• Varta Astrologers
  • Mragaank
  • Parul

सूर्य का वृषभ राशि में गोचर (15 मई, 2022)

सूर्य का वृषभ राशि में गोचर 15 मई, 2022 को होने जा रहा है, जिसका हमारे जीवन पर अवश्य ही कुछ न कुछ प्रभाव देखने को मिलेगा। यह प्रभाव कितना अनुकूल-प्रतिकूल होने वाला है, यह जानने के लिए यह लेख अंत तक पढ़ें। सूर्य को पृथ्वी पर प्रकाश और ऊर्जा का सबसे बड़ा और प्राकृतिक स्रोत बताया गया है। खगोल विज्ञान के अनुसार सभी ग्रह सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाते हैं वहीं वैदिक ज्योतिष में पृथ्वी को स्थिर ग्रह के रूप में देखा जाता है और बाकी सभी ग्रह इसके चक्कर लगाते हैं, जो पृथ्वी पर रहने वाले जातकों के जीवन में अपना-अपना प्रभाव डालते हैं।

सूर्य का वृषभ राशि में गोचर

सूर्य ग्रह अधिकार और शासन का प्रतिनिधित्व करता है। इसके अलावा, यह जातक के सिद्धांतों को भी दर्शाता है। किसी जातक की कुंडली के जिस भाव में सूर्य मजबूत स्थिति में होता है, सूर्य उस भाव के प्रभुत्व को भी दर्शाता है और कई बार तो यह उस भाव से संबंधित रिश्तों को चलाने और उन्हें मज़बूत करने के लिए भी जाना जाता है। सूर्य किसी पुरुष की जन्म कुंडली में पिता का प्रतिनिधित्व करता है, जबकि किसी महिला की कुंडली में यह उसके पति के जीवन के बारे में बताता है। किसी व्यक्ति के संबंध उसके पिता के साथ कैसे होंगे या उसके पिता से उसे कितना समर्थन और सहायता प्राप्त होती है, यह भी उस व्यक्ति की कुंडली में सूर्य की स्थिति पर निर्भर करता है। इसके अलावा, सूर्य ग्रह सरकारी नौकरी और करियर में मज़बूत पदों की स्थिरता प्राप्त कराने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

विद्वान ज्योतिषियों से फोन पर बात करें और जानें सूर्य गोचर का अपने जीवन पर प्रभाव

वृषभ राशि शुक्र ग्रह द्वारा शासित एक स्थिर राशि है। वृषभ राशि के जातक पहले काम को शुरू कर देते हैं और फिर उसके परिणाम के बारे में विचार करते हैं। इस पृथ्वी तत्व की राशि में सूर्य की स्थिति जातकों के अंदर अपने प्रयासों में सफलता हासिल करने का जुनून पैदा करती है यानी कि वृषभ राशि में सूर्य की स्थिति जातक के अंदर दृढ़ता लाती है व उसके इरादों को मज़बूत बनाती है। इसके अलावा, यह जातकों को अपनी ख़्वाहिशों के प्रति गंभीर बनाता है तथा उनके आत्मविश्वास को भी बढ़ाता है। जिससे कि जातक अपने फ़ैसलों पर अडिग और अजेय होते हैं।

सूर्य के गोचरकाल की अवधि

सूर्य 15 मई, 2022 दिन रविवार को सुबह 5:45 बजे वृषभ राशि में गोचर करेगा और 15 जून, 2022 को शाम 12:19 बजे तक यानी कि मिथुन राशि में प्रवेश गोचर करने तक इसी राशि में स्थित रहेगा।

Read in English: Sun Transit in Taurus (15 May, 2022)

आइए राशिनुसार जानते हैं कि सूर्य के इस गोचर का सभी 12 राशियों के जातकों के जीवन पर क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है। साथ ही, यह भी जानते हैं कि इसके नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिए क्या उपयुक्त उपाय किए जा सकते हैं।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके पांचवें भाव यानी कि मनोरंजन, संतान, शिक्षा, व्यावसायिक पाठ्यक्रम और पिछले कर्मों के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य मेष राशि के दूसरे भाव यानी कि वाणी, संपत्ति और परिवार के भाव से गोचर करेगा।

