• AstroSage Big Horoscope
  • Year Book
  • Raj Yoga Reort
  • Shani Report

बुध का धनु राशि में गोचर (1 जनवरी, 2019)

ज्योतिष शास्त्र में बुध का महत्वपूर्ण स्थान है। इसे शुभ ग्रह भी कहा जाता है। कई परिस्थितियों में बुध किसी अशुभ ग्रह के प्रभाव से हानिकारक भी साबित हो जाता है। इस ग्रह को वाणी, विचार, बुद्धि, तर्क, गणित, कारोबार, अनुसंधान आदि का कारक माना जाता है। स्वास्थ्य के नजरिए से देखें तो बुध हमारे शरीर में त्वचा पर नियंत्रण करता है। किसी जातक की कुंडली में बुध की शुभ स्थिति से वो विद्वान, बुद्धिमान, विवकेशील, बेहतरीन वक्ता, चतुर व्यापारी, गणित और वाणिज्य के विषयों का महारथी बनता है। नौ ग्रहों में बुध को युवराज ग्रह भी कहते हैं क्योंकि यह सूर्य के सबसे नजदीक होता है और कन्या राशि में उच्च और मीन राशि में नीच भाव में स्थित होता है।

वर्ष 2019 की शुरुआत में ही बुध ग्रह वृश्चिक राशि से धनु राशि में गोचर करेगा। बुध ग्रह 1 जनवरी यानि कि मंगलवार को 9:38 बजे वृश्चिक राशि से धनु राशि में गोचर करेगा। बुध ग्रह धनु राशि में 20 जनवरी, रविवार 08:38 बजे तक रहेगा। इसके बाद बुध 20 जनवरी को 08:55 बजे धनु राशि से मकर राशि में गोचर कर जाएगा।

Click here to read in English...

Budha ka Dhanu Rashi Me Gochar

मेष राशि

आपकी राशि में बुध नवम भाव से गोचर करेगा। इस समय कार्यों में विध्न आएगा लेकिन परिवार की मदद से ये विध्न तत्काल समाप्त हो जाएगा। सफलता प्राप्त करने में थोड़ा विलंब होगा लेकिन मेहनत और लगन से आप अपने दायित्वों को अंजाम देंगे। बैंक में लोन के लिए आवेदन दिया हो तो वह स्वीकृत हो जाएगा। भाई, बहनों और दोस्तों से मदद मिलेगी, जिससे आपको मुनाफा भी होगा। यात्राएं परेशानी का कारण बनेंगी। एक्टिंग और पढ़ाई लिखाई से जुड़ी गतिविधियों में मन लगेगा।

उपाय: गौमाता को पालक अथवा कोई हरा चारा खिलाएं।

वृषभ राशि

बुध आपकी राशि में अष्टम भाव से गोचर करेगा। इस अवधि में परिवार में कोई नन्हा मेहमान आ सकता है। आपकी ओर से की गई कोशिशें परवान चढेंगी और कामयाबी हाथ लगेगी। आर्थिक तौर पर फायदा मिलेगा। नए वस्त्रों की खरीद कर सकते हैं। आत्मशक्ति का एहसास होगा और आंतरिक खुशियों का आनंद मिलेगा। इस दौरान आपको कई लाभ एवं थोड़ी बहुत हानियां भी मिलेंगी। अचानक यात्रा का संयोग बनता हुआ दिख रहा है।

उपाय: मां दुर्गा की पूजा कर उन्हें हरी चूड़ियां अपर्ण करें।

मिथुन राशि

आपकी राशि में बुध सप्तम भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान आप में आत्मविश्वास की कमी आ सकती है और आप के चेहरे पर निराशा के भाव भी नजर आ सकते हैं। जीवनसाथी के प्रति पूर्णरुप से समर्पित होंगे लेकिन फिर भी टकराव की आशंका है। माताजी को सुख सुविधाएं प्राप्त होंगी। करियर के लिहाज से देखें तो ये काल आपके लिए लाभकारी साबित होगा। बिजनेस या पार्टनरशीप में गैर जरुरी बहस से बचें। प्रमोशन के भी योग बन रहे हैं।

उपाय: भगवान कृष्ण की पूजा करें और उन्हें मक्खन, मिश्री अर्पण करें।

कर्क राशि

आपकी राशि में बुध छठें भाव में गोचर करेगा जिस वजह से आप सराहना के पात्र बनेंगे। इस अवधि में आप उत्कृष्ट कार्यो का प्रदर्शन करेंगे जिससे समाज में मान प्रतिष्ठा हासिल होगी। परिश्रम से कार्य करेंगे। साहस का परिचय देते हुए चुनौतियों का सामना करेंगे। जॉब चेंजिंग का प्लान भी कर सकते हैं। प्रतिष्ठित लोगों का सहयोग मिलेगा। कोई कानूनी मामला फंसा हुआ है तो फैसला आपके पक्ष में आ सकता है। खर्चे बढ़ सकते हैं।

उपाय: गौमाता को आटे के लोई खिलाएं।

सिंह राशि

सिंह राशि के जातकों की राशि में बुध पंचम भाव से प्रवेश करेगा। नई चीजों को सीखने के लिए उत्साह का भाव जगेगा। ज्ञानवर्धक बातों और रहस्यों को जानने के प्रति दिलचस्पी पैदा होगी जिससे आप अपना ज्ञान अर्जित भी करेंगे। इस दौरान अपने विवेक और बुद्धि का प्रदर्शन भी कर सकेंगे। लेखन, पत्रकारिता और हास्य विनोद संबंधित क्षेत्रों में रुचि पैदा होगी। समय काफी शुभ होगा। अध्ययन कार्य में सफलता मिलेगी। जीवनसंगिनी और बच्चों के साथ विवाद भी हो सकता है।

