• Arun
  • Biren
  • Debolina
  • Vinutha

सूर्य का कन्या राशि में गोचर (17 सितंबर 2021)

वैदिक ज्योतिष में, सूर्य को सभी ग्रहों का राजा माना जाता है और जिस व्यक्ति की कुंडली में सूर्य अनुकूल होता है, वह राजनीतिक सफलता प्राप्त कर सकता है। सूर्य को भगवान की तरह पूजा जाता है क्योंकि सभी जीवित प्राणियों का अस्तित्व सूर्य की किरणों के कारण है और यह प्रकाश संश्लेषण की प्रक्रिया में भी प्रमुख भूमिका निभाता है। सूर्य के मित्र चंद्रमा, बृहस्पति और मंगल हैं। बुध सूर्य के साथ तटस्थ संबंध साझा करता है।

एस्ट्रोसेज वार्ता से दुनियाभर के विद्वान ज्योतिषियों से करें फोन पर बात

सूर्य ग्रह कन्या राशि में गोचर करेगा तो इस दौरान लोगों को मिश्रित परिणामों की प्राप्ति होगी। सूर्य अग्नि तत्व की उग्र राशि सिंह से पृथ्वी तत्व की राशि में गोचर करेगा, इसलिए इस गोचर के दौरान लोगों का दृष्टिकोण व्यावहारिक होगा। ध्यान केंद्रित करने और खुद निर्धारित करने के लिए यह समय अच्छा है। यह भौतिक शरीर और उपचार के लिए भी अनुकूल समय होगा, चेक अप करने के लिए इस दौरान आप किसी डॉक्टर या दंत चिकित्सक से मिल सकते हैं। यदि आप किसी भी बीमारी का प्रारंभिक अवस्था में ही पता लगा लेते हैं, तो इस का इलाज करना आसान हो जाएगा, हां बस ये कोई पुरानी बीमारी न हो। यह अवधि अनुसंधान के लिए अच्छी होगी साथ ही स्वास्थ्य, आहार और व्यायाम के को दिनचर्या में शामिल करना भी अच्छा होगा। कुछ नया सीखने के लिए यह बहुत अच्छा समय है। अपने लक्ष्य निर्धारित करें और सुनिश्चित करें कि आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में हर दिन काम करें। कन्या राशि में सूर्य आपको यह तय करने में मदद करता है कि आपको अपने जीवन में किन चीजों को करना चाहिए और किन चीजों से दूर रहना चाहिए। अपने समय का सबसे अच्छा उपयोग करें, और जीवन में सब कुछ व्यवस्थित करें। गोचर के दौरान आप के द्वारा दान-पुण्य और धर्मार्थ कार्य कर सकते हैं या किसी संस्था से जुड़कर समाज कल्याण करने की ओर आगे बढ़ सकते हैं।

कन्या राशि में सूर्य का गोचर 17 सितंबर 2021 को दोपहर 1:02 बजे होगा। और यह 17 अक्टूबर दोपहर 1:00 बजे तक कन्या राशि में ही रहेगा और उसके बाद तुला राशि में प्रवेश कर जाएगा।

आइए जानें कि सभी राशियों के लिए यह गोचर क्या परिणाम लेकर आएगा।

यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है। इसके अलावा व्यक्तिगत भविष्यवाणी जानने के लिए ज्योतिषियों के साथ फ़ोन पर या चैट पर जुड़े

