• Varta Astrologers
  • Mragaank
  • Parul

शुक्र का मिथुन राशि में गोचर (13 जुलाई, 2022)

एस्ट्रोसेज आपको वैदिक ज्योतिष पर आधारित शुक्र का मिथुन राशि में गोचर (13 जुलाई, 2022) से जुड़ी भविष्यवाणियाँ प्रदान करता है। जो हमारे विद्वान ज्योतिषियों द्वारा शुक्र ग्रह की चाल व स्थिति का विश्लेषण कर प्रदान की गई हैं। इस लेख में शुक्र के नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिए उपयुक्त उपायों के लिए बारे में भी बताया गया है, जिनकी मदद से आप अपने जीवन में आने वाली सभी मुश्किलों को दूर कर सकते हैं।

शुक्र का मिथुन राशि में गोचर

वैदिक ज्योतिष के अनुसार शुक्र एक स्त्री स्वभाव ग्रह है। जिसे प्रेम, रोमांस, भोग-विलास, सौंदर्य, फैशन डिज़ाइनिंग, कला, वैवाहिक सुख आदि का कारक माना जाता है। शुक्र की गोचर अवधि 23 दिन होती है अर्थात शुक्र एक राशि में 23 दिनों तक स्थित रहता है।

विद्वान ज्योतिषियों से करें फोन पर बात और जानें शुक्र गोचर के प्रभाव

वैदिक ज्योतिष में शुक्र विवाह के लिए सबसे प्रमुख माना जाता है। साथ ही, यह किसी पुरुष की जन्म कुंडली में महिला का कारक होता है। शुक्र धन और विलासिता का प्रतीक है। ऐसा माना जाता है कि यदि कोई व्यक्ति विलासिता की वस्तुओं की ख़रीदारी करता है तो उस पर शुक्र ग्रह की कृपा होती है इसलिए विलासिता और महंगी वस्तओं का स्वामित्व शुक्र ग्रह को प्राप्त है।

वैदिक ज्योतिष के अनुसार, लग्न में स्थित शुक्र जातक को सुंदरता और विवेक प्रदान करता है। ऐसे जातक अपने व्यक्तिगत जीवन में सुख-सुविधाओं और विलासिता की वस्तुओं को प्राप्त करने का लक्ष्य रखते हैं। शुक्र जातकों के अंदर विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण व आत्मीयता को भी जगाता है। यह बृहस्पति द्वारा शासित राशि मीन में उच्च का तथा बुध शासित राशि कन्या में नीच का हो जाता है।

कुंडली में मौजूद राज योग की समस्त जानकारी पाएं

शुक्र का मिथुन राशि में गोचर: तिथि व समय

शुक्र का मिथुन राशि में गोचर 13 जुलाई, 2022 को सुबह 11:01 बजे होगा और 7 अगस्त, 2022 तक यानी कि कर्क राशि में प्रवेश करने तक इसी राशि में स्थित रहेगा। आइए जानते हैं, शुक्र के इस गोचर का सभी 12 राशियों के जातकों के जीवन पर क्या प्रभाव पड़ने वाला है। साथ यह भी जानते हैं कि इसके नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिए क्या उपयुक्त उपाय किए जा सकते हैं।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि

Read in English: Venus transit in Gemini

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए शुक्र दूसरे भाव यानी कि धन और परिवार के भाव तथा सातवें भाव यानी कि साझेदारी और विवाह के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र मेष राशि के तीसरे भाव यानी कि लघु यात्रा, भाई-बहन और संचार के भाव में स्थित रहेगा।

इस अवधि के दौरान आपके संचार कौशल में सुधार हो सकता है, जिससे कि आप अपनी भावनाओं को बड़े ही अच्छे तरीके से व्यक्त करने में सक्षम होंगे। आप स्वभाव से शांत हो सकते हैं। आपको लोगों से मिलना-जुलना पसंद आ सकता है। आप कई तरह के आयोजनों या समारोहों में हिस्सा ले सकते हैं। शुक्र के इस गोचर के दौरान आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ कहीं बाहर घूमने या पिकनिक मनाने की योजना बना सकते हैं। आपके घर का माहौल भी शांत और सुखद रहने वाला है। साथ ही आपके भाई-बहन व घर के सदस्य पूर्ण रूप से आपका सहयोग करते नज़र आ सकते हैं। इस दौरान आप कुछ यात्राओं और समारोहों में धन ख़र्च भी कर सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो जातक कला, नाटक, थिएटर, नृत्य और मीडिया के क्षेत्र में हैं, उनके लिए शुक्र का यह गोचर अनुकूल सिद्ध हो सकता है। इस दौरान आप अपने करियर में वृद्धि देख सकते हैं। यदि आप अपनी नौकरी में बदलाव करने की योजना बना रहे हैं तो आपको इस अवधि में नौकरी के कुछ अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

