• AstroSage Big Horoscope
  • Raj Yoga Reort
  • Kp System Astrologer

नामकरण – लड़कों के नाम – लड़कियों के नाम

नामकरण को सोलह संस्कारों में महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त है। भारत में राशि के नाम तथा नक्षत्र के आधार पर नाम रखने की प्राचीन परंपरा रही है। अच्छे भविष्य के लिए लड़कों के नाम और लड़कियों के नाम वैदिक ज्योतिष के मानदंडों के अनुसार रखने की आवश्यकता होती है। ज्योतिषीय रूप से सही नाम जानने के लिए कृपया नीचे जन्म-विवरण भरें–

जन्म संबंधी विवरण






एडवांस सेटिंग





इस टूल से जानें नामकरण के लिए लड़कों के नाम और लड़कियों के नाम की सूची

भारत एक परम्पराओं का देश है, जहाँ शादी-ब्याह से लेकर बच्चे का नामकरण तक पूरे रीति-रिवाज़ के साथ की जाती है। धर्म चाहे कोई भी हो सभी अपने आने वाले या फिर जन्म ले चुके बच्चे का नाम बहुत ही आकर्षक रखना चाहते हैं।

हमारे समाज में लोगों की ऐसी सोच है कि नाम से ही व्यक्ति की पहचान होती है इसीलिए नाम दमदार होना चाहिए। और यह बात बहुत हद तक सही भी है क्यूंकि सबसे पहली चीज़ जो कोई व्यक्ति हमसे पूछता है वह होता है हमारा नाम।

क्या है नामकरण ?

नामकरण एक प्रथा होती है जिसे लोग बच्चे के इस दुनिया में आने के बाद करते हैं। किसी भी व्यक्ति का नाम उसकी पहचान के लिए रखा जाता है। हिन्दू धर्म में बहुत से लोग नामकरण की इस प्रक्रिया को पूरे विधि-विधान से करते हैं, जिसे नामकरण संस्कार कहा जाता है।

जन्म के दसवें या बारहवें दिन नामकरण संस्कार किया जाता है, जिसमें बच्चों के राशि के नाम रखे जाते हैं। नामकरण की प्रथा बहुत ही पुराने समय से चली आ रही है। वैदिक काल में चार प्रकार से नाम रखने का प्रचलन था।

  • नक्षत्र नाम - इसमें शिशु का नाम जन्म से समय नक्षत्रों की स्थिति के आधार पर नाम रखा जाता था।
  • गुप्त नाम - जातकर्म के समय माता-पिता द्वारा रखा जाने वाला नाम।
  • व्यावहारिक नाम - नामकरण संस्कार के वक़्त रखा गया बच्चे का नाम।
  • याज्ञिक नाम - यज्ञकर्म के संपादन के आधार पर रखा गया नाम।

नामकरण का महत्व

अगर देखा जाये तो बच्‍चे की पहली पहचान नाम ही तो बनता है जो जिंदगी भर उसके साथ जुड़ा रहता है। हमें बच्‍चे का नाम रखते समय कई बातों का खयाल रखना पड़ता है जैसे पारिवारिक रीति-रिवाज, परंपराओं, सामाजिक नियम और भी ढेर सारी बातों को ध्यान में रखकर ही नाम रखा जाता है।

अगर देखा जाये तो नाम ऐसा रखना चाहिए जो अर्थपूर्ण होने के साथ-साथ उच्‍च‍ारण में भी आसान हो। आपको अपने बच्‍चे के नाम का चुनाव करने से हर तरह की पहलुओं पर गौर करना चाहिए।

कभी-कभी व्यक्ति अपने बुज़ुर्गों से लगाव आदि के कारण अपने बच्चे का नाम उनके नाम पर रख देते है लेकिन उन्हें यह बात नहीं भूलनी चाहिए कि आपका बच्चा आधुनिक समय में पैदा हो रहा है तो कहीं उसे आपके द्वारा दिए गए नाम की वजह से भविष्य में हास्य का पात्र तो नहीं बनना पड़ जायेगा।

वहीं कुछ लोगों की धारणा यह भी होती है कि यदि हम अपने बच्चे का नाम किसी प्रसिद्ध व्यक्ति के नाम पर रखते हैं तो वह उस व्यक्ति की भांति प्रसिद्धि पाएगा जैसे क से लड़कियों के नाम में देखें तो कुछ लोग अपनी बच्ची का नाम करीना, करिश्मा, कटरीना आदि रख देते हैं ताकि उनकी बेटी भी इन अभिनेत्रियों की तरह नाम, शोहरत और पैसा कमाएंगी तो हम आपको बता दें कि कोई भी व्यक्ति अपने कर्मों से बड़ा बनता है और अपने प्रयासों के कारण ही आगे बढ़ता है। इसीलिए नाम हमेशा सोच कर रखें।

कई जगहों पर आप नाम से बच्चे के धर्म का अंदाज़ा लगा सकते हैं क्यूंकि कुछ लोग अपने धर्म के अनुसार भी बच्चों के नाम रखते हैं। हिन्दू बच्चों के नाम, मुस्लिम, सिख, ईसाई बच्चों के नाम में थोड़ी भिन्नता देखने को मिलती है। जैसे हिन्दू लड़को के नाम की बात करें तो राम, कृष्णा, अखिल, राहुल, शिव आदि होते हैं और मुस्लिम लड़कों के नाम देखे तो अब्दुल, रहीम, आसिफ़, फ़िरोज़ आदि। अब इन नामों को सुनते ही आप बच्चे का धर्म बता सकते हैं।

वैसे, देखा जाये तो आज के इस मॉडर्न समय में अब लोग नामकरण करते समय धर्म आदि को ज्यादा तरजीह नहीं देते हैं। उन्हें अपने बच्चे के लिए चाहिए होता है तो बस एक आकर्षक और आसान नाम।

कैसे करें नामकरण?