सूर्य का यह गोचर आपकी बातचीत में कुछ बदलाव लेकर आएगा। आप अपनी बातचीत में मुखर और तीखे हो सकते हैं। आप कुछ ऐसे शब्दों का प्रयोग कर सकते हैं, जिससे सामने वाला भावनात्मक रूप से आहत हो सकता है, जो कि आपको अपने प्रियजनों से दूर भी कर सकता है। इस दौरान आपको अपना पारिवारिक जीवन भी प्रभावित नज़र आ सकता है, आशंका है कि आपको अपने माता-पिता या घर के अन्य सदस्यों के साथ कुछ विवादों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपको अपने परिवार के सदस्यों की तरफ़ से समर्थन और सहायता की कमी भी महसूस हो सकती है।

सूर्य का यह गोचर मेष राशि के छात्रों के लिए अनुकूल रह सकता है। इस दौरान छात्र अपने विषयों को तेज़ी से समझने और उन्हें याद रखने में सफल रह सकेंगे, जिससे उनके प्रदर्शन में वृद्धि देखी सकती है और यह आपके माता-पिता के लिए गर्व की बात होगी और वे आपके लिए कुछ ख़ास करते नज़र आ सकते हैं।

आर्थिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो सूर्य का यह गोचर आपके लिए अनुकूल सिद्ध हो सकता है। एक से अधिक स्रोतों से कमाई होने के योग बन रहे हैं। संभावना है कि इस दौरान आप अपने शौक और रुचि के काम को अपने पेशे में बदल सकते हैं और उसके ज़रिए अच्छी कमाई करने में भी सफलता हासिल कर सकते हैं।

पेशेवर रूप से, इस दौरान आपकी पकड़ अपने काम में अच्छी रहेगी और आप अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रयासरत नज़र आ सकते हैं। आशंका है कि कार्यक्षेत्र में आपका अपनी टीम के अन्य सदस्यों या वरिष्ठ प्रबंधन के साथ किसी बात पर विवाद हो सकता है, जिसके लिए आपको कार्यस्थल पर थोड़ा विनम्र रहने की सलाह दी जाती है। कुल मिलाकर यह अवधि आपके करियर के लिए अनुकूल सिद्ध हो सकती है।

उपाय: तांबे के एक बर्तन में जल भरकर उसमें एक चुटकी कुमकुम व चीनी मिलाएं और सूर्य मंत्र का जाप करते हुए उगते सूर्य को अर्घ्य दें।

मेष साप्ताहिक राशिफल

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके चौथे भाव यानी कि सुख, भूमि, संपत्ति और वाहन के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य वृषभ राशि के प्रथम/लग्न भाव यानी कि शरीर, मस्तिष्क और व्यक्तित्व के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आपका झुकाव अपने परिवार के सदस्यों की ओर अधिक रहने की संभावना है। आप उनकी सुरक्षा से लेकर हर छोटी-बड़ी ज़रूरतों का ध्यान रखते नज़र आ सकते हैं। हालांकि, आपका मुखर और सख़्त रवैया आपके जीवनसाथी के साथ संबंध में कुछ मतभेद पैदा कर सकता है। हो सकता है कि उन्हें आपके इस तरह के स्वभाव का सामना करने में कुछ परेशानी हो और वे आपसे दूरी बनाए रखने का प्रयास करें।

स्वास्थ्य के लिहाज से आपको अपना ख़्याल रखने की सलाह दी जाती है चूंकि ऐसी आशंका है कि इस दौरान आपको सिरदर्द, माइग्रेन और उच्च रक्तचाप की समस्या हो सकती है।

वृषभ राशि के जो छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उनके लिए सूर्य का यह गोचर अनुकूल है। इस दौरान आप मन लगाकर अपनी परीक्षाओं की तैयारी कर सकेंगे, जिससे आपके अंदर अपनी परीक्षाओं को लेकर आत्मविश्वास में वृद्धि हो सकती है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस दौरान आप अपने काम को लेकर अधिक ऊर्जावान रह सकते हैं और अपने लिए कुछ बड़े लक्ष्य निर्धारित कर सकते हैं। यदि आप कोई नया व्यापार शुरू करने की योजना बना रहे हैं तो यह समय प्रबल है। आपको इसमें सकारात्मक परिणाम प्राप्त की संभावना अधिक है।

यदि आप सरकारी नौकरी की योजना बना रहे हैं तो भी सूर्य का यह गोचर आपके लिए अनुकूल सिद्ध हो सकता है। इस दौरान आप आवेदन करने या परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

