• Talk To Astrologers
  • Talk To Astrologers
  • Talk To Astrologers
  • Brihat Horoscope
  • Personalized Horoscope 2024
  • Live Astrologers

बुध का कर्क राशि में गोचर (8 जुलाई, 2023)

बुध का कर्क राशि में गोचर: वैदिक ज्योतिष में बुद्धि का प्रतिनिधित्व करने वाले ग्रह बुध 8 जुलाई, 2023 की रात 12 बजकर 05 मिनट पर कर्क राशि में गोचर करेंगे।

बुध का कर्क राशि में गोचर 8 जुलाई, 2023 को होगा।

प्रवृत्ति से स्त्री ग्रह बुध ज्ञान और बुद्धि के कारक हैं और इस लेख में हम इसके सकारात्मक और नकारात्मक प्रभावों के बारे में बात करेंगे। उदाहरण के तौर पर बुध अपने स्वामित्व वाली मिथुन और कन्या राशि में मौजूद होने पर जातकों को बेहद सकारात्मक परिणाम प्रदान करते हैं। कन्या राशि बुध की उच्च राशि हैं और इस राशि में इनकी मौजूदगी के फलस्वरूप जातकों को बिज़नेस और ट्रेडिंग में लाभकारी परिणाम मिलते हैं। हालांकि, बुध का कर्क राशि में गोचर, सभी राशियों को अच्छे और बुरे दोनों ही प्रकार के फल दे सकता है।

इस लेख की शुरुआत करते हैं और जानते हैं कि बुध का कर्क राशि में गोचर राशि चक्र की 12 राशियों के जीवन को कैसे प्रभावित करेगा। साथ ही, बात करेंगे इसके दुष्प्रभावों को कैसे कम किया जा सकता है।

विद्वान ज्योतिषियों से फोन पर बात करें और जानें अस्त गुरु का अपने जीवन पर प्रभाव

ज्योतिष में बुध का महत्व

बुध के आशीर्वाद से जातकों को जीवन में अनेक तरह के लाभ मिलते हैं जैसे कि ज़िंदगी में संतुष्टि मिलना, स्वास्थ्य का अच्छा रहना और तेज़ दिमाग आदि। कुंडली में बुध के बलवान होने से जातकों की सोचने और समझने की शक्ति काफी बेहतर होती है, जिसकी मदद से आप जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं और बिज़नेस के क्षेत्र में सही फैसले लेने में सक्षम होते हैं। बुध के सकारात्मक प्रभाव से आपको ज्योतिष शास्त्र के क्षेत्र में भी कामयाबी मिलने की संभावना होती है। बृहस्पति जैसे शुभ ग्रह के साथ बुध के होने से जातकों को लाभ दोगुनी मात्रा में मिलते हैं और इसके प्रभाव से आप बिज़नेस, स्पेकुलेशन और ट्रेडिंग के क्षेत्र में अच्छा काम करने में सफल होते हैं।

जिन जातकों की कुंडली में बुध पर हानिकारक ग्रहों जैसे राहु-केतु या फिर मंगल का प्रभाव होता है, उन्हें जीवन के अलग-अलग क्षेत्रों में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। कुंडली में मंगल और बुध की युति के परिणामस्वरूप जातकों की बौद्धिक क्षमता कमज़ोर हो सकती है और आपका व्यवहार उग्र एवं आक्रामक हो सकता है। वहीं राहु और केतु के साथ बुध की युति के प्रभाव से आपको स्किन इंफेक्शन, नींद की कमी और नसों से संबंधित बीमारी होने का खतरा बना रहता है।

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि बुध ज्ञान, तर्क, शिक्षा और संचार कौशल का प्रतिनिधित्व करते हैं। कुंडली में बुध के कमज़ोर होने से जातकों को कमज़ोर याददाश्त, एकाग्रता भंग होना, सीखने की क्षमता में कमी आना और असुरक्षा की भावना में वृद्धि आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। मिथुन और कन्या राशि में बुध की मौजूदगी से जातकों को उत्तम परिणाम प्राप्त होते हैं जैसे, तेज़ बुद्धि, बिज़नेस में लाभ और ट्रेडिंग में कई प्रकार के लाभ मिलते हैं।

यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है। अपनी व्यक्तिगत चन्द्र राशि अभी जानने के लिए चंद्र राशि कैलकुलेटर का उपयोग करें

To Read in English Click Here: Mercury Transit In Cancer (8 July)

मेष राशि

मेष राशि के जातकों की कुंडली में तीसरे और छठे भाव पर बुध का शासन है और अब वह चौथे भाव में गोचर करेंगे।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए आर्थिक रूप से चुनौतीपूर्ण रह सकता है और आप में असुरक्षा की भावना पैदा हो सकती है। साथ ही, इस दौरान आपके जीवन में सुख-सुविधाओं में कमी देखने को मिल सकती है। इस अवधि में मेष राशि के जातक अपना घर भी बदल सकते हैं और यह आपके लिए तनावपूर्ण रह सकता है। इस गोचर के दौरान आपके पारिवारिक जीवन में समस्याएं पैदा हो सकती हैं जो आपके दुख का कारण बन सकती है।