उपाय: भोजन के बाद नियमित रूप से सौंफ का सेवन करें।

मेष साप्ताहिक राशिफल

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए शुक्र लग्नेश है और यह छठे भाव यानी कि रोग, प्रतिस्पर्धा और विवाद के भाव का भी स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र वृषभ राशि के दूसरे भाव यानी कि परिवार, संचार और धन के भाव में गोचर करेगा। वृषभ राशि के जातकों के लिए शुक्र का यह गोचर बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह उनके लग्न भाव का स्वामी है।

इस दौरान आप अपना झुकाव परिवार के प्रति महसूस कर सकते हैं। आप उनकी ज़रूरतों और सुख-सुविधाओं का ख़्याल रखते नज़र आ सकते हैं। निजी इस्तेमाल के लिए कोई संपत्ति या भूमि ख़रीदने के प्रबल योग हैं। साथ ही आप अपने मौजूदा आवास के नवीनीकरण पर भी निवेश कर सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो कार्यस्थल पर इस दौरान आपको अपनी टीम की लापरवाही की वजह से कुछ तनाव का सामना करना पड़ सकता है। आपका अपने वरिष्ठों से किसी बात पर कोई विवाद या बहस हो सकती है। स्टॉक मार्केट से जुड़े जातकों के लिए यह अवधि अनुकूल सिद्ध हो सकती है। साथ ही, जो जातक सर्जन, त्वचा विज्ञान, कॉस्मेटोलॉजी जैसी सर्विसेज़ में हैं, उनके लिए भी यह अवधि अनुकूल सिद्ध हो सकती है। आप इस दौरान अपने ग्राहकों में वृद्धि देख सकते हैं।

उपाय: शाम को अपने घर में तेल के बर्नर में कपूर जलाएं।

वृषभ साप्ताहिक राशिफल

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए शुक्र पांचवें भाव यानी कि प्रेम, शिक्षा और रोमांस के भाव स्वामी है। साथ ही यह बारहवें भाव यानी कि व्यय, हानि और विदेश यात्रा के भाव का भी स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र मिथुन राशि के लग्न भाव यानी कि व्यक्तित्व, मस्तिष्क और विचार के भाव में गोचर करेगा।

प्रेम संबंध के लिहाज से यह अवधि आपके लिए शुभ साबित हो सकती है। विपरीत लिंग के प्रति आपका झुकाव अधिक हो सकता है। जो लोग एकतरफ़ा प्रेम में हैं, वे अपने प्रिय के साथ किसी रिश्ते में आ सकते हैं। जो जातक पहले से ही प्रेम संबंध में हैं, उनके रिश्ते में प्रेम और आपसी समझ में वृद्धि हो सकती है। आप अपने रहन-सहन, फ़िटनेस और पर्सनालिटी को लेकर जागरूक रह सकते हैं और इसके लिए कुछ धन ख़र्च भी कर सकते हैं। सेल्फ़ ग्रूमिंग और लग्ज़री उत्पाद ख़रीदने में आप ख़ुद को अधिक आनंदित महसूस कर सकेंगे।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस दौरान फ़्रेशर्स को अपना करियर शुरू करने के लिए कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं। जो जातक बहुराष्ट्रीय कंपनियों या विदेशी बाज़ारों में काम कर रहे हैं, उनके लिए भी यह समय अनुकूल सिद्ध हो सकता है। इस अवधि आप अपने कार्य की प्रगति के लिए कुछ ज़रूरी यात्राओं की योजना बना सकते हैं, जो कि आपके लिए फलदायी सिद्ध हो सकती हैं। जो जातक साझेदारी के व्यवसाय या संयुक्त उद्यम में हैं, उन्हें भी शुक्र गोचर के सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।