जो जातक सर्विस में हैं, उन्हें अपने वरिष्ठों से आदेश लेने में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आप उनकी सलाह को नज़रअंदाज़ करे का प्रयास कर सकते हैं और अपने मन मुताबिक़ काम करते नज़र आ सकते हैं। साथ ही, अपनी नौकरी में बदलाव करने की भी योजना बना सकते हैं। कुल मिलाकर इस गोचर के दौरान आपके संबंध अपने वरिष्ठों के साथ बहुत अच्छे न रहने की आशंका है।

उपाय: सुबह उठकर तांबे के बर्तन में पानी पिएं। भगवान सूर्य की पूजा करें और 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करें।

वृषभ साप्ताहिक राशिफल

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके तीसरे भाव यानी कि बल, भाई-बहन, संचार और लघु यात्रा के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य मिथुन राशि के बारहवें भाव यानी कि व्यय, हानि और विदेश के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आपके अंदर ऊर्जा की कमी हो सकती है। आपको अपने व्यक्तिगत जीवन और पेशेवर जीवन के प्रयासों में अपना पूरा ज़ोर लगाने में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा, आपको अपने भाई-बहनों, विशेष रूप से बड़े भाई-बहनों के साथ संबंध में कुछ ग़लतफ़हमियों का भी सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आप नई जगहों पर घूमना पसंद कर सकते हैं और इसके लिए आप कुछ यात्राओं की योजना बना सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि नए दोस्त बनाते समय सावधान रहें चूंकि ऐसी आशंका है कि वे आपको आर्थिक नुकसान पहुंचा सकते हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से आपको यह सलाह दी जाती है कि अपनी आंखों का ध्यान रखें क्योंकि इस दौरान आपकी आंखों में किसी प्रकार का संक्रमण या एलर्जी होने की आशंका है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस दौरान आपका पेशेवर जीवन थोड़ा अस्त-व्यस्त रह सकता है। आपको काम के सिलसिले से कुछ यात्राओं की योजना बनानी पड़ सकती है लेकिन ऐसी आशंका है कि उन यात्राओं से आपको सकारात्मक परिणाम प्राप्त नहीं होंगे।

जो जातक विदेशी बाज़ार के साथ काम कर रहे हैं या बहुराष्ट्रीय कंपनियों में कार्यरत हैं, वे इस दौरान अपने करियर में वृद्धि देख सकते हैं। कार्यक्षेत्र में आपके द्वारा बनाई गई कुछ सफल योजनाएं और रणनीतियां आपके लिए आर्थिक रूप से लाभकारी सिद्ध हो सकती हैं।

जो जातक पदोन्नति की प्रतीक्षा कर रहे हैं, उन्हें थोड़ा और इंतज़ार करने की आवश्यकता पड़ सकती है क्योंकि इस दौरान कार्य प्रोफ़ाइल में बदलाव होने या स्थानांतरण होने की संभावना अधिक है। आशंका है कि इस दौरान आपके संबंध अपने बॉस के साथ बहुत अधिक अच्छे नहीं रह सकेंगे। आपको यह सलाह दी जाती है कि उनसे बात करते समय सावधानी बरतें।

उपाय: रात को तांबे के बर्तन में पानी भरकर अपने सिरहाने यानी कि सिर की तरफ़ रखें और सुबह इस पानी को अपने घर के बाहर फेंक दें।

मिथुन साप्ताहिक राशिफल

शिक्षा और करियर क्षेत्र में आ रही हैं परेशानियां तो इस्तेमाल करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके दूसरे भाव यानी कि धन, अभिव्यक्ति और परिवार के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य कर्क राशि के ग्यारहवें भाव यानी कि आय, लाभ, मित्र और विस्तार के भाव में गोचर करेगा। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, धन के दो भावों की युति जातक के लिए अच्छे योग का निर्माण करती है और जातक के जीवन में आर्थिक रूप से संपन्नता लेकर आती है।

इस दौरान आप अधिक सामाजिक हो सकते हैं और अपने दोस्तों से मिलने के लिए किसी एक जगह पर इकट्ठा होने की योजना बना सकते हैं। साथ ही, अपने दोस्तों, परिवार और परिचितों के साथ समय बिताने के लिए या उनसे मिलने के लिए किसी पार्टी का आयोजन भी कर सकते हैं। इसके अलावा, इस दौरान आप कुछ उच्च अधिकारियों के संपर्क में भी आ सकते हैं और उन्हें डिनर या किसी कैज़ुअल मीटिंग के लिए आमंत्रित कर सकते हैं।