आपके करियर की बात करें तो बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए अनुकूल न रहने की आशंका है। इस संबंध में जातक ज्यादा समृद्धि प्राप्त करने में असफल रह सकते हैं। आपको काम में ध्यान लगाने में समस्या हो सकती है और इसके कारण आपके प्रदर्शन पर फर्क पड़ सकता है। इसके अलावा, कार्यक्षेत्र पर की गई मेहनत के लिए आपको सराहना न मिलने की संभावना है जो आपको परेशान कर सकती है।

अगर आप बिज़नेस करते हैं तो, आपके लिए यह अवधि फायदेमंद न रहने के आसार हैं। इसी के साथ आपको कुछ घरेलू परेशानियों के कारण भी व्यवसाय चलाने में दिक्कत हो सकती है। धन लाभ में कमी के साथ-साथ आपको प्रतिद्वंदियों से भी कड़ी प्रतिस्पर्धा मिलने के संकेत हैं। कुल मिलाकर कहा जाए तो आपको बिज़नेस चलाने में उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है।

आर्थिक पक्ष को देखा जाए तो, इस महीने जातकों को अधिक खर्चों का सामना करना पड़ सकता है। आशंका हैं कि आपको कुछ प्रतिबद्धताओं के कारण लोन या कर्ज़ लेना पड़े। साथ ही, आप यात्रा के दौरान कोई बहुमूल्य वस्तु खो सकते हैं, इसलिए सावधानी बरतें।

आपके घरेलू रिश्तों को देखें तो, इस अवधि में किसी संपत्ति विवाद के कारण आपको परिवार में समस्याओं से दो-चार होना पड़ सकता है और सदस्यों के बीच बहस भी देखने को मिल सकती है। इसके अलावा, अहंकार के कारण आपके अपने लाइफ पार्टनर के साथ भी रिश्ते बिगड़ सकते हैं इसलिए अपने प्रेम संबंध को बेहतर बनाने के लिए जीवनसाथी के साथ तालमेल बिठाना जरूरी होगा।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके स्वास्थ्य के लिहाज़ से अनुकूल न रहने की आशंका है। इस दौरान किसी एलर्जी की वजह से आपको सर्दी-जुकाम की शिकायत हो सकती है और आपको अपनी माता जी के स्वास्थ्य पर भी पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं।

चौथे भाव से बुध आपकी कुंडली के दसवें भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके परिणामस्वरूप आपको पैर और जांघों में दर्द की शिकायत रह सकती है। साथ ही, आपको नसों से संबंधित बीमारी भी होने की आशंका है, इसलिए सावधान रहें।

उपाय- रोज़ाना 41 बार “ॐ नमो नारायणाय” का जाप करें।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातकों के लिए बुध दूसरे और पांचवें भाव के स्वामी हैं और अब यह तीसरे भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

आमतौर पर बुध का यह गोचर जातकों को जीवन में कामयाबी और तरक्की दे सकता है। इस दौरान आप अपना आर्थिक पक्ष मज़बूत करने में सफल होंगे और आपका ध्यान परिवार का बढ़ाने में हो सकता है।

करियर के लिहाज़ से आपके लिए बुध का कर्क राशि में गोचर फायदेमंद न रहने के आसार हैं। संभव है कि आपको इस दौरान ज्यादा लाभ और नए अवसरों की प्राप्ति न हो। हालांकि, आपको विदेश जाने या अस्थायी रूप से वहां रहने का मौका मिल सकता है और यह आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगा। इसके अलावा वृषभ राशि के जातकों को अपने वरिष्ठ सहयोगियों का भरपूर समर्थन प्राप्त होगा और आपको अपनी मेहनत के लिए प्रशंसा भी मिलेगी।

बिज़नेस करने वाले जातकों के लिए यह गोचर बेहद फलदायी रहेगा और आप काफी अच्छी तरह से धन लाभ अर्जित करने में सफलता प्राप्त करेंगे। अगर आपका व्यवसाय विदेश में फैला हुआ है तो आपके लिए यह गोचर उत्तम परिणाम लेकर आने वाला है। आप अपनी खुद की मेहनत के बल पर कामयाबी हासिल करेंगे। हालांकि, आपको सलाह दी जाती है कि बिज़नेस में आगे बढ़ने के लिए आपको समझदारी से काम लेना होगा।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके प्रेम संबंध के लिए उत्तम सिद्ध होगा। इस अवधि में आपके रिश्ते में प्रेम बना रहेगा और आप दोनों के संबंध और प्रगाढ़ होंगे। कुल मिलाकर देखें तो आप पार्टनर के साथ तालमेल बनाए रखने में सफल होंगे और इसके परिणामस्वरूप आप दोनों खुश नज़र आएंगे।

सेहत की दृष्टि से, बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए अनुकूल साबित होगा। हालांकि, इस दौरान आपको सर्दी और आंखों में जलन की समस्या हो सकती है। लेकिन, इसके अलावा आपको कोई बड़ी परेशानी नहीं होने के संकेत हैं।

