संचरण आपकी राशि से षष्ठम भाव में होगा। वृषभ राशि वालों के लिए बुध की यह स्थिति शुभ संकेत दे रही है। खासकर इस राशि के छात्रों को इस दौरान अच्छे फल मिलेंगे। आपकी वाणी में इस समय प्रखरता देखी जा सकती है और अपने तर्कों से आप लोगों को प्रभावित कर सकते हैं। वाद-विवाद जैसी प्रतियोगिताओं में आपको इस दौरान सफलता मिलेगी। इस राशि के लोगों के मन में इस समय साहित्य के प्रति रुचि जागेगी और आप उपन्यास, पत्रिकाओं और लेख को पढ़ने में अपना समय बिता सकते हैं। कामकाजी लोग कार्यक्षेत्र में इस समय अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे और आपके विरोधी भी आपके सामने इस समय नहीं टिक पाएंगे। सामाजिक जीवन की बात की जाए तो आपके बात करने की शैली आपको लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र बनाएगी। इस राशि के जो जातक लेखन के क्षेत्र से जुड़े हैं उन्हें इस अवधि में नई पहचान मिलने की पूरी उम्मीद है। प्रेम जीवन का आनंद लेना चाहते हैं तो इस समय अपने संगी के साथ कहीं घूमने का प्लान बना सकते हैं। विवाहित लोग अपने जीवनसाथी के गुणों की इस दौरान तारीफ करते नजर आएँगे। आपका साथी भी आपके प्रति विनम्र रहेगा।

उपाय: माँ दुर्गा की आराधना करें।

मिथुन

बुध देव का गोचर आपकी राशि से पंचम भाव में हो रहा है। इस भाव को संतान भाव भी कहा जाता है और इस भाव से हम आपके संतान पक्ष के साथ-साथ आपकी विद्या और ज्ञान पर भी विचार करते हैं। यह गोचर आपके पारिवारिक जीवन में ख़ुशियाँ लेकर आएगा, आप अपने घर के छोटे सदस्यों के साथ अच्छा समय बिता पाने में सक्षम होंगे। आप घर के सदस्यों के साथ कहीं पिकनिक पर जाने का प्लान भी बना सकते हैं। घर के लोगों के बीच सद्भाव को देखकर आपके मन में प्रसन्नता बनी रहेगी। अगर आपकी माता की तबियत लंबे वक्त से खराब थी तो इस अवधि में उनके स्वास्थ्य में सुधार देखने को मिल सकता है। इस राशि के छात्र इस वक्त नयी चीजों को सीखने में रुचि ले सकते हैं। इसके साथ ही धर्म और आध्यात्म के प्रति भी आपका झुकाव इस दौरान बढ़ सकता है। आप धार्मिक पुस्तकों का अध्ययन भी इस समय कर सकते हैं। विपरीत लिंगी लोगों को आप इस दौरान अपनी ओर आकर्षित करेंगे और उनके साथ अच्छा वक्त भी बिताएंगे, उनसे दोस्ती करेंगे लेकिन यह दोस्ती ज्यादा समय तक टिक नहीं पाएगी। कुल-मिलाकर बुध का यह गोचर आपके लिए अच्छा रहने वाला है।

उपाय: दुर्गा चालीसा का जाप करें।


कर्क

कर्क राशि वालों के लिए बुध का गोचर शुभ फलदायी रहने की उम्मीद है। बुध देव का यह गोचर आपकी राशि से चतुर्थ भाव में होगा। इस गोचर के चलते आपके पारिवारिक जीवन में शांति बनी रहेगी। घर के लोगों के बीच प्रेम और स्नेह बढ़ेगा। अगर आप घरवालों से दूर रहते हैं तो इस समय घर के लोगों से फोन पर घंटों बातें कर सकते हैं। माता के स्वास्थ्य में भी इस समय सुधार आएगा और उनके साथ आपका रिश्ता भी मजबूत होगा। आर्थिक पक्ष को लेकर आपकी जो परेशानियां थीं वो इस समय दूर हो जाएंगी और धन लाभ के भी प्रबल योग बनेंगे। जो लोग नौकरी करते हैं उनकी आमदनी में वृद्धि होने की भी इस दौरान संभावना नजर आ रही है। हालांकि उधार देने से इस दौरान आपको बचना चाहिए। कार्यक्षेत्र में सीनियर्स के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे। साथ ही सामाजिक क्षेत्र में भी आप अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे और इस अवधि में आपकी मुलाकात समाज के कुछ नामचीन लोगों से हो सकती है। छात्रों को अपने लक्ष्य के प्रति इस दौरान फोकस होने की जरुरत है। हर विषय को बराबर समय देने के लिए आपको एक अच्छी टाइम टेबल बनाने की आवश्यकता है। इससे आपको अच्छे फल अवश्य प्राप्त होंगे।

