• Varta Astrologers
  • Personalized Horoscope
  • Mragaank
  • Kriti
  • Parul
  • Vinnie

मंगल का सिंह राशि में गोचर (20 जुलाई 2021)

मंगल ग्रह, गतिशीलता और जीवन शक्ति का कारक ग्रह माना जाता है औऱ सभी ग्रहों में इसे एक योद्धा और सेना नायक का दर्जा प्राप्त है। कुंडली में इसकी अच्छी स्थिति व्यक्ति को युवा ऊर्जा से भरती है और साथ ही कमाल की शक्ति भी प्रदान करती है, खासकर जब यह लग्न में हो।

एस्ट्रोसेज वार्ता से दुनियाभर के विद्वान ज्योतिषियों से करें फोन पर बात

मंगल का सिंह राशि में गोचर

मंगल को भावुक प्रेमी माना जाता है जो प्यार में रोमांस और आकर्षण लाता है। अग्नि और भूमि का कारक ग्रह मंगल, संपत्ति के कारक भाव में होने पर संपत्ति और भूमि प्रदान करता है। इसका संबंध हड्डी और खून से भी माना जाता है, इसलिए जिन लोगों की कुंडली में यह अच्छी स्थिति में होता है उन्हें अच्छा सर्जन बनने को प्रेरित करता है। शनि की स्वामित्व वाली मकर राशि में यह उच्च का होता है और चंद्रमा के स्वामित्व वाली कर्क राशि में नीच का। यह गोचर मंगल ग्रह को फिर से ऊर्जा से भरेगा। सिंह राशि में मंगल 20 जुलाई 2021 को 17.21 पर प्रवेश करेगा। मंगल 6 सितंबर 2021 तक सिंह राशि में ही रहेगा और 6 सितंबर को सुबह 3.21 बजे कन्या राशि में प्रवेश कर जाएगा।

आइए देखते हैं कि सभी राशियों के लिए मंगल का यह गोचर कैसा रहेगा।

यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है। इसके अलावा व्यक्तिगत भविष्यवाणी जानने के लिए ज्योतिषियों के साथ फ़ोन पर या चैट पर जुड़े

Click Here to read in English: Mars Transit in Leo (20 July 2021)

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए मंगल उनकी आत्मा और शरीर के प्रथम और अनिश्चितताओं के आठवें घर का स्वामी है। चूँकि यह आपके लग्न का स्वामी है, इसलिए यह मेष राशि के जातकों के लिए महत्वपूर्ण ग्रह माना जाता है, यह मेष राशि के जातकों के मूड और दिन-प्रतिदिन के जीवन को प्रभावित करता है। वर्तमान में मंगल का गोचर आपके अध्ययन, प्रेम और बच्चों के पांचवें घर में हो रहा है, इस भाव में मंगल के होने से पेट की समस्याएं जैसे, जलन और एसीडिटी आपको हो सकती है। आपको अपने स्वास्थ्य की अच्छी देखभाल करने और बहुत गर्म और मसालेदार भोजन न करने की सलाह दी जाती है, नहीं तो आपका स्वास्थ्य खराब हो सकता है। इसके अलावा, आपको इस दौरान वाहन चलाते समय सावधानी बरतनी चाहिए, क्योंकि मंगल की चतुर्थ दृष्टि आपके आठवें भाव पर होगी, जिससे आपको दुर्घटनाओं का खतरा होगा। जो लोग रोमांटिक रिश्तों में हैं वे सावधान रहें, क्योंकि आपकी तीव्र भावनाएं और कुछ कार्य आपके लवमेट को परेशान कर सकते हैं और आपके प्रेम जीवन में दिक्कत आ सकती है। आपका आर्थिक जीवन अच्छा रहेगा और आपके ग्यारहवें भाव पर मंगल की दृष्टि होने के कारण अप्रत्याशित या अचानक लाभ की संभावनाएं है। मेडिकल की पढ़ाई कर रहे इस राशि के छात्रों के लिए एक अनुकूल अवधि होगी, अपने विषयों को जानने के प्रति आपका जुनून बढ़ता जाएगा, और आप अपनी परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगे।