Click here to read in English: Sun Transit in Virgo: 17 September 2021

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए सूर्य पंचम भाव का स्वामी है और वर्तमान गोचर के दौरान यह आपके छठे भाव में गोचर करेगा। यह भाव कर्ज, शत्रु और रोग का कारक माना जाता है। इस राशि के जातकों के लिए यह गोचर अच्छा रहेगा क्योंकि आप अपने दुश्मनों पर विजय प्राप्त करेंगे और अपने कार्यों में सफल होंगे। कार्यक्षेत्र में चीजें बहुत अच्छी रहेंगी, यदि किसी तरह की दिक्कत थी तो वह भी इस दौरान दूर हो जाएगी। छात्रों और कामकाजी पेशेवरों को भी इस दौरान अच्छे परिणाम मिलेंगे, बस आपको लगातार अपने काम पर ध्यान देने की जरूरत है। आर्थिक रूप से, इस राशि के कारोबारी व्यवसाय के विस्तार के लिए ऋण या लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं, हालांकि अंतिम निर्णय लेने से पहले आपको सोच-विचार अवश्य कर लेना चाहिए। रिश्तेनातों पर नजर डाली जाए तो यह गोचर आपके लिए बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकता अहम के टकराव के कारण संबंधों में दूरी आ सकती है। इस राशि के विवाहित जातकों को दांपत्य जीवन को अनुकूल बनाए रखने के लिए प्रयास करने होंगे। जो विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षा में सम्मिलित होने वाले हैं उन्हें इस दौरान अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। जिन जातकों को स्वास्थ्य से संबंधी परेशानियां थीं वो इस दौरान अपने स्वास्थ्य में सुधार देख सकते हैं। इस गोचर के दौरान आपको जीवन के लगभग हर पक्ष में सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे।

उपाय: प्रतिदिन सूर्य को जल अर्पित करें

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए सूर्य चौथे भाव का स्वामी है और आपके प्यार, रोमांस, संतान, भावनाओं आदि के पांचवें घर में इसका गोचर होगा। इस अवधि के दौरान कुछ समस्याएँ होने की संभावना है और यह आपके लिए बहुत अनुकूल समय नहीं होगा। इस गोचर के कुछ कठिनाईयों का सामना आपको करना पड़ सकता है। कार्यक्षेत्र में आप अपने वरिष्ठों के साथ कुछ मुद्दों को लेकर उलझ सकते हैं और आपके वरिष्ठों के साथ आपके संबंध तनावपूर्ण हो सकते हैं। आपको अपने कार्यस्थल पर लोगों के साथ व्यवहार करने में अत्यधिक सावधानी बरतने की इस दौरान आवश्यकता है, सौहार्दपूर्ण संबंध बनाए रखने के लिए आपको निरंतर प्रयास करने चाहिए और किसी के साथ भी टकराव करने से बचना चाहिए साथ व्यवधान से बचना चाहिए। दांपत्य जीवन पर नजर डालें तो जीवनसाथी के साथ कुछ समस्या हो सकती है और आपके बच्चों को भी इस गोचर के दौरान कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी के साथ कुछ गलतफहमी हो सकती है इसलिए किसी भी तरह की गलतफहमी पालने से इस दौरान बचें अन्यथा यह रिश्ते के लिए बुरा होगा। इस अवधि में आपकी सामाजिक स्थिति में बाधा उत्पन्न होने की संभावना है और आप समाज में सम्मान खो सकते हैं जो आपकी मानसिक शांति को भंग कर सकता है। स्वास्थ्य पर नजर डाली जाए तो आपको वायरल संक्रमण से खुद को बचाने के लिए एहतियाती उपाय करने की आवश्यकता है।