जो जातक वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रहे हैं, वे अपने जीवनसाथी के साथ एक अच्छा समय साझा करने में सफलता प्राप्त सकते हैं, जिससे आपके रिश्ते में मज़बूती आएगी और आपसी समझ में इज़ाफ़ा होगा। आप में से कुछ लोग अपने वैवाहिक रिश्ते से बाहर निकलकर अच्छे दोस्त की तलाश कर सकते हैं।

आर्थिक रूप से देखा जाए तो यह अवधि कर्क राशि के जातकों लिए लाभकारी सिद्ध हो सकती है। यदि आप कोई व्यवसाय करते हैं तो आप उससे अच्छा खासा आर्थिक लाभ अर्जित कर सकते हैं। व्यवसाय से प्राप्त हुए धन को पुनः निवेश करने से आपकी आमदनी में कई गुना वृद्धि होने की संभावना है।

वहीं नौकरीपेशा जातकों को इस दौरान अच्छा खासा प्रोत्साहन मिल सकता है। साथ ही, बेहतर सुविधाओं के साथ पदोन्नति होने की भी संभावना है। आपके संबंध अपने वरिष्ठों के साथ बहुत अच्छे रह सकेंगे, जिससे कि आपकी प्रोफ़ाइल पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। संभावना है कि आपको अतीत में की गई मेहनत का फल इस दौरान धन लाभ के रूप में प्राप्त हो सकता है, साथ ही लंबे समय से अटके भुगतान वापस मिलने के योग बन रहे हैं। कुल मिलाकर, आप अपने पेशेवर जीवन में अच्छी छवि और प्रतिष्ठा बनाने में सफल हो सकते हैं।

उपाय: आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें और विशेष रूप से सूर्योदय के समय सूर्य भगवान की पूजा करें।

कर्क साप्ताहिक राशिफल

सिंह

सिंह राशि के लिए सूर्य लग्न भाव का स्वामी है और इसका गोचर सिंह राशि के जातकों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य सिंह राशि के दसवें भाव में गोचर करने जा रहा है। लग्न भाव के स्वामी का पेशे के भाव में गोचर, सिंह राशि के जातकों के करियर में मज़बूती और स्थिरता लेकर आने वाला है। साथ ही, यह जातकों को अपने पेशेवर जीवन के प्रति कर्मठ व महत्वाकांक्षी भी बनाता है।

इस दौरान आप समाज में अपनी प्रतिष्ठा बनाने में सफलता हासिल कर सकते हैं। आपके संबंध अपने माता-पिता, विशेष रूप से अपने पिता के साथ अच्छे रहेंगे और आपको उनकी साख/प्रतिष्ठा की वजह से कुछ लाभ प्राप्त हो सकता है। इस दौरान आपके घर का माहौल परिवार के कुछ सदस्यों के स्वभाव और उनकी कुछ उम्मीदों के कारण बहुत अच्छा न रहने की आशंका है। हालांकि, आप सब कुछ सही तरीके से करने का प्रयास करते नज़र आ सकते हैं। इस अवधि में आपकी माता जी को कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि उनके स्वास्थ्य की नियमित जांच कराएं और उनका ख़्याल रखें।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो सूर्य का यह गोचर आपके लिए अनुकूल सिद्ध हो सकता है। यदि आप लंबे समय से पदोन्नति का इंतज़ार कर रहे हैं तो इस दौरान आपको शुभ समाचार मिल सकता है। साथ ही, कार्यस्थल पर आप अच्छा नाम कमाने और एक अलग पहचान बनाने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

जो जातक अपने करियर में कोई विशेष आधिकारिक पद पाने का इंतज़ार कर रहे हैं, इस दौरान उनका यह सपना पूरा होने की संभावना अधिक है। यह समय अपनी नौकरी में बदलाव करने और सरकारी नौकरी को अपना लक्ष्य बनाने के लिए भी अच्छा है। जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, वे इस दौरान कुछ ज़िम्मेदार और कर्मठ लोगों से संबंध बनाने में सफल हो सकते हैं, जो कि उनके व्यवसाय की वृद्धि और विस्तार के लिए लाभकारी साबित हो सकते हैं।

उपाय: सूर्य भगवान का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए अपने काम करने वाले हाथ की अनामिका में लाल तुरमली का ब्रेसलेट या अंगूठी पहनें।

