• AstroSage Big Horoscope
  • Raj Yoga Reort
  • Kp System Astrologer

सूर्य का कर्क राशि में गोचर- 16 जुलाई 2018

नवग्रहों में सूर्य को राजा की उपाधि दी गई है। सूर्य अग्नि तत्व और लाल वर्ण वाला ग्रह है। यह पूर्व दिशा का स्वामी है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार सूर्य को सिंह राशि का स्वामित्व प्राप्त है। सूर्य आत्मा और पिता का कारक माना जाता है। जन्म कुंडली में यह सम्मान, सफलता, प्रगति और उच्च पद को प्रदर्शित करता है।

16 जुलाई 2018, सोमवार को सूर्य 22:42 बजे कर्क राशि में गोचर करेगा और 17 अगस्त, शुक्रवार 7:06 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेगा। सूर्य के इस गोचर का प्रभाव सभी राशियों पर होगा। आईये इस राशिफल के माध्यम से डालते हैं उन प्रभावों पर एक नज़र…

Click here to read in English...

नोटः यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है। अपनी चंद्र राशि जानने के लिए क्लिक करें: चंद्र राशि कैल्कुलेटर

सूर्य का कर्क राशि में गोचर

मेष

सूर्य आपकी राशि से चौथे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान पारिवारिक समस्या को लेकर आप थोड़े तनाव में रह सकते हैं। माता-पिता जी की सेहत भी कुछ कमज़ोर रह सकती है। ख़ासकर माता जी के स्वास्थ्य की ओर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता होगी। परिवार के लोगों पर आप हावी होने का प्रयास कर सकते हैं, जो विवाद का कारण भी बन सकता है। हालाँकि इस बीच जीवन साथी को कार्य क्षेत्र में लाभ मिलने की संभावना है। आप भी अपने कार्य क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं परंतु मानसिक तनाव के कारण आपका कार्य प्रभावित हो सकता है। सरकार से आपको किसी तरह का लाभ मिल सकता है।

उपायःहरिवंश पुराण का पाठ करें अथवा उसे सुनें।

वृषभ

सूर्य आपकी राशि से तीसरे भाव में संचरण करेगा। इस गोचरीय स्थिति के कारण आपके साहस एवं संकल्प शक्ति में वृद्धि होगी। आप अपने शत्रुओं पर हावी रह सकते हैं। छोटी दूरी की यात्रा पर जाने के योग बन रहे हैं। गोचर के दौरान माता-पिता का स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है। भाई-बहनों के साथ किसी मामले में मतभेद हो सकता है। समाज में प्रतिष्ठित लोगों से आपके संबंध स्थापित होंगे। वहीं जीवन साथी को कार्य क्षेत्र में सफलता मिलने की संभावना है। नई जॉब मिलने पर आप अपनी वर्तमान नौकरी को छोड़ सकते हैं।

उपायःरविवार के दिन पंडितों को तांबे की वस्तु दान करें।

मिथुन

सूर्य आपकी राशि से दूसरे भाव में प्रवेश करेगा जिसके प्रभाव से आपकी भाषा में कड़वाहट देखने को मिल सकती है। कठोर वाणी के चलते लोग आपसे नाराज़ अथवा दुखी हो सकते हैं। परिवार के लोगों से भी आपका मनमुटाव संभव है। सरकारी क्षेत्र और जीवन साथी की ओर से आपको लाभ मिलने के योग हैं। जीवन साथी की सेहत का ख़्याल रखें। गोचर की अवधि में आप धन जुटाने में सफल रहेंगे हालाँकि आपको आँख से संबंधित कोई रोग हो सकता है। अपनी कार्य क्षमता और प्रयासों के बल पर आप हर परिस्थिति को अपने अनुकूल बना सकते हैं। छोटी दूरी की यात्रा आपके लिए लाभकारी सिद्ध हो सकती है।

