• AstroSage Brihat Horoscope
  • AstroSage Big Horoscope
  • Ask A Question
  • Raj Yoga Reort
  • Shani Report
  • Career Counseling

मंगल का कर्क राशि में गोचर - (22 जून, 2019)

वैदिक ज्योतिष के अनुसार मंगल ग्रह ऊर्जा, शक्ति एवं पराक्रम का कारक है। जातक की कुंडली में मंगल साहस और संकल्प शक्ति को दर्शाता है। यह मेष एवं वृश्चिक राशि का स्वामी है और कर्कसिंह राशि के लिए योगकारक ग्रह है। यदि मंगल कुंडली में तीसरे, छठे, दसवें एवं ग्यारहवें भाव में स्थित हो तो इसके परिणाम अच्छे और लाभकारी होते हैं। इसके अलावा मंगल ग्रह रक्त से संबंधित बीमारियों का भी प्रतिनिधित्व करता है।

मनुष्य जीवन पर मंगल का प्रभाव

किसी जातक की कुंडली में यदि मंगल अनुकूल अवस्था में हो तो जातक के स्वभाव में निडरता देखी जा सकती है। ऐसा जातक किसी के दबाव में आकर कोई काम नहीं करता। इसके साथ ही ऐसे लोग आमतौर पर अभिमानी भी हो सकते हैं। जिनकी कुंडली में मंगल अनुकूल अवस्था में होता है, शारीरिक रुप से ऐसे ही लोग बलवान और रुपवान होते हैं। वहीं अगर कुंडली में मंगल की स्थिति अनुकूल न हो तो, जातक को रक्त संबंधी किसी प्रकार की समस्याएं आ सकती हैं। आपके शत्रु आप पर हावी हो सकते हैं और पारिवारिक जीवन में भी आपको समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप मंगल ग्रह के अच्छे फल पाना चाहते हैं तो आपको इससे जुड़े उपाय करने चाहिए।


मंगल ग्रह की शांति के उपाय

ज्योतिष अनुसार मंगल ग्रह की शांति के लिए मंगलवार के दिन मंगल से संबंधित वस्तुओं का आपको दान करना चाहिए। मंगल की होरा या मंगल के नक्षत्रों मृगशिरा, चित्रा और धनिष्ठा में ये दान करना आपके लिए ज्यादा शुभ रहेगा। दान में आप सौंफ, गुड़, तांबे के बर्तन और खांड इत्यादि दे सकते हैं। इसके अलावा घर में मंगल यंत्र स्थापित कर आप हर प्रकार के मंगल दोषों से छुटकारा भी पा सकते हैं। जिन जातक की कुंडली में मंगल कमज़ोर होता है उनके लिए मूंगा रत्न, अनंत मूल या 3 मुखी रुद्राक्ष धारण करना लाभकारी होता है।

गोचर का समय

अब यही पराक्रम और साहस का कारक मंगल ग्रह 22 जून 2019, शनिवार को मिथुन से कर्क राशि में गोचर करेगा। ये गोचर रात्रि 23:21 बजे कर्क राशि में होगा, जिसके बाद मंगल 9 अगस्त 2019 की सुबह 04:32 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेगा। वैदिक ज्योतिष के अनुसार मंगल के इस गोचर का सभी 12 राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। इस राशिफल के अनुसार जानते हैं मंगल के इस गोचर का आपकी राशि पर क्या होगा प्रभाव...