तीसरे भाव से बुध आपकी कुंडली के नौवें भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं इसके फलस्वरूप जातकों को काम के सिलसिले में विदेश जाने का अवसर मिल सकता है। इसके साथ ही वृषभ राशि के जातकों को नौकरी में प्रमोशन मिलने के भी प्रबल योग है।

उपाय- रोज़ाना 21 बार “ॐ बुधाय नम:” का जाप करें।

मिथुन राशि

आपकी कुंडली के पहले और चौथे भाव पर बुध शासन करते हैं और अब यह आपके दूसरे भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

बुध के दूसरे भाव में गोचर के फलस्वरूप आपके जीवन में सुख-सुविधाओं में कमी आने की आशंका है। इसके अलावा आपके कार्यों में विलंब देखने को मिल सकता है। संकेत मिल रहे हैं कि गलतफहमी के चलते घर के सदस्यों के बीच विवाद पनप सकता है और इसके परिणामस्वरूप घर के माहौल पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

करियर के लिहाज़ से देखें तो बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए कुछ उतार-चढ़ाव लेकर आ सकता है। संभव है कि आप अपने काम की व्यस्तता के चलते अपनी पूरी क्षमता से काम करने में असफल रहे। वहीं, अगर आप विदेश में नौकरी करते हैं, तो यह अवधि आपके लिए लाभदायक होगी और कुछ जातकों का स्थानांतरण विदेश में भी हो सकता है।

बिज़नेस के बारे में बात करें तो, इस समय अच्छा धन लाभ अर्जित करने के लिए आपको काफी मेहनत करने की जरूरत होगी। पार्टनरशिप में बिज़नेस चलाने वाले जातकों के लिए यह अवधि चुनौतीपूर्ण रहने की आशंका है और आपके साझेदारी के विवादों का प्रभाव सीधा-सीधा आपके बिज़नेस पर पड़ेगा।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके आर्थिक जीवन में उतार-चढ़ाव लेकर आ सकता है क्योंकि आपको अपने स्वास्थ्य पर अधिक धन खर्च करना पड़ सकता है, विशेष रूप से आंखों पर। ऐसे में, आपके लिए कमाए हुए पैसों की बचत कर पाना मुश्किल होगा। वहीं इंश्योरेंस के क्षेत्र में काम करने वाले जातकों के लिए यह समय फलदायी रह सकता है क्योंकि वह लाभ कमाने में सक्षम होंगे। विदेश में रहने वाले जातकों के लिए यह अवधि आर्थिक लाभ लेकर आएगी और आप ज्यादा धन अर्जित कर सकेंगे।

बुध का कर्क राशि में गोचर, आपके पारिवारिक संबंधों के लिहाज़ से अच्छा साबित न होने की आशंका है। इस दौरान आपके घर में अनचाहे विवाद पैदा होने के आसार हैं और आपको अपने पार्टनर के साथ तालमेल बिठाने में भी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा कुछ जातक अपने जीवनसाथी को धोख़ा दे सकते हैं, इसलिए सावधान रहें।

इस अवधि में आपकी सेहत ज्यादा अच्छी नहीं रहने की संभावना है। आपको पैरों और जांघों में दर्द की शिकायत हो सकती है जिसकी वजह से आपको नींद न आने की समस्या परेशान कर सकती है, इसलिए आपको ध्यान करने की सलाह दी जाती है।

दूसरे भाव से बुध आपकी कुंडली के आठवें भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके फलस्वरूप आपको घर-परिवार में चल रही समस्याओं के कारण परिवार में मतभेद का सामना करना पड़ सकता है। इस गोचर के दौरान जातकों के लिए इन परेशानियों का समाधान ढूंढ़ना आसान काम नहीं होगा।

उपाय- रोज़ाना विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें।


करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

कर्क राशि

आपकी कुंडली के तीसरे और बारहवें भाव पर बुध का स्वामित्व है और अब यह पहले भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

इस अवधि में आपको सामान्य गति से लाभ प्राप्त होगा और मुमकिन है कि आप धन लाभ और खर्चों के बीच बैलेंस बनाने में असफल रहें। गोचर के दौरान आपको आर्थिक नुकसान हो सकता हैं और आप कुछ कीमती वस्तु भी खो सकते हैं इसलिए सावधान रहें। आपको ज्यादा ट्रैवल करने से बचना चाहिए, क्योंकि इसी दौरान आपको नुकसान हो सकता है।

करियर के लिहाज़ से बुध का कर्क राशि में गोचर कर्क राशि के जातकों के लिए अच्छे और बुरे दोनों ही तरह के परिणाम प्रदान करने वाला साबित हो सकता है। हालांकि, आपको अपने करियर में कुछ नए और बेहतर अवसर प्राप्त होंगे और आप इनका भरपूर फायदा उठा सकेंगे। वहीं, कुछ जातकों को स्थानांतरण का सामना करना पड़ सकता है और शायद आप इससे ज्यादा संतुष्ट न हों। इसके अलावा, कुछ जातकों को नौकरी से हाथ धोना पड़ सकता है।

