बुध का सिंह राशि में गोचर (17 अगस्त, 2020)

बुध का गोचर 17 अगस्त 2020 को 8 बजकर 18 मिनट पर कर्क से सिंह राशि में होगा और इस राशि में बुध ग्रह 2 सितंबर 2020, 11 बजकर 52 मिनट तक रहेगा। बुध के इस गोचर का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा। इस गोचर से आपकी राशि किस तरह प्रभावित होगी आईए जानते हैं।

जीवन में आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए ज्योतिष से प्रश्न पूछें

सूर्य के सबसे निकटवर्ती ग्रह बुध को ज्योतिष शास्त्र में युवराज का दर्जा दिया गया है। बुध ग्रह व्यवसाय, वाणी, शिक्षा आदि का कारक ग्रह माना जाता है। इस तटस्थ ग्रह भी कहा जाता है क्योंकि जिस भी ग्रह के साथ यह युति करता है उसके जैसे ही फल प्रदान करने लगता है। कुंडली में यदि बुध ग्रह मजबूत अवस्था में हो तो यह आपको तार्किक बुद्धि, गणितीय विषयों में अच्छी समझ और अच्छा व्यवसायी बनाता है। यदि बुध कुंडली में अशुभ हो तो त्वचा संबंधी विकार हो सकते हैं और ऐसा व्यक्ति स्पष्टता से लोगों के सामने अपनी बात भी नहीं रख पाता। इसी बुध ग्रह का गोचर 17 अगस्त को सिंह राशि में होने जा रहा है।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। चंद्र राशि कैल्कुलेटर से जानें अपनी चंद्र राशि

Read in English: Mercury transit in Leo

बुध का सिंह राशि में गोचर

मेष

बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि से पंचम भाव में होगा। इस भाव से बुद्धि, संतान, ज्ञान, आदि के बारे में विचार किया जाता है। यह गोचर उन जातकों के लिए अति शुभ रहेगा जो अपनी रचनात्मक खूबियों को अपने व्यवसाय में बदलना चाहते हैं।

पारिवारिक जीवन ठीक रहेगा लेकिन संतान को कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है जिसकी वजह से आप भी चिंतित होंगे। हालांकि आपका स्वास्थ्य इस दौरान अच्छा रहेगा। प्रेम जीवन की बात करें तो लवमेट के साथ किसी बात को लेकर मतभेद पैदा हो सकते हैं। वहीं जो जातक सिंगल हैं वो भी दुविधाजनक स्थिति में इस दौरान रहेंगे। आपके मन में नया रिश्ता बनाने का विचार अवश्य आएगा लेकिन इससे होने वाले हानि लाभों के बारे में सोचकर आप कदम पीछे हटा सकते हैं।

इस राशि के जो जातक खेलकूद करते हैं या दिमागी खेल (जैसे चेस) खेलते हैं, उनके लिए यह गोचर सफलतादायक साबित होगा। आपकी शारीरिक क्षमता भी इस दौरान बहुत अच्छी रहेगी। यदि आप भविष्य को लेकर प्लानिंग कर रहे हैं तो यह सबसे बेहतर समय है आप इस दौरान एक अच्छे दूरदर्शी की तरह भविष्य की योजनाएं बनाएंगे। हालांकि नए काम को शुरु करने से आपको बचना चाहिए और किस से भी उधार नहीं लेना चाहिए।

उपाय- अपनी बहन या बुआ को हरे रंग की वस्तुएं दान करें।

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के चतुर्थ भाव में बुद्धि के देवता बुध का गोचर होगा। इस गोचर के चलते आपको पारिवारिक जीवन में शुभ फलों की प्राप्ति होगी। इस भाव से माता, आवास, सुख-सुविधाओं के बारे में भी विचार किया जाता है।

यह गोचर आपकी माता के लिए भी शुभ साबित होगा, यदि वो नौकरी पेशा हैं तो उन्हें शुभ फलों की प्राप्ति हो सकती है। वहीं इस राशि के जो विद्यार्थी प्रबंधन से जुड़े क्षेत्रों की पढ़ाई कर रहे हैं उन्हें मनमाफिक फल प्राप्त होंगे। प्रारंभिक शिक्षा अर्जित करने वाले छात्रों को मन लगाकर पढ़ाई करने की सलाह दी जाती है। वहीं जो लोग नौकरी पेशा हैं उन्हें कार्यक्षेत्र में अच्छे फल प्राप्त होंगे, इस समय आपके अच्छे काम को सराहना मिल सकती है।

