• AstroSage Big Horoscope
  • Raj Yoga Reort
  • Kp System Astrologer

गुरु का गोचर

ज्योतिष में गुरु (बृहस्पति) का गोचर सामान्यतः शुभ माना जाता है, क्योंकि इस दौरान जातक को अच्छे परिणामों की प्राप्ति होती है। बृहस्पति को देवताओं का गुरु कहा जाता है, इसे जीवन में प्रगति का कारक माना जाता है। बृहस्पति के प्रभाव से जातक का मन धर्म-कर्म एवं आध्यात्मिक क्रियाओं में अधिक लगता है। इसके अलावा जातक को करियर में उन्नति, स्वास्थ्य लाभ, आर्थिक स्थिति मजबूत, विवाह एवं संतानोत्पत्ति जैसे शुभ फल प्राप्त होते हैं। गुरु एक राशि से दूसरी राशि में गोचर करने के लिए लगभग 13 महीनों का समय लेता है। यदि गुरु जातक की कुंडली में त्रिकोणीय भाव (प्रथम, पंचम एवं नवम भाव) में स्थित होता है तो इसको अति शुभ माना जाता है। गुरु की दया दृष्टि जातक के लिए अमृत समान है। इसके आशीर्वाद से जातक के जीवन में धन-समृद्धि एवं सफलता का आगमन होता है। आइये जानते हैं कि बृहस्पति के गोचर का आपके जीवन पर क्या होगा असर?

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।