अगर आप बिज़नेस करते हैं तो बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए अनुकूल न रहने के आसार हैं। हो सकता है कि इस वक्त आप ज्यादा लाभ अर्जित करने में सक्षम न हों और इसका कारण व्यापार में आये कुछ नए प्रतिद्वंदी हो सकते हैं। मुमकिन है कि वह उच्च लाभ अर्जित करें और आपको कड़ी टक्कर दें। इसके चलते आपको धन लाभ कमाने में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके प्रेम संबंध के लिए शुभ रहेगा। इस दौरान आपको अपने रिश्ते में अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे क्योंकि आप दोनों के बीच अच्छा तालमेल बना रहेंगे। हालांकि, आपको इस गोचर के दौरान अपने रिश्ते को बेहतर बनाए रखने के लिए सामंजस्य बिठाना होगा।

स्वास्थ्य के लिहाज़ से, बुध गोचर के दौरान आपको छोटी-मोटी परेशानियां जैसे नाक बंद होना और गले से संबंधित इन्फेक्शन होने के आसार हैं। हालांकि, आप काफी तेज़ी से ठीक भी हो जाएंगे और आपको कोई बड़ी परेशानी भी नहीं होगी।

ग्यारहवें भाव से बुध आपकी कुंडली के सातवें भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके परिणामस्वरूप आपको परिवार और करियर के क्षेत्र में कुछ अनिश्चित बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

उपाय- रोज़ाना 11 बार “ॐ चन्द्राय नम:” का जाप करें।

सिंह राशि

सिंह राशि के जातकों की कुंडली में बुध दूसरे और ग्यारहवें भाव के स्वामी हैं और अब वह बारहवें भाव में गोचर कर रहे हैं।

बुध की इस दशा के कारण जातकों को आगे बढ़ने में कुछ चुनौतियों और विलंब का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप विदेश में काम करते हैं तो, आप अच्छे पैसे कमाने और बचाने में भी सफल होंगे। हालांकि, इस दौरान आपको अपनी कमाई और खर्च दोनों की ही संतुलित करते हुए चलना होगा। इसके अलावा बुध का कर्क राशि में गोचर, आपके परिवार में भी कुछ विवाद पैदा कर सकता है।

करियर के लिहाज़ से देखें तो, यह अवधि आपके लिए ज्यादा अनुकूल न होने की आशंका है क्योंकि इस दौरान आपको काम में अधिक दबाव के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा, आपको कार्यस्थल पर अपने साथियों से भी चुनौतियां मिल सकती हैं और इसके कारण आपको मन लगाकर काम करने में परेशानी का अनुभव हो सकता है। इन परिस्थितियों के कारण जातकों को प्रमोशन मिलने में देरी हो सकती है।

अगर आप व्यवसाय करते हैं तो इस गोचर के दौरान आपको बेहतर प्रदर्शन करने के लिए अपनी रणनीति में बदलाव करना होगा। दूसरे शब्दों में कहें तो, आपको बिज़नेस में एकाधिकार का इस्तेमाल करने की जरूरत है और इसकी मदद से आप ज्यादा मुनाफा कमाने में सफल होंगे।

सिंह राशि के जातकों के आर्थिक पक्ष की बात करें तो, बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए सकारात्मक रहेगा। आप अच्छी कमाई करने में सफल होंगे, लेकिन इसी के साथ आपको ज्यादा खर्च भी झेलने पड़ सकते हैं। हालांकि, संकेत मिल रहे हैं कि आप जो भी धन कमाएंगे उसका इस्तेमाल जरूरत के समय न कर पाएं। साथ ही, पैसे बचाने में भी आपको दिक्कत महसूस हो सकती है।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके प्रेम संबंध में उतार-चढ़ाव लेकर आ सकता है। आप दोनों के बीच तालमेल की कमी के कारण विवाद खड़े होने के आसार हैं और इसलिए आपको रिश्ते को बेहतर बनाने के लिए सामंजस्य बैठाने का प्रयास करना चाहिए।

बुध का कर्क राशि में गोचर, सेहत के लिहाज़ से आपके लिए कुछ परेशानियां लेकर आने वाला है। इस दौरान आपको चेहरे, आंखों और दांत से संबंधित समस्या होने का खतरा बना रहेगा। इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य का ख़ास ध्यान रखने की सलाह दी जाती है।

बारहवें भाव से बुध आपकी कुंडली के छठे भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके परिणामस्वरूप आपके घर में विवाद होने की आशंका है जिसका कारण परिवार का माहौल ख़राब हो सकता है। इसके अलावा आपको अपनी जरूरतें पूरी करने के लिए लोन का सहारा भी लेना पड़ सकता है।

उपाय- रोज़ाना विष्णु सहस्रनाम का जाप करें।

कन्या राशि

कन्या राशि के जातकों की कुंडली के पहले और दसवें भाव पर बुध का शासन है और अब यह ग्यारहवें भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

बुध का कर्क राशि में गोचर, आपके लिए अच्छा साबित होगा और आप करियर के क्षेत्र में शानदार प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान आप करियर को लेकर काफी संतुष्ट रहेंगे और अपनी इच्छाओं की पूर्ति करने में सफल होंगे।