Click here to read in English

यह भविष्यफल चंद्र राशि पर आधारित है। अपनी चंद्र राशि जानने के लिए क्लिक करें: चंद्र राशि कैलकुलेटर

शुक्र का कर्क राशि में गोचर

मेष

मंगल का गोचर आपकी राशि से चतुर्थ भाव में हो रहा है। इस भाव से हम माता, गृह निर्माण, वाहन सुख आदि के बारे में विचार करते हैं। मंगल के इस गोचर के आपको मिलेजुले परिणाम मिलेंगे। अपने माता-पिता का इस दौरान आपको विशेष ख्याल रखना होगा उनकी सेहत में गिरावट आ सकती है। वैवाहिक जीवन में आपको चुनौतियों का सामना भी करना पड़ सकता है। आपका जीवनसाथी इस दौरान किसी बात को लेकर आपसे नाराज़ हो सकता है। उनकी नाराज़गी को दूर करना चाहते हैं तो उनके साथ ज्यादा तर्क-वितर्क न करें। वक्त के साथ चीजें सकारात्मक रूप लेंगी। इस राशि के नौकरी पेशा लोग कार्यक्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। इस गोचर के चलते आपकी ऊर्जा में वृद्धि होगी और आप इस ऊर्जा को अच्छी तरह से इस्तेमाल भी कर पाएंगे। इस दौरान कुछ जातकों की आमदनी में वृद्धि होने की संभवना भी है।

उपाय: मंगलवार को अनंतमूल की जड़ी अपनी भुजा में पहनें।

वृषभ

मंगल के कर्क राशि में प्रवेश करते ही आपका तृतीय भाव सक्रिय हो जाएगा। काल पुरुष कुंडली में यह भाव मिथुन राशि का है और यह आपके साहस और पराक्रम का कारक होता है। इस भाव में मंगल के गोचर से आपकी संकल्प शक्ति में इज़ाफा होगा। आप जो सोचेंगे उसे करने की पूरी कोशिश करेंगे। हालांकि आपको सलाह दी जाती है कि किसी भी चीज की अति न करें इससे आपको नुक्सान हो सकता है। तृतीय भाव में मंगल के गोचर के चलते आपके छोटे भाई-बहनों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती हैं, इसलिए उनकी सेहत का ख्याल रखें। आपके जीवनसाथी को कार्यक्षेत्र में कामयाबी मिलने के योग हैं। यह गोचर समाज में आपके मान-सम्मान को भी बढ़ाएगा और इस दौरान आप अपने विरोधियों पर हावी रहेंगे। हालांकि आपको बेवजह के विवादों में इस समय नहीं पड़ना चाहिए। इस राशि के कुछ जातक इस दौरान छोटी दूरी की यात्रा पर भी जा सकते हैं।

उपाय: मंगलवार के दिन लाल मसूर का दान करें।

मिथुन

मंगल का गोचर आपकी राशि से द्वितीय भाव में हो रहा है। यह भाव धन और वाणी का कारक माना जाता है। द्वितीय भाव में मंगल के गोचर के चलते आपकी वाणी में कर्कशता आ सकती है। अगर आप शादीशुदा हैं तो आपका जीवनसाथी आपकी बातों से इस दौरान आहत हो सकता है। पारिवारिक जीवन में भी इस दौरान आप आक्रामक हो सकते हैं और आपका व्यवहार परिवार के सदस्यों को भी ठेस पहुंचा सकता है। आर्थिक पक्ष इस अवधि में मजबूत होगा। सेहत पर इस वक्त ध्यान देने की जरूरत है, आपका गलत व्यवहार आपको मानसिक तनाव दे सकता है। ऐसी स्थिति से बचने के लिए आपको एकांत में समय बिताने की जरूरत है और खुद का आकलन करने की आवश्यकता है। छात्र इस दौरान गलत संगति से बचकर रहें और जितना हो सके अपनी पढ़ाई पर ध्यान दें। अगर आपको पाठ्यक्रम के किसी विषय में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है तो अपने गुरुजनों से बात करें।

उपाय: ग़रीबों और ज़रूरतमंदों को अनार का दान करें।


कुंडली में मंगल को मजबूत करने के उपाय- यहाँ क्लिक कर पढ़ें!

