• Trikal Samhita
  • AstroSage Big Horoscope
  • Raj Yoga Reort
  • Shani Report

शुक्र का मिथुन राशि में गोचर, 14 मई 2018

हिन्दू ज्योतिष में शुक्र को शुभ ग्रह माना गया है। शुक्र को वृषभ और तुला राशि का स्वामित्व प्राप्त है। यह मीन राशि में उच्च और कन्या राशि में नीच का माना जाता है। शुक्र प्रधान जातक सांसारिक सुख और ऐश्वर्य का भोग करने में सभी प्रकार के जातकों से आगे होते हैं। शुक्र प्रधान जातक सिनेमा, रंगमंच, चित्रकारी और नृत्य कला आदि क्षेत्रों से संबंध रखते हैं। किसी व्यक्ति के जीवन में दाम्पत्य जीवन के सुख का अध्ययन भी शुक्र की स्थिति पर निर्भर करता है।

कला, प्रेम और वैवाहिक सुख का कारक शुक्र ग्रह 14 मई 2018, सोमवार को 20:59 बजे मिथुन राशि में गोचर करेगा और 9 जून 2018 तक इसी राशि में स्थित रहेगा। आईये जानते हैं शुक्र के इस गोचर का आपके जीवन पर क्या प्रभाव पड़ेगा?

Click here to read in English...

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। चंद्र राशि कैलकुलेटर से जानें अपनी चंद्र राशि

Shukra ka Mithun Me Gochar

मेष

शुक्र आपकी राशि से तीसरे भाव में गोचर करेगा। इस गोचर के दौरान एक नए रिश्ते की शुरुआत हो सकती है और आपके पार्टनर को लाभ की प्राप्ति हो सकती है। इस दौरान आप भाई-बहनों की मदद करेंगे जिससे उन्हें राहत मिलेगी। आस-पास की जगह पर यात्रा के लिए जा सकते हैं जिससे आप काफी अच्छा महसूस करेंगे। अच्छे कामों को करने का प्रयास करेंगे। खुद को सामाजिक तौर पर आप उभारना चाहेंगे जिस कारण आपको शायद लाभ न मिल सके लेकिन समाज में नाम व प्रसिद्धि ज़रूर मिलेगी।

उपाय: गाय को रोज़ चारा डालें।

वृषभ

शुक्र आपकी राशि से दूसरे भाव में गोचर करेगा। ये गोचर आपके जीवन के लिए समृद्ध समय साबित होगा। इस दौरान आप अच्छी रकम जमा कर पाएंगे। मुख से निकली हर एक बात दूसरे के दिलों को छु जाएगी और आपके प्रति सकारात्मक प्रभाव पैदा करेगी। इस बीच परिवार में कोई शुभ कार्य भी हो सकता है। यदि किसी वाद-विवाद या कानूनी मामलों में फंसे हैं तो फैसला आपके पक्ष में ही आएगा। आपके पार्टनर की तबियत थोड़ी कमजोर रह सकती है। कार्यस्थल पर समय अनुकूल रहेगा।

उपाय: रिंग फिंगर में अच्छी क्वालिटी का डॉयमण्ड पहनें।

मिथुन

शुक्र आपकी ही राशि में गोचर करेगा और प्रथम भाव में स्थित रहेगा। जिससे आपके व्यक्तित्व में निख़ार आएगा। इस प्रभावशाली व्यक्तित्व से लोग आपकी ओर आकर्षित होंगे। इस गोचर के दौरान आपके अंदर नई चीजों को सीखने की लालसा बढ़ेगी और इस ज्ञान को हासिल करके आप बुलंदियों को छू भी सकते हैं। अपने अंदर छिपे किसी कलात्मक गुण के उभरने से आपको मानसिक शांति व खुशी भी मिल सकती है। विदेशियों या विपरीत लिंग के लोगों के द्वारा दी गई सलाह आपके लिए लाभकारी साबित होगी। शुक्र का ये गोचर आपके प्रेम संबंधों व रोमांटिक लाइफ में नयापन लाएगा। कार्यस्थल पर भी आप अपने काम को एंजॉय करेंगे।

उपाय: ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः मंत्र का उच्चारण करें !!


यदि शुक्र के बुरे प्रभाव से हैं पीड़ित तो करें: शुक्र ग्रह की शांति के उपाय

कर्क

शुक्र आपकी राशि से बारहवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आप सुख-सुविधाओं का आनंद लेंगे, ऐसे में ज़ाहिर है कि आपके खर्चें भी बढ़ेंगे। बिजनेस व व्यावसायिक उद्देश्यों के कारण विदेश यात्रा भी हो सकती है या फिर पारिवारिक मनोरंजन के लिए भी ये यात्रा संभव है। स्वभाव में रोमांस घुलने से दांपत्य जीवन का सुख प्राप्त होगा। मन शांत होगा तो अच्छी नींद आएगी। आपके पार्टनर इस बीच नौकरी बदलने का प्लान बना सकते हैं।

उपाय: कन्याओं को हर शुक्रवार मिश्री खिलाएं।

सिंह

शुक्र आपकी राशि से ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपके द्वारा किए गए लगभग सभी प्रयास सफल होंगे। ये गोचर काल आपके लिए सफलता लेकर आ सकता है। इतना ही नहीं जीवन में खोया हुआ रोमांस वापस आएगा और आप दोनों ही प्यार के गीत गुनगुनाएंगे। आप सामाजिक गतिविधियों में शामिल होंगे और अपने दोस्तों व प्रियजनों के संग इन समारोहों में अच्छा समय बिताएंगे। भाई-बहनों द्वारा आर्थिक सहायता प्राप्त होगी। कलात्मक कार्य के जरिए लाभ भी कमा सकते हैं।

