शुक्र का तुला राशि में गोचर (3 नवंबर 2017)

वैदिक ज्योतिष के अनुसार शुक्र ग्रह कला, सौंदर्यता, प्रेम, वासना, मनोरंजन एवं भौतिक सुख का कारक है। इसके अलावा शुक्र मनुष्य की भावनाओं को भी नियंत्रित करता है। शुक्र 03 नवंबर 2017 (शुक्रवार) को रात्रि 12:12 बजे तुला राशि में गोचर करेगा और यह 26 नवंबर 2017 (रविवार) को रात्रि 10:20 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेगा। आइए जानते हैं आपके जीवन पर इस गोचर का क्या प्रभाव होगा।

Click here to read in English...

नोटः यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है। अपनी चंद्र राशि जानने के लिए क्लिक करें: चंद्र राशि कैल्कुलेटर

Shukra ka tula rashi mein gochar 2017

मेष

शुक्र आपकी राशि से सप्तम भाव में गोचर करेगा। इस दौरान प्रोफ़ेशनल क्षेत्र में आपका कद ऊँचा होगा, हालाँकि आपको विवाद से बचना होगा। महिलाओं का हमेशा सम्मान करें। गोचर की अवधि में आप अपनी सेहत पर भी ध्यान दें। इस दौरान आपकी सेहत कमज़ोर रह सकती है। वैवाहिक जीवन में जीवनसाथी और आपके बीच रोमांस बना रहेगा, परंतु किसी बात को लेकर दोनों के बीच मतभेद भी हो सकता है। ऐसे में जीवनसाथी की भावनाओं को समझने का प्रयास करें। अविवाहित जातकों के लिए प्रेम विवाह करना सफल रहेगा, परंतु इसके लिए आपको काफी प्रयास करने पड़ेंगे।

उपायः शुक्रवार को सफेद चंदन दान करें।

वृषभ

शुक्र ग्रह आपकी राशि से षष्ठम भाव में संचरण करेगा। इस दौरान आपकी सेहत कमज़ोर रह सकती है। अपने विरोधियों की चाल से सावधान रहें। वे आप पर हावी होने का प्रयास कर सकते हैं। वैवाहिक जीवन में आपको समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। वहीं व्यापार में बिज़नेस पार्टनर से किसी बात को लेकर मनमुटाव संभव है। गोचर की अवधि में अनावश्यक वस्तुओं पर आपका धन ख़र्च होगा इसलिए पैसों की बचत पर ध्यान दें। यात्रा के दौरान किसी प्रकार की कठिनाई आ सकती है। ऐसे में ज़्यादा ज़रुरी न हो तो यात्रा को टाला जा सकता है। किसी महिला के साथ आपका विवाद हो सकता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए हमेशा महिलाओं का आदर-सम्मान करें। यदि आप कार्यक्षेत्र में मन लगाकर काम करेंगे तो निश्चित ही आपको इसमें सफलता मिलेगी। आप लोन के लिए बैंक में आवेदन भी कर सकते हैं।

उपायः किसी मंदिर की पुजारिन को इत्र भेंट करें।

मिथुन

शुक्र आपकी राशि से पंचम भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान आप अपने विरोधियों पर विजय प्राप्त करेंगे। यदि आपने बैंक अथवा किसी व्यक्ति से पैसा उधार लिया है तो उस उधार को आप चुका सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से गोचर आपके लिए अनुकूल संकेत दे रहा है। इस अवधि में आपकी सेहत में सुधार आएगा। वहीं जो छात्र विदेश में उच्च शिक्षा ग्रहण करना चाहते हैं तो उनका यह सपना पूर्ण हो सकता है। छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं में भी सफलता मिलने के योग हैं। आपके प्रेम जीवन में रोमांस और जुनून भरपूर रहेगा। प्रेम में प्रगाढ़ता लाने के लिए प्रियतम के साथ मूवी अथवा अन्य प्रकार का मनोरंजन किया जाता सकता है। विवाहित जातकों को जीवनसाथी की ओर से शुभ समाचार मिलने की प्रबल संभावना है। इस अवधि में बच्चे भी एकदम तंदुरुस्त रहेंगे। नव विवाहित दम्पतियों को संतान प्राप्ति के योग बन रहे हैं। कला के प्रति आपकी रुचि बढ़ेगी।

उपायः ‘’ॐ शुं शुक्राय नमः’’ मंत्र का जाप करें।

कर्क

शुक्र आपकी राशि से चतुर्थ भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको विविध क्षेत्रों में सकारात्मक परिणामों की प्राप्ति होगी। घर में सुख-शांति का वातावरण रहेगा। आर्थिक जीवन में समृद्धि के योग हैं। इसके साथ ही आपकी मनोकामना के पूर्ण होने के भी योग बन रहे हैं। गोचर की अवधि में आपके द्वारा वाहन अथवा घर ख़रीदने की संभावना है या आप अपने पुराने घर की सजावट/पुनर्निर्माण में पैसे ख़र्च कर सकते हैं। इस दौरान किसी के साथ आपका मतभेद संभव है। आस-पास के लोगों से आपको हरसंभव मदद मिलेगी और आपकी सेहत में भी सुधार देखने को मिलेगा।