परिवार और कार्यक्षेत्र की अच्छी स्थिति होने के कारण आपके मन में शांति बनी रहेगी। यदि आप शादीशुदा हैं तो आपका जीवनसाथी इस समय काल में आपसे नए आभूषण खरीदने की मांग कर सकता है। वहीं कुछ जातक इस दौरान नया वाहन खरीदने का भी विचार बना सकते हैं। हालांकि इस गोचर के दौरान आपको अपने स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखना होगा। सर्दी-जुकाम जैसी छोटी-छोटी बीमारियां आपको परेशान कर सकती हैं।

उपाय- बुधवार के दिन श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें।

मिथुन

बुध देव आपकी राशि से तृतीय भाव में गोचर करेंगे। इस भाव से आपके साहस, पराक्रम, छोटे भाई-बहनों से आपके संबंध, लघु यात्राएं आदि के बारे में विचार किया जाता है। बुध चूंकि संचार कारक ग्रह माना जाता है इसलिए इस गोचर के दौरान आप अपनी वाणी से लोगों को प्रभावित करने में कामयाब होंगे। इस राशि के जातकों के लिए यात्राएं करना भी इस दौरान शुभ रहेगा। यदि आप काम के संबंध में यात्रा करते हैं तो फायदा हो सकता है।

इस राशि के जो लोग नौकरी पेशा हैं उनके लिए भी समय अच्छा रहेगा लेकिन आपको अपने अहम भाव पर कंट्रोल करने की जरुरत है। यदि आप खुद को बेहतर दिखाने की कोशिश करते रहेंगे तो सहकर्मियों के साथ मतभेद पैदा हो सकते हैं। सबको समान दृष्टि से देखना सीखें, ऐसा करने से कई मतभेद दूर हो जाएंगे। इस राशि के जो लोग रचनात्मक कार्य करते हैं उन्हें इस समय जीवन में उन्नति मिल सकती है।

पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो भाई-बहनों के साथ इस दौरान आपको संबंध सुधारने की पहल करनी होगी। किसी वजह से भाई-बहनों के साथ तनाव की स्थिति पैदा होने की संभावना है। इस राशि के कारोबारियों की बात करें तो कोई भी नई डील आपको सोच-समझकर करनी चाहिए। किसी भी तरह का रिस्क बहुत सोच-समझकर लें। अनुभवी लोगों की सलाह लेकर आगे बढ़ना आपके लिए सही रहेगा।

उपाय- बुधवार के दिन घी के दिया जलाएं और विष्णु भगवान की पूजा करें।


बुध ग्रह के अशुभ प्रभावों को दूर करने के लिए महा उपाय- यहाँ क्लिक कर पढ़ें

कर्क

कर्क राशि के जातकों के द्वितीय भाव में बुध राशि का गोचर होगा। यह भाव आपकी संपत्ति, परिवार, वाणी, उद्देश्य आदि के बारे में जानकारी देता है। इस गोचर के दौरान आपको पारिवारिक जीवन में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। घर के किसी सदस्य की खराब तबीयत आपके मानसिक तनाव का कारण बन सकती है। ऐसे समय में आपको ज्यादा तनाव लेने से ज्यादा उस सदस्य की हेल्थ का ख्याल रखना चाहिए।

इस गोचर के दौरान आपका आर्थिक पक्ष भी कमजोर हो सकता है। आमदनी में जिसे बढ़त की उम्मीद आप लगाए बैठे थे शायद वो आपको इस माह न मिले। हालांकि बावजूद इसके आपको घबराना नहीं चाहिए और अधिक से अधिक बचत पर ध्यान देना चाहिए। बेवजह के खर्चों को रोकने के लिए अच्छा बजट प्लान करें। इस दौरान लोगों के साथ यदि आपके मतभेद हैं तो उन्हें शांति से सुलाझाएं और बातचीत के लहेजे में आवश्यक बदलाव लाएं।

यदि आपके भाई-बहन हैं तो उन्हें विदेशों से इस दौरान लाभ हो सकता है। संभव है कि विदेशों में उनकी अच्छी नौकरी लगे। अपने लक्ष्य को पाने में इस राशि के जातकों को इस दौरान कुछ परेशानियां आ सकती हैं लेकिन आप यदि धैर्य बनाए रखें और स्थिति का डटकर सामना करें तो कई परेशानियां दूर हो सकती हैं।

