• Varta Astrologers
  • Mragaank
  • Parul

वक्री शनि का मकर राशि में गोचर (12 जुलाई 2022)

आइए एस्ट्रोसेज के इस लेख में वैदिक ज्योतिष पर आधारित वक्री शनि का मकर राशि में गोचर (12 जुलाई 2022) से जुड़ी भविष्यवाणियां पढ़ते हैं और जानते हैं कि इसका हमारे दैनिक जीवन पर क्या प्रभाव पड़ने वाला है। साथ ही यह भी जानते हैं कि इसके नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिए क्या उपयुक्त उपाय किए जा सकते हैं।

शनि का मकर में गोचर

विद्वान ज्योतिषियों से फोन पर बात करें और जानें वक्री शनि का अपने जीवन पर प्रभाव

शनि को कर्म का ग्रह माना जाता है। यह जातकों को उनके कर्मों के आधार पर फल प्रदान करता है। ऐसा माना जाता है कि शनि देव जातक के अतीत और वर्तमान के कर्मों को देखते हुए सकारात्मक व नकारात्मक फल प्रदान करते हैं। शनि के कठोर परिणामों और प्रभावों के कारण ही इसे एक हानिकारक ग्रह के रूप में जाना जाता है। सबसे धीमी गति से गोचर करने वाले ग्रहों में से एक होने के कारण, शनि को एक राशि से दूसरी राशि में गोचर करने में लगभग 2.5 वर्ष का समय लगता है इसलिए किसी जातक के जीवन में इसका प्रभाव भी लंबे समय तक रहता है। शनि जब किसी जातक की कुंडली के किसी भी भाव में स्थित होते हैं तो उससे संबंधित क्षेत्र पर अपना गहरा प्रभाव डालते हैं।

किसी ग्रह का वक्री होने मूल रूप से एक ऐसी गति होती है, जिसमें ग्रह विपरीत दिशा में गति करता हुआ प्रतीत होता है। यह गति उस ग्रह के सकारात्मक व नकारात्मक प्रभावों में तीव्रता लाती है यानी कि उस ग्रह का प्रभावों में अधिकता देखी जाती है।

कुंडली में मौजूद राज योग की समस्त जानकारी पाएं

वक्री शनि गोचर 2022 तिथि

मकर और कुंभ राशियों का स्वामी के स्वामी शनि 12 जुलाई, 2022 की सुबह 10:28 बजे स्वराशि मकर में वक्री होने जा रहे हैं और फिर 23 अक्टूबर, 2022 को इसी राशि में मार्गी । आइए जानते हैं कि वक्री शनि का मकर में गोचर का सभी 12 राशियों के जातकों के जीवन पर क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है, साथ ही यह भी यह भी जानते हैं कि यह जातकों के दैनिक जीवन को किस प्रकार प्रभावित करेगा।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि

Read in English: Retrograde Saturn Transit in Capricorn (12 July, 2022)

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए शनि दसवें और ग्यारहवें भाव के स्वामी हैं और यह आपके दसवें भाव यानी कि पेशे और प्रतिष्ठा के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करने जा रहे हैं। इस दौरान आप पूर्ण रूप से अपने करियर की ओर केंद्रित रहेंगे और अपने लंबित कार्यों को पूरा करने का हर संभव प्रयास करते नज़र आएंगे। हालांकि आपको अपने अटके या रुके हुए कार्यों को पूरा करने में कुछ उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है लेकिन अंततः चीज़ें आपके लिए बेहतर होती जाएंगी और आपके लिए फलदायी सिद्ध होंगी। आपकी सच्ची निष्ठा और लगन को देखते हुए आपके वरिष्ठ भी आपका सहयोग करेंगे। इस अवधि में आपको अपनी नौकरी में बदलाव करने का भी अवसर प्राप्त हो सकता है। साथ ही आप अपने पेशेवर जीवन में कई अच्छे बदलाव लाने की दिशा में केंद्रित होकर कार्य करते नज़र आएंगे।

आर्थिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो यह अवधि आपके लिए मध्यम रहने वाली है। आप अपने सभी ख़र्चों को पूरा सकेंगे और इसी प्रकार से आप अपनी आर्थिक स्थिति को संतुलित बनाए रखने में कामयाबी हासिल करेंगे।