कर्क

मंगल ग्रह आपकी ही राशि अर्थात आपके प्रथम भाव या लग्न भाव में गोचर करेगा। काल पुरुष कुंडली में यह भाव मेष राशि का होता है और इस भाव से हम स्वभाव, स्वास्थ्य, आत्मज्ञान और आपके रंग रुप के बारे में विचार करते हैं। इस भाव में मंगल के गोचर से आपकी सेहत में गिरावट आ सकती है। इस गोचर के चलते आपको छोटी-छोटी बातों से भी ठेस पहुँच सकती है और आप बात-बात पर भावुक हो सकते हैं। हालांकि इस दौरान आपके क्रोध और अहंकार में भी वृद्धि देखी जा सकती है। जीवनसाथी के साथ बात करते समय शब्दों का सोच-समझकर इस्तेमाल करें आपकी कोई बात झगड़े का कारण बन सकती है। कार्यक्षेत्र में आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। आपके अच्छे प्रयास आपको प्रगति के मार्ग पर ले जाएंगे। छात्रों के लिए यह गोचर अच्छा रहेगा, आप अपना ज्यादातर समय किताबों के बीच बिताना पसंद करेंगे। इस गोचर के दौरान आप विषम परिस्थितियों में भी अपने साहस के बल पर अच्छे परिणाम प्राप्त कर पाएंगे।

उपाय: रोज़ाना चाँदी के बर्तनों का प्रयोग करें।

सिंह

आपकी राशि से द्वादश भाव में मंगल का गोचर होगा। इस समयावधि में आप नौकरी या उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए विदेश जा सकते हैं। वहीं इस राशि के जो लोग पहले से ही विदेशों में रह रहे हैं उन्हें थोड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। कोर्ट-कचहरी से जुड़े मामलों में इस दौरान आपको सफलता मिलेगी। आर्थिक पक्ष थोड़ा कमजोर रह सकता है इस समय आपके ख़र्चों में वृद्धि हो सकती है जिसकी वजह से आपको मानसिक परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है। वैवाहिक जीवन में भी संभलकर चलने की आवश्यकता है इस समय आपके जीवनसाथी के स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है। कार्यक्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करें और गप्पबाजी से बचें। जीवन की आपाधापी में खुद के लिए भी वक्त निकालना सीखें। इस राशि की गृहणियों को जीवनसाथी से कोई तोहफ़ा मिल सकता है। यह तोहफ़ा रिश्ते में नयी ताज़गी ला सकता है।

उपाय: मंगल बीज मंत्र का जाप करें।

कन्या

आपके एकादश भाव में मंगल के गोचर से आपको जीवन के किसी क्षेत्र में उच्च लाभ मिलने की पूरी संभावना है। इस गोचर के चलते आपको आर्थिक परेशानियां नहीं होंगी और धन का आगमन किसी न किसी स्रोत से होता रहेगा। आर्थिक पक्ष मजबूत होने के कारण आप जीवन के अन्य पहलुओं पर ध्यान लगा सकेंगे। वैवाहिक जीवन में थोड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आपको ऐसा महसूस हो सकता है कि आपके प्रति जीवनसाथी के प्रेम में कमी आ गई है। प्रेम संबंधों में पड़े इस राशि के जातकों को अपने संगी के प्रति ईमानदार होने की जरूरत है। सामजिक जीवन में आपको अच्छे फल मिलेंगे। अपने दोस्तों के साथ आप सैर-सपाटे पर जा सकते हैं। नौकरी पेशा लोग कार्यक्षेत्र में अपना प्रभुत्व बनाएंगे। आपके विरोधी इस दौरान आपके सामने टिक नहीं पाएंगे। कारोबारियों को इस दौरान किसी ऐसे काम से लाभ हो सकता है जिसमें सफलता मिलने की उनको उम्मीद नहीं थी।