सिंह साप्ताहिक राशिफल

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके बारहवें भाव यानी कि व्यय, मोक्ष और विदेश यात्रा के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य कन्या राशि के नौवें भाव यानी कि धर्म और भाग्य के भाव में गोचर करेगा। कन्या राशि के बारहवें भाव और नौवें भाव का यह संबंध जातकों के जीवन में कुछ यात्राएं लेकर आ सकता है।

संभावना है कि इस दौरान आपका झुकाव आध्यात्मिकता की ओर रहेगा। अपने धर्म के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए तथा शास्त्रों के समझने के लिए आप कुछ धार्मिक स्थलों की यात्रा भी कर सकते हैं। आप अपने पूर्वजों के सम्मान हेतु कुछ करने का प्रयास कर सकते हैं जैसे कि इस दौरान आप उनके लिए कुछ यज्ञ वगैरह करा सकते हैं या कोई बड़ा दान-पुण्य का काम कर सकते हैं। आपके संबंध अपने पिता के साथ बहुत अच्छे न रहने की आशंका है लेकिन एक-दूसरे के सम्मान में कोई कमी नहीं होगी। इस दौरान आपके दान-पुण्य के रवैये और कुछ प्रयासों को देखते हुए समाज में आपके सम्मान में वृद्धि हो सकती है।

जो छात्र आगे की पढ़ाई के लिए योजना बना रहे हैं, उनके लिए यह अवधि अनुकूल रहने वाली है। इस दौरान आपके ज्ञान में वृद्धि देखी जा सकती है। यदि आप विदेश की किसी संस्था में प्रवेश लेने की योजना बना रहे हैं तो यह समय प्रबल है। आपको अपनी तैयारियों में जुट जाना चाहिए या यूं कहें कि आपको अपनी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो कार्यक्षेत्र का माहौल आपके लिए संतोषजनक रह सकता है। हालांकि, आप अपने काम को एकाग्रचित्त होकर करने में सक्षम नहीं रह सकेंगे। जो जातक विदेशी ग्राहकों से साथ डीलिंग का काम करते हैं, उनके लिए यह अवधि अनुकूल है। इस दौरान आप कुछ अच्छे सौदे करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

उपाय: रविवार के दिन गाय को गेहूं की रोटी और गुड़ खिलाएं और प्रतिदिन 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करें।

कन्या साप्ताहिक राशिफल

तुला

तुला राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके ग्यारहवें भाव यानी कि आय और लाभ के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य तुला राशि के आठवें भाव यानी कि रहस्य, रहस्य विज्ञान और अनिश्चितता के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आप कुछ गहरे विचारों में खोए हुए नज़र आ सकते हैं। आप हर चीज़ का सही मूल्यांकन करने और आंकने का प्रयास कर सकते हैं। आपके संबंध अपने दोस्तों के साथ बेहतर रहेंगे लेकिन आप अपने अंदर की भावनाओं को उनके सामने ज़ाहिर करने में असहज महसूस कर सकते हैं। आपके अंदर जीवन के कुछ गहरे रहस्यों और सत्य के बारे में जानने की जिज्ञासा पैदा हो सकती है। आप अपने आस-पास की चीजों पर भी सवाल खड़े कर सकते हैं और जीवन में आने वाली चुनौतियों के पीछे का कारण समझने की कोशिश करते नज़र आ सकते हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो इस दौरान आपको शरीर दर्द, जलन, छाले और ऊर्जा में कमी यानी कमज़ोरी जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें!

जो छात्र शोध कार्यों तथा दर्शन से जुड़ी पढ़ाई कर रहे हैं, उनके लिए यह अवधि अनुकूल सिद्ध हो सकती है। इस दौरान आपको कुछ नए पाठ और अध्य्यन करने के विषय मिल सकते हैं, जो कि आपके ज्ञान में विस्तार लेकर आ सकते हैं। आप अपने ज्ञान और योग्यता की मदद से कोई नई खोज करने में भी सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

आर्थिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो यह अवधि आपके आर्थिक मामलों को लेकर थोड़ी अनिश्चित रह सकती है। इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि इस दौरान किसी भी प्रकार का निवेश करने से बचें अन्यथा आपको नुकसान हो सकता है। साथ ही, यह भी सलाह दी जाती है कि सट्टा बाज़ारों जैसे कि स्टॉक मार्केट, शेयर मार्केट आदि में भी निवेश करने से बचें।