आपके घर में सुख-शांति बनी रहेगी और आप इस दौरान घर का नवीनीकरण कराने की योजना बना सकते हैं। जो जातक अभी तक कोई संपत्ति ख़रीदने की योजना बना रहे थे तो इस अवधि में उनकी यह ख़्वाहिश पूरी हो सकती है। इस समय लोहा, इस्पात, खानों (माइंस) और गैस के स्टॉक में निवेश करना लाभकारी सिद्ध होगा। साथ ही अपने पुराने कुछ दोस्तों के साथ मिलने और उनके साथ पुरानी यादों को संजोने के लिए भी यह समय प्रबल है अर्थात आप इस दौरान ऐसी कोई योजना बना सकते हैं।

उपाय: शनिवार के दिन शनि मंदिर में काली दाल दान करें।

मेष साप्ताहिक राशिफल

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए शनि नौवें और दसवें भाव के स्वामी हैं और यह आपके नौवें भाव यानी कि पिता, आध्यात्मिकता और धर्म के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे। आशंका है कि इस दौरान आप आगे की पढ़ाई करने या कुछ सीखने में रुचि खो देंगे, इसकी बजाय आप स्मार्ट वर्क करने की तकनीकों पर ज़्यादा ध्यान देते नज़र आएंगे। आपका झुकाव आध्यात्मिकता की ओर थोड़ा कम होगा लेकिन कर्मा पर आपका भरोसा बुलंद रहेगा, जो कि आपको अपने कार्यों को करते समय सही निर्णय लेने के लिए प्रेरित करेगा। इस दौरान आप कुछ ज़रूरी यात्राओं की योजना बना सकते हैं और यह यात्राएं आपके अधूरे कार्यों को पूरा करने के लिए काफ़ी मददगार साबित होंगी। इस अवधि में आपके संबंध अपने पिता के साथ बहुत अच्छे नहीं रह सकते हैं, आपका उनसे किसी बात पर विवाद हो सकता है। यह मानिए इस दौरान आपके धैर्य की परीक्षा होगी लेकिन अंततः आपको अपनी तपस्या और कड़ी मेहनत का सकारात्मक फल अवश्य प्राप्त होगा।

जो जातक सर्विस में हैं वे अपना काम बहुत अच्छी तरह से कर सकेंगे लेकिन उनके अपने बॉस के साथ संबंध ख़राब हो सकते हैं। स्वाभाविक है कि फिर आपको उनकी तरफ़ से ज़्यादा समर्थन प्राप्त नहीं होगा। हालांकि, आपकी वर्किंग स्किल और कड़ी मेहनत आपके पेशेवर जीवन को सुखद बनाएगी और आप अपने कार्यस्थल पर एक मज़बूत पकड़ बनाए रखने में सफल होंगे। वहीं व्यवसायी जातक अपने व्यवसाय के विस्तार के लिए कुछ नए संसाधनों का पता लगा सकेंगे। इस अवधि में आप कुछ नई रणनीतियों को लागू कर सकते हैं, साथ ही पुरानी योजनाओं और रणनीतियों में भी कुछ बदलाव कर सकते हैं।

उपाय: सोते समय अपने सिर के पास नीलम रखें।

वृषभ साप्ताहिक राशिफल

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए शनि आठवें और नौवें भाव के स्वामी हैं और यह आपके आठवें भाव यानी कि अनिश्चितताओं और रहस्य विज्ञान के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे। इस दौरान आपको आगे होने वाली घटनाओं का पहले से ही आभास हो जाएगा। अध्यात्म की ओर आपका झुकाव रहेगा और आप आध्यात्मिकता की चीज़ों के बारे में अधिक जानने की कोशिश करते नज़र आएंगे। इस अवधि में आपको कुछ ऐसी घटनाओं का सामना करना पड़ सकता है, जो आपके जीवन में बड़े परिवर्तन लेकर आ सकती हैं।

आर्थिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो यह समय अनिश्चितताओं से भरा रहेगा इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि इस अवधि में स्टॉक मार्केट या शेयर मार्केट आदि में निवेश करने से बचें। वहीं व्यक्तिगत स्वास्थ्य की बात करें तो इस दौरान आपको जोड़ों में दर्द, दांतों की समस्या और बाल झड़ने जैसी समस्याएं परेशान कर सकती हैं।