उपाय: तांबा एवं लाल पुष्प का दान करना आपके लिए शुभ होगा।

तुला

मंगल ग्रह का गोचर आपकी राशि से दशम भाव में होगा। दशम भाव को कर्म भाव भी कहा जाता है। पारिवारिक मोर्चे पर आपको इस दौरान संभलकर चलने की जरूरत है। इस गोचर के दौरान घर में किसी बात को लेकर वाद-विवाद की स्थिति बन सकती है। मंगल के प्रभाव से इस दौरान आपका स्वभाव भी उग्र रहेगा। अपनी वाणी पर संयम रखने की कोशिश करें। नौकरी पेशा लोगों को कार्यक्षेत्र में अच्छे परिणाम मिलेंगे। आपका अच्छा काम बॉस की नजरों में आ सकता है और आपको पदोन्नति मिल सकती है। स्वास्थ्य को लेकर इस दौरान गंभीर होने की जरूरत है, ऐसे में जितना हो सके घर से बाहर भोजन करने से बचें। प्रेम में पड़े इस राशि के जातकों के जीवन में अड़चनें आ सकती हैं। छात्रों को भी पढ़ाई से ज्यादा इस समय खेलने-कूदने में मजा आएगा। खेलना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है लेकिन पढ़ाई के लिए भी समय अवश्य निकालें।

उपाय: मंगलवार के दिन शिवलिंग पर गेहूँ एवं चना चढ़ाएँ।

वृश्चिक

भविष्यफल के अनुसार मंगल का गोचर आपकी राशि से नवम भाव में हो रहा है। इस भाव को धर्म भाव भी कहा कहा जाता है। यह भाव कारक है धर्म का, भाग्य का, गुरु और गुरुतुल्य लोगों का। इस समय में आपको अच्छे फल पाने के लिए कठिन संघर्ष करना पड़ेगा। पिता से आपके संबंध बिगड़ सकते हैं और उनकी सेहत में गिरावट भी देखी जा सकती है। भाई-बहनों से रिश्ते बिगड़ सकते हैं इसलिए अपने अहम को पीछे रखकर उनसे बात करें। कार्यक्षेत्र में इस दौरान आपको सफलता मिलेगी और इस राशि के कुछ लोग जॉब में परिवर्तन भी कर सकते हैं। धर्म के प्रति आपका रुख इस दौरान अच्छा नहीं रहेगा। धर्म की बातों में आप कोई दिलचस्पी नहीं लेंगे। इस दौरान आप किसी लंबी दूरी की यात्रा पर भी जा सकता हैं। छात्रों को पढ़ाई के प्रति सकारात्मक रुख अपनाने की जरूरत है। अगर पढ़ाई में आपका मन नहीं लग पा रहा है तो योग ध्यान का सहारा लें आपको फायदा मिलेगा।

उपाय: मंगलवार को अनंतमूल की जड़ अपनी भुजा या गले में धारण करें।

धनु

मंगल ग्रह आपकी राशि से अष्टम भाव में गोचर करेगा। इस भाव में मंगल के गोचर के चलते इस राशि के जातकों को जीवन में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपको ऐसा महसूस हो सकता है कि आपकी बातों का लोग गलत अर्थ निकाल रहे हैं। ऐसी स्थिति आपको खिन्न करेगी लेकिन फिर भी आप खुद को संभाल लेंगे। इस समय आपकी सेहत भी बिगड़ सकती है इसलिए अपने स्वास्थ्य का इस वक्त ध्यान दें। वैवाहिक जीवन में तकरार की स्थिति बन सकती है। अपने पिता के स्वास्थ्य का भी इस दौरान आपको ख्याल रखना होगा, उन्हें कोई छोटी-मोटी परेशानी भी हो तो डॉक्टर के पास ले जाएं। अगर आप वाहन चलाते हैं तो इस दौरान नियमों का उल्लंघन न करें। इस राशि के जो लोग साधना करते हैं वो इस दौरान मदिरा और माँस का सेवन न करें तो अच्छा रहेगा। आपके भाई-बहनों को इस दौरान जीवन में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। उनके साथ समय बिताकर आपको उनकी उलझनें दूर करनी चाहिए।