उपाय: विशेष रूप से शुक्रवार की सुबह "ॐ शुं शुक्राय नमः" मंत्र का जाप करें।

मिथुन साप्ताहिक राशिफल

करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए शुक्र चौथे भाव यानी कि भवन और सुख के भाव तथा ग्यारहवें भाव यानी कि आय और लाभ के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र कर्क राशि के बारहवें भाव यानी कि व्यय, हानि और यात्रा के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आपका पारिवारिक जीवन थोड़ा अस्त-व्यस्त हो सकता है। आपके सामने अचानक से कुछ बड़े ख़र्चे आ सकते हैं जैसे कि किसी कीमती सामान का नुकसान या फिर अस्पतालों के बिल। आशंका है कि इस दौरान आपकी माता जी के स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है। आपको सलाह दी जाती है कि उनके स्वास्थ्य की देखभाल करें। इस अवधि के दौरान आप अपने परिवार के साथ कहीं घूमने जाने की योजना भी बना सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से आपको यह सलाह दी जाती है सड़क पर पैदल चलते समय या वाहन चलाते समय सावधानी बरतें चूंकि इस दौरान आपको चोट लग सकती है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो जो जातक विदेश में नौकरी के अवसर तलाश रहे हैं या नौकरी के लिए किसी दूसरी जगह प्रवास की योजना बना रहे हैं, उनके लिए यह अवधि बेहतर साबित हो सकती है।

नौकरीपेशा जातकों के ख़र्चे उनकी आमदनी से ज़्यादा हो सकते हैं। व्यवसायी जातक अपने व्यवसाय की मार्केटिंग और प्रमोशन के लिए अच्छा खासा पैसा ख़र्च कर सकते हैं।

उपाय: भगवान शिव को सफेद चंदन चढ़ाएं और मंदिर में चंदन दान करें।

कर्क साप्ताहिक राशिफल

सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए शुक्र तीसरे भाव यानी कि बल और साहस के भाव तथा दसवें भाव यानी कि पेशे के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र आपके ग्यारहवें भाव यानी कि इच्छाओं, मित्रों और भाई-बहनों के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आपको लोगों से मिलना-जुलना अधिक पसंद आ सकता है। आप अपनी मित्रमंडली में कुछ नए दोस्त शामिल कर सकते हैं। आपके संबंध अपने छोटे और बड़े भाई-बहनों के साथ बेहतर रह सकेंगे और आप उनके साथ अच्छा समय बिता सकेंगे। आपको अपने सभी प्रयासों में उनका पूरा सहयोग और मार्गदर्शन प्राप्त हो सकता है। इस दौरान आप ख़ुद को तनावमुक्त महसूस कर सकते हैं, साथ ही आप ऐसा भी अनुभव कर सकते हैं कि किसी भी काम को करने के लिए आपको ज़्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ रही है। सरल शब्दों में कहें तो परिस्थितियां आपके अनुकूल हो सकती हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि कपड़े, एक्सेसरीज और ज्वैलरी का कारोबार कर रहे जातकों के अनुकूल सिद्ध हो सकती है। जो जातक संगीत, थिएटर और फ़ाइन आर्ट्स जैसे क्षेत्रों में हैं, उन्हें भी शुक्र के इस गोचर के दौरान कई सकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकते हैं जैसे कि आपको अपने सच्चे प्रशंसक मिल सकते हैं और वे आपके उत्कृष्ट कौशल पर पैसा लगाने को तैयार हो सकते हैं। यदि आप अपने शौक और रुचि के कार्यों को पेशे के रूप में बदलने की योजना बना रहे हैं तो समय अनुकूल है। सकारात्मक परिणाम मिलने की संभावना प्रबल है।

उपाय: शुक्रवार के दिन मंदिर में चीनी, चावल और दूध का दान करें।

सिंह साप्ताहिक राशिफल

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए शुक्र दूसरे भाव यानी कि धन और परिवार के भाव तथा नौवें भाव यानी कि भाग्य और धर्म के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र कन्या राशि के दसवें भाव यानी कि पेशे के भाव में गोचर करेगा। नौवें और दसवें भाव की युति जातकों को अनुकूल परिणाम प्रदान करती है।