उपाय- मंगलवार के दिन व्रत रखें।

वृषभ

वृषभ राशि के लोगों के लिए मंगल ग्रह हानि और विदेश यात्राओं के द्वादश भाव का स्वामी है इसके साथ ही यह आपके विवाह के सप्तम भाव का स्वामी भी है। वर्तमान गोचर के दौरान यह परिवार और सुख के आपके चौथे भाव में होगा। यहाँ मंगल की स्थिति आपकी माता के स्वास्थ्य के लिए अच्छी नहीं कही जा सकती उन्हें सेहत बिगड़ सकती है, आपको उनकी नियमित जाँच करवानी चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वह समय पर अपनी दवाओं को अच्छी तरह से लें। यदि किसी संपत्ति पर निवेश करने की योजना बना रहे हैं, तो समय अनुकूल है, आप कोई अच्छा सौदा करने में इस दौरान कामयाब होंगे। साथ ही, यह अवधि संपत्ति को बेचने के लिए भी अनुकूल है, क्योंकि आपको संभावित ग्राहक मिलेंगे, जिसके कारण आप अच्छा सौदा कर सकते हैं। इस राशि के विवाहित जातकों के जीवन में कुछ परेशानियां आ सकती हैं, हालांकि लड़ाई झगड़े बचने की आपको कोशिश करनी चाहिए और अपने जीवनसाथी की रुचियों को समझकर अनुकूल व्यवहार करना चाहिए। जो लोग सैन्य सेवाओं, पुलिस सेवाओं, इंजीनियर, डॉक्टर, सर्जन हैं, वे अपने पेशे में अच्छा कर सकते हैं और उन्नति के पथ पर बढ़ सकते हैं। नौकरी पेशा लोगों का जीवन भी संतुलित रहेगा। आर्थिक जीवन बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकता क्योंकि आप अपनी कमाई का अधिकांश हिस्सा अपने प्रियजनों के स्वास्थ्य और सुरक्षा पर खर्च करेंगे। आप इस अवधि के दौरान व्यावसायिक यात्रा पर भी खर्च कर सकते हैं।

उपाय- रोज हनुमान चालीसा का पाठ करें।

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए मंगल प्रतिस्पर्धा, ऋण और बीमारियों के छठे घर का स्वामी है और इसके साथ ही आय, लाभ और बड़े भाई-बहनों के ग्यारहवें भाव का स्वामी भी है। मंगल का गोचर आपके साहस-पराक्रम और छोटे भाई-बहनों के तृतीय भाव में होगा। इस घर में मंगल की स्थिति आपके लिए लाभदायक है क्योंकि यह आपको हर कार्य को पूरा करने के लिए साहस और शक्ति प्रदान करेगा। इस गोचर से नौकरियों की तलाश करने वाले फ्रेशर्स लाभान्वित होंगे, क्योंकि इस अवधि के दौरान आपको अच्छे अवसर और नौकरी के प्रस्ताव मिलेंगे और आप अपने प्रयासों से सर्वश्रेष्ठ नौकरी पा सकते हैं। जो लोग नौकरी बदलने का प्रयास कर रहे हैं, वे भी कोई अच्छी नौकरी पा सकते हैं, इस दौरान आपका कार्य कौशल और गतिशीलता उच्च होगी जो आपको इंटरव्यू को पास करने में मदद करेगी। जो लोग स्थानांतरण का इंतजार कर रहे थे, उन्हें इस दौरान खुशखबरी मिल सकती है क्योंकि यह समय आपके अनुकूल होगा। आपके छोटे भाई-बहनों के साथ आपका रिश्ता बहुत सौहार्दपूर्ण नहीं रहेगा और आप उनसे लड़-झगड़ सकते हैं। आपका मिजाज इस दौरान दोस्ताना होगा और आप नए दोस्त बना सकते हैं। आप अपने दोस्तों और परिचितों के साथ छोटी यात्राओं पर भी निकल सकते हैं।