उपाय: चाँदी का कड़ा हाथ में पहनें।

मकर

मंगल ग्रह आपकी राशि से सप्तम भाव में गोचर करेगा। काल पुरुष की कुंडली में यह स्थान तुला राशि का होता है। इस भाव से मुख्य रूप से हम जीवन में होने वाली साझेदारियों के बारे में विचार करते हैं। मंगल के गोचर से आपके जीवन में थोड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपको अपने क्रोध पर भी नियंत्रण रखने की जरूरत है। जीवनसाथी के साथ तकरार न हो इसलिए जितना हो सके ठंडे दिमाग से उनके साथ बात करें। यह समय कार्यक्षेत्र में भी बहुत अच्छा नहीं रहेगा आपको कड़ी मेहनत के बाद ही अच्छे परिणाम मिलेंगे। छात्रों को इस दौरान यार दोस्तों से थोड़ा दूर रहना चाहिए नहीं तो आपकी पढ़ाई पर इसका बुरा प्रभाव पड़ सकता है। अगर आप सिंगल हैं तो किसी विपरीत लिंगी की तरफ आज आकर्षित हो सकते हैं। हालांकि किसी भी रिश्ते में आगे बढ़ने से पहले आपको सामने वाले के बारे में ठीक से जान लेना चाहिए।

उपाय: मंगलवार के दिन गुड़ का दान करें।

कुंभ

आपके षष्टम भाव में मंगल ग्रह का गोचर होगा। इस दौरान किसी अन्य के मामले में टांग अड़ाने से आपको बचना चाहिए क्योंकि ऐसा करके आप अपना ही नुकसान कर सकते हैं। कार्यक्षेत्र में आपका प्रदर्शन इस समय सामान्य रहेगा हालांकि अपने विरोधियों पर इस दौरान आप हावी रहेंगे। पारिवारिक जीवन जैसा चल रहा है वैसा चलता रहेगा लेकिन वैवाहिक जीवन में थोड़ी बहुत परेशानियों का सामना आपको करना पड़ सकता है। इस अवधि में आपके जीवनसाथी के स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है। ख़र्चों में वृद्धि होने के कारण चिंतित हो सकते हैं। छात्रों को उन दोस्तों से दूर रहने की जरूरत है जो आपका समय बर्बाद करते हैं। गलत संगति में रहने से अच्छा है आप अकेले वक्त बिताएं। कारोबारी लोग जिन योजनाओं को लागू करने के बारे में सोच रहे हैं उनपर उन्हें ठंडे दिमाग से विचार करने की जरूरत है।

उपाय: मंगवार के दिन लाल चंदन का दान करें।

मीन

मंगल ग्रह का गोचर आपकी राशि से पंचम भाव में हो रहा है। इस भाव को संतान भाव भी कहा जाता है। इस भाव में मंगल के गोचर के चलते आपके बच्चों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती हैं इसलिए उनका ख्याल रखें। नौकरी पेशा से जुड़े लोगों को कार्यक्षेत्र में लाभ मिलेगा, इस अवधि में आपकी आमदनी में वृद्धि हो सकती है। छात्रों के लिए यह समय थोड़ा कठिन होगा, पढ़ाई से इस दौरान आपका ध्यान बार-बार भटकेगा। हालांकि इस राशि के कुछ छात्र इस दौरान पढ़ने के लिए विदेश जा सकते हैं। दांपत्य जीवन में ख़ुशियाँ आएंगी, आपके जीवनसाथी को इस दौरान अप्रत्याशित लाभ मिल सकता है। अगर किसी से प्रेम करते हैं तो इस दौरान उनको प्रपोज न करें। जो लोग पहले से ही प्रेम में पड़े हैं उन्हें अपने संगी के साथ आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए साथ बैठकर बात करनी चाहिए।

उपाय: हनुमान जी की पूजा करें और उन्हें सिंदूर चढ़ाएं।


रत्न, यंत्र समेत समस्त ज्योतिषीय समाधान के लिए विजिट करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

लेखक: नवीन खंतवाल

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।