इस दौरान आपका झुकाव अध्यात्म की ओर हो सकता है और आप आध्यात्मिकता से जुड़ी चीज़ें पढ़ना पसंद कर सकते हैं, साथ ही आप अपने परिवार के साथ तीर्थ स्थानों की यात्रा की योजना भी बना सकते हैं। इस अवधि में आपके घर का माहौल शांत और सुखद रहने वाला है। घर के सदस्यों के बीच प्रेम व स्नेह रहेगा। इस दौरान आप व्यक्तिगत या कॉमर्शियल उपयोग के लिए कोई वाहन ख़रीद सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि कन्या राशि के उन व्यवसायी जातकों के लिए फलदायी सिद्ध हो सकती है, जो खास तौर पर पारिवारिक व्यवसाय से जुड़े हुए हैं। जो लोग मनोरंजन और ट्रैवलिंग उद्योग से जुड़े हुए हैं, वे इस दौरान अपने व्यवसाय में वृद्धि देख सकेंगे। सरकारी कर्मचारियों को कार्यस्थल पर किसी प्रकार की राजनीति का सामना करना पड़ सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने विरोधियों या शत्रुओं से सावधान रहें क्योंकि वे आपकी छवि बिगाड़ने का प्रयास कर सकते हैं। यह अवधि उन डिज़ाइनिंग छात्रों के लिए कई अच्छे अवसर लेकर आ सकती है, जो आपका करियर शुरू करने की योजना बना रहे हैं।

उपाय: अपने घर के बाहर ज़मीन में थोड़ा सा शहद गाड़ दें।

कन्या साप्ताहिक राशिफल

तुला

तुला राशि के जातकों के लिए शुक्र लग्न भाव तथा आठवें भाव यानी कि विरासत के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र तुला राशि के नौवें भाव यानी कि धर्म और भाग्य के भाव में गोचर करेगा। लग्नेश का गोचर जातकों के जीवन पर अधिक प्रभावशाली होता है इसलिए शुक्र का यह गोचर तुला राशि के जातकों के लिए अति महत्वपूर्ण है।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो आपके संबंध अपने पिता के साथ मित्रतापूर्ण रह सकेंगे और आपको अपने प्रयासों में उनकी तरफ़ से पूरा सहयोग और मार्गदर्शन प्राप्त हो सकता है। इस दौरान पैतृक संपत्ति या पैतृक वंश की तरफ़ से नकद या वस्तु के रूप में लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। आप कुछ धर्मार्थ संगठनों (चैरिटेबल ऑर्गेनाइजेशन) से जुड़ सकते हैं और दान-पुण्य कर सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि जब शुक्र का मिथुन राशि में गोचर होगा, नए उद्यमियों के लिए अधिक अनुकूल न रहने की आशंका है। आपको यह सलाह दी जाती है कि किसी भी कागज़ पर दस्तख़त करते समय या कोई डील करते समय या फिर कोई कॉन्ट्रैक्ट साइन करते समय सतर्क रहें क्योंकि उसमें कुछ छिपे हुए खंड हो सकते हैं, जो कि आगे चलकर आपके लिए चिंता का विषय बन सकते हैं। आपको यह भी सलाह दी जाती है कि इस अवधि में सट्टा बाज़ार जैसे कि शेयर मार्केट, स्टॉक मार्केट आदि में भी निवेश करने से बचें अन्यथा आपको नुकसान हो सकता है। नौकरीपेशा जातकों के लिए यह समय तुलनात्मक रूप से बेहतर सिद्ध हो सकता है। आपके अपने करियर में प्रगति करने के कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

उपाय: शुक्रवार के दिन ओपल रत्न को अपने गले में लॉकेट के रूप में या फिर अपने काम करने वाले हाथ की अनामिका में अंगूठी के रूप में धारण करें।

तुला साप्ताहिक राशिफल

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए शुक्र सातवें भाव यानी कि विवाह और संगठन के भाव तथा बारहवें भाव यानी कि हानि और व्यय के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र वृश्चिक राशि के आठवें भाव यानी कि आकस्मिक घटनाओं, बाधाओं और विरासत के भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आप कुछ अनावश्यक यात्राएं कर सकते हैं, जो कि सिवाय खर्चे के कुछ भी नहीं दे सकेंगी। आपके संबंध अपने जीवनसाथी के साथ व ससुराल पक्ष के लोगों के साथ बहुत अधिक सौहार्दपूर्ण नहीं सकेंगे। आपका उनसे किसी बात पर बहस या छोटा-मोटा कोई विवाद हो सकता है।

स्वास्थ्य के लिहाज से, इस दौरान आपको गले और आँख से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है। साथ ही, चोट लगने की भी आशंका है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें और सड़क पर पैदल चलते समय या वाहन चलाते समय सावधानी बरतें।