कन्या राशि के जातकों के करियर के लिए बुध का कर्क राशि में गोचर फायदेमंद रहेगा। इस दौरान आपको नए अवसर मिलेंगे और विदेश में भी नौकरी का मौका मिलेगा। आपको कार्यस्थल पर अपने सहकर्मियों का भरपूर साथ मिलेगा और सीनियर्स भी आपकी मेहनत की सराहना करेंगे। इन सबके अलावा, जातकों की सैलरी बढ़ने के भी प्रबल योग बन रहे हैं जिससे आपको खुशी मिलेगी।

अगर आप बिज़नेस करते हैं तो, यह अवधि आपके लिए फायदेमंद रहेगी और आप पर्याप्त मात्रा में धन कमाने में सफल रहेंगे। साथ ही, आप अपने व्यवसाय को फैलाने में भी सक्षम होंगे और अगर आप स्पेकुलेशन या ट्रेडिंग में हैं तो आपके लिए यह गोचर लाभकारी साबित होगा क्योंकि इस दौरान आपको लाभ होने की संभावना है ।

आर्थिक जीवन के बारे में बात करें तो, आपकी लिए बुध का कर्क राशि में गोचर, उत्तम साबित होगा। इस अवधि में आप अच्छी मात्रा में धन कमाने में सफल होंगे बल्कि आप पैसे बचाने में भी कामयाब होंगे।

बुध गोचर के दौरान आपके प्रेम संबंध शानदार रहने वाले हैं। आप अपने जीवनसाथी के साथ सामंजस्य बैठाने में सफल होंगे और ऐसे में, आप दोनों के बीच अच्छा तालमेल देखने को मिलेगा और संबंध भी प्रेमपूर्ण बने रहेंगे।

बुध का कर्क राशि में गोचर के दौरान आपका स्वास्थ्य सामान्य रहेगा। आपकी ऊर्जा के उच्च स्तर के कारण आपकी सेहत अच्छी रहने की संभावना है और आप स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने में भी कामयाब होंगे।

ग्यारहवें भाव से बुध आपकी कुंडली के पांचवें भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके फलस्वरूप आप धन कमाने में सक्षम होंगे। साथ ही, इस दौरान आपकी प्रेम भावना में भी वृद्धि देखने को मिल सकती है। कन्या राशि के जातक धन कमाने में भी सफल होंगे और अगर आप स्टॉक मार्केट में डील करते हैं तो यह गोचर आपके लिए फायदेमंद साबित होने की संभावना है।

उपाय- बुधवार के दिन बुध ग्रह के लिए पूजा-अर्चना करें।

तुला राशि

तुला राशि के जातकों की कुंडली के नौवें और बारहवें भाव पर बुध का शासन है और अब यह दसवें भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके जीवन में बदलाव लेकर आएगा। इस दौरान आपकी नौकरी में बदलाव देखने को मिल सकता है और विदेश जाने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है जो कि आपके लिए काफ़ी आश्चर्यजनक रहेगा। साथ ही, इस अवधि में जातक अपने काम को लेकर ज्यादा जागरूक होंगे।

करियर के लिहाज़ से देखें तो, जातकों को इस गोचर के दौरान नौकरी के नए अवसर मिलेंगे और आप इससे बेहद संतुष्ट होंगे। अगर आप बहुत दिनों से प्रमोशन के इंतज़ार में थे या किसी कारण विलंब हो रहा था, तो बुध गोचर के दौरान आपको प्रमोशन प्राप्त होने के योग हैं। इसके अलावा कुछ जातक इस समय अपनी नौकरी भी बदल सकते हैं।

अगर आप बिज़नेस करते हैं, तो बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए स्वर्णिम साबित होगा और आप अच्छा ख़ासा धन लाभ अर्जित करने में सक्षम होंगे। अगर आप इंपोर्ट-एक्सपोर्ट के व्यवसाय में हैं तो आपके लिए यह गोचर उत्तम परिणाम लेकर आएगा। साथ ही, आप इस समय अपने प्रतिद्वंदियों को कड़ी टक्कर देने की स्थिति में होंगे।

आपके आर्थिक पक्ष को देखा जाए तो, तुला राशि के जातक इस गोचर के दौरान पर्याप्त मात्रा में पैसे कमाने में सफल होंगे। लेकिन, दूसरी तरफ आपको अधिक खर्चों का भी सामना करना पड़ सकता है, इसलिए आपको अपने खर्चों की योजना बनाने और पैसों का सोच-समझकर इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

बुध का कर्क राशि में गोचर प्रेम संबंधों के लिए उत्तम साबित होगा। आप लाइफ पार्टनर के साथ बेहतर संबंंध बनाए रखने में सफल होंगे क्योंकि आप दोनों के बीच शानदार तालमेल बना रहेगा। इसके साथ ही, प्रेम जीवन में आपको भाग्य का भरपूर साथ मिलेगा और ऐसे में, आप रिश्ते में प्रेम बनाए रखने में सक्षम होंगे।