बच्‍चे का नामकरण करना किसी भी माता-पिता के लिए मुश्किल भरा होता है। सभी चाहते हैं कि उनके बच्चे का नाम सबसे हटकर और अलग हो। कुछ लोग तो अपने बच्चे का नाम अपने धर्म से अलग भी रखते हैं। नामकरण के लिए नाम का चुनाव हमेशा पूरे परिवार की मर्ज़ी से ही किया जाना चाहिए।

कभी-कभी आप किसी बच्चे का नाम सुनकर इतने आकर्षित हो जाते हैं कि आपको लगता है कि आपके बच्चे का नाम भी ऐसा ही होना चाहिए। लेकिन ध्यान रहे कि एक बार अगर आपने अपने बच्चे का नाम कुछ रख दिया तो उसे पूरी ज़िन्दगी उसी नाम से जाना जाता है। इसीलिए जल्दबाज़ी में नाम रखने की जगह आप दिए गए बिंदुओं को ध्यान में रख कर ही नामकरण करें।

  • अगर आपको अपने बच्चे के लिए कुछ अच्छा नाम समझ नहीं आ रहा तो आप किसी दोस्त, रिश्तेदार आदि से भी सलाह ले सकते हैं।
  • नामकरण बच्चे की राशिफल, ग्रह और नक्षत्रों को ध्‍यान में रखकर ही करें। धार्मिक मान्यतों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि इन सब चीज़ों को ध्यान में रखकर नाम रखने से बच्चा भाग्यशाली होता है।
  • बच्चे का नाम ऐसा रखे जो प्रचलित हो और जल्द ही सबकी ज़ुबान पर चढ़ जाये। प्रचलित नाम आसान होते हैं और सबको जल्दी ही याद हो जाते हैं।
  • हमारे समाज में हर तरह के लोग होते हैं, कुछ ऐसे होते हैं जो बहुत ही आस्तिक होते हैं। ऐसे लोग अपने बच्चे का नाम साधू-संन्यासियों पर रख सकते हैं। ऐसे नाम अन्य लोगों के लिए प्रेरणा की तरह होते हैं।
  • आप अपने बच्चों के नाम रखने के लिए बाजार में मौजूद किताबों की मदद ले सकते हैं। इन किताबों में सभी तरह के नाम और उनके अर्थ मौजूद होते हैं।
  • आज कल सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर हर तरह की सुविधा मौजूद है। आपको यहाँ पर एकदम अलग नामों का भण्डार मिल सकता है। बस आपको धैर्य रखकर तलाश करने की जरूरत है। आपको जिस भी अक्षर से नाम चाहिए उसका पहला अक्षर डाल दें और देखेंगे की बच्चों के नाम की लिस्ट आपके पास आ जाएगी। जैसे स से लड़कियों के नाम - सोनिया, सपना, संस्कृति, संभावना आदि।
  • बहुत सरे लोग ऐसे होते है जो अपने आने वाले बच्चे का नाम दादा-दादी, नाना-नानी या फिर घर के किसी पूर्वज के नाम पर रख देते हैं।

ज्योतिष के अनुसार नामकरण

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार व्यक्ति के जीवन में नाम का बहुत महत्व होता है। ज्योतिष विद्या में एक व्यक्ति के नाम से उसकी प्रवृति और नाम के अनुसार भविष्य के बारे में जानने की कला होती है। नाम में मौजूद अक्षर व्यक्ति के व्यवहार, गुण, आचरण आदि के बारे में भी बताते हैं।

विवाह के समय ज्योतिष जन्म पत्रिका के अनुसार गुप्त नामों को भी ध्यान में रख कर कुंडली मिलान करता है। नाम के अक्षरों को जोड़ कर नामांक निकाला जाता है, जिसकी मदद से ज्योतिष आपकी कमज़ोरियों, आपके मूल स्वभाव, आपकी शक्तियां, मित्र राशियां, व्यवसाय को बताने में सक्षम हो पता है।

एस्ट्रोसेज पर क्या है खास

एस्ट्रोसेज के माध्यम से आप अपने बच्चे का नामकरण कर सकते हैं। यहाँ सिद्ध ज्योतिष द्वारा आपके बच्चे के जन्म से जुड़े तथ्यों का पूर्ण रूप से अध्ययन करने के बाद ही नामकरण किया जाता है।

हमारे द्वारा ग्रह-नक्षत्र, चन्द्रमा की दशा और राशि के नाम सुझाए जाते हैं। ये नाम न केवल अलग होते हैं, बल्कि बच्चे के भाग्य उदय में भी मदद करते हैं। तो अगर आप भी अपने बच्चे के नाम को ले कर चिंतित हो रहे हैं तो एस्ट्रोसेज आपकी पूरी मदद करेगा।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।