उपाय- मंगलवार के दिन भगवान हनुमान को सिंदूर और लाल कपड़ा अर्पित करें।

कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए मंगल एक योगकारक ग्रह है यह कर्क राशि के जातकों के पंचम और दशम भाव का स्वामी ग्रह है। मंगल आपके संचित धन, कुटुंब और वाणी के दूसरे घर में गोचर करेगा। आपको इस दौरान अपनी वाणी पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है, क्योंकि इस अवधि के दौरान आपकी वाणी में आक्रामकता और रुखापन देखा जा सकता है। आपका गुस्सा घर में टकराव ला सकता है, और आपकी माँ के साथ आपके रिश्ते को खराब कर सकता है। यह अवधि सामान्य रूप से छात्रों के लिए अनुकूल होगी, आप अपने विषयों के प्रति झुकाव महसूस करेंगे और पूरे जोश और समर्पण के साथ अध्ययन करेंगे। इस राशि के नौकरी पेशा लोगो के लिए भी यह समय शुभ होगा, इस राशि के कुछ जातक अपने शौक को अपने पेशे में बदल सकते हैं। यह समय अच्छे आपके लिए अच्छे अवसर लेकर आएगा जिनमें अपना कार्य कौशल दिखाकर आप अच्छा धन कमा सकते हैं। जो लोग पारिवारिक व्यवसाय में हैं, उनकी भी अच्छी कमाई होने की संभावना है, क्योंकि आपके व्यवसाय को लेकर अच्छी समझ होगी और आप लाभदायक सौदे करने में सक्षम होंगे। इस अवधि के दौरान, आपकी किस्मत आपका साथ देगी और आप बिना अधिक मेहनत के भी अपने प्रयासों में सफलता प्राप्त कर पाएंगे। आप धार्मिक गतिविधियों में भाग लेने के भी इस दौरान इच्छुक होंगे।

उपाय- रविवार को मंदिर में चने की दाल का दान करें।


करियर से जुड़ी हर समस्या को दूर करने के लिए अभी ऑर्डर करें- कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

सिंह

इस गोचर के दौरान मंगल ग्रह आपके प्रथम भाव में होगा। इस दौरान आप आत्मविश्वास से भरे होंगे, आपको बस यह सुनिश्चित करना होगा कि यह अति-आत्मविश्वास और अहंकार में परिवर्तित न हो। आपके पास एक दृढ़ इच्छा-शक्ति जिसके चलते सार्वजनिक व्यवहार में आपके लिए कई चीजें आसान हो जाएंगी। आप इस समय एक शाही जीवन शैली जीना पसंद करेंगे। वो जातक जो प्रेम संबंधों में हैं, इस दौरान अतिरिक्त बोल्ड हो सकते हैं, आपको बस यह सुनिश्चित करने की ज़रूरत है कि आप अपने संगी की बात सुनें, और उनको ऐसा महसूस न करवाएं कि आपके जीवन में उनकी कोई अहमियत नहीं है। विवाहित जातकों को दांपत्य जीवन में कुछ गलतफहमियों का सामना करना पड़ सकता है, दांपत्य जीवन के मसलों को शांति से सुलझाने की आपको कोशिश करनी चाहिए। आपको अपने जीवनसाथी पर भरोसा करने और अत्यधिक अधिकार जमाने से बचने की सलाह दी जाती है। यदि आप सरकारी क्षेत्र, प्रशासनिक सेवा या किसी आधिकारिक पद पर हैं तो इस दौरान आपको सफलता मिलेगी। आपको इस समय अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा क्योंकि आप तनाव के कारण सिरदर्द की समस्या से जूझ सकते हैं, इसके साथ ही कुछ जातकों को एसीडिटी की समस्या भी हो सकती है।