उपाय: आदित्य ह्रदय स्तोत्रम् का रोजाना पाठ करें।

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए सूर्य तीसरे घर का स्वामी है और माता, आराम और विलासिता के चौथे घर में यह गोचर करेगा। यह गोचर किसी भी पारिवारिक मुद्दे को हल करने और यदि आवश्यक हो तो एक खुली चर्चा करने का एक अच्छा समय प्रदान करेगा। यदि आपकी शिक्षा में कोई रुकावट आयी थी और अब आप वापस पढ़ाई शुरू करना चाहते हैं तो यह ग्रह परिवर्तन आपके लिए अच्छी खबर लेकर आ सकता है। इस गोचर के दौरान आपको अपने प्रियजनों के साथ किसी भी तरह के संघर्ष से बचना चाहिए। इस दौरान समझ की कमी के कारण रिश्ते खराब हो सकते हैं इसलिए सावधानी बरतें। अपने जीवनसाथी के साथ किसी भी विवाद या तीखी बहस से बचने के लिए बोलने से पहले सोचना उचित है। करियर के नजरिए से देखा जाए तो कार्यक्षेत्र में आपके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है जिसके कारण आप परेशान हो सकते हैं। इस राशि के जातकों को इस गोचर के दौरान संपत्ति खरीदते समय बहुत सावधान रहने की जरूरत है, आपके साथ धोखाधड़ी होने की संभावना है। आपको इस अवधि के दौरान निर्णय लेने में कठिनाई हो सकती है, इसलिए किसी भी बुरी स्थिति से बचने के लिए, कोई भी कागजी कार्य करने से पहले किसी विश्वासपात्र की सलाह अवश्य लें। प्रियजनों के साथ बातचीत के दौरान वाणी पर नियंत्रण रखें नहीं तो परेशानी में पड़ सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से यह आपके लिए एक अनुकूल अवधि होगी और आप अधिकतर समय अच्छे स्वास्थ्य का आनंद लेंगे।

उपाय: प्रतिदिन विष्णु भगवान की पूजा करें।

कर्क

कर्क राशि वालों के लिए सूर्य दूसरे घर का स्वामी है। कन्या राशि में गोचर के दौरान सूर्य आपके साहस-पराक्रम, भाई-बहनों और छोटी यात्राओं के तृतीय भाव में होगा। इस गोचर के दौरान आपको अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकते हैं क्योंकि आपमें साहस और पराक्रम की अधिकता होगी और आप अपने पेशेवर जीवन को गति प्रदान करेंगे। आपके संचार कौशल और दूसरों को समझाने की क्षमता आपको नए कनेक्शन बनाने में मदद करेगी और आप अपने शब्दों से दूसरों को प्रभावित करने में सक्षम होंगे। भविष्य को बेहतर बनाने की दिशा में काम करते हुए नए सौदों पर पकड़ बनाने का एक अच्छा अवसर आपके पास होगा। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे इस राशि के विद्यार्थियों को इस अवधि में अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। आर्थिक पक्ष पर नजर डाली जाए तो इस राशि के कुछ लोग इस दौरान वाहन या अचल संपत्ति में निवेश कर सकते सकते, हालांकि कि कोई भी फैसला आपको सोच-समझकर लेना चाहिए। इस अवधि के दौरान काम से जुड़ी किसी यात्रा पर आपको जाना पड़ सकता है इससे आपको अच्छा वित्तीय लाभ मिलने की भी संभावना है। पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो दांपत्य जीवन के लिए एक बेहतरीन समय होगा और आप छोटी लेकिन खुशहाल पारिवारिक यात्रा पर भी जा सकते हैं। विवाहितों जातकों को अपने विवाहित जीवन में खुशी मिलेगी और दोस्तों से मदद मिलेगी। स्वास्थ्य के लिहाज से सेहत अच्छी रहेगी औऱ मानसिक शांति बनी रहेगी। कर्क राशि के जातकों के लिए यह एक अच्छा समय है इस दौरान आप समाज में विलासिता, धन, नाम और प्रसिद्धि का आनंद ले सकते हैं।

उपाय: ‘ऊँ घृणि सूर्याय नमः’ मंत्र का जाप करने की आपको सलाह दी जाती है!