उपायःअपने पिताजी की सेवा एवं उनका सम्मान करें और सूर्य देव को लाल पुष्प चढ़ाएँ।


जानें विभिन्न भावों में सूर्य का प्रभाव: ज्योतिष में सूर्य ग्रह

कर्क

सूर्य आपकी राशि में गोचर करेगा और यह आपके प्रथम भाव में स्थित होगा। परिणाम स्वरूप आपके स्वभाव में अहंकार एवं भाषा में कड़वापन देखा जा सकता है। आपके इस स्वभाव के कारण रिश्तों में खटास आ सकती है ख़ासकर जीवनसाथी आपसे नाराज़ अथवा दुखी रह सकते हैं। इसलिए आप जीवन साथी के साथ बहस न करें और उनकी भावनाओं की कद्र करें। सिरदर्द, बुखार, सीने में किसी प्रकार का संक्रमण, सूजन जैसी स्वास्थ्य संबंधी परेशानी आपको हो सकती हैं। अधिक से अधिक द्रवीय पदार्थ का सेवन करें।

उपायःइस मंत्र का जाप करें- ॐ घृणि सूर्याय नमः।।

सिंह

सूर्य आपकी राशि से बारहवें भाव में गोचर करेगा। इस गोचर के दौरान आपकी सेहत में गिरावट दर्ज होने की संभावना है इसलिए समय-समय पर अपने स्वास्थ्य की जाँच कराते रहें। आप विदेश में बसने का मन बना सकते हैं। कड़ी मेहनत के बल पर आप विपरीत परिस्थितियों को अपने अनकूल बनाने में सफल रहेंगे। गोचर के दौरान आपका ख़र्च बढ़ सकता है इसलिए पैसों का इस्तेमाल सही से करें। ध्यान दें, नेत्र संबंधी रोग से पीड़ा हो सकती है।

उपायःरविवार को अपने बाजू में बेल मूल धारण करें।

कन्या

सूर्य आपकी राशि से ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको विदेश संबंधों अथवा विदेशी कंपनियों से आर्थिक लाभ होने की संभावना है। गोचर के दौरान आपकी संकल्प शक्ति में वृद्धि हो सकती है और अपने शत्रुओं को परास्त करने में आप सफल रहेंगे। कार्य स्थल पर आपको वरिष्ठ कर्मियों का साथ मिलेगा परंतु किसी मामले में आप उनसे उलझ सकते हैं। ध्यान रखें, अपने सीनियर्स का हमेशा सम्मान करें। प्रेम रुपी जीवन में ग़ुस्सा और अहंकार कड़वाहट का रंग घोल सकता है। बच्चों की सेहत में कमी देखी जा सकती है अतः उनकी सेहत की देखभाल अवश्य करें।

उपायःरविवार को लाल कपड़ा दान में दें।


पढ़ें साल 2018 में होने वाले सूर्य ग्रहण का प्रभाव और राशिफल: सूर्य ग्रहण 2018

तुला

सूर्य आपकी राशि से दसवें भाव में स्थित होगा। यह स्थिति आपके लिए शुभ संकेत दे रही है। इस अवधि में आप अपनी क्षमता से अधिक कार्य करेंगे, जिसका आपको अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकता है। कार्यस्थल में उन्नति होने के शुभ संकेत हैं। आप किसी उच्च पद पर आसीन हो सकते हैं। प्रगति के मार्ग में सीनियर्स का भी भरपूर सहयोग मिल सकता है। सरकार की किसी योजना का लाभ आपको प्राप्त हो सकता है। हालाँकि पारिवारिक जीवन में क्लेश देखने को मिल सकता है, लेकिन किसी कार्य में बड़े भाई-बहनों का सहयोग आपको मिलेगा। सासू माँ की तबियत थोड़ी कमज़ोर रह सकती है।

