• Talk To Astrologers
  • AstroSage Brihat Horoscope
  • Ask A Question
  • Raj Yoga Reort
  • Child Report

सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014: अक्टूबर 17, 2014

सूर्य के 2014 में तुला राशि में गोचर के प्रभाव जानिए।

सूर्य अक्टूबर 17, 2014 को तुला राशि में गोचर कर रहे हैं। क्या आप जानना चाहते हैं क्या होगा इस गोचर का प्रभाव आपकी राशि पर? जानिए इस गोचर के संभव परिणाम पं हनुमान मिश्रा द्वारा।

आज यानी कि 17 अक्टूबर 2014 को ग्रहों का राजा सूर्य नीच का होने जा रहा है। जी हाँ, 17 अक्टूबर 2014 को सूर्य तुला राशि में प्रवेश करने जा रहा है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार इस राशि में सूर्य अपने शुभ प्रभावों को पूर्ण रूप से नहीं दे पाता है। ऐसे में और संकट सूर्य के लिए और है कि 2 नवम्बर 2014 तक शनि भी इसी राशि में है। हालांकि कुछ ज्योतिषीय सूत्रों के अनुसार ऐसे में सूर्य का नीच भंग हो जाएगा, लेकिन सच्चाई ये है कि शनि की संगति में सूर्य पीड़ित होगा और सूर्य की संगति में शनि अस्त हो जाएगा। फलस्वरूप दोनो ग्रह कहीं न कहीं अपना पूर्ण प्रभाव नहीं दे पाएंगे।

Click here to read in English

विशेष : यह राशिफल आपकी चन्द्र राशि के आधार पर है। अपनी चन्द्र राशि जानने के लिए यहाँ क्लिक करें: चन्द्र राशि जानने के लिए यहाँ क्लिक करें: चन्द्र राशि कैल्क्युलेटर

अत: जनता सरकार के कामों से असंतुष्ट हो सकती है। यदि भारत के लिए बात की जाय तो क्योंकि यह गोचर कुण्डली के छठे भाव में हो रहा है, अत: केन्द्र सरकार के लिए यह युति अधिक दुष्प्रभावी न होकर प्रदेश के मामलों में अपेक्षाकृत अधिक दुष्प्रभावी होगी। अर्थात जनता केन्द्र के कामों से कुछ हद तक असंतुष्ट तो होगी लेकिन अधिक असंतोष प्रदेश की सरकारों से होगा। विशेषकर पूर्वी और पश्चिमी राज्यों में यह असर और देखने को मिलेगा। विपक्षी दल बेवजह के आरोप लगाएंगे। सामान्य ज़रूरत की चीजों के दामों में और वृद्धि हो सकती है। सुरक्षा व्यवस्था के प्रति सरकार को अधिक ध्यान देने की ज़रूरत रहेगी। विशेषकर सीमा की सुरक्षा पर अधिक ध्यान देना होगा।

इस गोचर का आपकी राशि पर क्या प्रभाव पड़ेगा आइए जानते हैं:-

मेष: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

राशिफल 2014 के अनुसार सूर्य का तुला राशि में गोचर के दौरान आपके कामों में कुछ रुकावटें आ सकती हैं। अत: यदि आप कोई बड़ा या महत्त्वपूर्ण काम करने जा रहे हैं तो यथासम्भव उस काम को एक महीने बाद ही किसी अच्छे मुहूर्त में करें, अगर ज्योतिष 2014 की बात मानें तो। सूर्य का तुला में गोचर 2014 के समय आपका सप्तम भाव प्रभावित रहेगा, अत: अपने व्यवसायिक पार्टनर या जीवनसाथी का विशेष ख़याल रखें। कोशिश करें कि सूर्य का तुला राशि में गोचार 2014 के दौरान वह आपसे इस रुष्ट न हों।

वृषभ: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

वैसे तो सूर्य का तुला में गोचर 2014 में आपका समय अच्छा रहेगा। ज्योतिष 2014 के अनुसार सोच हुए कई कार्य पूर्ण हो जाएंगे। लेकिन भाग्येश और कर्मेश शनि के अस्त होने के कारण सूर्य का तुला में गोचर 2014 कुछ कामों में रुकावट भी आ सकती है। आर्थिक मामलों में आपको अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। ज्योतिष 2014 के अनुसार यदि किसी से कुछ उधार ले रखा है तो कोशिश करने पर कर्ज मुक्ति हो सकती है। फिर भी माता के स्वास्थ्य का ख़याल रखना ज़रूरी होगा, साथ ही सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 में अपने घरेलू मामलों को गंभीरता से सुलझाना होगा।