स्वास्थ्य के लिहाज़ से बात करें तो, आप बुध गोचर के दौरान स्वयं को ऊर्जावान बनाए रखने में सफल होंगे और इसकी बदौलत आप अपनी सेहत को अच्छा बनाए रखने में सक्षम होंगे।

दसवें भाव से बुध आपकी कुंडली के चौथे भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके फलस्वरूप आप अपने काम को बहुत ध्यान से करेंगे। साथ ही, आप प्रॉपर्टी खरीद सकते हैं या फिर इसमें निवेश कर सकते हैं जो कि आपके लिए भाग्यशाली साबित होगा। हालांकि, इस गोचर के दौरान आपको परिवार में कुछ विवादों का सामना करना पड़ सकता है।

उपाय- रोज़ाना 11 बार “ॐ श्री लक्ष्मी भ्यो नमः” का जाप करें।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातकों की कुंडली में बुध आठवें और ग्यारहवें भाव के स्वामी हैं और अब यह नौवें भाव में गोचर कर रहे हैं।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपको सकारात्मक और नकारात्मक दोनों ही तरह के परिणाम देने वाला है। इस अवधि में आपको अपने पिता की सेहत पर धन खर्च करना पड़ सकता है और इसके कारण आप तनावग्रस्त रह सकते हैं। इसके अलावा, आशंका हैं कि आपको काम में बाधाओं और चुनौतियों का सामना करना पड़े।

बुध का कर्क राशि में गोचर आपके करियर के लिहाज़ से चुनौतीपूर्ण रहने के आसार हैं।

इस दौरान आपको काम में अधिक दबाव का सामना करना पड़ सकता है और संभव है कि आपको अपनी मेहनत के लिए सराहना प्राप्त न हो। इसके कारण आप तनावग्रस्त नज़र आ सकते हैं। साथ ही, आपको नौकरी में मिलने वाले लाभ में देरी का सामना करना पड़े, ऐसे आसार हैं और इसके चलते आप बेहतर नौकरी की तलाश शुरू कर सकते हैं।

बुध का कर्क राशि में गोचर व्यवसाय करने वाले जातकों को कड़ी प्रतिस्पर्धा की स्थिति में डाल सकता है और यह आपके लिए तनाव का कारण भी बन सकता है। ऐसे में, आपको लाभ और नुकसान दोनों ही होने की आशंका है। इसलिए आपको पेशेवर रूप से अपने बिज़नेस की योजना बनाने की आवश्यकता होगी जिसकी मदद से आप बेहतर प्रदर्शन करने में सफल हों।

आर्थिक जीवन की बात करें तो, यह गोचर आपके लिए ज्यादा लाभकारी न रहने की आशंका है। इस अवधि में आपकी कमाई में उतार-चढ़ाव आ सकता है। वृश्चिक राशि के जातक अपने कमाए हुए धन की बचत करने में असफल रह सकते हैं जिसके चलते आप नाखुश दिखाई दे सकते हैं।

पारिवारिक और प्रेम जीवन पर दृष्टि डालें तो, बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए समस्याओं को बढ़ा सकता है। इस दौरान आपके और पार्टनर के बीच अहंकार से जुड़े मुद्दे देखने को मिल सकते हैं और इसके चलते घर में विवाद होने के संकेत हैं। इन अनचाहे विवादों और झगड़ों के कारण परिवार का माहौल नकारात्मक हो सकता है।

स्वास्थ्य के लिहाज़ से, बुध का यह गोचर जातकों के लिए कुछ परेशानियां लेकर आ सकता है। इस अवधि में आपको खांसी-जुकाम और एलर्जी की शिकायत होने की संभावना है। साथ ही, बुखार भी परेशान कर सकता है।

नौवें भाव से बुध आपकी कुंडली के तीसरे भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं। इसके परिणामस्वरूप, बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए कुछ जरूरी यात्राएं लेकर आ सकता है जिन्हें टालना आपके लिए मुश्किल होगा। साथ ही, जातकों को स्थान परिवर्तन का भी सामना करना पड़ सकता है।

उपाय- रोज़ाना 11 बार “ॐ भौमाय नमः” का जाप करें।


बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

धनु राशि

धनु राशि के जातकों की कुंडली के सातवें और दसवें भाव पर बुध का शासन है और अब यह आठवें भाव में गोचर कर रहे हैं।

बुध की इस दशा के कारण जातकों को प्रेम जीवन में असंतुष्टि का अनुभव हो सकता है और ऐसे में, विवाद होने की भी आशंका है। इस अवधि में किसी गलतफहमी के कारण झगड़े की शुरुआत हो सकती है। साथ ही ,करियर में रुकावट आ सकती है और इससे आप संतुष्ट दिखाई नहीं देंगे। इसके अलावा, जातकों को इस अवधि में अनचाही यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं।

