• AstroSage Big Horoscope
  • Raj Yoga Reort
  • Kp System Astrologer

मंगल का गोचर

मंगल को क्रूर ग्रह माना जाता है। मंगल ग्रह ऊर्जा, शक्ति एवं पराक्रम का कारक है। इसके अलावा यह रक्तपात एवं ख़ून से संबंधित बीमारियों का भी प्रतिनिधित्व करता है। कर्क एवं सिंह राशि के लिए मंगल एक योगकारक ग्रह है और यहग मेष एवं वृश्चिक राशि का स्वामी ग्रह है। मंगल साहस और संकल्प शक्ति को भी दर्शाता है। यदि मंगल जातक की कुंडली में तीसरे, छठे, दसवें एवं ग्यारहवें भाव में स्थित हो तो इसके परिणाम अच्छे और लाभकारी होंगे। मंगल ग्रह जातक के भाई-बहनों के साथ उसके रिश्ते को भी प्रदर्शित करता है। यह क़रीब 45 दिनों में किसी एक राशि से दूसरी राशि में गोचर करता है। आइए जानते हैं आपकी राशि के लिए क्या कहता है मंगल का गोचर।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।