जो जातक संयुक्त उद्यम में काम कर रहे हैं, उन्हें अपने साझेदार से थोड़ा सावधान करने की सलाह दी जाती है चूंकि ऐसी आशंका है कि इस दौरान उनकी नियत में खोट हो सकती है। व्यवसाय की वृद्धि और विस्तार के लिए नई रणनीतियां बनाने के लिए समय अनुकूल है लेकिन, इन्हें अपने व्यवसाय में लागू करने के लिए आपको कुछ समय इंतज़ार करने की सलाह दी जाती है।

उपाय: भगवान नारायण की पूजा करें और प्रतिदिन 108 बार 'ॐ नमो भगवते वासुदेवाय' का जाप करें।

तुला साप्ताहिक राशिफल

कुंडली में मौजूद राज योग की समस्त जानकारी पाएं

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके दसवें भाव यानी कि कर्म भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य वृश्चिक राशि के सातवें भाव यानी कि संगठन, साझेदारी और विवाह के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आप स्वभाव से गुस्सैल व मुखर हो सकते हैं। अपने व्यक्तिगत या पेशेवर जीवन में कोई भी ज़िम्मेदारी वाला काम लेने में आपको मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। आपके मुखर और गुस्सैल रवैये को झेलना आपके जीवनसाथी के लिए मुश्किल हो सकता है, जिससे कि आपके वैवाहिक जीवन में कुछ परेशानियां आ सकती हैं। हो सकता है कि आपका जीवनसाथी आपसे दूरी बनाने के लिए कुछ यात्राओं की योजना बनाए या फिर किसी बातचीत में शामिल न हो।

जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं और किसी रिश्ते में आना चाहते हैं, उनके लिए इस दौरान कुछ अच्छे और समृद्ध परिवारों से प्रस्ताव आ सकते हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़ास ख़्याल रखें चूंकि इस दौरान आप घबराहट, सनस्ट्रोक और कोलेस्ट्रॉल की समस्या से ग्रसित हो सकते हैं।

जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, उनके लिए यह समय अच्छा रहने वाला है। आप इस दौरान संबंधित मार्केट में एक अलग स्थान बनाने और नाम कमाने में सफलता हासिल कर सकते हैं। इस अवधि में आप अपने व्यवसाय की तरक्की के लिए कुछ ज़रूरी यात्राओं की योजना बना सकते हैं। आपको इन यात्राओं से सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने की संभावना अधिक है। साथ ही, इस दौरान आपको संयुक्त उद्यम में काम करने के क्यछ अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं।

जो जातक साझेदारी के व्यवसाय में हैं, उन्हें इस दौरान आपके साझेदार के साथ बातचीत करते समय सावधान रहने की सलाह दी जाती है चूंकि ऐसी आशंका है कि इस दौरान आपकी उनसे किसी बात पर कोई बहस हो सकती है।

आर्थिक दृष्टिकोण से यह अवधि आपके लिए शुभ साबित हो सकती है। आप अपनी नई परियोजनाओं और डील्स से अच्छा खासा धन अर्जित करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

उपाय: अपने माथे पर कुमकुम का तिलक लगाएं और अपने काम करने वाले हाथ की कलाई में छह बार लपेटकर मौली या कलावा बांधें।

वृश्चिक साप्ताहिक राशिफल

बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके नौवें भाव यानी कि धर्म और भाग्य के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य धनु राशि के छठे भाव यानी कि प्रतिस्पर्धा, विवाद और रोग के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आप स्वभाव से झगड़ालू हो सकते हैं। आपका झुकाव और रुचि अपने शरीर की फ़िटनेस की ओर बढ़ सकता है। साथ ही, हर चीज़ के प्रति आप अपने दृष्टिकोण में मज़बूत और आत्मविश्वासी हो सकते हैं। आप अपने प्रतिद्वंदियों और शत्रुओं पर हावी रह सकेंगे। इस दौरान आप बार-बार कुछ झगड़ों में शामिल हो सकते हैं और सफलतापूर्वक उनसे बाहर आ सकते हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो इस दौरान अतीत की कुछ बीमारियों से छुटकारा मिलने की संभावना अधिक है।