करियर के लिहाज़ से जातकों के लिए बुध का कर्क राशि में गोचर ज्यादा अनुकूल न रहने का अंदेशा है। इस दौरान आपके ऊपर काम का दबाव अधिक रहने की संभावना है और इसके कारण आप समय पर काम खत्म करने में असफल भी रह सकते हैं। संभव है कि आपको अपनी कड़ी मेहनत के लिए उचित पहचान प्राप्त न हो जो कि आपके लिए तनाव का कारण बन सकती है।

अगर आप बिज़नेस करते हैं तो, इस अवधि में आपको अपने प्रतिद्वंदियों से कड़ी टक्कर मिलने के आसार हैं। बुध का कर्क राशि में गोचर के दौरान कुछ जातक अपना नियंत्रण खो सकते हैं और इसके कारण आपको भारी हानि होने की आशंका है। इसलिए आपको व्यवस्थित तरीके से काम करने और बिज़नेस पर एकाधिकार रखने की सलाह दी जाती है क्योंकि ऐसा करने से आप बेहतर प्रदर्शन कर सकेंगे।

धनु राशि के जातकों के आर्थिक पक्ष को देखें तो, बुध का कर्क राशि में गोचर आपके जीवन में अधिक खर्चे लेकर आ सकता है। इसके अलावा, आप औसत रूप से धन कमाएंगे और यह आपके लिए तनाव का कारण बनेगा। इन सभी बातों के अलावा आपको आर्थिक नुकसान भी होने का अंदेशा है।

प्रेम संबंध के बारे में बात करें तो, इस अवधि में आप अपने पार्टनर के साथ तालमेल की कमी के कारण विवादों में पड़ सकते हैं और आशंका है कि इस वजह से आप दोनों अलग हो जाएं।

स्वास्थ्य के लिहाज़ से, बुध गोचर के दौरान आपको अपने लाइफ पार्टनर की सेहत पर पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं।

आठवें भाव से बुध आपकी कुंडली के दूसरे भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके परिणामस्वरूप जातकों को पैसे कमाने में रुकावटों का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही, आपको धन की बचत करने में भी दिक्कत होने की आशंका है।

उपाय- भगवान शिव के लिए गुरुवार के दिन यज्ञ-हवन करें।

मकर राशि

मकर राशि के जातकों की कुंडली के छठे और नौवें भाव पर बुध का शासन है और अब यह सातवें भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

बुध का कर्क राशि में गोचर, आपके अंदर आध्यात्मिक रुझान को बढ़ावा देगा। हालांकि, इस दौरान आपके शादीशुदा जीवन में कुछ परेशानियां पैदा होने के संकेत मिल रहे हैं। इसके अलावा आप लंबी दूरी की यात्राओं पर जा सकते हैं जो आपके लिए फायदेमंद साबित होंगी। अगर आप साझेदारी में बिज़नेस करते हैं, तो यह गोचर आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगा।

बुध गोचर के दौरान मकर राशि के जातकों को करियर में अच्छी तरक्की प्राप्त होगी और आपको विदेश से नौकरी का प्रस्ताव मिलने की संभावना है। साथ ही, कड़ी मेहनत के लिए आपको प्रमोशन भी मिल सकता है। इस दौरान जातकों को इंसेंटिव मिलने की प्रबल संभावना है।

अगर आप व्यवसाय करते हैं, तो बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए उत्तम परिणाम लेकर आएगा। आप ज्यादा धन लाभ अर्जित करने में सफल होंगे और निश्चित रूप से आप कामयाबी की ओर अग्रसर होंगे। इसके अलावा, आप अपने प्रतिद्वंदियों को भी कड़ी टक्कर देने में सफल होंगे।

आर्थिक जीवन की बात करें तो, यह अवधि आपके लिए लाभकारी रहेगी और आप अलग-अलग माध्यम से धन कमाने में सक्षम होंगे। इसके अलावा, आपको अनिश्चित स्रोतों से धन लाभ प्राप्त होने के प्रबल योग हैं जो कि आपकी प्रसन्नता का कारण बनेगा।

लव लाइफ को देखा जाए तो, इस अवधि में आप दोनों के संबंध अच्छे रहेंगे और आप अपने रिश्ते में सामंजस्य बनाए रखने में सफल होंगे। इस दौरान आपसी समझ और बेहतरीन तालमेल की वजह से रिश्ते में स्नेह बना रहेगा।

स्वास्थ्य के लिहाज़ से आपके लिए बुध का कर्क राशि में गोचर सकारात्मक साबित होगा और आपके अंदर दृढ़ निश्चय का भाव दिखाई देगा।

सातवें भाव से बुध आपकी कुंडली के पहले भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके फलस्वरूप आपको अनिश्चित मात्रा में धन लाभ होने के प्रबल योग हैं। साथ ही आप नए लोगों से मिलेंगे और अच्छी दोस्ती कायम करने में सफल रहेंगे।

उपाय- हनुमान जी के लिए शनिवार के दिन यज्ञ-हवन करें।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों की कुंडली के पांचवें और आठवें भाव पर बुध का शासन है और अब यह छठे भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