उपाय: गरीबों को फल दान करें।

सिंह

बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि से तृतीय भाव में होगा इस भाव को पराक्रम भाव भी कहा जाता है। इस भाव में बुध देव के गोचर के चलते आपकी संवाद शैली में निखार आएगा और आप अपनी बातों को स्पष्टता के साथ लोगों के सामने रख पाएंगे। पारिवारिक जीवन सामान्य रहने की उम्मीद है। इस अवधि में आपको अपने भाई-बहनों से संबंध मजबूत करने की जरुरत है, अगर किसी बात को लेकर आपके मन में उनके प्रति खटास है तो आप घर के किसी सदस्य की मदद से गिले-शिकवों को मिटा सकते हैं। इस दौरान लक्ष्य के प्रति आपकी इच्छाशक्ति में कमी देखने को मिल सकती है। सामाजिक स्तर पर आप इस समय सक्रिय रहेंगे और आपके दोस्तों की संख्या में इस दौरान इज़ाफा हो सकता है। आर्थिक पक्ष थोड़ा कमजोर पड़ सकता है, इसलिए लेन-देन के मामले में आपको बहुत सतर्कता के साथ चलना पड़ेगा। इस दौरान आपका मन किसी अनजान भय से भी ग्रसित हो सकता है। अपने मन को शांत करने के लिए आपको इस समय प्राणायाम करना चाहिए। यह बात याद रखें कि आपका आवश्यकता से अधिक सोचना भी कई बार आपको भयग्रस्त कर देता है।

उपाय: “ॐ नमो भगवते वासुदेवाय’’ इस मंत्र का जाप करें।

कन्या

बुद्धि दाता ग्रह बुध का गोचर आपकी राशि से द्वितीय भाव में होगा। काल पुरुष की कुंडली में यह स्थान वृषभ राशि का होता है और इससे हम धन, वाणी, संपत्ति आदि के बारे में विचार करते हैं। द्वितीय भाव में बुध के गोचर के चलते आपको जीवन के कई क्षेत्रों में अच्छे फल मिलने की उम्मीद है। पारिवारिक जीवन में इस दौरान आपको सुखद फलों की प्राप्ति होगी आप अपनी बातों से परिवार के लोगों का मन मोह लेंगे। इस दौरान घर पर अच्छे पकवानों का भी आप आनंद ले सकते हैं। आपकी वाणी का जादू इस दौरान आपको परिवार के बीच तो आकर्षण का केंद्र बनाएगा ही, साथ ही कार्यक्षेत्र में भी आप अपनी बातों से लोगों को अपनी ओर आकर्षित करेंगे। कारोबारियों को इस दौरान अपनी पुरानी योजनाओं से कारोबार में मुनाफ़ा हो सकता है। इस दौरान आपको अपने अधिनस्थ काम करने वाले कर्मचारियों की ज़रूरतों का ख्याल रखने की जरुरत है। अगर आप उनकी बातों को सुनेंगे तो उनके मन में आपके प्रति सम्मान बढ़ेगा और उनके काम करने की गति में भी आप इज़ाफा देख सकते हैं। इस राशि के छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं में इस समय सफलता मिलने के योग हैं। अपनी मेहनत का फल आपको इस दौरान ज़रुर मिलेगा।

उपाय: भगवान विष्णु जी की पूजा करें और उन्हें कपूर चढ़ाएँ।


तुला

बुध ग्रह का गोचर आपकी ही राशि यानि आपके लग्न भाव में होगा। काल पुरुष की कुंडली में यह भाव मेष राशि का होता है और इस भाव से आपके स्वभाव, स्वास्थ्य और आत्मज्ञान के बारे में विचार किया जाता है। इस भाव में बुध की स्थिति आपको जीवन के कुछ पक्षों में फायदा पहुंचाएगी वहीं कुछ पक्षों में आपको हानि भी हो सकती है। स्वास्थ्य को लेकर आपको इस समय सचेत रहना पड़ेगा। अपने स्वास्थ्य को दुरुस्त करने के लिए व्यायाम और योग का सहारा लेना आपके लिए सही रहेगा। हालांकि भाग्य का साथ इस समय आपको मिलेगा और कार्यक्षेत्र में आप अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे। कारोबारियों के कारोबार की स्थिति भी अच्छी रहेगी। साथ ही जिन लोगों ने हाल ही में अपना बिज़नेस शुरु किया है उन्हें अपने ख़र्चों पर इस समय ध्यान देना होगा नहीं तो आपको नुकसान हो सकता है। आर्थिक पक्ष अच्छा रहेगा लेकिन घर के किसी सदस्य की तबियत खराब होने के कारण आपका धन खर्च हो सकता है। छात्रों के लिए यह ऐसा समय है जब आपको अपने भविष्य को लेकर कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लेने होंगे। आप जो भी निर्णय लें उसे लेकर अपने गुरुजनों और परिजनों से सलाह मशवरा अवश्य करें।