मिथुन: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

सूर्य का तुला में गोचर 2014 का समय आपको मिला जुला परिणाम देने वाला रहेगा। अगर ज्योतिष 2014 के अनुसार इस समय आप अपने कामों को काफ़ी हद तक सही अंजाम दे पाएंगे। अगर राशिफल 2014 की बात मानें तो इस समय पारिवारिक मामलों को हल्के में लेना ठीक नहीं रहेगा। विशेषकर पुत्र या जिस व्यक्ति से आपको दिली लगाव हैं उसे बिल्कुल रुष्ट न करें। बेहतर होगा कि सूर्य का तुला में गोचर 2014 के दौरान तनाव के मूल स्रोत को जानकर उसे दूर करने की कोशिश करें। यकीन मानें इस सूर्य का तुला में गोचर 2014 में आपको सफलता भी मिलेगी।

कर्क: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

2014 राशिफल के अनुसार सूर्य का तुला में गोचर 2014 में आपको बड़ी ही सावधानी से काम करना होगा। विशेषकर अपने विचारों को पूरी तरह से शुद्ध रखें। नकारात्मक विचारों से लम्बी दूरी बनाएँ और अपने घरेलू जीवन पर पहले से अधिक ध्यान दें। ऐसे में यदि आप सूर्य उपासना या सूर्य मंत्रों का जप करेंगे तो आपको शुभ फलों की प्राप्ति भी होगी। ऐसा करने से आर्थिक मामलों में राहत मिलेगी और विवादों में विजय मिलेगी।

सिंह: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 के दौरान आपका राशि स्वामी नीचावस्था में रहेगा। अत: राशिफल 2014 के अनुसार अपने स्वास्थ्य का ख़याल रखना ज़रूरी होगा। ऐसे में सूर्य भगवान को सिंदूर मिलाकर जल देते रहें। ऐसा करने से आपमें नवीन ऊर्जा संचारित होगी, 2014 राशिफल की बात मानें तो। सूर्य का तुला में गोचर 2014 में मित्रों और बंधुओं से सहायता मिलेगी। कोई ऐसा काम जिसे करने के लिए आप बड़े दिनों से प्रयासरत थे वह सूर्य का तुला में गोचर 2014 में पूरा हो सकता है। साथ ही साथ 2014 राशिफल के अनुसार आपकी आमदनी बढ़ने के योग भी बन रहे हैं।

कन्या: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

आपके लिए सूर्य व्ययेश है अत: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 के दौरान इसके नीच के होने के कारण खर्चे कम होने चाहिए लेकिन शनि की युति के कारण कोई बड़ा खर्चा भी अचानक सामने आ सकता है, अगर राशिफल 2014 की बात मानें तो। अत: कोशिश करें कि सूर्य का तुला में गोचर 2014 में फिलहाल कोई बड़ा निवेश न करें। हालांकि रुकावटों के बाद ही सही लेकिन आपके काम बनेंगे। पुरानी समस्याएं कम होंगी। इस समय आपको अप्रिय सम्भाषण से बचना होगा। यदि ऐसा करने में आप कामयाब रहे तो सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 के दौरान बिगड़े सम्बंधों में सुधार होगा।

तुला: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

इस समय आपको लाभ मिलने के योग तो मज़बूत होंगे लेकिन साथ ही साथ आपके स्वास्थ्य में कुछ कमज़ोरी रह सकती है इस सूर्य का तुला में गोचर 2014 में। विशेषकर, ज्योतिष 2014 की बात मानें तो इस समय बुखार आने का भय रहेगा। इस समय आपको बहुत सम्भल के चलना होगा। बेहतर होगा फिलहाल कोई भी नई या बड़ी जिम्मेदारी लेने से बचें। इस समय आपको कोई भी जोखिम भरा काम करने से बचना होगा। सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 में कोई भी ऐसा काम न करें जिससे आपके मान-सम्मान को ठेस पहुंचें।

वृश्चिक: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

सूर्य का तुला में गोचर 2014 में आपके कर्म स्थान का स्वामी सूर्य नीच का रहेगा अत: ज्योतिष 2014 के अनुसार कामों में रुकावटों का आना स्वाभाविक है। हालांकि सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 में यदि आपनें काम को पूरी मेहनत और निष्ठा के साथ किया तो उसमें काफी हद तक सफल रहेंगे। इस समय विदेश से जुड़े मामलों में भी सफलता मिल सकती है, अगर राशिफल 2014 की बात मानें तो । लेकिन जीवन के अन्य पहलुओं में भी कुछ विसंगतियाँ रह सकती हैं। इस समय व्यर्थ के विवादों और कानूनी मामलों में उलझने से बचें। सूर्य का तुला में गोचर 2014 में नींद में भी कुछ व्यवधान रह सकता है।