जो छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उनके लिए सूर्य का यह गोचर अनुकूल रहने वाला है। इस दौरान आप अपनी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर सकते हैं या यूं कहें कि इस दौरान आपको अपनी मेहनत का फल मिलने की संभावना अधिक है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस दौरान आप अपने कार्यस्थल पर एक मज़बूत और प्रभावशाली व्यक्तित्व रख सकते हैं। यदि आप अपनी संस्था से किसी प्रकार के सहयोग या सुविधाओं की उम्मीद कर रहे हैं तो यह समय प्रबल है, आपकी अपेक्षाएं पूरी हो सकती हैं। आपके संबंध अपनी टीम के सदस्यों के साथ बेहतर रहेंगे और वे आपके कार्यों में हर तरह से सहयोग करते नज़र आएंगे। आशंका है कि इस दौरान आपके सहकर्मी आपके ख़िलाफ़ किसी प्रकार की राजनीति करने का प्रयास कर सकते हैं हालांकि, वे इसमें विफल होंगे और आपको कोई भी नुकसान नहीं पहुंचा पाएंगे।

जो जातक सरकारी नौकरी में हैं, उनके लिए भी सूर्य का यह गोचर अनुकूल है। आप इस दौरान किसी प्रकार का प्रोत्साहन प्राप्त कर सकते हैं या पदोन्नत किए जा सकते हैं।

उपाय: प्रतिदिन नहाने के पानी में एक चुटकी कुमकुम या लाल चंदन का पाउडर डालकर स्नान करें।

धनु साप्ताहिक राशिफल

मकर

मकर राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके आठवें भाव यानी कि रहस्य, रहस्य विज्ञान और अनिश्चितता के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य मकर राशि के पांचवें भाव यानी कि संतान और शिक्षा के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आपका झुकाव नई चीज़ें सीखने की ओर रह सकता है। आपकी रुचि शोध विषयों पर ज़्यादा हो सकती है। जो जातक प्रेम संबंध में हैं, उनके लिए यह समय बहुत अच्छा नहीं रह सकता है। आशंका है कि इस दौरान आपको अपने प्रिय के साथ संबंध में कुछ विवाद या बहस का सामना करना पड़ सकता है। जिसकी वजह से आपके रिश्ते में मनमुटाव पैदा हो सकते हैं और रिश्ता टूटने तक की नौबत आ सकती है। गर्भवती महिलाओं को सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है चूंकि यह समय आपके लिए ज़्यादा अनुकूल न रहने की आशंका है।

स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो इस दौरान आप एसिडिटी, पेट दर्द और खट्टी डकार जैसी समस्याओं से पीड़ित हो सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें और खान-पान पर विशेष रूप से ध्यान दें।

यह अवधि आपके आर्थिक मामलों में कुछ अस्थिरता लेकर आ सकती है इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि इस दौरान किसी भी प्रकार के बड़े निवेश, विशेष रूप से सट्टा बाज़ारों जैसे कि स्टॉक मार्केट, शेयर मार्केट आदि में निवेश करने से बचें अन्यथा आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है।

यदि आप अपने शौक और रुचि के कार्यों से जुड़े किसी पार्ट टाइम पेशे में निवेश की योजना बना रहे हैं तो यह समय अनुकूल है। आपको इसमें सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।

इस दौरान नौकरी में बदलाव होने की संभावना अधिक है इसलिए यदि आप अपनी नौकरी या वर्क प्रोफ़ाइल में बदलाव करने की योजना बना रहे हैं तो आप प्रयास कर सकते हैं। आपके संबंध अपने बॉस और प्रबंधन के लोगों के साथ अधिक सौहार्दपूर्ण न रहने की आशंका है, जो कि कार्यस्थल पर आपकी छवि को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकते हैं।

उपाय: प्रतिदिन उगते हुए सूर्य को जल अर्पित करें और अपने पिता और पिता तुल्य लोगों का सम्मान करें।

मकर साप्ताहिक राशिफल

कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके सातवें भाव यानी कि वैवाहिक सुख, यात्रा और संगठन के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य कुंभ राशि के चौथे भाव यानी कि सुख, भवन और माता के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आपकी माँ के साथ आपके संबंध थोड़ा तनावपूर्ण रह सकते हैं चूंकि ऐसी आशंका है कि आपके बीच कुछ मतभेद पैदा हो सकते हैं।

जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं और अपने लिए एक जीवनसाथी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें इस दौरान अपने परिवार के कुछ सदस्यों के सहयोग और मदद से अपना जीवनसाथी मिल सकता है।

वहीं विवाहित जातकों के लिए सूर्य का यह गोचर औसत रूप से फलदायी सिद्ध हो सकता है। ऐसी आशंका है कि इस दौरान आपका जीवनसाथी आप पर हावी रह सकता है और घर के कामों में हाथ बंटाने की आज्ञा दे सकता है, जिसकी वजह से आप थोड़ा परेशान रह सकते हैं और आपको ऐसा महसूस हो सकता है कि आप घर के दास हैं। इस दौरान आप अपने घर के सदस्यों के लिए कोई वाहन ख़रीदने की योजना बना सकते हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से इस दौरान आपको खांसी और पित्त से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है। आपको यह सलाह दी जाती है अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतें।