उपाय- प्रतिदिन सूर्य को अर्घ्य दें।

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए मंगल का गोचर उनके द्वादश भाव में होगा। इस गोचर के दौरान आपको मिश्रित फलों की प्राप्ति होगी। इस राशि के कारोबारी और नौकरी पेशा लोग इस गोचर के दौरान आर्थिक लाभ की उम्मीद कर सकते हैं और कई स्रोतों से धन प्राप्त कर सकते हैं। यह समय आपके लिए प्रसिद्धि लाएगा और समाज में आपका कद बढ़ेगा। हालाँकि इस दौरान आप अति-तनाव ग्रस्त हो सकते हैं और आपकी रातों की नींद में खलल पड़ सकता है। आप कुछ अप्रत्याशित खर्चे देख सकते हैं जो आपको वित्तीय रूप से अस्थिर बना सकते हैं, इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि अपने खर्चों का ध्यान दें और सही बजट प्लान बनाएं। यदि आप विदेश में बसने की योजना बना रहे हैं, तो यह समय आपके लिए भाग्यशाली नहीं माना जा सकता है। इसके अलावा, यदि आप पहले से ही विदेश में काम कर रहे हैं, तो आप कुछ संघर्ष कर सकते हैं। किसी दुर्घटना या शारीरिक चोट से बचने के लिए आपको अतिरिक्त सतर्कता बरतनी होगी। विवाहित जातकों की बात की जाए तो इस दौरान आप जीवनसाथी के साथ तर्क-वितर्क कर सकते हैं, आपको इससे बचने की कोशिश करनी चाहिए।

उपाय- मंगलवार के दिन तांबे के बर्तन दान करें।

तुला

मंगल अपनी वर्तमान गोचरीय अवस्था में आपके एकादश भाव में स्थित होगा। इस भाव में मंगल की स्थिति आपको मजबूत इच्छाशक्ति प्रदान करेगी। इस दौरान आप चुनौतीपूर्ण कार्यों को आसानी से पूरा कर पाएंगे। सफलता पाने के लिए आप कड़ी मेहनत भी करेंगे। आप धन संचय करने में भी सफल होंगे। इस अवधि में आपको अपने परिवार और दोस्तों का भी साथ मिलेगा। यदि आप एक एथलीट हैं, तो आप इस समय ऊंचाइयों छू सकते हैं। आप इस समय घरेलू चीजों पर और परिवार के लिए आरामदायक चीजों पर भी खर्च कर सकते हैं। इस राशि के जो लोग प्रेम संबंधों में पड़े हैं वह अपने लवमेट से इस दौरान झगड़ सकते हैं, आपको लवमेट के साथ किसी भी बात को लेकर उलझने से बचना चाहिए और रिश्ते को बनाए रखने के लिए हर स्थिति को शांति से सुलझाना चाहिए। प्रेम संबंध में होने के नाते, यदि आप अपने साथी को शादी के लिए प्रपोज करना चाहते हैं, तो यह एक अच्छा समय हो सकता है। ग्यारहवें घर में बैठे मंगल की दृष्टि आपके वाणी के द्वितीय भाव पर होगी इसलिए इस दौरान आपको बातचीत के दौरान शब्दों का इस्तेमाल संभलकर करना चाहिए, आपकी वाणी में इस दौरान कठोरता हो सकती है और इससे किसी के दिल को चोट पहुंच सकती है।

उपाय- अपने भाई-बहनों को उपहार और मिठाई भेंट करना शुभ फल प्रदान करेगा।

वृश्चिक

वर्तमान गोचर के दौरान मंगल ग्रह आपके दशम भाव में विराजमान होगा। यह समय उन जातकों के लिए सफलता लेकर आएगा जो सरकारी नौकरी में कार्यरत हैं। आपको सलाह दी जाती है कि इस समय आप जो कुछ भी करें वह नियमों और कानून के अनुसार होना चाहिए। यदि आप कायदे कानून के हिसाब से चलेंगे तो समाज मेें आपको सम्मान भी प्राप्त होगा। आप आत्मविश्वास से भरे रहेंगे और आपका व्यक्तित्व मजबूत होगा। काम पर आपकी प्रबंधन क्षमताओं को सभी लोगों द्वारा सराहा जाएगा। आपकी वाणी में दृढ़ता रहेगी और लोग आपकी बात मानेंगे और उनका सम्मान करेंगे। हालाँकि, आपको सलाह दी जाती है कि आप कार्यालय की राजनीति में न उलझें क्योंकि यह आपके काम की प्रगति में बाधा बन सकता है। यह गोचर आपकी माता के लिए बहुत अच्छा नहीं माना जा सकता इस दौरान आपको उनकी सेहत का ख्याल रखना होगा। जरूरत पड़ने पर आपको उनकी देखभाल करनी होगी और किसी अच्छे डॉक्टर से उनकी जांच करवानी होगी। आपके परिवार में सभी के बीच सामंजस्य रहेगा और विवाहित जातकों का अपने साथी के साथ अच्छा समय बीतेगा। आप अपने परिवार में जिम्मेदारी से काम करेंगे और हर कोई आप पर भरोसा करेगा।