राजयोग रिपोर्ट से जानें कब खुलेगी आपकी किस्मत और कब आएंगी जीवन में खुशियां

सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए सूर्य प्रथम भाव का स्वामी है और परिवार, धन और वाणी के आपके दूसरे भाव में यह गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान आपको अचानक धन लाभ होगा, आप सट्टेबाजी और जोखिम भरे काम से भी पैसा कमा सकते हैं, खासकर सिंह राशि के उन जातकों को इस दौरान सफलता मिलेगी जिसकी कुंडली में सूर्य अनुकूल अवस्था में है। आपके संचार कौशल में सुधार होने की संभावना है और यदि आप विदेश में नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो आपको सकारात्मक परिणाम मिलेगा क्योंकि आपके पास विदेशी भूमि से इस समय लाभ प्राप्त करने का एक उचित मौका है। समाज में आपकी स्थिति और सम्मान में सुधार होने की संभावना है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने वरिष्ठों के साथ किसी भी तरह के वाद-विवाद में खुद को शामिल न करें और निवेश करते समय जल्दबाजी में निर्णय न लें। आर्थिक रूप से, आप अधिक से अधिक धन की तलाश करेंगे और साथ ही आप लंबी अवधि के लिए निवेश करेंगे। पारिवारिक जीवन पर नजर डालें तो यह गोचर दूसरों के साथ आपके संबंधों के लिए तटस्थ है क्योंकि कुछ तर्क और संघर्ष उत्पन्न होने की संभावना इस दौरान है। स्वास्थ्य पर नजर डाली जाए तो इस गोचर के दौरान आपकी सेहत गड़बड़ा सकती है और छोटी दुर्घटनाएँ होने की भी संभावना है। अपने ज्ञान को बढ़ाने और गहराई से सीखने के लिए यह एक अच्छा समय है।

उपाय: प्रतिदिन सूर्योदय के समय सूर्य देव को जल अर्पित करें।

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए सूर्य द्वादश भाव का स्वामी है और आत्म और व्यक्तित्व के आपके पहले भाव में यह गोचर कर रहा है। इस दौरान वित्तीय मोर्चे के लिए सूर्य का यह गोचर आपके लिए अच्छा नहीं रहेगा। इस गोचर के दौरान आपको लाभ कमाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है, इससे आपकी आर्थिक स्थिति प्रभावित हो सकती है। इस राशि के कारोबारियों की बात की जाए तो आपको भी लाभदायक सौदे प्राप्त करने में कुछ परेशानियां आ सकती हैं। नौकरी करने वाले इस राशि के जातक लंबे समय तक प्रोत्साहन प्राप्त न करने पर चिढ़ महसूस करेंगे। आपके निजी जीवन पर नजर डालें तो अपने साथी के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे, बशर्ते सूर्य आपकी कुंडली में अनुकूल हो। यदि यह कुंडली में अनुकूल नहीं है तो साथी के साथ तर्क-वितर्क और संघर्ष हो सकते हैं। सामाजिक कार्यों में व्यस्त रहने के कारण, आप अपने पारिवारिक जीवन को समय देेने में असमर्थ हो सकते हैं, इससे आपके रिश्तों में बदलाव आने की संभावना है। अपने करीबियों से संचार बनाए रखने की आपको सलाह दी जाती है। स्वास्थ्य जीवन पर नजर डाली जाए तो, कन्या राशि के जातकों के स्वास्थ्य के लिए यह बहुत अच्छी अवधि नहीं है क्योंकि आप छोटी-मोटी बीमारियों या त्वचा से जुड़ी समस्याओं का सामना कर सकते हैं, इसलिए स्वास्थ्य का ध्यान दें।

