बुध का धनु राशि में गोचर, 6 जनवरी 2018

वैदिक ज्योतिष में बुध का अहम स्थान है इसे शुभ ग्रह कहा जाता है। हालांकि किसी अशुभ ग्रह के प्रभाव से यह हानिकारक भी हो सकता है। बुध को बुद्धि, वाणी, तर्क शक्ति, गणित, व्यापार और अनुसंधान आदि का कारक कहा गया है। स्वास्थ्य की दृष्टि से बुध शरीर में हमारी त्वचा को नियंत्रित करता है। कुंडली में बुध की शुभ स्थिति से व्यक्ति बुद्धिमान, कुशल वक्ता, व्यापारी और गणित व वाणिज्यिक विषयों में महारत हासिल करता है। नवग्रहों में बुध को युवराज ग्रह भी कहा जाता है। यह सूर्य के सबसे निकट होता है। बुध ग्रह कन्या राशि में उच्च और मीन राशि में नीच भाव में स्थित रहता है।

Click here to read in English...

6 जनवरी 2018, शनिवार को बुध ग्रह 08:01 बजे वृश्चिक से धनु राशि में गोचर करेगा और 28 जनवरी तक इसी राशि में स्थित रहेगा। 28 जनवरी, रविवार को बुध ग्रह 01:13 बजे धनु से मकर राशि में प्रवेश करेगा। बुध के धनु राशि में होने वाले इस गोचर का प्रभाव सभी राशियों पर होगा। आईये जानते हैं आपके जीवन पर इसका क्या होगा असर?

Budha ka Dhanu Rashi Mei Gochar

मेष

बुध आपकी राशि से नवम भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपके कार्यों में बाधा उत्पन्न हो सकती है लेकिन परिजनों की मदद से ये रुकावटें दूर हो सकती हैं। मेहनत व लगन के साथ आप अपने कार्यों को अंजाम देंगे। हालांकि सफलता मिलने में थोड़ी देर हो सकती है। दोस्तों व भाई-बहनों से सहयोग प्राप्त होगा जिससे मुनाफ़ा संभव है। इस दौरान होनी वाली कुछ यात्राएं आपके लिए परेशानी का सबब बन सकती हैं। यदि बैंक में लोन के लिए आवेदन कर रखा है तो इस दौरान वो काम पूर्ण हो सकता है। अभिनय व पढ़ने-लिखने से जुड़ी चीज़ों में मन लगेगा।

उपाय- गाय को पालक या अन्य कोई हरा चारा खिलाएं।

वृषभ

आपकी राशि से बुध अष्टम भाव में गोचर करेगा। गोचर की इस अवधि में परिवार में बच्चे का जन्म हो सकता है। आपके द्वारा किए गए प्रयासों में सफलता हासिल हो सकती है। आर्थिक रूप से फ़ायदा होगा। इस दौरान आप अपने लिए नए वस्त्र खरीद सकते हैं। अंदरूनी खुशी मिलेगी साथ ही आत्म शक्ति का एहसास भी होगा। जहां एक तरफ आपको इस समय में कई लाभ मिलेंगे तो वहीं थोड़ी बहुत हानियां भी संभव हैं। किसी अप्रत्याशित यात्रा का संयोग बन सकता है।

उपाय- मां दुर्गा की पूजा करें और उनको हरी चूड़ियां दान करें।

मिथुन

बुध आपकी राशि से सप्तम भाव में प्रवेश करेगा। इस गोचर के दौरान आत्म-विश्वास में कमी हो जाने के कारण चेहरे पर निराशा नज़र आ सकती है। इस बीच आप अपने जीवन साथी के प्रति पूर्ण रूप से समर्पित रहेंगे, लेकिन इसके बावजूद भी शादीशुदा ज़िंदगी में टकराव हो सकते हैं। मां को इस दौरान सुख-सुविधाओं का लाभ प्राप्त होगा। करियर के नज़रिए से ये गोचर आपके लिए लाभदायक साबित होगा। कार्यस्थल पर आपके प्रमोशन के भी आसार हैं। बिजनेस या पार्टनरशिप में बहस करने से बचें।

