• AstroSage Brihat Horoscope
  • AstroSage Big Horoscope
  • Ask A Question
  • Raj Yoga Reort
  • Career Counseling

शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर (1 जनवरी, 2019)

शुक्र ग्रह तुला और वृषभ राशि को नियंत्रित करता है जो विलासिता का कारक है। इस ग्रह के प्रभाव से जातक के अंदर कलात्मक गुणों का विकास होता है। शुक्र ग्रह की मजबूती से समाज में मान, प्रतिष्ठा में वृद्धि होती है, हालांकि ये व्यक्ति के स्वभाव को खर्चीला भी बना देता है। वैसे शुक्र ग्रह संपन्नता का भी प्रतीक होता है। इतना ही नहीं किसी जातक की कुंडली में शुक्र का प्रभाव होने से भौतिक सुख सुविधाओं की प्राप्ति होती है। वैवाहिक जीवन का सुख और आनंद प्राप्त होता है। शुक्र पति, पत्नी, प्रेम संबंधों, आनंद, वैभव और धन संपदा का भी कारक ग्रह माना जाता है।

साल 2019 की पहली तारीख यानि मंगलवार को शुक्र ग्रह रात 08:30 बजे तुला राशि से वृश्चिक राशि में गोचर करेगा। जो वृश्चिक राशि में 29 जनवरी, रात 11:17 बजे तक संचरण करेगा इसके बाद 29 जनवरी रात 11:18 पर शुक्र ग्रह वृश्चिक से धनु राशि में गोचर हो जाएगा। शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर लगभग एक महीने तक रहने वाला है जिसके चलते हर किसी की ज़िंदगी में कोई न कोई बदलाव देखने को मिलेगा तो आइए जानते हैं क्या रहेगा इस गोचर का ज्योतिषीय प्रभाव।

Click here to read in English...

यह भविष्यफल चंद्र राशि पर आधारित है। अपनी चंद्र राशि जानने के लिए क्लिक करें: चंद्र राशि कैलकुलेटर

Shukra ka Vrishik Rashi Me Gochar

मेष राशि

मेष राशि वाले जातकों की राशि में शुक्र अष्टम भाव में प्रवेश करेगा। इसकी वजह से आपकी मित्रता विपरीत लिंग वालों के साथ बढ़ेगी और उकनी मित्रता आपको खूब पसंद भी आएगी। काम वासना से जुड़ी क्रियाओं और विलासता से जुड़ी चीजों में खूब रुचि बढ़ेगी। लाख से निर्मित वस्तुएं खरीदना पसंद करेंगें। कहीं से अप्रत्याशित लाभ का योग बन रहा है। पति या पत्नी के साथ उनके रिश्तेदारों के यहां जाने का संयोग है। नया मकान खरीदने के भी संकेत मिल रहे हैं।

उपाय: सफेद चंदन का दान करें।

वृषभ राशि

वृषभ राशि से शुक्र सप्तम भाव में गोचर करेगा। इस वजह से विपरीत लिंग वालां से विवाद की संभावना है। जीवनसाथी के साथ भी विवाद हो सकता है। बेहतर होगा कि आप अपने क्रोध को नियंत्रित रखें। जब तक शुक्र आपकी राशि में गोचर करेगा, काम वासना में आपका मन ज्यादा लगेगा। विपरीत लिंग वालों के साथ शारीरिक संबंध बनाते समय सावधानी बरतें अन्यथा भविष्य में परेशानी होने की आशंका है। आवश्यक उपायों के साथ दिनचर्या के अनुरुप कार्य करेंगें तो परेशानियों से निजात मिलेगी। जीवनसाथी के साथ कुछ ज्यादा ही रोमांटिक महसूस करेंगें।