उपाय- प्रतिदिन मंदिर जाकर हनुमान जी का आशीर्वाद लें।


राजयोग रिपोर्ट से जानें कब खुलेगी आपकी किस्मत और कब आएंगी जीवन में खुशियां

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए मंगल विदेश और हानि के उनके द्वादश और मनोरंजन,शिक्षा आदि के पंचम भाव का स्वामी है। वर्तमान गोचरीय अवस्था में मंगल आपके नवम भाव में होगा। आप इस गोचर के दौरान यात्राएं कर सकते हैं। आप धार्मिक स्थानों पर जा सकते हैं या किसी तीर्थ यात्रा पर भी निकल सकते हैं। विद्वानों और शिक्षकों के लिए अनुकूल अवधि होगी, आप अपने ज्ञान को इस दौरान बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा, जो लोग उच्च शिक्षा प्राप्त करने की योजना बना रहे हैं उन्हें इस अवधि का सही इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि भाग्य आपका साथ देगा और आप अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं, इस दौरान आप अच्छे कॉलेज में दाखिला पा सकते हैं। आप इस दौरान अपने पिता और गुरुओं के साथ अपने संबंधों में कुछ जटिलताओं का सामना कर सकते हैं, आपको सलाह दी जाती है कि आप उनके साथ किसी तरह की भी गलत चर्चा या बातचीत न करें। इस गोचर की अवधि में आपको शास्त्रों और पौराणिक विषयों को पढ़ने में रुचि हो सकती है। कॉलेज या कार्यस्थल पर अपनी परियोजनाओं को पूरा करने में आपको अपने छोटे भाई-बहनों से सहायता मिलेगी। जो लोग रोमांटिक रिश्तों में हैं वे अपने साथी के साथ गर्मजोशी भरा समय बिताएंगे, आप अपने संगी के प्रति आकर्षण महसूस करेंगे और प्यार की भावनाएं तीव्र होंगी। आप अपने रिश्ते को अगले स्तर पर ले जाने और अपने साथी को अपने परिवार से मिलाने की योजना भी बना सकते हैं।

उपाय- किसी महत्वपूर्ण कार्य के लिए निकलने से पहले अपने गुरु, पिता और बड़ों से रोज़ आशीर्वाद लें।

मकर

मकर राशि में मंगल ग्रह उच्च का होता है, जिसका तात्पर्य है कि इसका गोचर मकर राशि के जातकों के जीवन में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव लाता है। मंगल आपके घरेलू सुख-सुविधाओं के चौथे घर और लाभ के एकादश घर का स्वामी है। मंगल का यह गोचर आपके अष्टम भाव में होगा। मंगल का यह गोचर मकर राशि के जातकों के स्वास्थ्य के लिए बहुत शुभ नहीं है। आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने स्वास्थ्य की अच्छी देखभाल करें और राह पर चलते या ड्राइविंग करते समय सतर्क रहें क्योंकि आप दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं। यदि किसी वाहन को खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो कुछ समय के लिए रुक जाएं क्योंकि यह समय आपके लिए बहुत अनुकूल नहीं है। आपको अपने पारिवारिक जीवन में कुछ संकट का सामना करना पड़ सकता है या सदस्यों के बीच कुछ गलतफहमी हो सकती है। आपको परिवार या बाहरी लोगों के साथ किसी भी तरह के झगड़े में शामिल होने से बचना चाहिए, क्योंकि झगड़ा हिंसा में भी बदल सकता है। इस दौरान आपकी आय में अचानक वृद्धि होने से आपको लाभ हो सकता है। इस दौरान नए दोस्त बनाते समय आपको सावधान रहना चाहिए, क्योंकि वो दोस्ती के लिबास में दुश्मन हो सकते हैं जो आपके खिलाफ साजिश रच सकते हैं। अपनी व्यावसायिक योजनाओं और सौदों के बारे में किसी को इस दौरान न बताएं गुप्त, क्योंकि प्रतिद्वंद्वियों की आप पर नजर होगी वो आपके विचारो को चुरा सकते हैं।