उपाय- श्री कृष्ण की पूजा करें और उन्हें मक्खन व मिश्री दान करें।

2018 को कैसे बनाएँ बेहतर? पाएँ कुंडली आधारित वार्षिक फलादेश: 2018 त्रिकाल संहिता

कर्क

बुध आपकी राशि से षष्ठ भाव में गोचर करेगा। आप प्रशंसा के हकदार बनेंगे। इस गोचर अवधि में आप अच्छे कार्यों का प्रदर्शन करेंगे जिससे आपको समाज में प्रसिद्धि प्राप्त हो सकती है। मेहनत से काम करेंगे और अपने रास्ते में आ रही चुनौतियों का बड़े ही साहस के साथ सामना करेंगे। इस दौरान आप जॉब चेंज का प्लान भी बना सकते हैं। कुछ प्रख्यात लोगों का सहयोग प्राप्त हो सकता है। यदि किसी कानूनी मामले में फंसे हैं तो फैसला आपके पक्ष में आ सकता है। इस बीच ख़र्चों में वृद्धि होने की संभावना है।

उपाय- गायों को हरा चारा खिलाएं।


2017 के त्यौहारों की तारीख जानने के लिए क्लिक करें

सिंह

आपकी राशि से बुध पंचम भाव में प्रवेश करेगा। नई चीज़ों को सीखने के लिए उत्साहित रहेंगे साथ ही उससे संबंधित ज्ञान भी अर्जित करेंगे। ज्ञानवर्धक बातों को जानने में दिलचस्पी रहेगी। इस दौरान आप अपनी बुद्धिमता का प्रदर्शन भी करेंगे। लेखन व हास्य संबंधी क्षेत्रों में रूचि उत्पन्न हो सकती है। छात्रों के लिए ये समय काफी शुभ रहेगा। पढ़ाई में सफलता मिलने के आसार हैं। परिवार में पत्नी व बच्चों के साथ कुछ विवाद हो सकते हैं।

उपाय- भगवान विष्णु की पूजा करें और ‘’ॐ नमो भगवते वासुदेवाय’’ मंत्र का जाप करें।

कन्या

बुध आपकी राशि से चतुर्थ भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको कई क्षेत्रों से लाभ प्राप्त होंगे। मेहमानों के आगमन से परिवार में लोगों की गिनती बढ़ सकती है। धनु राशि में बुध के इस गोचर से निजी जीवन में आनंद की प्राप्ति होगी। आप पारिवारिक गतिविधियों में अपना ज़्यादा से ज़्यादा समय बिताएंगे साथ ही इस दौरान नए घर की तलाश भी कर सकते हैं। थोड़े बहुत झगड़े घर में हो सकते हैं लेकिन आप अपने स्वभाव से माहौल को शांत कर लेंगे। अच्छे कर्मों से अच्छा फल ही प्राप्त होता है, इस बात को ध्यान में रखकर अपने कार्य करें।

उपाय- ‘’ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:’’ मंत्र का जाप करें।

साल 2018 में क्या कहते हैं आपके सितारे? जानने के लिए पढ़ें: राशिफल 2018

तुला

आपकी राशि से बुध तृतीय भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपके द्वारा किए गए कुछ अनुचित कर्मों के कारण परिवार से अलगाव होने की संभावना है। विरोधियों का पलड़ा भारी पड़ सकता है और सरकारी लाभों में भी कुछ कमी आ सकती है। हालांकि आप इन सब चुनौतियां का डट कर सामना करेंगे और आगे बढ़ते रहेंगे। बस आलस्य को अपने ऊपर हावी न होने दें। इस गोचर के दौरान आप अपना समय दोस्तों व परिजनों के साथ बिताना पसंद करेंगे। छोटी-छोटी यात्राओं से आनंद प्राप्त हो सकता है।

उपाय- किन्नरों को दान करें व उनसे आशीर्वाद प्राप्त करें।


वृश्चिक

बुध आपकी राशि से द्वितीय भाव में प्रवेश करेगा। इस गोचर के दौरान आपको कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। अप्रत्याशित लाभ के संकेत भी नज़र आ रहे हैं। आर्थिक स्थिति भी पहले से ज़्यादा मज़बूत होगी। संवादशैली ज़्यादा प्रभावशाली होगी, बस कुछ ऐसा न बोलें जो दूसरे के दिल को चुभ जाए। बोलने से पहले सोच-समझ लें। विरासत से भी मुनाफ़ा प्राप्त हो सकता है। खुद के कर्मों के कारण आपकी प्रतिष्ठा में कमी आ सकती है।