उपाय: रविवार के दिन गुड़ का दान करना आपके लिए शुभ रहेगा।

तुला

तुला राशि के जातकों के लिए, सूर्य एकादश भाव का स्वामी है। सूर्य का गोचर आपके विदेशी लाभ, आध्यात्मिकता और व्यय के भाव में हो रहा है। यह समय आपके लिए औसत साबित होगा इस दौरान आपको लंबी अवधि की परियोजनाओं को पूरा करने का मौका देगी। इस दौरान समाज से थोड़ा दूरी बना सकते हैं। यह गोचर आपकी शिक्षा में समस्याएं पैदा कर सकता है और आपको ध्यान केंद्रित करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। पेशेवर रूप से आपको इस समय के निवेश करने और व्यावसायिक भागीदारों से सावधान रहना चाहिए। यह गोचर आपकी परेशानियों को बढ़ा सकता है और आपका अपने आस-पास के लोगों या आपके करीबी लोगों के साथ टकराव करा सकता है। जो लोग विदेश जाने की कोशिश कर रहे थे या विदेश में किसी अवसर की प्रतीक्षा कर रहे थे, उन्हें सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। आर्थिक रूप से आपके खर्चों में वृद्धि होने की संभावना है, लेकिन आपको चिंता नहीं करनी चाहिए क्योंकि यह आपकी आय से अधिक नहीं होगा, आपको यह सलाह दी जाती है कि उन क्षेत्रों में निवेश न करें जहां से फायदे की कम उम्मीद है। व्यवसाय से जुड़ी यात्राएं करने से भी इस राशि के जातकों को बचना चाहिए क्योंकि इनसे लाभ मिलने की संभावना बहुत कम है। रिश्तों के लिहाज से, आपके लिए अपने पेशेवर और निजी जीवन में संतुलन बनाए रखना मुश्किल होगा, जो आपको परेशान कर सकता है और आपको मानसिक चिंता दे सकता है। विवाहित जातक इस अवधि के दौरान अपने विवाहित जीवन में मिश्रित परिणाम पाएंगे। छठे भाव पर सूर्य की दृष्टि के कारण लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं और इस अवधि में इसे मंजूरी मिलने की संभावना भी है। स्वास्थ्य जीवन में आपको मिश्रित परिणाम प्राप्त होंगे इसलिए स्वास्थ्य को लेकर आपको सावधाी बरतनी चाहिए। मामूली स्वास्थ्य समस्याएं, चोट, दुर्घटना आदि की संभावना है। इस गोचर के दौरान अपनी उचित देखभाल करने की आपको सलाह दी जाती है।

उपाय: भगवान सूर्य की कृपा पाने के लिए अपने पिता या पितातुल्य लोगों की सेवा करें।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए, सूर्य दसवें घर का स्वामी है और आपके आय, लाभ और इच्छा के ग्यारहवें घर में इसका गोचर हो रहा है। सूर्य का यह गोचर आपके लिए अनुकूल साबित होगा, क्योंकि आपका सामाजिक दायरा इस दौरान मजबूत होगा, जिससे आपको कार्यक्षेत्र में लाभ मिलेगा। आप इस गोचर के दौरान सफलता और प्रसिद्धि पाएंगे और उचित माध्यम से धन प्राप्त करेंगे। इस राशि के कारोबारी इस दौरान अपने व्यवसाय को बहुत अच्छी तरह से चलाने में सक्षम होंगे और नौकरी कर रहे इस राशि के जातकों को उच्च अधिकारियों से प्रशंसा मिलेगी। इस राशि के जातक अपने भविष्य को लेकर भी इस गोचर के दौरान सकारात्मक रहेंगे। आंतरिक रूप से इस राशि के जातक आशावादी और सकारात्मक होंगे जिससे हर काम को सही तरीके से करने में भी सफल रहेंगे। रिश्तेनातों की बात की जाए तो आप अपने परिवार, बच्चों और दोस्तों के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध बनाए रखेंगे। विवाहित जातक भी इस गोचर के दौरान आनंद से रहेंगे। इस अवधि में आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा और किसी भी तरह की बड़ी बीमारी आपको परेशान नहीं करेगी।