उपाय- जरुरतमंदों को बुधवार के दिन उनके जरुरत की चीजें दान करें।

सिंह

बुध ग्रह का गोचर आपके लग्न भाव में होगा। लग्न भाव से हम आपके व्यक्तित्व, आत्मा, शरीर, स्वास्थ्य, चरित्र, बुद्धि आदि के बारे में विचार करते हैं। इस भाव में बुध ग्रह के गोचर से आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी। आपकी महत्वकांक्षाएं बढ़ेंगी और उन्हें पाने की भी आप पूरी कोशिश करेंगे। इस राशि के विद्यार्थियों के लिए यह समय बहुत अनुकूल रहेगा आप नई-नई चीजें सीखना चाहेंगे। इस राशि के जो जातक अपनी पढ़ाई को आगे बढ़ाना चाहते हैं उनके लिए भी यह समय अच्छा रहेगा। परिस्थिति और विषयों को समझने की आपकी क्षमता इस दौरान बढ़ेगी। यदि आप कोई रचनात्मक कार्य जैसे- गायन, वादन, नृत्य करते हैं तो आपकी कला में इस समय अत्यधिक निखार देखने को मिल सकता है। इस राशि के नौकरी पेशा और कारोबारी लोगों के लिए भी यह गोचर अच्छा रहेगा लेकिन आपको किसी पर व्यंग करने से बचना चाहिए, आपकी बात किसी का दिल दुखा सकती है। आपके आर्थिक पक्ष की बात की जाए तो यह समय ठीकठाक रहेगा। निवेश करना चाहते हैं तो किसी अनुभवी शख्स की सलाह अवश्य लें। सामाजिक जीवन में भी बुध के इस गोचर से आपको अनुकूल परिणाम मिलेंगे, समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा।

उपाय- बुधवार के दिन दस साल से छोटी कन्याओं को उपहार दें।

कन्या

पृथ्वी तत्व की राशि कन्या के जातकों के लिए बुध ग्रह का गोचर आपके द्वादश भाव में होगा। यह भाव हानि, अनावश्यक खर्चो आदि का होता है। बुध के इस गोचर के दौरान कन्या राशि के जातकों को बहुत संभलकर रहने की जरुरत है। आपको गलत बोलने से बचना चाहिए और गलत संगति से दूर रहना चाहिए। यदि आप गलत लोगों के साथ रहते हैं तो किसी बड़ी समस्या में पड़ सकते हैं। इस राशि के जातकों के आत्मविश्वास में भी इस दौरान कमी आएगी जिसके कारण आपके कई जरुरी काम अटक सकते हैं। अपने आत्मबल को बढ़ाने के लिए इस दौरान आपको योग-ध्यान का सहारा लेना चाहिए। नौकरी पेशा और व्यवसायी लोगों के लिए भी बुध का यह गोचर चुनौती पूर्ण रहेगा लेकिन जो जातक विदेशों से जुड़ा व्यापार करते हैं या विदेशी कंपनियों में काम करते हैं उनको इस अवधि में शुभ समाचार मिलने की संभावना है। आर्थिक पक्ष को मजबूत करने के लिए प्रयास करते रहें। इस राशि के कुछ जातकों के स्वास्थ्य भी इस समय बिगड़ सकता है, पेट और त्वचा से जुड़ी समस्याएं इस राशि के लोगों को हो सकती हैं। खुद को फिट रखने के लिए आपको खान पान का विशेष ध्यान इस दौरान रखना होगा। इस समय एक से ज्यादा काम अपने हाथ में न लें तो आपके लिए अच्छा रहेगा। जो काम जरुरी है उसे ही अच्छी तरह से पूरा करें।

उपाय- बुध ग्रह के शुभ प्रभाव प्राप्त करने के लिए बुध बीज मंत्र का जाप करें।

तुला

तुला राशि के जातकों के एकादश भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस भाव को लाभ भाव भी कहा जाता है और इससे आपकी कामनाओं, मित्रों आदि के बारे में विचार किया जाता है। तुला राशि के लोगों के लिए बुध का यह गोचर कई सौगातें लेकर आएगा। यदि आप आयात-निर्यात से संबंधी कार्य या बिजनेस करते हैं तो इस गोचर के दौरान आपकी पांचों अंगुलियां घी में हो सकती हैं। आपकी कामनाओं की पूर्ति इस दौरान होगी। इस राशि के कई जातकों को इस समय अपने पिता और सरकार से लाभ की प्राप्ति हो सकती है। आपके पिता का सहयोग आपको कई परेशानियों से इस दौरान बचा सकता है। हालांकि आपके निजी जीवन की बात की जाए तो आप अपने फायदे के लिए नापतोल करते इस समय नजर आ सकते हैं, ऐसा करना आने वाले समय में आपके लिए ही नुक्सानदायक हो सकता है इसलिए ऐसा ना ही करें तो आपके लिए अच्छा रहेगा। यदि आप अपने व्यवहार से अहंकार को कम कर दें तो इस दौरान सामाजिक जीवन में आपको मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। तुला राशि के जातकों को अपने किसी करीबी दोस्त से भी इस दौरान लाभ की प्राप्ति हो सकती है।