उपाय: हर रोज़ मां दुर्गा की पूजा करें।

कन्या

शुक्र ग्रह आपकी राशि से दसवें भाव में गोचर करेगा। इस गोचर के दौरान करियर के ग्राफ में बढ़ोत्तरी देखने काे मिलेगी साथ ही कार्य स्थल पर भी कुछ बदलाव जैसे जॉब चेंज या ट्रांसफर आदि हो सकते हैं। घरेलू ज़िंदगी शांति के साथ आगे बढ़ती रहेगी। सामान्य रूप से किसी महिला से मदद मिल सकती है। संभव है कि उनकी इस सहायता और समर्थन से आप आगे बढ़ने में सक्षम हों। ऐसे में महिलाओं के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध बनाएं और उनका सम्मान करें।

उपाय: हर रोज़ माथे पर सफेद चंदन का तिलक लगाएं।


अगर मन में है कोई सवाल, पाएँ समाधान: श्री राम श्लाका प्रश्नावली

तुला

शुक्र ग्रह आपकी राशि से नौवें भाव में गोचर करेगा। इस गोचर के दौरान आपको अचानक ही किसी लाभ की प्राप्ति हो सकती है तो वहीं दूसरी तरफ पिता की सेहत बिगड़ सकती है। इस बीच जीवन में कुछ बड़ा प्राप्त होगा। पिता के प्रति समर्पित रहेंगे और अच्छे कर्म करेंगे। लंबी यात्रा का योग बन सकता है और किस्मत पर विश्वास होने लग जाएगा। इस गोचर से भाई-बहनों को सुख प्राप्त हो सकता है।

उपायः शुक्रवार को नहाने के बाद घर में शुक्र यंत्र स्थापित करें।

वृश्चिक

शुक्र ग्रह आपकी राशि से आठवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपकी निजी ज़िंदगी खासतौर पर शादीशुदा जीवन में समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। इससे कुछ हानि भी हो सकती हैं और आपका ध्यान वासनात्मक क्रियाओं में हो सकता है। आपको सामान्य रूप से महिलाओं के साथ सौहार्दपूर्ण रिश्ते बनाए रखने की ज़रूरत है। अचानक से कोई बात या ख़बर आपके करियर लाइफ में बाधा उत्पन्न कर सकती है। इस बीच ससुराल पक्ष के लोगों से मुलाकात हो सकती है और आपकी तबियत में गिरावट भी देखने को मिल सकती है।

उपाय: शुक्रवार को चावल दान करें।

धनु

शुक्र आपकी राशि से सातवें भाव में गोचर करेगा, इसके फलस्वरूप वैवाहिक जीवन में आनंद की प्राप्ति होगी। पार्टनर के संग अच्छा समय बिताने का मौका मिलेगा। छोटी-छोटी नोंक-झोक के साथ आप अपनी शादीशुदा ज़िंदगी को एंजॉय करेंगे। अपने पार्टनर की चाहत को पूरा करने के लिए कुछ ख़र्च भी कर सकते हैं। लोगों के प्रति आपका नज़रिया अच्छा होगा और आपके व्यक्तित्व में सुधार आएगा। आसपास के लोग आपसे प्रभावित होंगे और व्यावसायिक स्थिति सुधरेगी।

उपाय: शुक्रवार को अरंद मूल पहनें।

मकर

शुक्र आपकी राशि से छठे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपके काम में निपुणता आएगी और कड़ी मेहनत करने से लाभ की प्राप्ति होगी। सट्टेबाजी, जुआ, शेयर इत्यादि के माध्यम से भी लाभ मिल सकता है। इस बीच आप अपने बैंक लोन व अन्य ऋण चुकाने में सक्षम रहेंगे। ख़र्चों में वृद्धि होगी और कार्य स्थल पर किए गए प्रयास अनुकूल परिणाम देंगे। हालांकि बच्चों के साथ किसी प्रकार की अनबन हो सकती है।

उपाय: इस मंत्र का उच्चारण करें- ऊं शुः शुक्राय नमः


विवाह के लिए करें मुफ्त में कुंडली मिलान

कुंभ

शुक्र ग्रह आपकी राशि से पांचवें भाव में गोचर करेगा। ये समय आपके लिए काफी प्रगतिशील साबित होगा। बेहतर अवसर मिलने पर आप अपनी वर्तमान नौकरी को बदलने का फैसला ले सकते हैं। इस दौरान आपकी लव लाइफ भी सुधरेगी। संबंधों को बनाएं रखने के लिए शॉपिंग, रोमांस जैसी चीज़ों पर ज़ोर रहेगा। इसके साथ ही लव मैरिज के योग बन रहे हैं। आपकी आय में वृद्धि से बच्चों को लाभ मिल सकता है। छात्रों के लिए भी ये काफी सुनहरा समय है।

उपाय: रिंग फिंगर में उत्तम क्वालिटी का ओपल पहनें।

मीन

शुक्र आपकी राशि से चौथे भाव में गोचर करेगा जिससे निजी ज़िंदगी में संतुलन आएगा। माता-पिता खासतौर पर माता की तबियत बिगड़ सकती है। आप अपने अंदर खुशी का अनुभव करेंगे। कार्यस्थल पर आप उम्मीद से अच्छा प्रदर्शन करेंगे जिससे आपका मान-सम्मान भी बढ़ेगा। भाई-बंधुओं द्वारा किया गया समर्थन आपको खुशी देगा। इसके अलावा अचानक कोई सुखद समाचार मिल सकता है।

उपाय: गाय को रोटी खिलाएं।


2018 में शनि की साढ़े साती का आपके जीवन पर क्या होगा असर?- शनि साढ़े साती

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।