व्यक्तिगत जीवन में आपको अपने ससुराल पक्ष के लोगों के साथ संबंध में कुछ तनाव का सामना करना पड़ सकता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस अवधि में व्यवसायी जातक अपने कर्ज़ों से मुक्ति पा सकते हैं लेकिन फिर भी आपको सलाह दी जाती है कि किसी भी नई परियोजना में निवेश करने की योजना को फ़िलहाल के लिए स्थगित कर दें। वहीं नौकरीपेशा जातकों को इस दौरान अधिक सावधान रहने की आवश्यकता होगी चूंकि उनके करियर में उतार-चढ़ाव आ सकते हैं या फिर नौकरी में अचानक से कोई बदलाव हो सकता है।

उपाय: शनिवार के दिन मदिरा और मांसाहार के सेवन से परहेज करें।

मिथुन साप्ताहिक राशिफल

करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए शनि सातवें और आठवें भाव के स्वामी हैं और यह आपके सातवें भाव में यानी कि संगठन, साझेदारी और विवाह के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

जो लोग अपने विवाह की प्रतीक्षा कर रहे थे, प्रबल संभावना है कि वे इस दौरान शादी के बंधन में बंध जाएंगे। साथ ही, शादी के बीच आने वाली बाधाएं भी दूर ही जाएंगी। जो लोग वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रहे हैं, उन्हें इस अवधि में अपने जीवनसाथी के साथ संबंध में कुछ तनाव का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही घर की सुख-शांति भंग हो सकती है। इन सब वजहों से आपका धैर्य टूट सकता है और आप हर चीज़ में जल्दीबाज़ी कर सकते हैं। जिसके फलस्वरूप आपको अपने प्रयासों में नकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो लोग साझेदारी के व्यवसाय में हैं, उनके सामने कुछ तनावपूर्ण स्थितियां आने वाली हैं। इस दौरान आपके संबंध अपने साझेदार के साथ थोड़े ख़राब हो सकते हैं, जिसका सीधा असर आपकी फर्म की छवि और बिज़नेस डीलिंग्स पर पड़ेगा। वहीं नौकरीपेशा जातकों को अपनी नौकरी में स्थिरता बनाए रखने के लिए अधिक मेहनत करनी होगी चूंकि ऐसी आशंका है कि इस दौरान आपकी वर्किंग स्किल पर प्रश्न उठ सकते हैं, जो कि कार्यस्थल पर आपकी छवि को प्रभावित करेगा।

स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो पुरानी किसी बीमारी से पुनः पीड़ित होने की संभावना रहेगी इसलिए आपके लिए बेहतर होगा कि अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहें और अपना ख़्याल रखें।

उपाय: भगवान शिव की पूजा करें और शिवलिंग पर जल चढ़ाएं।

कर्क साप्ताहिक राशिफल

सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए शनि छठे और सातवें भाव के स्वामी हैं और यह आपके छठे भाव यानी कि रोग, प्रतिस्पर्धा, ऋण और सेवा के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

इस दौरान आपके संबंध अपने प्रियजनों के साथ थोड़े ख़राब हो सकते हैं। यदि आप वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रहे हैं तो जीवनसाथी के साथ भी आपके संबंध थोड़े तनावपूर्ण रहेंगे, जिसकी वजह आपको उनसे भावनात्मक या शारीरिक दूरी eमहसूस हो सकती है। घर की सुख-शांति भी कुछ ख़ास नहीं रहेगी। यदि आपका न्यायालय में कोई मामला चल रहा है या आप किसी केस में फंसे हुए हैं तो इस दौरान आपको उससे निजात मिलने की संभावना अधिक है। साथ ही आप अपने जीवन के सभी विवादों को सुलझाते हुए परिणाम अपने पक्ष में कर सकेंगे।