उपाय- बुधवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा करें, शुभ फलों की प्राप्ति होगी।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के दशम भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस भाव से आपके कर्मों पर विचार किया जाता है और साथ ही इससे आपके कार्यक्षेत्र, नेतृत्व गुण, सम्मान, सफलता आदि के बारे में भी विचार किया जाता है। वृश्चिक राशि के उन लोगों के लिए बुध का यह गोचर बहुत अच्छा रहेगा जो किसी ऐसे व्यवसाय में हैं जिसमें पब्लिक डीलिंग होती है। इसके साथ ही राजनीति के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए भी यह समय अच्छा है, अपनी वाणी के दम पर आप लोगों को आकर्षित कर सकते हैं। वहीं इस राशि के जातकों के आर्थिक पक्ष की बात की जाए तो उसमें भी सुधार होगा यदि आप शेयर-मार्केट में पैसा लगाते हैं तो इस दौरान मुनाफा कमा सकते हैं। नौकरी पेशा और व्यवसायी लोगों को भी अनुकूल फल मिलेंगे, हालांकि नौकरी पेशा लोगों को उच्च अधिकारियों से उलझने से इस समय बचना चाहिए। जो लोग मीडिया संस्थानों में कार्य करते हैं उनके काम को इस समय काल में सराहना मिल सकती है। पारिवारिक जीवन वैसे तो अच्छा रहेगा लेकिन माता के स्वास्थ्य में कुछ कमी आ सकती है, इस दौरान आपको अपनी माता के साथ समय बिताना चाहिए और उनके किसी अच्छे चिकित्सक से इलाज करवाना चाहिए। जो लोग बेरोजगार हैं उन्हें मनचाही जॉब इस दौरान मिल सकती है।

उपाय- बुधवार के दिन गाय को हरा चारा खिलाएं सकारात्मकता आएगी।

धनु

बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि से नवम भाव में होगा। इस भाव को धर्म और भाग्य का भाव कहा जाता है। इस भाव में बुध के गोचर से धनु राशि के लोगों को जीवन के कई क्षत्रों में लाभ की प्राप्ति होगी। आपके अटके काम इस दौरान पूरे हो सकते हैं जिससे आपकी कई परेशानियां दूर होंगी। पारिवारिक जीवन में यदि किसी अन्य सदस्य के साथ कोई मतभेद था तो वो भी इस समय में दूर हो सकता है, जिससे पारिवारिक जीवन में भी शांति रहेगी। माता-पिता के साथ आपके संबंध सुदृढ़ होंगे। इस राशि के नौकरी पेशा लोगों को करियर क्षेत्र में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, कार्यक्षेत्र में अपने व्यवहार को अच्छा रखने की कोशिश करें। बुध के नवम भाव में गोचर के चलते आपकी धार्मिक प्रवृति में कमी आ सकती है जोकि आपके व्यवहारिक गुण से अलग है। इसलिए धार्मिक क्रियाकलापों में हिस्सा लेने से पीछे न हटें। इस राशि के जो विद्यार्थी उच्च शिक्षा अर्जित कर रहे हैं उन्हें इस गोचर काल में सफलता प्राप्त होगी। अपने स्वास्थ्य में सकारात्मक बदलाव करने के लिए इस समय आपको योग ध्यान का सहारा लेना चाहिए।