उपाय: रविवार के दिन जरुरतमंदों को आवश्यक वस्तुएं भेंट करें।

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए, सूर्य नौवें घर का स्वामी है और आपके करियर, नाम और प्रसिद्धि के दसवें घर में यह गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान आपको अपने कार्यस्थल पर आपकी कड़ी मेहनत और आपके द्वारा किए गए प्रयासों का अच्छा फल प्राप्त होगा। आपको नौकरी के मोर्चे पर विकास और प्रगति के अवसर मिलने की संभावना है और पदोन्नति के भी योग हैं। आर्थिक जीवन पर नजर डाली जाए तो, आपको निवेश से भी अनुकूल परिणाम प्राप्त होने की संभावना है और आपके खर्च भी नियंत्रण में रहेंगे। पारिवारिक जीवन पर नजर डालें तो, आप अपने प्रियजनों के साथ गुणवत्तापूर्ण समय बिता सकते हैं। आप स्वयं को नई ऊर्जा से प्रेरित महसूस करेंगे और अपने कौशल को बढ़ाने के लिए नयी चीजें सीखने और जानने की कोशिश करेंगे, इससे आपको भविष्य में मदद मिलेगी। स्वास्थ्य जीवन पर नजर डालें तो, लंबे समय से किसी बीमारी से जूझ रहे इस राशि के जातकों को इस गोचर के दौरान आराम मिल सकता है। इस राशि के बाकी जातकों के लिए स्वास्थ्य के लिहाज से यह गोचर अच्छा रहेगा।

उपाय: रविवार के दिन अपनी उंगली में रूबी रत्न धारण करें।

मकर

मकर राशि वालों के लिए, सूर्य आठवें घर का स्वामी है और आपके भाग्य, धर्म, आध्यात्म के नौवें घर में यह गोचर कर रहा है। इस अवधि के दौरान इस राशि के जातकों को बहुत सावधान रहना होगा क्योंकि आपके किसी विश्वासपात्र व्यक्ति द्वारा इस दौरान आपको धोखा दिया जा सकता है, इसलिए सतर्क रहें; इस गोचर के दौरान आपके साथ धोखाधड़ी होने की संभावना बहुत अधिक है। इस समय अपने करियर से जुड़े किसी भी रहस्य को साझा न करें क्योंकि कुछ लोग आपके खिलाफ इस जानकारी का उपयोग कर सकते हैं। यदि आप व्यवसाय या नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं, तो आपको इस विचार को अभी के लिए स्थगित कर देना चाहिए। इस अवधि के दौरान शांत रहने और अपनी स्थिति को स्थिर करने, साथ ही कोई भी बदलाव न करने की आपको सलाह दी जाती है, क्योंकि यह आपके लिए समस्याएं पैदा कर सकता है। आर्थिक रूप से, इस समय वित्तीय स्थितियां औसत रहेंगी और सीमित आय के कारण इस दौरान निराश हो सकते हैं। इस अवधि के दौरान किसी भी तरह की सट्टेबाजी या अटकलबाजी लगाने से बचें क्योंकि इससे नुकसान होने की संभावना अधिक है। रिश्तेनातों पर नजर डाली जाए तो, विवाहित जातकों के जीवन में मानसिक शांति का अभाव रहेगा। आपके परिवार के सदस्यों की अलग राय होगी और आपकी अलग, इससे उनके साथ बहस हो सकती है जो फिर से आपकी मानसिक चिंता और तनाव को बढ़ा सकती है। इस गोचर के दौरान आपको विदेश यात्रा का मौका मिल सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से, मकर राशि वालों को सलाह दी जाती है कि वे अपने स्वास्थ्य के लिए गंभीर रहें और नियमित रूप से व्यायाम करें, साथ ही मानसिक रूप से खुद को फिट रखने की भी कोशिश करें।