पेशेवर रूप से भी यह अवधि आपके लिए बहुत अधिक अनुकूल न रहने की आशंका है। जो जातक ख़ुद के व्यवसाय में हैं, उन्हें इस अवधि में नुकसान होने की आशंका अधिक है इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि इस दौरान किसी भी प्रकार के निवेश से बचें क्योंकि आपको इसमें सकारात्मक परिणाम प्राप्त नहीं हो सकते हैं। नौकरीपेशा जातकों को इस दौरान अपनी नौकरी को लेकर असुरक्षा महसूस हो सकती है, साथ ही किसी प्रकार की हानि होने की भी आशंका है। इसके अलावा, आपको अपने कार्यस्थल पर अधिक सावधान रहने की आवश्यकता पड़ सकती है क्योंकि आपके ख़िलाफ़ साज़िश रचने का प्रयास किया जा सकता है।

उपाय: परशुराम की कहानियां/कथाएं पढ़ें।

वृश्चिक साप्ताहिक राशिफल

बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

धनु

धनु राशि के जातकों के लिए शुक्र छठे भाव यानी कि रोग, प्रतिस्पर्धा और विवाद में भाव तथा ग्यारहवें भाव यानी कि आय, लाभ और विस्तार के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र धनु राशि के सातवें भाव यानी कि संगठन और साझेदारी के भाव में गोचर करेगा।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो आपका अपने जीवनसाथी से छोटी-छोटी बातों पर बार-बार झगड़ा या विवाद हो सकता है। वहीं एकल जीवन व्यतीत कर रहे जातक इस दौरान अपना हमसफ़र ढूंढने में कामयाबी हासिल कर सकते हैं या विवाह के बंधन में बंध सकते हैं। शुक्र के इस गोचर के दौरान आप अपने जीवनसाथी या दोस्तों के साथ मिलकर कोई नई साझेदारी या संयुक्त उद्यम शुरू करने की योजना बना सकते हैं।

स्वास्थ्य के लिहाज से, यदि आप मधुमेह की समस्या से पीड़ित हैं तो आपको अपना अधिक ख़्याल रखने की सलाह दी जाती है क्योंकि इस दौरान आपकी स्वास्थ्य समस्याओं में इज़ाफ़ा हो सकता है। साथ ही, आपकी सर्जरी भी हो सकती है। आपके जीवनसाथी को भी इस दौरान एलर्जी और किसी प्रकार के संक्रमण से ग्रसित होने का ख़तरा हो सकता है इसलिए उनके स्वास्थ्य का भी ख़्याल रखने की सलाह दी जाती है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यह अवधि अच्छा लाभ कमाने और आर्थिक स्थिति में सुधार करने के कई अवसर लेकर आ सकती है। जो जातक साझेदारी के व्यवसाय में हैं, उनके लिए यह अवधि फलदायी सिद्ध हो सकती है। वहीं नौकरीपेशा जातकों के बेहतर प्रदर्शन की प्रशंसा की जा सकती है। साथ ही, कार्यस्थल पर आपकी छवि अच्छी बन सकती है।

उपाय: किसी भी शुक्रवार को शाम के समय आलू और आटे का दान करें।

धनु साप्ताहिक राशिफल

मकर

मकर राशि के जातकों के लिए शुक्र पांचवें भाव यानी कि प्रेम, संतान और शिक्षा के भाव तथा दसवें भाव यानी कि कर्म भाव का स्वामी है। मकर राशि के जातकों के लिए शुक्र योग कारक ग्रह है इसलिए शुक्र का गोचर मकर राशि के जातकों के लिए महत्वपूर्ण है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र मकर राशि के छठे भाव यानी कि रोग, प्रतिस्पर्धा और कर्ज़ के भाव में गोचर करेगा।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो इस दौरान आप अपनी ऊर्जा में कमी महसूस कर सकते हैं। यदि आप प्रेम संबंध में हैं तो आपको अपने प्रिय के साथ संबंध में छोटी-छोटी बातों पर बहस या झगड़ों का सामना करना पड़ सकता है। आपके बच्चों का स्वास्थ्य भी बहुत अच्छा न रहने की आशंका है इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि उनके स्वास्थ्य का ख़्याल रखें।

मकर राशि के छात्रों के लिए शुक्र का यह गोचर अनुकूल सिद्ध हो सकता है। जो छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, वे इस दौरान अपनी पढ़ाई में ध्यान केंद्रित कर सकेंगे, जो कि आपको अपनी परीक्षाओं में सफलता दिला सकता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो कार्यस्थल पर चीज़ें आपके अनुकूल हो सकती हैं। कार्यक्षेत्र का माहौल काफ़ी आरामदायक हो सकता है और आपके सहकर्मी व टीम के सदस्य भी सहयोगी नज़र आ सकते हैं। जिससे कि आप अपने काम को समयसीमा के भीतर पूरा कर सकेंगे। जो जातक वित्तीय संस्थानों में काम कर रहे हैं, उन्हें इस दौरान कोई भी लेन-देन करते समय सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है क्योंकि आपको धन को लेकर कुछ भ्रम हो सकता है जिसके कारण नुकसान होने की संभावना पैदा हो सकती है।