उपाय- बुधवार के दिन गुड़ का दान करना शुभ रहेगा।

मकर

शनि के स्वामित्व वाली मकर राशि के जातकों के अष्टम भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। इस भाव को आयुर भाव भी कहा जाता है और इससे जीवन में आने वाली बधाओं, शोध, दुर्घटना आदि के बारे में विचार किया जाता है। इस भाव में बुध का गोचर उन जातकों के लिए अच्छा रहेगा जो शोध कर रहे हैं। वहीं कुछ लोग तंत्र-मंत्र जैसी गूढ़ विद्याओं को सीखने के प्रति भी इस समय अकर्षित हो सकते हैं। हालांकि ऐसी विद्याएं आपको बहुत सोच-समझकर सीखनी चाहिएं। वहीं नौकरी पेशा और कारोबारियों को इस दौरान अपने शत्रुओं से बहुत संभलकर रहने की जरुरत है आपका शत्रु पक्ष इस दौरान सक्रिय हो सकता है। स्वास्थ्य जीवन में भी इस राशि के लोगों को कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। आपको अपनी सेहत को दुरुस्त रखने के लिए लगातार प्रयास करने की जरुरत है। बाहर का तला भुना और जंक फूड इस समय काल में आपको नहीं खाना चाहिए। बुध के इस गोचर के दौरान आपको कर्ज लेने और देने से बचना चाहिए नहीं तो धन की हानि हो सकती है। यदि आप इस समय काल में यात्रा करने वाले हैं तो अपने सामान का आपको विशेष ध्यान रखना होगा, चोरी होने की संभावना है। कीमती सामान को यात्रा में न ले जाएं।

उपाय- बुधवार के दिन किन्नरों से आशीर्वाद लें।

कुंभ

वायु तत्व की राशि कुंभ के जातकों के लिए बुध ग्रह का गोचर सप्तम भाव में होगा। यह भाव विवाह और जीवन में होने वाली साझेदारियों का होता है। बुध के इस गोचर के दौरान आप कुछ नए लोगों से जुड़ सकते हैं और उनसे नई चीजें सीख सकते हैं। इस राशि के जो जातक काम के सिलसिले में यात्रा कर रहे हैं उन्हें भी शुभ फलों की प्राप्ति इस दौरान हो सकती है। नौकरी पेशा से जुड़े इस राशि के लोगों के लिए यह समय मिलाजुला रहेगा लेकिन जो लोग साझेदारी में व्यापार करते हैं उनके जीवन में दिक्कतें आ सकती हैं। साझेदार के साथ किसी बात को लेकर यदि मतभेद हैं तो खुलकर उनसे बात करें हल अवश्य निकलेगा। आपके निजी जीवन की बात की जाए तो आपके व्यवहार में जल्दबाजी इस दौरान देखी जा सकती है, जिससे आपके कई काम बिगड़ सकते हैं। इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि मन को स्थिर रखने के लिए ध्यान करें। आर्थिक पक्ष भी ठीक-ठीक रहने की उम्मीद है। यह समय उन कामों को आगे बढ़ाने के लिए भी अच्छा है जो अतीत में किसी वजह से अटक गए थे। हालांकि किसी तरह का नया काम इस दौरान शुरु करने से बचें।

उपाय- बुधवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा करें और उनकी प्रतिमा या तस्वीर पर चंदन का तिलक लगाएं।

मीन

मीन राशि के जातकों के लिए बुध का गोचर उनके षष्ठम भाव में होगा। षष्ठम भाव को रिपु भाव भी कहा जाता है और इससे ऋण, विवाद, अभाव, चोट, बदनामी आदि के बारे में विचार किया जाता है। षष्ठम भाव में बुध ग्रह के गोचर के दौरान आपको अपने माता-पिता के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा। उनकी सेहत बिगड़ने की संभावना है, उन्हें कोई तकलीफ है तो तुरंत किसी अनुभवी डॉक्टर से सलाह लें। प्रॉपर्टी खरीदने या बेचने के लिए यह समय अच्छा है। वहीं इस राशि के जो लोग नौकरी पेशा हैं उन्हें भी इस गोचर के दौरान शुभ फल मिलेंगे। कारोबारी वर्ग के लोगों को इस दौरान बहुत संभलकर लेने-देन या कोई फैसला लेना होगा नहीं तो हानि हो सकती है। इस राशि के जातकों को बिना विचार किये निवेश करने से भी इस दौरान बचना चाहिए। मीन राशि के जो विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं उन्हें बुध के गोचर काल के दौरान सफलता मिल सकती है। शादीशुदा जातकों के जीवन में परेशानियां आ सकती हैं हालांकि इस दौरान आपको यह समझ आ सकता है कि जीवनसाथी के साथ बातों को स्पष्ट करना कितना जरुरी है। जब आप अपनी बातों में स्पष्टता ले आएंगे तो स्थिति खुद-ब-खुद सुधर सकती है। कुल मिलाकर कहा जाए तो मीन राशि के जातकों के लिए बुध का यह गोचर मिलाजुला रहेगा।

उपाय- बुधवार के दिन ब्रह्मणों को फलों का दान करें।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।