उपाय: प्रतिदिन सुबह सूर्य नमस्कार करना आपके लिए अनुकूल रहेगा।

कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए, सूर्य सातवें घर का स्वामी है और आपके आठवें घर में यह गोचर कर रहा है। आठवां भाव अचानक हानि / लाभ और मृत्यु का भाव कहा जाता है। इस गोचर के दौरान इस राशि के जातकों को अपने करियर और व्यक्तिगत जीवन में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। जो छात्र उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहें हैं उनका ध्यान विचलित हो सकता है जिससे शिक्षा के क्षेत्र में उन्हें परेशानियां आ सकती हैं। व्यावसायिक जीवन में इस राशि के जातकों को अपने वरिष्ठों का सहयोग प्राप्त नहीं होगा और साथ ही आप कार्यक्षेत्र की आंतरिक राजनीति में शामिल हो सकते हैं। आप पर किसी गैर कानूनी काम को लेकर मुकदमा चलने की संभावना है, इसलिए सावधान रहें। इस दौरान इस राशि के जातकों को सलाह दी जाती है कि आप व्यापार से जुड़ी छोटी दूरी की यात्राएं न करें क्योंकि इनसे आपको कोई लाभ प्राप्त नहीं होगा। अपने करियर में जल्दबाजी में निर्णय लेने से बचने की भी आपको सलाह दी जाती है। आर्थिक रूप से, आपको अचानक लाभ मिलने की संभावना है जो आपको खुशी देगी। आप इस दौरान दान-पुण्य कर सकते हैं। रिलेशनशिप पर नजर डालें तो यह समय आपके पार्टनर के साथ रोमांटिक संबंध बनाने के लिए अच्छा हो सकता है। अगर आपको पहले अपने रिश्ते में कुछ समस्याएं हो रही थीं तो यह गोचर स्थितियों को बेहतर बनाने में मदद करेगा। आपके परिवार के सदस्यों के साथ आपके संबंध में सुधार होगा और आप इस दौरान आनंदित समय उनके साथ गुजार सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर आपको सलाह दी जाती है कि आप अपना अच्छे से ख्याल रखें क्योंकि इस गोचर के दौरान आपको शरीर में दर्द या हड्डी में कोई समस्या हो सकती है। स्वस्थ और फिट रहने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करें।

उपाय: सूर्योदय के समय मंदिर में दान करें।

मीन

मीन राशि के जातकों के लिए सूर्य छठे घर का स्वामी है और यह आपके विवाह और भागीदारी के सातवें घर में गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान मीन राशि के जातक अपने विरोधियों के कारण कुछ कठिनाइयों का सामना कर सकते हैं और आप अपना अधिकांश समय दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करने में बिता सकते हैं। आपके जीवनसाथी और अन्य लोगों के साथ संबंध भी इस दौरान बहुत अच्छे नहीं कहे जा सकते। जीवनसाथी के साथ अहम के टकराव की उच्च संभावना है, आपको सलाह दी जाती है कि अहंकार को खुद पर हावी न होने दें अन्यथा यह आपके रिश्ते को खराब कर सकता है। अपने दांपत्य जीवन पर ध्यान दें और वह काम करें जिससे आपका रिश्ता खराब न हो। व्यावसायिक रूप से यह गोचर आपके लिए औसत साबित होगा, क्योंकि आप अपने काम में प्रगति प्राप्त करेंगे, लेकिन बस इस बात का आपको ध्यान रखना होगा कि अपने वरिष्ठों से संवाद करते समय शब्दों का इस्तेमाल सोच-समझकर करें, आपकी बातों को इस दौरान गलत तरीके से समझा जा सकता है। किसी भी आधिकारिक यात्रा से बचें क्योंकि यह आपके लिए अनुकूल परिणाम देने वाली साबित नहीं होगी। स्वास्थ्य जीवन की बात की जाए तो, आप लगातार मानसिक तनाव में रह सकते हैं इसलिए योग और ध्यान करने की इस दौरान आपको सलाह दी जाती है, इससे बेहतर परिणाम मिलेंगे।

उपाय: शुभ फल प्राप्त करने के लिए रविवार को तांबे का दान करें।


सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।