उपाय: माँ दुर्गा मंत्र का जाप करें।

वृश्चिक

बुद्धि, वाणी के कारक ग्रह बुध का गोचर आपकी राशि से द्वादश भाव में होगा। काल पुरुष की कुंडली में यह भाव मीन राशि का होता है और इस भाव को व्यय भाव भी कहा जाता है। इस भाव में बुध के गोचर के दौरान आपके खर्चे बढ़ सकते हैं। अत: इस दौरान यदि आप अच्छा बजट प्लान बनाकर आगे बढ़े तो अनावश्यक ख़र्चों पर आप लगाम लगाने में कामयाब हो सकते हैं। इस राशि के जो जातक लंबे समय से विदेश यात्रा पर जाने का प्लान बना रहे थे या विदेश जाकर पढ़ना चाह रहे थे उन्हें इस गोचरीय काल में सफलता मिल सकती है। इस राशि के कारोबारियों को कारोबार के संबंध में कुछ अनचाही यात्राओं पर जाना पड़ सकता है जिससे मन खिन्न हो सकता है। आपके विरोधी इस समय आपके खिलाफ साजिशें कर सकते हैं इसलिए अपने आँख-कान इस दौरान खुले रखें। सेहत में कमज़ोरी देखी जा सकती है, किसी निजी समस्या की वजह से आपको मानसिक तनाव हो सकता है और इसके कारण आपकी भूख भी कम हो सकती है। इस राशि के छात्रों की एकाग्रता में भी इस अवधि में कमी देखी जा सकती है जिसके कारण शिक्षा के क्षेत्र में दिक़्क़तों का सामना छात्रों को करना पड़ सकता है। वैवाहिक लोगों को अपने जीवनसाथी की बातों को समझने की जरुरत है अगर आप ऐसा नहीं करते तो रिश्ते में दरार पड़ सकती है।

उपाय: ग़रीबों व ज़रूरतमंदों में हरी सब्ज़ियाँ दान करें।

धनु

बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि से एकादश भाव में होने जा रहा है। यह भाव लाभ भाव भी कहलाता है। इस गोचर के दौरान आपको आर्थिक लाभ होने की पूरी संभावना है। अगर आपने किसी को धन उधार दिया था तो इस अवधि में वो भी वापस आ सकता है, जिससे आपकी कई आर्थिक परेशानियां दूर हो सकती हैं। आपके द्वारा बनाई गई योजनाएं इस दौरान धरातल पर उतर सकती हैं जिनका लाभ आने वाले समय में मिलेगा। पारिवारिक जीवन में आनंद बना रहेगा। आपका कोई क़रीबी रिश्तेदार इस दौरान आपके आर्थिक लाभ की वजह बन सकता है। कार्यक्षेत्र में आप अपनी सक्रियता से अपने सहकर्मियों को चकित कर सकते हैं। सामाजिक जीवन में आप अपने दोस्तों के साथ इस समय अच्छा वक्त बिता पाएंगे। नव-विवाहित दंपत्तियों के जीवन में किसी नये मेहमान की दस्तक इस दौरान हो सकती है। प्रेम जीवन में भी इस राशि के जातकों को इस समय अच्छे फल मिलेंगे और अपने प्रेमी के प्रति आप ईमानदार रहेंगे। छात्रों को पढ़ाई में मन लगाने के लिए इस दौरान ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी। अपनी समस्याओं को सुलझाने के लिए आप अपने गुरुजनों या सीनियर्स के पास इस अवधि में जा सकते हैं।