पेशेवर जीवन की बात की जाए तो नौकरीपेशा जातक अपनी प्रोफ़ाइल में वृद्धि देख सकते हैं साथ ही, उन्हें अपनी मेहनत का पूरा फल भी प्राप्त होगा। जो लोग नई नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें इस अवधि में नौकरी के कुछ अच्छे अवसर/प्रस्ताव प्राप्त होंगे। वहीं व्यवसायी जातकों के लिए यह समय थोड़ा कठिन रहने वाला है चूंकि इस दौरान उन्हें अपनी लायबिलिटी चुकाने में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है और यह भी हो सकता है कि आपको अपना व्यवसाय सुचारू रूप से चलाने के लिए बाज़ार से भी कुछ कर्ज़ लेना पड़े। जो लोग प्रोफेशनल सर्विसेज़ में हैं, उनके लिए यह पीक समय है और आप इस दौरान अपने करियर में अच्छा ख़ासा उछाल देखेंगे। आप अपनी सेवाओं और योग्यताओं के ज़रिए संबंधित मार्केट में अपनी पैठ बनाने में कामयाबी हासिल करेंगे।

उपाय: शनिवार के दिन काले रंग के वस्त्र धारण न करें।

सिंह साप्ताहिक राशिफल

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए शनि पांचवें और छठे भाव के स्वामी हैं और यह आपके पांचवें भाव यानी कि शिक्षा, संतान और रोमांस के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

छात्रों के लिए यह समय अनुकूल रहने वाला है क्योंकि इस दौरान आप अपनी पढ़ाई की ओर समर्पित रहेंगे। जो छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उन्हें इस अवधि में काफ़ी फलदायी परिणाम प्राप्त होंगे।

जो लोग प्रेम संबंध में हैं, उन्हें अपने रिश्ते में कुछ उतार-चढ़ाव की स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है चूंकि इस दौरान आपके संबंध अपने प्रिय के साथ बहुत अधिक सौहार्दपूर्ण नहीं रहेंगे। बिना किसी वजह ही आपके बीच झगड़े और ग़लतफ़हमियां हो सकती हैं। बच्चों को भी इस अवधि में फ़्लू और खांसी जैसी स्वास्थ्य समस्याओं से गुज़रना पड़ सकता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो व्यवसायी जातक इस दौरान अपनी पुरानी योजनाओं और रणनीतियों के ज़रिए लाभ अर्जित कर सकेंगे, जो उनके लिए पहले ज़्यादा कारगर नहीं थीं। वहीं नौकरीपेशा जातकों की वर्क प्रोफ़ाइल या पद में बदलाव होने की संभावना अधिक है।

उपाय: किसी भी कार्य को ज़्यादा देर तक लंबित न रखें।

कन्या साप्ताहिक राशिफल

तुला

तुला राशि के जातकों के लिए शनि चौथे और पांचवें भाव के स्वामी हैं और यह आपके चौथे भाव यानी कि भवन तथा आराम के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

यदि आप लंबे समय से कोई संपत्ति की ख़रीदने की योजना बना रहे हैं या अपने घर का नवीनीकरण कराने की योजना बना रहे हैं तो इस अवधि में आपकी यह मनोकामना पूर्ण होगी। कुल मिलाकर भवन के निर्माण व विनिर्माण के लिए यह समय अनुकूल है। आप कृषि से संबंधित किसी संपत्ति में भी निवेश कर सकते हैं। हालांकि, इस दौरान आपकी माता जी का ख़राब स्वास्थ्य आपके लिए चिंता का कारण बन सकता है।

तुला राशि के छात्रों के लिए यह समय अनुकूल सिद्ध होगा चूंकि वे अपनी पढ़ाई की ओर समर्पित रहेंगे और मन लगा कर पढ़ाई करते नज़र आएंगे।

पेशेवर जीवन की बात की जाए तो व्यवसायी जातकों को इस दौरान फलदायी परिणाम प्राप्त होंगे। साथ ही, आपको अपने व्यवसाय के विस्तार के लिए भी कई अच्छे अवसर मिलेंगे। वहीं नौकरीपेशा जातकों की पदोन्नति होने की संभावना अधिक है।

उपाय: शनिवार के दिन काले या गहरे नीले रंग के वस्त्र धारण न करें।

तुला साप्ताहिक राशिफल

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए शनि तीसरे और चौथे भाव के स्वामी हैं और यह आपके तीसरे भाव यानी कि साहस, लघु यात्रा और भाई-बहन के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