उपाय: शुक्रवार के दिन क्रीम और गुलाबी रंग के वस्त्र धारण करें।

मकर साप्ताहिक राशिफल

कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए शुक्र दो महत्वपूर्ण भावों का स्वामी है। यह आपके चौथे भाव यानी कि आराम और विलासिता के भाव तथा नौवें भाव यानी कि भाग्य और धर्म के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र कुंभ राशि के पांचवें भाव यानी कि प्रेम, शिक्षा और संतान के भाव में गोचर करेगा।

व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो जो जातक प्रेम संबंध में हैं, उनके रिश्ते में नज़दीकियां बढ़ सकती हैं। वहीं जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं या एकतरफ़ा प्रेम हैं, उनके लिए भी यह अवधि अनुकूल सिद्ध हो सकती है। प्रबल संभावना है कि आप किसी रिश्ते में प्रवेश कर सकते हैं। आप इस दौरान अपने बच्चों की आउटस्टैंडिंग एचीवमेंट के कारण सम्मानित किए जा सकते हैं। आप में से कुछ जातकों को गर्भधारण का शुभ समाचार भी मिल सकता है।

जो छात्र आगे की पढ़ाई कर रहे हैं या योजना बना रहे हैं, उन्हें अपने सपने के संस्थान से अध्ययन करने का अवसर प्राप्त हो सकता है।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो यदि आप अपने व्यवसाय के विस्तार और वृद्धि के लिए कोई निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो यह समय प्रबल है। ऐसा करने से आपको सकारात्मक फल की प्राप्ति हो सकती है। आर्थिक दृष्टिकोण से भी यह अवधि अनुकूल रहने वाली है। इस दौरान आप एक से अधिक स्रोतों से कमाई कर सकते हैं। नौकरीपेशा जातकों की छवि उनके बॉस और वरिष्ठों की नज़रों में अच्छी हो सकती है, जो कि उनके पेशेवर जीवन में कई तरह की सफलताएं लेकर आ सकता है।

उपाय: गुलाबी स्फटिक को अपने गले में लॉकेट के रूप में धारण करें या अपनी कलाई में ब्रेसलेट के रूप में धारण करें।

कुंभ साप्ताहिक राशिफल

मीन

मीन राशि के जातकों के लिए शुक्र तीसरे भाव यानी कि बल, साहस और पराक्रम के भाव तथा आठवें भाव यानी कि अनिश्चितता, हानि और कर्ज़ के भाव का स्वामी है। इस गोचर काल के दौरान शुक्र मीन राशि के चौथे भाव यानी कि सुख, आराम और संपत्ति में भाव में गोचर करेगा।

इस दौरान आपके घर की सुख-शांति बनी रहेगी और आप अपने घर सदस्यों को ख़ुश रखने तथा संतुष्ट रखने का प्रयास कर सकते हैं। आप आरामदायक और विलासिता की चीज़ों की ख़रीदारी करने में धन ख़र्च कर सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि शुक्र के इस गोचर के दौरान संपत्ति या वाहन ख़रीदने में निवेश न करें क्योंकि ऐसा करना आपके लिए नकारात्मक सिद्ध हो सकता है और आप कर्ज़ में डूब सकते हैं।

पेशेवर रूप से देखा जाए तो इस अवधि में व्यवसायी जातकों को कुछ अनिश्चितताओं का सामना करना पड़ सकता है। आशंका है कि आपके विरोधियों द्वारा रची गई साज़िश आपके व्यवसाय को प्रभावित कर सकती है। नौकरीपेशा जातकों का जबरन स्थानांतरण किया जा सकता है। कार्यक्षेत्र में आपको अपने बॉस के सामने अपनी योग्यता और कौशल साबित करने के लिए कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता पड़ सकती है, विशेष रूप से यदि आपकी वरिष्ठ कोई महिला हो। कुल मिलाकर शुक्र के इस गोचर के दौरान आपको अपने पेशेवर जीवन में अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता पड़ सकती है।

उपाय: शुक्रवार के दिन कन्याओं को सफेद या क्रीम रंग के वस्त्र दान करें।

मीन साप्ताहिक राशिफल

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।