उपायः भगवान शिव की आराधना करें और उन्हें सफेद पुष्प चढ़ाएँ।

सिंह

शुक्र आपकी राशि से तृतीय भाव में संचरण करेगा। इस दौरान आपके साहस, कार्य क्षमता एवं संकल्प शक्ति में वृद्धि होने की प्रबल संभावना है। आप अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे। साथ ही गोचर की अवधि में धार्मिक कार्यों में आपका मन लगेगा। भाई-बहनों को किसी क्षेत्र में लाभ मिलने के योग बन रहे हैं। इसके अलावा इस दौरान आपको धन लाभ के भी योग हैं। किसी दूसरी जगह पर नई नौकरी मिलने पर आप अपनी वर्तमान जॉब को चेज़ कर सकते हैं। वहीं सामाजिक क्षेत्र में आपकी जान-पहचान का दायरा बढ़ेगा और आपके दोस्तों की सूची में कई नए नाम जुड़ेंगे। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों से आपको पूरी मदद मिलने की संभावना है। सरकार के द्वारा आपको किसी तरह का लाभ मिल सकता है। गोचर के दौरान आपकी किस्मत का सितारा भी बुलंद रहेगा। इस अवधि में आप अपनी कलात्मक प्रतिभा का विकास करेंगे। किसी के साथ नया रिश्ता जुड़ सकता है।

उपायः गाय की पूजा करें और उन्हें चारा खिलाएँ।

कन्या

शुक्र आपकी राशि से द्वितीय भाव में प्रवेश करेगा। इस स्थिति में आपको आर्थिक दृष्टि से उच्च लाभ संभव है। विभिन्न स्रोतों से आपको आय की प्राप्ति होगी और परिवार में किसी शुभ कार्य के होने के योग बन रहे हैं। आपके परिवार में किसी को संतान प्राप्ति हो सकती है अथवा किसी का विवाह भी संभव है। वहीं समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा और सरकार की ओर से भी आपको कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। किसी महिला के द्वारा आपको लाभ संभव है। गोचर के दौरान आपको स्वादिष्ट भोजन करने का अवसर प्राप्त होगा। इस अवधि में आपकी संवाद शैली में गजब का सुधार देखा जा सकता है। अपने संवाद के माध्यम से आप दूसरों को प्रभावित करेंगे। वहीं छात्रों को परीक्षा में सफलता मिलने की संभावना है। घर में बच्चों को पिताजी का आशीर्वाद प्राप्त होगा। अभिनय, नृत्य, गायन अथवा अन्य कला की ओर आपकी रुचि बढ़ेगी।

उपायः शुष्क चावल से भगवान शिव एवं माँ पार्वती की आराधना करें।

तुला

शुक्र आपकी राशि में गोचर करेगा और यह आपके प्रथम भाव में स्थित होगा। इस दौरान आपकी सेहत में सुधार देखने को मिल सकता है। ध्यान रखें, किसी भी चीज़ की अति नुकसानदायी रहती है, इसलिए किसी भी चीज़ की अति न करें। इस अवधि में आपके व्यक्तित्व का विकास होगा और किसी क्षेत्र में आपको अचानक लाभ के शुभ संकेत मिल रहे हैं। वहीं शत्रुओं पर भी आपका भय बना रहेगा। मन में वासनात्मक विचारों का प्रवाह तेज़ हो सकता है। इन विचारों पर नियंत्रण रखने की कोशिश करें। अविवाहित जातकों का विवाह होने के संकेत हैं जबकि विवाहित दंपतियों को संतान प्राप्ति के योग हैं। छात्र पढ़ाई में ख़ूब मेहनत करेंगे जिससे उनको परीक्षा में भी सफलता मिलेगी। दान-धर्म के कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी और आपके जीवन में समृद्धि आएगी। व्यापार में लाभ प्राप्त होगा। अपने अहंकार का त्याग करें। प्रेम जीवन में आपको भरपूर आनंद आएगा और आपकी जीवन शैली जबरदस्त सुधार देखने को मिलेगा।

उपायः ‘’ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः’’ मंत्र का जाप करें:

वृश्चिक

शुक्र आपकी राशि से द्वादश भाव में जाएगा। इस दौरान विदेश संबंधों से आपको लाभ मिलने के योग हैं। आप किसी लंबी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं। गोचर की अवधि में आपका ख़र्च बढ़ सकता है, हालाँकि आप एक समृद्ध जीवन शैली व्यतीत करेंगे। गोचर के दौरान आप सहज रुप से जीवन व्यतीत करेंगे परंतु आपके मन में वासनात्मक विचारों की अधिकता रह सकती है। इन विचारों पर आपको नियंत्रण रखने की आवश्यकता होगी। आर्थिक रूप से आपको लाभ प्राप्त होने के संकेत मिल रहे हैं। आपके धन में वृद्धि संभव है। विपरीत लिंग के लोगों से आपकी दोस्ती बढ़ेगी। बिज़नेस अथवा प्रोफ़ेशन या वैवाहिक सुख का आनंद लेने के लिए आप विदेश यात्रा पर जा सकते हैं। जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ख़्याल रखें।