गोचर के दौरान कुंभ राशि के जातकों को स्पेकुलेशन या विरासत के माध्यम से धन लाभ होने के योग बन रहे हैं। हालांकि, बच्चों के भविष्य और विकास को लेकर घर में कुछ विवाद पैदा होने की आशंका है। इसके अलावा, आपको स्वास्थ्य के क्षेत्र में छोटी-मोटी दिक्कतों से रूबरू होना पड़ सकता है।

पेशेवर जीवन की बात करें तो, बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए ज्यादा उत्साहवर्धक न रहने के आसार हैं। इसके अलावा, संकेत मिल रहे हैं कि आप इस दौरान ज्यादा तरक्की न कर पाएं और आसानी से आपकी इच्छाओं की पूर्ति न हो।

अगर आप बिज़नेस करते हैं, तो बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए प्रतिकूल साबित होने के संकेत हैं। इस गोचर के दौरान आपके लिए अच्छा धन लाभ अर्जित करना मुश्किल हो सकता है और आशंका है कि कुछ जातकों को बड़ा नुकसान भी उठाना पड़े। आपको कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ सकता है और इसके चलते आपको व्यवसाय चलाने में दिक्कत होने के आसार हैं।

आर्थिक पक्ष को देखें तो, इस अवधि में अपनी जिम्मेदारियों के कारण आपको अतिरिक्त खर्च का सामना करना पड़ सकता है। आशंका है कि इस दौरान आपको अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए लोन का सहारा लेना पड़ सकता है और इसके प्रभाव से आप सीमित मात्रा में बचत करने में सक्षम होंगे।

आपके प्रेम संबंध की बात करें तो, रिश्ते को बेहतर बनाए रखने के मामले में आपके उत्साह में कमी देखने को मिल सकती है। इसके अलावा, आप दोनों में तालमेल की कमी भी रहने के आसार हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज़ से बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए सामान्य परिणाम लेकर आएगा। इस दौरान तनाव के कारण आपको पैरों और जांघों में दर्द की शिकायत हो सकती है।

छठे भाव से बुध आपकी कुंडली के बारहवें भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके परिणामस्वरूप आपके खर्च में वृद्धि होने की संभावना है। साथ ही, यह भी हो सकता है कि आप अपनी बढ़ती प्रतिबद्धताओं को मैनेज करने में असफल रहें।

उपाय- रोज़ाना “ॐ वायुपुत्राय नमः” का जाप करें।

मीन राशि

मीन राशि के जातकों की कुंडली के चौथे और सातवें भाव पर बुध का शासन है और अब यह पांचवें भाव में गोचर करने जा रहे हैं।

इस गोचर के दौरान जातक अपनी बुद्धि का विकास करने के लिए उत्साहित नज़र आ सकते हैं। बुध का कर्क राशि में गोचर, आपके घरेलू जीवन के लिए अनुकूल रहेगा। यह अवधि आपके निजी ज़िंदगी में सकारात्मक बदलाव लेकर आ सकती है।

करियर के लिहाज़ से बात करें तो, बुध के गोचर के दौरान आपको विदेश से नौकरी के नए अवसर मिलेंगे और ऐसे मौके आपके लिए फलदायी साबित होंगे। इस अवधि में आप आसानी से प्रमोशन पाने में सफल रहेंगे जो कि आपके करियर को आगे बढ़ाएंगे।

अगर आप व्यवसाय करते हैं, तो आप आसानी से धन लाभ अर्जित करने में सफल होंगे। इसके अलावा आप इस गोचर के दौरान अलग-अलग व्यवसायों में हाथ आज़मा सकते हैं और यह आपके लिए फायदेमंद साबित होगा। अगर आप स्पेकुलेशन के व्यवसाय में हैं, तो यह गोचर आपके लिए लाभदायक साबित होगा और आप अच्छी मात्रा में धन अर्जित करेंगे।

आर्थिक पक्ष को देखें तो, आप पर्याप्त मात्रा में धन कमाने के साथ-साथ पैसे बचाने में भी सफल होंगे। इसके अलावा, आप ट्रेडिंग के माध्यम से भी अच्छा धन लाभ अर्जित कर सकते हैं।

प्रेम संबंधों की दृष्टि से, आप अपनी लव लाइफ में आगे बढ़ने में सफल होंगे। साथ ही, आप शादी के बंधन में भी बंध सकते हैं। अगर आप विवाह की तैयारी में हैं तो बुध का कर्क राशि में गोचर आपके लिए उत्तम साबित होगा।

स्वास्थ्य के लिहाज़ से यह गोचर आपके लिए सकारात्मक साबित होगा और आप आंतरिक ऊर्जा बनाए रखने में सक्षम होंगे।

पांचवें भाव से बुध आपकी कुंडली के ग्यारहवें भाव पर दृष्टि डाल रहे हैं और इसके परिणामस्वरूप आपको कार्यों में कामयाबी हासिल होगी। साथ ही, आप अच्छी मात्रा में धन कमाने में सफल होंगे। इसके अलावा, संकेत हैं कि आपके घर में कोई मांगलिक कार्यक्रम भी हो सकता है।

उपाय- गुरुवार के दिन बुजुर्ग ब्राह्मणों को दान दें।


सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।