उपाय- मंगलवार के दिन हनुमान जी को बेसन की मिठाई चढ़ाएँ।

कुंभ

मंगल आपके साहस-पराक्रम के तीसरे और करियर के दशम भाव का स्वामी है। यह आपके साझेदारी, व्यवसाय और दांपत्य जीवन के सातवें घर में गोचर करेगा। इस अवधि के दौरान कारोबारियों का उद्योग फैलेगा, आप अपने संबंधित उद्योग में प्रतिष्ठा प्राप्त करेंगे और ग्राहकों के दिल को जीत पाने में सक्षम होंगे। इस प्रकार, हर तरह से आपके संसाधनों में विस्तार होगा और व्यापार बढ़ेगा। जो लोग साझेदारी में व्यवसाय कर रहे हैं वो भी मन लगाकर काम करेंगे और अच्छी डील प्राप्त करने में सक्षम होंगे। आप इस अवधि के दौरान अपने दोस्त और परिचितों की मदद भी ले सकते हैं, जिससे आपको और बल मिलेगा। आप काम के सिलसिले में यात्रा कर सकते हैं, ये यात्राएं आपके लिए भविष्य में उत्पादक परिणाम लाएंगी। विवाहित जातकों को सलाह दी जाती है कि आप सतर्क रहें, क्योंकि आप अपने विवाहित जीवन में परेशानियों का सामना कर सकते हैं। आपको सलाह दी जाती है कि आप शांत रहें और क्रोध करने से बचें, अन्यथा आप अपने जीवनसाथी के लड़ाई-झगड़ा करके मुद्दे को और जटिल बना सकते है। कुल मिलाकर आप इस अवधि के दौरान ऊर्जा और गतिशीलता के साथ आगे बढ़ेंगे, और कम समय में अपने बहुत से कार्यों को पूरा करेंगे।

उपाय- मंगलवार और शनिवार को "बजरंगबाण" का पाठ करें।

मीन

मंगल ग्रह का गोचर मीन राशि के जातकों के छठे भाव में होगा। यह समय आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। आप सफलता प्राप्त कर पाएंगे लेकिन संघर्ष और कड़ी मेहनत के बाद। यदि आप शिक्षक, इंजीनियर, मैकेनिक, या कुछ इसी तरह की नौकरी करते हैं, तो सफलता पाना आपके लिए आसान होगा। आप कभी-कभी यह भी महसूस कर सकते हैं कि आपको अपने सहयोगियों का समर्थन नहीं मिल रहा है, ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि आप लोगों के स्वाभिमान को अनदेखा करते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि आप यथासंभव मानवीय रूप से काम करें, और किसी भी ऐसी चीज की कामना न करें जो वास्तविकता में होना संभव नहीं है। इस समय आप अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि आपके व्यवहार में इस समय मजबूती देखी जाएगी। आपको कुछ अप्रत्याशित खर्चे करने पड़ सकते हैं जिससे आपकी आर्थिक स्थिति असंतुलित हो सकती है। आपको इस समय अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहना होगा क्योंकि आप हड्डियों, त्वचा या आँखों से संबंधित किसी बीमारी से पीड़ित हो सकते हैं। पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो आप अपने भाई के साथ बहस कर सकते हैं, आपको किसी भी मसले को शांति से सुलझाने की कोशिश करनी चाहिए। अगर आपका भाई सरकारी कर्मचारी है, तो इस समय उनको सफलता मिल सकती है। आपको इस समय अपने परिवार के लोगों का साथ मिलने में दिक्कतें होंगी इसलिए यह समय थोड़ा कठिन हो सकता है।

उपाय- मंगल स्तोत्र का पाठ करने से शुभ फल प्राप्त होंगे


सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।