इस दौरान आपके संबंध अपने भाई-बहनों के साथ बहुत अच्छे नहीं रहेंगे। आपका उनसे किसी बात पर बार-बार झगड़ा हो सकता है। आप अपने शरीर की फ़िटनेस की तरफ़ ज़्यादा ध्यान देंगे और इसके लिए आप कुछ शारीरिक गतिविधियां करने का प्रयास भी करेंगे।

पेशेवर जीवन की बात करें तो नौकरीपेशा जातकों की नौकरी में बदलाव या फिर तबादला होने की संभावना अधिक रहेगी। वहीं व्यवसायियों को अपने पिछले प्रयासों और कार्यों का परिणाम प्राप्त करने के लिए थोड़ा इंतज़ार करना होगा। आपको सलाह दी जाती है कि नई परियोजनाओं और रणनीतियों पर निवेश न करें बल्कि अपनी पिछली परियोजनाओं पर अधिक ध्यान दें। आपको इस अवधि में अपने रुके हुए कार्यों को पूरा करने के भी अवसर प्राप्त होंगे। इसके अलावा इस दौरान आपको अपने व्यवसाय की ब्रिक्री व प्रचार के लिए कुछ यात्राओं की योजना बनानी पड़ सकती है

उपाय: शनिवार के दिन व्रत रखें।

वृश्चिक साप्ताहिक राशिफल

बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए शनि दूसरे तथा तीसरे भाव के स्वामी हैं और यह आपके दूसरे भाव यानी कि परिवार, संवाद और धन के भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

इस दौरान आपके संबंध अपने दोस्तों और भाई-बहनों के साथ थोड़े कड़वे हो सकते हैं। ऐसे में आपको अपनी बातचीत के प्रति अधिक सावधान रहने की आवश्यकता होगी चूंकि आपके कटु व उग्र शब्द उनके साथ बड़े विवाद होने का कारण बन सकते हैं। आर्थिक दृष्टिकोण से यह समय आपके लिए अनुकूल है क्योंकि आपको अपने कुछ पिछले निवेशों से धन वापस मिलने की संभावना अधिक रहेगी। साथ ही आपको रुका हुआ या अटका हुआ धन भी वापस मिल सकता है। परिवार के सदस्यों के बीच आपसी समझ में कमी के कारण आपके संबंध अपने परिवार के साथ बहुत अच्छे न रहने की आशंका है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस अवधि में व्यवसायी जातकों को फलदायी परिणाम प्राप्त करने के लिए अधिक मेहनत व प्रयास करने की आवश्यकता होगी। वहीं जो लोग मुक़दमेबाज़ी के व्यवसाय से जुड़े हुए हैं, उन्हें इस दौरान अपने पिछले प्रयासों में सफलता प्राप्त होगी। जो लोग सट्टा बाज़ारों जैसे कि स्टॉक मार्केट, शेयर मार्केट आदि से जुड़े हैं, उन्हें सलाह दी जाती है कि इस दौरान किसी भी प्रकार के निवेश से बचें क्योंकि हानि होने का ख़तरा अधिक है।

उपाय: प्रतिदिन 9 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें।

धनु साप्ताहिक राशिफल

मकर

मकर राशि के जातकों के लिए शनि प्रथम भाव यानी कि व्यक्तित्व के भाव तथा दूसरे भाव यानी कि धन भाव के स्वामी हैं और यह आपके दूसरे भाव से प्रथम भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

इस दौरान आपकी सोच उत्तम रहेगी। आप अपने कार्यों को पूरा करने के लिए अधिक सक्रिय रहेंगे। आप अपने व्यक्तिगत सौंदर्य व आदतों को बेहतर करने के लिए ख़ुद पर ख़र्च करते नज़र आएंगे। साथ ही आप अपने व्यक्तिगत जीवन और पेशेवर जीवन में भी सब कुछ व्यवस्थित करने का प्रयास करेंगे।