उपाय- साबुत मूंग दान करें।

धनु

बुध ग्रह आपकी ही राशि में गोचर करेगा और प्रथम भाव में स्थित रहेगा। इस बीच यात्राओं के दौरान समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। चतुर लोगों के गलत सुझाव द्वारा या फिर आपके किसी राज़ से पर्दा हट जाने के कारण आपको आर्थिक रूप से हानि भी हो सकती है। ज़्यादा ज्ञान अर्जित कर लेने के कारण मन में घमंड भी आ सकता है। इस गोचर अवधि में थोड़े बहुत विवाद के बावजूद भी आपके साथी का ध्यान पूर्ण रूप से आप पर रहेगा। वाणी में कठोरता आ सकती है, इससे बचकर रहें। हालांकि आप बड़ी ही मेहनत व लगन के साथ अपने कार्यों को अंजाम देंगे लेकिन फिर भी उसके रिज़ल्ट से संतुष्ट नहीं होंगे।

उपाय- बुधवार को कपूर का दिया जलाएं।

मकर

बुध आपकी राशि से द्वादश भाव में प्रवेश करेगा। इस बीच स्वास्थ्य संबंधी कुछ परेशानियां हो सकती हैं। इसके साथ ही शादीशुदा जीवन में भी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। शत्रुओं व विरोधियों के प्रभाव से आपकी छवि को नुकसान पहुंच सकता है। ख़र्चे बढ़ने के आसार हैं साथ ही लंबी यात्रा या विदेश जाने का भी योग है। परिवार के अन्य लोगों के लिए ये गोचर कुछ खास लाभदायक नहीं होगा। मल्टी नेशनल कंपनी में कार्यरत लोगों के लिए ये समय लाभदायक साबित हो सकता है।

उपाय- श्री विष्णु सहस्रनाम स्तोत्र का जाप करें।

2018 में कब घटित होंगे ग्रहण और क्या होगा आप पर असर? पढ़ें: ग्रहण 2018


योग्य जीवनसाथी के लिए करें वैवाहिक कुंडली का मिलान

कुंभ

आपकी राशि से बुध एकादश भाव में गोचर करेगा। इस बीच आपको पैसों से संबंधित लाभ होंगे। जीवनसाथी व बच्चों के साथ सुख-सुविधाओं का लाभ उठाएंगे। ये गोचर आपके प्रेम संबंधों व शादीशुदा जीवन के लिए काफी अच्छा है। ज़रूरत पड़ने पर दोस्तों से मदद मिलेगी। इस बीच आपके दोस्तों का दायरा बढ़ेगा और आप उनके साथ समय एंजॉय करेंगे। इन सबके अलावा आप अपनी बुद्धि व कौशल के दम पर भी लाभ उठाएंगे। इस दौरान बच्चों का भी सहयोग प्राप्त होगा।

उपाय- ‘’ॐ बुं बुधाय नमः’’ मंत्र का उच्चारण करें।

मीन

बुध आपकी राशि से दशम भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आप अपने विरोधियों का डट कर सामने करेंगे और उन पर हावी रहेंगे। आर्थिक मुनाफ़ा होने से एक अच्छी रकम़ जोड़ पाएंगे। जीवन साथी के साथ समय बिताना पसंद करेंगे जिससे निजी जीवन में प्रेम व सौहार्द बना रहेगा। अच्छे व ब्रांडेड कपड़ों पर ख़र्च करेंगे। स्मार्ट वर्क व समझदारी के साथ लिए गए फैसले से करियर का ग्राफ ऊपर चढ़ेगा।

उपाय- हरी सब्जियां दान करें।

रत्न, यंत्र समेत समस्त ज्योतिष समाधान के लिए विजिट करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

नवग्रह यन्त्र खरीदें

ग्रहों को शांत और सुखी जीवन प्राप्त करने के लिए नवग्रह यन्त्र एस्ट्रोसेज लें।

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।