उपायःरविवार के दिन बैल को गेहूँ व चना खिलाएँ।

वृश्चिक

सूर्य ग्रह आपकी राशि से नौंवे भाव में गोचर करेगा। यह आपके लिए अच्छा समय साबित हो सकता है। गोचर की अवधि में आप किसी लंबी यात्रा पर जा सकते हैं। यह यात्रा आपके लिए लाभकारी हो सकती है। दान-पुण्य में आपका मन लगेगा और धार्मिक क्रियाओं में भी आपकी सक्रियता बढ़ सकती है। समाज में भी आपका मान-सम्मान बढ़ सकता है। पिता जी की सेहत का ख़्याल रखें, उनके स्वास्थ्य में कमी देखी जा सकती है। भाई-बहनों से मतभेद होने के आसार हैं। नई नौकरी मिलने पर आप अपनी वर्तमान जॉब को छोड़ सकते हैं। आप किसी हिल स्टेशन पर घूमने की योजना बना सकते हैं। सरकार से किसी तरह का लाभ भी मिल सकता है।

उपायःरोज़ाना तांबे के लोटे में जल लें और उसमें लाल कुमकुम मिलाकर सूर्यदेव को चढ़ाएँ।

धनु

सूर्य आपकी राशि से आठवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपका स्वास्थ्य कुछ कमज़ोर रह सकता है। इसके अलावा अचानक ही आपको धन हानि हो सकती है, इसलिए धन का निवेश पूरी सावधानी के साथ करें। गोचर की अवधि में आपके किसी महत्वपूर्ण कार्य में रुकावट आ सकती है। पिताजी की सेहत कुछ कमज़ोर रह सकती है और उनके साथ आपके मतभेद भी संभव है। अपने ग़ुस्से पर क़ाबू रखें और कटु भाषा का प्रयोग न करें। ससुराल पक्ष से विवाद की संभावना है। बच्चों का भी स्वास्थ्य कुछ कमज़ोर रह सकता है। आपको अप्रत्याशित लाभ की संभावना है।

उपायःआदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें।


जन्म तिथि से जानें साल 2018 में कैसा रहेगा आपका भविष्य, पढ़ें: अंक ज्योतिष 2018

मकर

सूर्य आपकी राशि से सातवें भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान घर में अशांति का वातावरण रह सकता है। आपके व्यवहार में अहंकार एवं भाषा में कड़वापन देखने को मिल सकता है। गोचर के दौरान अपनी सेहत को नज़रअंदाज़ न करें और साथ में जीवन साथी का ख़्याल रखें। बच्चों और छात्रों के लिए गोचर शुभ संकेत दे रहा है। कार्य क्षेत्र में आपको गोचर के अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं।

उपायःरविवार को तांबे की वस्तु दान करें।

कुंभ

सूर्य आपकी राशि से छठे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आप अपने शत्रुओं पर हावी रहेंगे। प्रतियोगी परीक्षा में आपको सफलता मिलने की संभावना है। क़ानूनी मामलों में भी आपको आशानुरूप परिणाम मिल सकते हैं। जीवनसाथी की सेहत का ख़्याल रखें। आपके ख़र्चों में वृद्धि की संभावना है। व्यवसाय में साझेदारी से नुकसान होने के आसार हैं। यदि आप जॉब कर रहे हैं तो गोचर आपके लिए अनुकूल संकेत देने का वादा कर रहा है।

उपायःरविवार को गेहूँ और चना दान में दें।

मीन

सूर्य ग्रह आपकी राशि से पाँचवें भाव में स्थित होगा। इस स्थिति में नौकरी में ट्रांसफ़र होने की संभावना है। कार्यक्षेत्र में सीनियर्स के साथ विवाद होने की भी संभावना है। प्रेम जीवन में प्रियतम से किसी बात को लेकर बहसबाज़ी करने से प्यार में दरार पड़ सकती है। अपने ग़ुस्से पर नियंत्रण रखें। बच्चे थोड़े चिड़चिड़े स्वभाव के हो सकते हैं। दूसरी ओर, गोचर के दौरान आप अच्छी आमदनी प्राप्त करेंगे। छात्रों को पढ़ाई में थोड़ी-बहुत दिक्कत हो सकती है। राजनीतिक क्षेत्र में आपकी रुचि बढ़ सकती है।

उपायःसूर्य बीज मंत्र का जाप करें: ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः।।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।