उपाय: श्री विष्णु सहस्रनाम स्तोत्र का जाप करें।


मकर

बुध देव आपकी राशि से दशम भाव में गोचर करेंगे। बुध का यह गोचर आपके लिए शुभफलदायी साबित हो सकता है। दशम भाव को कर्म भाव भी कहा जाता है इसलिए इस गोचर के दौरान आप पहले से ज्यादा सक्रिय नज़र आ सकते हैं। इस समयावधि में नौकरी पेशा से जुड़े लोगों को कार्यक्षेत्र में अच्छे फल मिलेंगे, बीते समय में आपके द्वारा किये गये कामों को इस दौरान सराहा जा सकता है। कुछ जातकों की आमदनी में वृद्धि हो सकती है। दूसरी ओर इस राशि के कारोबारियों को भी व्यापार के क्षेत्र में अच्छा लाभ होगा। इस वक्त में आपके विरोधी आपके सामने टिक नहीं पाएंगे, अपने तर्कों से आप उनको शांत कर देंगे। सामाजिक जीवन में भी आपका रुतबा बढ़ेगा और मान-सम्मान में वृद्धि होगी। पारिवारिक जीवन में आ रही परेशानियों को इस समय आप दूर कर देंगे और अपने अच्छे व्यवहार से हर किसी का दिल जीत लेंगे। छात्रों को अपने समय का कुछ हिस्सा अपने स्वास्थ्य को सुधारने के लिए भी इस्तेमाल करना चाहिए याद रखें कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ दिमाग निवास करता है। प्रेम जीवन की बात की जाए तो इस गोचर की अवधि में आप अपने प्रिय के साथ वक्त बिताएंगे और उन्हें अपनी ओर आकर्षित करने का हर संभव प्रयास करेंगे।

उपाय: गणेश जी की आराधना करें और उन्हें दुर्वा चढ़ाएँ।

कुंभ

कुंभ राशि वालों के नवम भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। काल पुरुष की कुंडली में यह स्थान धनु राशि का होता है और इससे हम धर्म और भाग्य के बारे में विचार करते हैं। नवम भाव में बुध का गोचर आपके लिए अनुकूल नहीं कहा जा सकता। इस गोचर के दौरान आपको जीवन के कई क्षेत्रों में संघर्ष करना पड़ सकता है। अगर आप किसी भी क्षेत्र में सफलता पाना चाहते हैं तो आपको अपनी मेहनत दोगुनी करनी पड़ेगी। आर्थिक पक्ष की बात करें तो इस समय धन लाभ भी हो सकता है और कुछ अनचाहे खर्चे भी हो सकते हैं। इस राशि के जो लोग यात्राओं पर जाएंगे उन्हें यात्रा के दौरान परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, इसलिए अगर ज़रुरी न हो तो इस समय यात्राओं को टालना ही ज्यादा बेहतर रहेगा। पारिवारिक जीवन की बात करें तो आपका अहम परिवार के कुछ लोगों से आपको दूर कर सकता है। खासकर अपने भाई-बहनों से इस दौरान आपके मतभेद हो सकते हैं। प्रेम जीवन सामान्य रहने की उम्मीद है। छात्रों को शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे फल पाने के लिए कड़ी मेहनत करने की जरुरत है, इस समय आप अपने यार-दोस्तों से यदि दूर रहें तो आपके लिए बेहतर होगा।

उपाय: गाय की सेवा और उन्हें हरा चारा खिलाएँ।

मीन

वाणी और बुद्धि के कारक ग्रह बुध का गोचर आपकी राशि से अष्टम भाव में होगा। इस भाव को आयु भाव भी कहा जाता है। इस भाव में बुध के गोचर से आपको अच्छे फल मिलेंगे। आर्थिक पक्ष में सुधार आएगा, कर्जों को चुकाने में सफल होंगे और भविष्य के लिए बचत कर पाने में भी कामयाब होंगे। नौकरी पेशा लोग इस समय अपनी सूझबूझ से कार्यक्षेत्र में अपनी नई पहचान बनाएँगे। वहीं जो लोग नौकरी की तलाश में लगे हैं उन्हें नौकरी मिल सकती है। कारोबारी वर्ग के लोगों को किसी भी नई योजना को लागू करने से पहले अनुभवी लोगों से सलाह मशवरा ज़रुर करना चाहिए। अपनी माता के स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें अगर उन्हें कोई समस्या है तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं। बुध के अष्टम भाव में गोचर के चलते ज्योतिष, मनोविज्ञान और रहस्मयी विद्याओं को जानने में आपकी रुचि बढ़ सकती है। सामाजिक जीवन बेहतरीन रहेगा, आपकी तार्किक बुद्धि और बात करने की कला कई लोगों को आपकी ओर आकर्षित करेगी। छात्रों के लिए समय सामान्य रहेगा, आप इस दौरान अपनी एकाग्रता को मजबूत करने के लिए प्राणायाम का सहारा ले सकते हैं। शराब, सिगरेट जैसे मादक पदार्थों का सेवन करने से बचें अन्यथा इससे आपका मन अशांत हो सकता है।

उपाय: शुद्ध घी का दान करें।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।