उपाय: श्री सूक्त मंत्र का जाप करें।

मिथुन राशि

वर्ष 2019 की शुरुआत में षष्ठम भाव में आपकी राशि में शुक्र का प्रवेश होगा। इससे स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। परहेज या बचाव नहीं किया गया तो ये समस्याएं भविष्य में गंभीर बीमारियों का रुप धारण कर सकती है। विवादों से दूरी बनाएं रखें अन्यथा बुरी तरह से फंस जाएंगें। अनैतिक कार्यों से परहेज करें नहीं तो सामाजिक प्रतिष्ठा को नुकसान होगा। दुश्मन मजबूत हो सकते हैं। स्वभाव खर्चीला हो जाएगा। बिना सोचे समझे पैसे खर्च होंगे। दुश्मनों से निपटने के लिए खुद को मजबूत बनाएं। कार्यक्षेत्र में अपने से वरिष्ठ लोगों का सहयोग अचानक से कम हो सकता है इसलिए आत्मनिर्भर बनें।

उपाय: दुर्गा महारानी की सफेद पुष्प से आराधना करें।

कर्क राशि

शुक्र आपकी राशि में पंचम भाव में गोचर करेगा जो आपकी जिंदगी में खुशियां की सौगात लेकर आएगा। दोस्तों, रिश्तेदारों और बच्चों के साथ आनंददायक समय बीतेगा। जिससे सुकून महसूस होगा। प्रेम, रोमांस आपकी जिंदगी में बहार लाएगा और आपकी जिंदगी हसीन बन जाएगी। कलात्मत क्रियाओं की वजह से आय में बढ़ोतरी होगी जिससे आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। गीत, संगीत और ग्लैमर से जुड़े क्षेत्रों में अभिरुचि बढ़ेगी। प्रेमी के साथ अच्छा समय बीतेगा।

उपाय: नारी शक्ति का सम्मान करें और भगवान महादेव को चावल दान कर पूजा करें।

सिंह राशि

इस राशि में शुक्र चतुर्थ भाव से गोचर करेगा। दोस्तों के साथ घूमने फिरने के योग बन रहे हैं। परिवार में प्रेम भाव बढ़ेगा। खुद को पारिवारिक कलह से बचाकर रखें। भौतिक सुख सुविधाओं का लाभ उठाने का मौका मिलेगा। कार्यक्षेत्र में एकाग्रता बढ़ेगी जिससे आपकी छवि निखरेगी। भविष्य की संभावनाओं और आर्थिक तरक्की की संभावनाओं को देखते हुए जॉब चेंज करने का निर्णय ले सकते हैं।

उपाय: पूजा के दौरान भगवान भोलेनाथ पर खस का इत्र अर्पण करें।

कन्या राशि

इस राशि में शुक्र तृतीय भाव से गोचर करेगा। इस समय आर्थिक लाभ के साथ सामाजिक मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। छोटी-मोटी यात्राओं के संकेत हैं। अपनी बौद्धिक प्रतिभा से आप कामयाबी हासिल करने में सफल होंगे। डटकर चुनौतियों का सामना कर सकेंगें और अपनी मेहनत से शत्रुओं को परास्त करने में कामयाब होंगे। इंटरनेट के माध्यम से सफलता के समाचार प्राप्त होंगे। कामयाबी की राह में आ रही परेशानियां और कठिनाईयां को दूर होने में किस्मत साथ देगी। इस दौरान आप विजयी होंगें जिससे समाज में प्रसिद्धी मिलेगी।

उपाय: मां दुर्गा की पूजा करें और खीर का भोग लगाएं।

तुला राशि

आपकी राशि में शुक्र द्वितीय भाव से गोचर करेगा। आर्थिक स्थिति पहले की अपेक्षा मजबूत होगी। घर में कोई नन्हा मेहमान दस्तक दे सकता है। पैतृक संपत्ति का लाभ भी मिल सकता है। सरकारी नीतियों की वजह से सफलता मिलेगी। सुख, समृद्धि और संपत्ति के आगमन से जीवन खुशहाल होगा। स्वादिष्ट व मनपसंद व्यंजनों का स्वाद चखने को मिलेगा। वाणी से मिठास आएगी जिससे व्यक्तित्व में आकषर्ण आएगा।