उपायः कन्याओं को खीर खिलाएं।

धनु

शुक्र आपकी राशि से एकादश भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको आर्थिक क्षेत्र में लाभ मिलने के योग हैं। आपके जीवन में समृद्धि आने की प्रबल संभावना है। इस अवधि में आप भौतिक सुख-सुविधाओं का पूरा आनंद ले सकेंगे। वहीं प्रेम जीवन में आपको प्रियतम के साथ जमकर रोमांस करने का मौक़ा मिलेगा। अपने कार्य में आपको सफलता मिलेगी। वैवाहिक जीवन के लिए यह शुभ समय होगा। विपरीत लिंग के व्यक्तियों से आपकी दोस्ती बढ़ेगी और दोस्तों का भी पूरा सहयोग प्राप्त होगा। कार्यक्षेत्र में कड़ी मेहनत आपको पहचान दिलाएगी। सफलता पाने के लिए सीनियर्स आपकी मदद करेंगे।

उपायः माँ लक्ष्मी जी की कृपा दृष्टि पाने के लिए श्री सूक्त का जाप करें।

मकर

शुक्र आपकी राशि से दशम भाव में संचरण करेगा। इस दौरान आप अच्छा कार्य करेंगे, परंतु आपको इससे संतुष्टि नहीं होगी। आप अपनी वर्तमान जॉब को चेंज कर सकते हैं। बच्चों के साथ किसी बात को लेकर मनमुटाव हो सकता है। इसलिए बच्चों के प्रति आपका प्रेम-लगाव बना रहना चाहिए। इस अवधि में आपके दुश्मन आपसे ज़्यादा ताक़तवर होंगे, लिहाज़ा इस स्थिति में उनसे भिड़ने का प्रयास न करें। महिलाओं का हमेशा सम्मान करें। पारिवारिक जीवन में सुख-शांति का वातावरण बना रहेगा परंतु प्रेम जीवन में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस अवधि में आपको मानसिक तनाव की भी शिकायत रह सकती है। व्यापार में किसी तरह की बाधा आ सकती है। इस दौरान किसी सरकारी अधिकारी से आपका विवाद संभव है। आप मन लगाकर अपना कार्य करेंगे।

उपायः माँ दुर्गा की आराधना करें।

कुंभ

शुक्र आपकी राशि से नवम भाव में जाएगा। इस दौरान आपको विभिन्न क्षेत्रों में लाभ मिलने की संभावना है। गोचर की अवधि में आप किसी लंबी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं। यह यात्रा आपके लिए लाभकारी रहेगी। समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। धार्मिक कार्यों में भी आपकी सहभागिता बढ़ेगी। किसी महिला और दोस्तों के द्वारा आपको मदद मिल सकती है। स्वास्थ्य की दृष्टि से गोचर आपके लिए लाभकारी रहेगा। सरकार से भी आपको किसी तरह का लाभ प्राप्त हो सकता है। इस दौरान आप ख़ुशी-ख़ुशी समय व्यतीत करेंगे। लंबे समय से कर रहे किसी काम में आपको सफलता मिलने की संभावना है। किसी क्षेत्र में आपको स्थिर लाभ मिलने के योग बन रहे हैं। जीवनसाथी का सहयोग आपको मिलता रहेगा। प्रेम जीवन के लिए भी गोचर शुभ रहने के संकेत दे रहा है। घर में कोई शुभ कार्य संभव है।

उपायः छोटी कन्याओं का आशीर्वाद लें।

मीन

शुक्र आपकी राशि से अष्टम भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान आपके मन में वासनात्मक विचारों की वृद्धि हो सकती है। इस अवधि मे आप भौतिक सुख-सुविधाओं का आनंद लेंगे। बच्चे भी हँसी-ख़ुशी से अपना समय व्यतीत करेंगे। किसी के साथ नया रिश्ता कायम हो सकता है। हालाँकि इस रिश्ते को आप छुपाकर रखना चाहेंगे। किसी क्षेत्र में आपको अचानक उच्च लाभ की प्राप्ति के शुभ संकेत भी हैं। छोटी-मोटी स्वास्थ्य संबंधी परेशानी हो सकती हैं, लिहाज़ा अपना ख़्याल रखें। छात्रों को परीक्षा में सफलता मिलने की संभावना है। घर में भाई-बहन के साथ मधुर रिश्ता बनाए रखें, अन्यथा किसी बात को लेकर उनके साथ आपकी कहासुनी हो सकती है। नौकरी कर रहे जातकों का किसी दूसरी जगह स्थानांतरण हो सकता है।

उपायः शुक्रवार के दिन माँ दुर्गा को केसर युक्त खीर का भोग लगाएँ।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

नवग्रह यन्त्र खरीदें

ग्रहों को शांत और सुखी जीवन प्राप्त करने के लिए नवग्रह यन्त्र एस्ट्रोसेज लें।

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।