कुंभ राशि के छात्र इस दौरान पढ़ाई के प्रति अधिक ऊर्जावान रह सकते हैं। आप अपने विषयों और पाठ्यक्रम को अच्छी तरह समझने और याद रखने में सफल रह सकेंगे। जिससे आप अपनी परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप कोई नई भाषा सीखने की योजना बना रहे हैं तो यह समय प्रबल है। आप जल्द ही और आसानी से नई भाषा को सीखने और उसमें पकड़ बनाने में सफलता हासिल कर सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस दौरान आप अपने करियर में नाम और प्रसिद्धि प्राप्त करने में सफलता हासिल कर सकते हैं। जो जातक नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें इस दौरान अपनी योग्यता साबित करने और अपना करियर शुरू करने के कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं। जो जातक ख़ुद के व्यवसाय, विशेष रूप से परिवारिक व्यवसाय से जुड़े हैं, उनके लिए भी यह अवधि अनुकूल सिद्ध हो सकती है क्योंकि इस दौरान आप अपने घर के सभी सदस्यों की मदद से अपने व्यवसाय के प्रचार में वृद्धि कर सकेंगे, जिससे कि मार्केट में आप अच्छी प्रतिष्ठा हासिल करने में सफल हो सकते हैं।

उपाय: रविवार के दिन मंदिर में गुड़ दान करें और सूर्योदय के समय उठकर प्राणायाम करें।

कुंभ साप्ताहिक राशिफल

मीन

मीन राशि के जातकों के लिए सूर्य उनके छठे भाव यानी कि विवाद, प्रतिस्पर्धा और सेवा के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान सूर्य मीन राशि के तीसरे भाव यानी कि कला, संस्कृति, साहस, भाई-बहन और संचार के भाव में गोचर करेगा।

आप इस दौरान अपने सपनों को पूरा करने और अपनी रुचि के अनुसार अतिरिक्त गतिविधियों में सक्रिय दिखेंगे। साथ ही इस अवधि में आप नई चीज़ों को सीखने के लिए किसी यात्रा पर जाने की योजना बना सकते हैं। इसके अलावा, आप अपने कार्य कौशल का विस्तार करते हुए नई व रचनात्मक चीज़ों पर कार्य करते नज़र आ सकते हैं, जिससे आपके जीवन में ख़ुशियां आएंगी। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने छोटे भाई-बहनों से बात करते समय सावधान रहें अन्यथा आपका उनसे किसी बात पर विवाद हो सकता है। इस दौरान आप कुछ नए दोस्त बना सकते हैं और लोगों से मिलना-जुलना पसंद कर सकते हैं।

यदि आपका किसी न्यायालय में कोई कानूनी मामला चल रहा है तो इस दौरान उसमें जीत मिलने की संभावना अधिक है। इस दौरान आपका झुकाव लेखन की ओर रह सकता है और आप खाली समय में उपन्यास या और कुछ लिखना पसंद कर सकते हैं।

जो जातक सर्विस में हैं, इस दौरान कार्यस्थल पर उनकी प्रोफ़ाइल और उनके विभाग में कुछ बड़े बदलाव हो सकते हैं। साथ ही, स्थानांतरण की भी संभावना अधिक है। यदि आप अपनी नौकरी में बदलाव करने की योजना बना रहे हैं तो यह समय प्रबल है। आपको इस दौरान नौकरी के कुछ अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

व्यवसायी जातकों के लिए यह समय अधिक अनुकूल न रहने की आशंका है चूंकि इस दौरान आपको मनचाहे परिणाम नहीं मिलेंगे। हालांकि, आप अपनी मेहनत और प्रयासों में पीछे नहीं रहेंगे परंतु आपको उसके मुताबिक फल न मिलने की आशंका है। आपको यह सलाह दी जाती है कि इस दौरान अपने व्यवसाय में कुछ भी नया लागू न करें चूंकि परिणाम फलदायी नहीं हो सकते हैं।

उपाय: सूर्य भगवान की पूजा करें और प्रतिदिन सूर्य सिद्धांत का पाठ करें।

मीन साप्ताहिक राशिफल

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।