उपाय: कुंवारी कन्याओं से आर्शीवाद लें और उन्हें मिश्री दान करें।

वृश्चिक

शुक्र देव आपकी ही राशि में यानि प्रथम भाव में गोचर कर रहे हैं। इस गोचर की वजह से आप भौतिक सुखों का पूरी तरह से आनंद ले सकेंगे। जो लोग व्यापार के संबंध में विदेशों में जाते रहते हैं उन्हें इस साल मुनाफा हो सकता है। इस वक्त आपको अपने व्यवहार में थोड़ा ठहराव लाने की आवश्यकता है इससे रिश्तों में संतुलन बनेगा। शुक्र गोचर के दौरान आप पारिवारिक सुख, स्वादिष्ट भोजन व विपरीत लिंग के जातकों की कंपनी का सुख उठाएंगे। किसी भी प्रकार की परेशानी को दूर करने के लिए अपने जीवनसाथी का सहयोग लें।

उपाय: किसी देवी मंदिर में शुक्रवार के दिन बताशे दान करें।

धनु राशि

धनु राशि में शुक्र द्वादश भाव से गोचर करेगा। इस समय आप हारमोनल चेंज की वजह से काम उत्तेजना के शिकार हो सकते हैं। वासना संबंधी क्रियाओं में आनंद और सुख की प्राप्ति होगी। जीवन के रहन-सहन का स्तर उंचा होगा। इस पर आप अच्छी खासी धनराशि व्यय करेंगें। विदेश यात्रा और नया बिजनेस करने के योग बन रहे हैं। बिजनेस प्रारंभ करने में आप अच्छा खासा निवेश करेंगें और उसमें लाभ भी प्राप्त होगा।

उपाय: भगवान शंकर का दही से रुद्राभिषेक करें।

मकर राशि

इस राशि में शुक्र एकादश भाव से गोचर करेगा। कई तरफ से लाभ मिलेगा जिससे आर्थिक स्थिति बेहतर होगी। मित्रों की सहायता से भौतिक सुख सुविधाओं का लाभ हासिल करेंगें। मित्रों की संख्या बढ़ेगी। शुक्र के प्रभाव की वजह से ब्रांडेड कपड़ों, ज्वेलरी और परफ्यूम पर खर्च होगा। सामाजिक दायरा बढ़ेगा जिसमें विपरीत लिंग के भी कई साथी मिलेंगे। जीवन में लव और रोमांस आपके इस समय को यादगार बना देगा।

उपाय: दुर्गा चालिसा का पाठ करें और सफेद प्रसाद अपर्ण करें।

कुंभ राशि

आपकी राशि में शुक्र दशम भाव से गोचर करेगा जिस वजह से व्यर्थ के लड़ाई झगड़े होंगें और आपका वक्त व उर्जा दोनों बर्बाद होंगे। यथासंभव खुद को लफड़ों से दूर रखें। इससे मानहानि भी हो सकती है। ऑफिस में काम के दौरान गॉसिप से बचें अन्यथा विवादों का सामना करना पड़ेगा। वैवाहिक जीवन में या फिर विपरीत लिंग वालों के साथ विवाद के योग बन रहे हैं। किस्मत के सहारे आप अपनी सफलता में आ रही रुकावटों को दूर कर सकेंगे। करियर के लिहाज से देखें तो ये समय बेहद भाग्यशाली है। प्रमोशन के भी चांसेज है। इस वजह से ट्रांसफर भी हो सकता है।

उपाय: ऊं द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम: मंत्र का जाप करें।

मीन राशि

आपकी राशि में शुक्र नवम भाव से गोचर करेगा। इस दौरान आपको आर्थिक लाभ होगा व बैंक बैलेंस में बढोतरी होगी। शॉपिंग की लत लग सकती है जिसकी वजह से खूब सारे कपड़े वगैरह की खरीदारी करेंगे। जिंदगी के प्रति नजरिया उदार होगा जिसकी वजह से भाई-बहनों के साथ थोड़े मतभेद होंगे। मन को शांति मिलेगी। अध्यात्म के प्रति रुचि बढ़ेगी। पिता की सेहत का ख्याल रखें। प्रेम संबंधों में मजबूती आएगी।

उपाय: शुक्रवार को पुजारिन को शक्कर दान करें।


आशा करते हैं हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आयी होगी। हम आपके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।