पेशेवर जीवन की बात करें तो जो लोग नई नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें इस अवधि में अच्छी कंपनियों से नौकरी के कुछ अवसर प्राप्त होंगे। वहीं नौकरीपेशा जातकों को कार्यस्थल पर अपना कौशल साबित करने तथा अपनी अलग पहचान बनाने के कई अवसर प्राप्त होंगे। जो लोग अपना ख़ुद का व्यवसाय चला रहे हैं, उन्हें फलदायी परिणाम प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास करने की ज़रूरत होगी। साथ ही आपको अपने व्यवसाय की वृद्धि व विकास के लिए अपनी रणनीतियों और कौशल पर भी अधिक ध्यान देना होगा। यदि आप किसी संगठन में काम कर रहे हैं या संयुक्त उद्यम में हैं तो कोशिश कीजिए कि अपने साझेदार के साथ अच्छे संबंध बना कर रखें क्योंकि आपके बीच संचार की कमी के कारण कमाई और मुनाफ़े में बाधाएं आ सकती हैं।

उपाय: शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करें और उन्हें सिंदूर चढ़ाएं।

मकर साप्ताहिक राशिफल

कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए शनि बारहवें भाव यानी कि विदेश यात्रा, व्यय और हानि के भाव तथा प्रथम भाव यानी कि व्यक्तित्व के भाव के स्वामी हैं और यह आपके बारहवें भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

जो लोग किसी काम से या छुट्टियां बिताने के लिए विदेश जाने का सपना देख रहे हैं, उनकी यह मनोकामना इस अवधि में पूरी होगी। जो लोग विदेशी कंपनियों या विदेशी ग्राहकों के साथ काम कर रहे हैं, वे इस दौरान अपने करियर वृद्धि देखेंगे।

स्वास्थ्य के लिहाज से यह समय बहुत अच्छा नहीं रहेगा। इस दौरान आपको शरीर के निचले हिस्से में दर्द की शिकायत हो सकती है। साथ ही, पैर चोट या ठोकर का भी ख़तरा होगा। इसके अलावा आप किसी पुराने रोग से पुनः पीड़ित हो सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें और सड़क पर पैदल चलते समय या वाहन चलाते समय सावधान रहें।

आर्थिक दृष्टिकोण से यह अवधि आपके लिए अनुकूल है। इस दौरान आप धन की बचत करने में कामयाब होंगे क्योंकि आप अपने ख़र्चों में अच्छा खासा नियंत्रण रखेंगे।

उपाय: शनिवार की शाम को मज़दूरों या निर्धनों को सरसों का तेल और काली दाल दान करें।

कुंभ साप्ताहिक राशिफल

मीन

मीन राशि के जातकों के लिए शनि ग्यारहवें भाव और बारहवें भाव के स्वामी हैं और यह आपके बाहरवें भाव से ग्यारहवें भाव में वक्री अवस्था में गोचर करेंगे।

शनि का आपके बारहवें भाव से ग्यारहवें भाव में वक्री होना आर्थिक लिहाज से काफ़ी अनुकूल सिद्ध होगा। आप इस दौरान कई स्रोतों से कमाई करने में सक्षम होंगे। अतीत के निवेशों से भी लाभ प्राप्त होने की संभावना है।

पेशेवर जीवन की बात की जाए तो नौकरीपेशा जातकों को कुछ ऐसी महत्वपूर्ण परियोजनाओं पर कार्य करने का अवसर प्राप्त होगा, जो उनकी प्रोफ़ाइल के लिए बहुत अच्छा साबित होंगी। वहीं व्यवसायी जातकों को अपने उत्पाद व सेवाओं के प्रचार और मार्केटिंग के लिए कुछ यात्राएं करनी पड़ सकती हैं। यह समय शौक व रुचियों के काम को पेशे के रूप में बदलने तथा उससे अच्छी ख़ासी कमाई करने के लिए भी अनुकूल है। आपके प्रयास आगे चलकर फलदायी सिद्ध होंगे। शिक्षा के दृष्टिकोण से देखें तो मीन राशि के छात्रों को इस दौरान कुछ प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण अपनी पढ़ाई में बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है।

उपाय: सूर्यास्त के बाद शाम को कम से कम 108 बार शनि मंत्र "ॐ शं शनैश्चराय नमः" का जाप करें।

मीन साप्ताहिक राशिफल

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।