धनु: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

सूर्य का तुला में गोचर 2014 में हालांकि लाभ भाव में गोचर कर रहा सूर्य आपको लाभ देगा लेकिन ज्योतिष 2014 के अनुसार इस समय आपको कुछ अनैतिक प्रलोभन भी मिल सकते हैं। कोशिश करें कि सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 में लालच के चक्कर में कुछ ऐसा न करें जिससे आपके मान-सम्मान को क्षति पहुंचे। इस समय पिता के स्वास्थ्य का ख़याल रखना बहुत ज़रूरी होगा। 2014 राशिफल के अनुसार इस समय दूर की यात्राएँ या फिर धार्मिक यात्राओं के योग बन रहे हैं। सूर्य का तुला में गोचर 2014 के दौरान आर्थिक मामलों में जल्दबाजी ठीक नहीं रहेगी।

मकर: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

सूर्य का तुला में गोचर 2014 में सूर्य आपके दशम भाव में रहेगा अत: ज्योतिष 2014 के अनुसार निसंदेह आपके कुछ काम बनेगें लेकिन 2014 राशिफल के अनुसार सूर्य का तुला में गोचर 2014 में अपने काम को करने या कराने के लिए कुछ ऐसा न करें जिससे आपके मान सम्मान को ठेस पहुंचे। इस समय राशिफल 2014 की बात मानें तो जल्दबाजी में या भावुक होकर कोई भी निर्णय लेने से बचें। यदि आप इन सावधानियों को अपना सके तो निश्चत है कि आपके कर्मों का फल मिलेगा और आपको सुख-संपत्ति की प्राप्ति होगी। सूर्य का तुला में गोचर 2014 में परिवार में सुख, शांति भी बनी रहेगी। फिर भी स्वास्थ्य का ख़याल रखना ज़रूरी होगा, अगर ज्योतिष 2014 की बात मानें तो।

कुम्भ: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

सूर्य का तुला में गोचर 2014 में आप व्यापार व्यवसाय के सिलसिले में यात्राएँ कर सकते हैं। यदि आप विदेश यात्राओं के लिए प्रयासरत हैं तो सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 के दौरान उसमें सफलता मिलने की सम्भावनाएँ बनेंगी। 2014 राशिफल के अनुसार ऐसा भी हो सकता है कि आपको धार्मिक यात्राओं का अवसर मिले अथवा धार्मिक कार्यक्रमों में शामिल होने का मौका मिले। सूर्य का तुला में गोचर 2014 में कार्यालय में स्थितियाँ अनुकूल होगी। कामों में सफलता मिलने के भी योग हैं। सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 के इस समय में आप काम धंधे को लेकर कुछ नई योजनाएँ बना सकते हैं। आर्थिक स्थिति में भी सुधार होने के योग हैं।

मीन: सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014

यद्यपि छठे भाव के स्वामी सूर्य के अष्टम में जाने के कारण विरोधियों के द्वारा नुकसान नहीं होगा लेकिन सूर्य का तुला राशि में गोचर 2014 के दौरान आपका आत्मविश्वास कुछ कमज़ोर रह सकता है। अगर राशिफल 2014 की बात करें तो इस समय वाहन आदि भी सावधानी से चलाने होंगे। इस समय अपनी वाणी पर विशेष संयम रखने की ज़रूरत रहेगी। हाँ ये बात और है कि सूर्य का तुला में गोचर 2014 में आपकी मेहनत के पैसे कहीं फंसे हुए हों तो वो इस समय आपको मिल जाएंगे। नौकरी पेशा को इस समय बड़े ही संयम के साथ निर्वाहन करना होगा।

उपाय

अगर उपायों की बात करें तो सूर्य के इस गोचरीय परिवर्तन से कष्ट होने की स्थिति में निम्नलिखित उपाए करें:

  1. तांबा, गुड, गेहूं व मसूर की दाल का दान करना शुभता लाएगा।
  2. साथ ही "ॐ घृणि सूर्याय नम:" मंत्र का जाप करें।
  3. सूर्य भगवान को जल चढ़ाएं।
  4. यदि इतने पर भी शांति न मिले तो किसी कर्मकाण्डी से सम्पर्क कर सूर्य मंत्र का जप कराकर हवन कराने से शुभता आएगी।

सूर्य का तुला में गोचर 2014 के दौरान क्या होगा, यह जानने के बाद आप अपने कार्यों की सही योजना बना सकते हैं। एक ख़ाके के साथ आप न केवल अनुकूल समय का सही फायदा उठा पाएंगे, बल्कि विपरीत परिस्थितियों को भी संभालने का तरीका ढूंढ पाएंगे। इसलिए, 2014 में सूर्य का तुला राशि में गोचर के राशिफल को पढ़ अपना जीवन और भी सुखमय बनाएं।

पं हनुमान मिश्रा

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।