उपाय: भगवान विष्णु की आराधना करें। “ओम नमो भगवते वासुदेवाय” मंत्र का निष्ठा से जाप करें।

कन्या राशि

आपकी राशि में बुध चतुर्थ भाव में गोचर करेगा। कई क्षेत्रों से लाभ के समाचार प्राप्त होंगे। मेहमानों की आवभगत का योग है। निजी जीवन में असीम आनंद प्राप्त होगा। पारिवारिक गतिविधियों में ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत होगा। नए घर की तलाश का संयोग बन रहा है। घर में थोड़े बहुत मनमुटाव के हालात बन सकते हैं लेकिन आप अपने शांत स्वभाव से माहौल को सामान्य कर देंगे। अच्छे कार्यो का फल अच्छा ही मिलता है, इस सूत्र वाक्य को ध्यान में रखकर अपने कार्यों का निष्पादन करें।

उपाय: ओ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः मंत्र का जाप करें।

तुला राशि

इस राशि में बुध तृतीय भाव में गोचर करेगा। आपके कुछ गलत कामों के कारण परिवार में बिखराव की संभावना है। शत्रु पक्ष का पलड़ा भारी हो सकता है। सरकारी लाभों में थोड़ी कमी आएगी। इन सबके बावजूद आप चुनौतियों का साहसपूर्वक सामना करेंगे और निरंतर आगे बढ़ते रहेंगे। आलस को दुश्मन बनाएं। दोस्तों और स्नेही स्वजनों के साथ समय व्यतीत करने का योग है। छोटी-छोटी यात्राएं आनंद का कारण बनेंगी।

उपाय: किन्नरों को दान करें और उनका आर्शीवाद ग्रहण करें।

वृश्चिक राशि

बुध इस राशि में द्वितीय भाव से प्रवेश करेगा। इस दौरान आपको आशा के अनुरुप सफलता मिलेगी। आर्थिक स्थिति पहले की अपेक्षा मजबूत होगी। संवादशैली निखरेगी और प्रभावशाली होगी। ऐसी वाणी बोलने से परहेज करें जो दूसरों के लिए अप्रिय हो। बोलने से पहले विचार करें। पैतृक संपत्ति से लाभ होगा। आपके अपने कर्मों की वजह से प्रतिष्ठा प्रभावित होगी।

उपाय: साबुत मुंग दान करें।

धनु राशि

बुध आपकी राशि में गोचर होगा और प्रथम भाव में विद्यमान रहेगा। यात्राओं से समस्या उत्पन्न होगी। कुछ ज्यादा चालाक लोगों की गलत राय से आप के किसी पुराने रहस्य से पर्दा उठ जाने के कारण आपको आर्थिक रुप से परेशानी का सामना करना पड़ेगा। अत्यधिक ज्ञान प्राप्ति का अहंकार घमंड पैदा करेगा। इस अवधि में थोड़ा बहुत विवाद होने के बावजूद जीवनसाथी का साथ पूरी तरह से आपके साथ रहेगा। वाणी में कठोरता आएगी। इससे बचने की कोशिश करें। आप बड़ी ही मेहनत और लगन से अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे लेकिन परिणाम असंतोषजनक रहेंगे।

उपाय: बुधवार को कपूर का दिया जलाए।

मकर राशि

आपकी राशि में बुध द्वादश भाव से गोचर करेगा। स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं परेशान करेंगी। शादीशुदा जीवन में तनाव उत्पन्न होगा। शत्रुओं का प्रभाव बढ़ेगा जिससे आपकी छवि प्रभावित होगी। व्यय बढ़ेंगें लेकिन साथ ही लंबी अथवा विदेश यात्रा का योग बन रहा है। परिजनों के लिए ये गोचर कुछ खास लाभ प्रदान करने वाला नहीं होगा। मल्टी नेशनल कंपनियों से जुड़े जातकों को विशेष लाभ मिल सकता है।

उपाय: श्री विष्णु सहस्त्रनाम स्त्रोत का जाप करें।

कुंभ राशि

इस राशि में बुध एकादश भाव से प्रवेश करेगा। इस दौरान आर्थिक लाभ मिलेगा। शादीशुदा जातकों के लिए समय काफी अच्छा है। प्रेम संबंधों में वृद्धि होगी। जीवनसाथी और बच्चों के साथ सुख सुविधाओं का आनंद प्राप्त करेंगे। मित्र मंडली बढ़ेगी और उनके साथ एंजॉय करंगे। इसके साथ ही अपनी बुद्धि और प्रतिभा की बदौलत लाभ अर्जित करेंगे। बच्चों का विशेष लाभ और स्नेह मिलेगा।

उपाय: ओम बुं बुधाय नमः मंत्र का उच्चारण करें।

मीन राशि

आपकी राशि में बुध दशम भाव से गोचर करेगा जिससे आप शत्रु पक्ष का साहस के साथ सामना करेंगे और उन पर दबाव बनाने में कामयाब होंगे। जीवनसाथी के साथ रुमानी पल बिताएंगे। निजी जीवन में प्रेम और सौहार्द बढ़ेगा। ब्रांडेड कपड़ों की शॉपिंग करेंगे। करियर का ग्राफ आपके द्वारा लिए जाने वाले र्स्माट निर्णयों पर निर्भर करेगा।

उपाय: हरी सब्जियां दान करें।


आशा है हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आयी होगी। हम आपके मंगल भविष्य की कामना करते हैं।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।